POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: Islam

Blogger: S.M.MAasum at हक और बातिल...
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); एक मरतबा पैगम्बर मोहम्मद(स.) अपने सहाबियों के साथ मस्जिद में बैठे हुए थे कि वहाँ एक अनजान शख्स आया और उन्हें अपशब्द कहने लगा। पैगम्बर(स.) ने अपने सहाबियों की तरफ देखा और कहने लगे तुममें से कौन है जो इसकी ज़बान काट सकता है? यह सुनकर दो तीन लोग तलवार व खंजर ... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   4:13pm 2 Apr 2018 #islam
Blogger: S.M.MAasum at हक और बातिल...
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस्लाम वह बड़ा और अच्छा धर्म है जिसने ज़िन्दगी के सभी हिस्सों से सम्बन्घित हर बात को विस्तार से बयान किया है ताकि एक सच्चे मुसलमान को ज़िन्दगी के किसी भी हिस्से मे नाकामयाबी या मायूसी ना हो। इन्ही सब हिस्सो मे से एकहिस्सा सेक्स का भी है।आम तौर से सम... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   3:05am 30 Nov 2017 #islam
Blogger: sajid at The Straight Path ...
दुनिया में किसी को कुछ भी मिलता है तो वो अल्लाह की तरफ़ से है इसलिए किसी को अच्छे हाल में देख कर जलना और उसके नुक्सान की कोशिश करना ऐसे है जैसे अल्लाह के मंसूबे को बातिल करने की कोशिश करना, क्योके दुनिया दारुलअसबाब है इसलिए एक हद तक तो इंसान को अमल करने का मोका मिलता है मगर ... Read more
clicks 127 View   Vote 0 Like   5:35am 4 Apr 2016 #Islam
Blogger: sajid at The Straight Path ...
दुनिया में जो कुछ है वह सब हमारे लिए माल-ए-ग़ैर है, क्योके सब कुछ अल्लाह का है उसे अपने लिए जाईज़ करने की वाहिद सूरत है के अल्लाह के बाताए तरीक़े से हासिल किया जाए और उसे अल्लाह के बताए तरीक़े से इस्तेमाल किया जाए |... Read more
clicks 129 View   Vote 0 Like   5:02am 1 Apr 2016 #Islam
Blogger: sajid at The Straight Path ...
कायनात में मुख्तलिफ किस्म की चीज़े है इल्मी मुताला बताता है के इन चीजों का ज़हूर एक ही वक़्त में नहीं हुवा बल्कि एक के बाद एक हुवा है, कायनात का मुताला बताता है की इस कायनात का निजाम हद दर्जा मोहकम नियमों के तहत चल रहा है हर चीज़ ठीक उसी तरह अमल करती है जिस तरह सामूहिक तकाज़े ... Read more
clicks 98 View   Vote 0 Like   6:16am 19 Mar 2016 #Islam
Blogger: S.M.MAasum at हक और बातिल...
इस्लाम के सिध्दांतों और आम मुसलमानों के व्यवहार को अलग-अलग करके देखना होगा।आज के इस दौर मैं इस्लाम के सिध्दांतों और आम मुसलमानों के व्यवहार को अलग-अलग करके देखना होगा। यह मुसलमान के लिये शर्म की बात है. अगेर आज का मुसलमान जो करता है उसको इस्लाम मान लिया जाए तोह इस्लाम प... Read more
clicks 168 View   Vote 0 Like   11:00am 4 Feb 2014 #islam
Blogger: yogi at Bharat yogi health tips in hindi me...
 दोस्तों आप सभी के लिए कुछ रोचक कहानी पेस कर रहा हूँ में internet पर कुछ ढूंड रहा था और खोजते खोजते एक वेब साईट पर प्होंचा और यंहा पर जो मेने लेख पढ़ा तो सोचा इस सच्चाई को सभी को बताना चाहिए तो मेने अपनी वेब साईट पर ये लेख दे दिया हे और साथ ही ये लिंक भी जन्हा पर मेने इसे पढ़ा था http://... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   3:30pm 22 Apr 2013 #islam
Blogger: shikha kaushik at भारतीय नारी...
   IS THIS VALID IN ISLAM ?क्या इस्लाम जायज़ मानता है ?  क्या इस्लाम ऐसे विज्ञापन को जायज़ मानता है ?जब मुस्लिम समाज को वैवाहिक विज्ञापनों से परहेज नहीं तब ''परगाश ''जैसे बैंड पर आपत्ति क्यों ?परिवर्तन प्रकृति का नियम है !सोचिये जरा !IS THIS VALID IN ISLAM ? IF MUSLIMS HAVE NO OBJECTION ON THIS... WHY HAVE THEY OPPOSED A BAND LIKE 'PARGASH ' CHANGE IS THE RULE OF  NATU... Read more
clicks 131 View   Vote 1 Like   2:08pm 6 Mar 2013 #ISLAM
Blogger: कमल कुमार सिंह at नारद...
कट्टरता से भला भी हो सकता है बुरा भी, यदि कट्टरता सकारत्मक हो तो परिवेश बदल सकता है, नकारात्मक  हो तो विध्वंशक हो जाता है. बाबरी मस्जिद काण्ड नकारत्मक कट्टरता का ही एक नमूना है, उसका इतिहास चाहे जो भी रहा हो, भले ही वह हमारे धर्म से सम्बन्धित न रहा हो, लेकिन फिर भी वह हमारी ... Read more
clicks 100 View   Vote 0 Like   6:17pm 27 Nov 2012 #islam
Blogger: gajadhar dwivedi at धर्म चक्र...
लेखक- संतोष गुप्ताकर्बला की कहानी मनुष्य की संवेदना को झकझोर देती है। सत्य के पथिक पर जालिमों ने जो कहर ढाया उसकी याद हर मुहर्रम दे जाता है और आंखें आसुओं से नम हो जाती हैं। तपते रेगिस्तान में जालिमों ने सत्य के पथिकों को दो बूंद पानी भी नहीं पीने दिया, यहां तक कि छह माह ... Read more
clicks 52 View   Vote 0 Like   4:39pm 20 Nov 2012 #islam
Blogger: gajadhar dwivedi at धर्म चक्र...
इस्लामी महीनों में पहला महीना मोहर्रम है। इस महीने की 10 तारीख को इस्लामी तारीख का एक अहम वाकया हुआ जिसका तजकरा हर साल सारे जमाने में होता है। उस वाकए में मजलूम की शख्सियत पर जिस कदर आंसू बहाए जाते हैं, इतिहास के किसी वाकए में आज तक उतने आंसू नहीं बहाए गए।यह बातें शहर-ए- का... Read more
clicks 62 View   Vote 0 Like   4:58pm 17 Nov 2012 #islam
Blogger: gajadhar dwivedi at धर्म चक्र...
मोहर्रम का महीना इस्लामी साल का पहला महीना होता है। अल्लाह के नजदीक चार महीने ऐसे हैं जिनको अस्सो हुसम (रज्जब) का महीना कहा जाता है। जिसमें मोहर्रम भी शामिल है। गुरुवार को चांद दिख जाने से शुक्रवार को मोहर्रम की पहली तारीख हुई। मोहर्रम शुरू हो गया। प्रथम दस दिनों तक इम... Read more
clicks 57 View   Vote 0 Like   4:07pm 16 Nov 2012 #islam
Blogger: कमल कुमार सिंह at नारद...
बकरीद आई और दंगे की छाप छोड़ गयी, समझ नही आता शान्ति के इस धर्म में इतने जाहिल क्यों है कैसे है? निश्चित तौर पर ये मुसलमान बाद में जाहिल पहले है, इंसानी जाहिल, हालाकि  जानवरों और जाहिलो में और जानवरों में कोई ख़ास नहीं, क्योकि दोनों में सोचने और समझने की क्षमता का अभाव होत... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   6:18pm 27 Oct 2012 #islam
Blogger: Malkhan Singh at नई किताब | Nai Kitab...
पाकिस्तान में नौंवी पास करने वाला स्टूडेंट एक साल में तीन बातें सीखकर निकलता है. 1. कोई गैर-मुसलमान पाकिस्तानी नहीं हो सकता 2. हिन्दुओं पर विश्वास नहीं किया जा सकता 3. ढाका का पाकिस्तान से मुक्त हो जाना एक अंतरराष्ट्रीय साजिश थी.बीबीसी पर छपीएक रिपोर्ट कहती है कि पाकिस्त... Read more
clicks 320 View   Vote 0 Like   9:25am 6 Sep 2012 #Islam
Blogger: कमल कुमार सिंह at नारद...
पता नहीं इस हालत मे मुझे इस तरह के लेख लिखना चाहिए या नहीं,  यदि मै लिख रहा हूँ तो इसका मतलब ये भी नहीं की जो कुछ भी  असम के भाईयो के साथ हो रहा है मै उससे सहमत हू, या निंदा नहीं करता हूँ. जो कुछ भी हो रहा है वो बिलकुल निंदनीय है खासकर की तब जब ये सब विदेशी विस्थापितों के कारण हो... Read more
clicks 89 View   Vote 0 Like   6:15am 17 Aug 2012 #islam
Blogger: कमल कुमार सिंह at नारद...
राम चंद्र कह गए सिया से, एक दिन कलयुग आएगा, हँस चुगेगा दाना, कौवा मोती खायेगा . तुलसीदास कि ये पंक्तिया आज जीवित हो चुकी है. आज  भारत मे अपराधियों को बिरियानी, तालिबानियों को सुरक्षा और बलात्कारियों को मुवावजा दिया जा रहा है, लो और खाओ , और पैसे लो और करते रहो बाल्त्कार पे ... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   3:15pm 2 Jul 2012 #islam
Blogger: Dr.Divya Srivastava at ZEAL...
सिन्धी हिन्दू लड़की - रिंकल कुमारी को किडनैप करके उसे जबरदस्ती इस्लाम कबूल करवाया। उस मासूम ने धर्म परिवर्तन करने से इनकार किया लेकिन उस पाकिस्तानी दरिन्दे ने कोर्ट की अवमानना की और राष्ट्रपति तक को धत्ता बता दिया। खुले आम हथियारों और असलहों से लैस उसके आदमी कोर्ट के ... Read more
clicks 77 View   Vote 0 Like   5:37am 10 May 2012 #Islam
[Prev Page] [Next Page]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3971) कुल पोस्ट (190660)