POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Tag: करुणा

Blogger: bhavna pathak at bhonpooo.blogspot.com...
      हम सभी जानते हैं कि अगर बरसात के मौसम में पौधे लगाए जांय तो जल्दी उनकी जड़ें मिट्टी पकड़ लेती है, वे तेजी से बढ़ने लगते हैं। इसकी वजह है मौसम की अनुकूलता। इसी तरह धारा की दिशा में तैरना नए तैराक के लिए अपेक्षाकृत सरल होता है जबकी अनुभवी तैराक धारा के विपरीत भी तै... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   6:36am 2 Apr 2017 #करुणा
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
   हम आज एक ऐसी संस्कृति में रह रहे हैं जिसमें ’प्रयोग करो और फेंक दो’ का चलन अधिकाधिक होता जा रहा है। थोड़ा थम कर दैनिक उपयोग की उन वस्तुओं के बारे में सोचें जो उपयोग हो चुकने के बाद फेंके जाने के लिए ही बनाई जाती हैं - उस्तरे, पानी की बोतलें, लाईटर, कागज़ की प्लेटें, भोजन क... Read more
clicks 74 View   Vote 0 Like   3:15pm 4 Oct 2016 #करुणा
Blogger: ajay kumar jha at झा जी कहिन...
अगर गौर से सोचें तो पाएंगे कि करुणा  की हत्या तो असल में उसी दिन हो गई  थी , जिस दिन , उस व्यक्ति ने ,  बल्कि यह कहना चाहिए कि मनुष्य के रूप में हैवान के मस्तिष्क वाले ने , किसी भी समय ,किसी भी दिन और किसी भी क्षण ,जब सोचा था या फिर वह बड़ी आसानी से ये फैसला ले पाया था कि वह यूं ... Read more
clicks 205 View   Vote 0 Like   11:42am 26 Sep 2016 #करुणा
Blogger: ajay kumar jha at बिखरे आखर ....
सुनो !आरुषी,प्रियदर्शनी ,निर्भया ,करुणा ,सुनो लड़कियोंतुम यूं न मरा करो ,हत्या कर दो ,या अंग भंग ,फुफकार उठो ,डसो ज़हर से,बन करैत,बेझिझक , बेधड़क ,प्रतिवाद , प्रतिकार ,प्रतिघात , करा करोसुनो !आरुषी,प्रियदर्शनी ,निर्भया ,करुणा ,सुनो लड़कियोंतुम यूं न मरा करो ,तुम मर जाती हो ,फिर मर ज... Read more
clicks 221 View   Vote 0 Like   5:42am 24 Sep 2016 #करुणा
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
   मार्ग के किनारे पुलिस की गाड़ी की जलती-बुझती बत्तियों ने मेरा ध्यान वहाँ खड़ी एक अन्य गाड़ी की ओर खेंचा, उसे यातायात नियम के उल्लंघन के लिए रोका गया था। मुझे पुलिस कार से उतरकर, हाथ में चालान काटने की पुस्तिका लिए उस गाड़ी की ओर बढ़ता हुआ पुलिस अधिकारी दिखाई दिया, और गाड़ी... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   3:15pm 12 Nov 2015 #करुणा
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
   प्रति वर्ष हमारे समुदाय के लोग "भले बनो"आन्दोलन में भाग लेते हैं जो लोगों को एक दूसरे के प्रति प्रेम और सदभाव के साथ रहने और व्यवहार करने को प्रेरित करता है। इस आन्दोलन के दौरान एक स्कूल प्राध्यापक ने कहा, "हम चाहते हैं कि स्कूल में आने वाले विद्यार्थी अपने अन्य सहप... Read more
clicks 60 View   Vote 0 Like   3:15pm 22 Oct 2015 #करुणा
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
   जब कॉलेराडो स्प्रिंग्स, कॉलेराडो, के जंगलों में लगी आग से सैंकड़ों घर तथा जानवरों के रहने के अनेक स्थल जल कर राख हो गए, तो सारे देश में लोग परमेश्वर से प्रार्थना करने लगे कि वह बारिश को भेजे जिससे आग बुझ सके, विनाश रुक सके और आग बुझाने में लगे लोगों को राहत मिल सके। प्र... Read more
clicks 123 View   Vote 0 Like   3:15pm 27 Sep 2015 #करुणा
Blogger: rozkiroti at रोज़ की रोटी -...
   समाचारों में पहले तो प्रसिद्ध लोगों द्वारा की गई गलतियों को, और फिर उन प्रसिद्ध लोगों की उस गलती के लिए करी गई क्षमा याचना को भी बड़े खुलासे से बयान किया जाता है। गलती करने वाला कोई प्रसिद्ध खिलाड़ी हो सकता है जो नशे की हालत में गाड़ी चलाते हुए पकड़ा गया; या वह कोई राजने... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   3:15pm 11 Aug 2015 #करुणा
Blogger: Anita nihalani at मन पाए विश्रा...
क्रिसमस उसकी याद दिलाता क्रिसमस उसकी याद दिलाता जो भेड़ों का रखवाला था, आँखें करुणा से नम रहतीं मन जिसका मद मतवाला था ! जो गुजर गया जिस घड़ी जहाँ फूलों सी महकीं वे राहें, दीनों, दुखियों की आहों को झट भर लेती उसकी बाहें ! सुन यीशू के उपदेश अनोखे  भीड़ एक पीछे चलती थ... Read more
clicks 31 View   Vote 0 Like   3:37am 18 Dec 2013 #करुणा
Blogger: Madhuresh at Madhushaalaa: The Nectar House...
पैसे की तंगी ने मजबूर किया मुझेखुद को बेच डालने को।तो निकल पड़ा मैं भीइस बाज़ार मेंअपना मोल लगाने को। खुद की खूबियाँ गिनी,खुद की खामियां गिनी,भईनेकी है, ईमान है,उसूलों वाला इंसान है,सोचा,दाम तो  अच्छा ही लगेगा,मगर बाज़ार की डिमांडतो कुछ और ही थी,मक्कारी, जालसाजी, दिखावायेह... Read more
clicks 172 View   Vote 0 Like   12:58am 29 Mar 2013 #करुणा
Blogger: Madhuresh at Madhushaalaa: The Nectar House...
तुम देवी थी-ममता और वात्सल्य की,अगाध सहनशीलता की,कर्त्तव्य-परायणता की.तुम्हारा आँचल-स्नेह का अथाह सागर था,हम सभी जिसके साये तले पुष्पित हुए, पल्लवित हुए...जानता हूँ कि जाना है तुम्हे,फिर भी मेरे मन में न कोई दुःख है, न विषाद..क्योंकि प्रथा यही है कि विसर्जन धूम-धाम से करते... Read more
clicks 96 View   Vote 0 Like   2:10am 18 Oct 2012 #करुणा
Blogger: Madhuresh at Madhushaalaa: The Nectar House...
कल की बात है  कुरुक्षेत्र - रक्त-रंजित था आज फिर से रक्त-रंजित है. वो रक्तजिसका स्राव भी ततक्षणवहशी पी जाते हैं.मानवता अब प्रतिदिनबे-आबरू होती हैऔर अब कृष्ण भी कोई नहीं है.हो भी क्यों?कृष्ण तो उनका था ही नहींकभी भी नहींक्योंकि आज का कृष्णदेखता हैकौन आम है, कौन खास हैउसका ... Read more
clicks 96 View   Vote 0 Like   8:15pm 14 Oct 2012 #करुणा
Blogger: Madhuresh at Madhushaalaa: The Nectar House...
'सत्यमेव जयते' का पहला ही एपिसोड देखकर रोम-रोम खड़े हो गए ... समाज में व्याप्त 'भ्रूण-हत्या' की कुप्रथा का विरोध करना न सिर्फ हमारा कर्त्तव्य बनता है, बल्कि  अपने इंसान होने का 'धर्म' भी है. अगर हम इसके खिलाफ नहीं खड़े हैं, तो हम इंसान कहलाने के लायक नहीं।. ... Read more
clicks 68 View   Vote 0 Like   6:45pm 6 May 2012 #करुणा
Blogger: Madhuresh at Madhushaalaa: The Nectar House...
बेटे-बेटियां पढाई-लिखाई, नौकरी-पेशे के सिलसिले में दूर किसी शहर में रहने लगे हैं. माँ-बाप ने पाला-पोसा, बड़ा किया, बच्चों को लायक बनाया- पर आज वो अकेले हो गए हैं.और करें भी तो क्या करें- बच्चे दूर हैं, व्यस्त हैं, नाम रोशन कर रहे हैं माँ-बाप का, इन भावनाओं के बीच ये जो अचानक-सा अ... Read more
clicks 62 View   Vote 0 Like   2:48am 12 Feb 2012 #करुणा
[Prev Page] [Next Page]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3967) कुल पोस्ट (190517)