feedji.com
हमारीवाणी ने बनाया नए युग का ब्लॉग एग्रीगेटर, जहाँ आप ना केवल आसानी से अपनी ब्लॉग-पोस्ट शेयर कर सकते हैं, बल्कि आज के युग की आवश्यकतानुसार सोशल मिडिया से जुडी अनेकों सुविधाओं का प्रयोग कर सकते हैं.

आज ही सदस्य बने: http://www.feedji.com

1
View
My ImageAuthor डॉ. जेन्नी शबनम
कविता(कविता पर 20 हाइकु)*******1.कण-कण मेंकविता सँवरतीसंस्कृति जीती ।2.अकथ्य भावकविता पनपतीखुलके जीती ।3.अक्सर रोतीग़ैरों का दर्द जीती,कविता नारी ।4.अच्छी या बुरी,न करो आकलनमैं हूँ कविता ।5.... Read more
Tag :हाइकु
1
View
My ImageAuthor 
    (L.S. Bisht ) -     वर्षा ॠतु की विदाई के साथ हरी- भरी प्रकृति और शीत ॠतु की सुनाई देने वाली दस्तक के बीच त्योहारों का जो सिलसिला शुरू होता है वह शीत ॠतु की विदाई के साथ ही खत्म हो पाता... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 20, 2014, 4:30 pm
1
View
My ImageAuthor dinesh chandra gupta ravikar
दो टुकड़े केंचुवे के, बँटे बने दो जीव ।एक छली मछली  छले, दूजा भला अतीव।दूजा भला अतीव, भूमि कर रहा भुरभुरी । बना रहा यह खाद, पौध के लिए जरुरी । चुवा केंचुवा अश्रु, असह मछली के... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 20, 2014, 4:20 pm
1
View
My ImageAuthor Avinash Choudhary
Breast Cancer-ultrasound for weird lump found - how long do I have to wait for results -She had an ultrasound for a breast lump, her Dr. discovered. how long will she wait for results? if it was breast cancer they’d know right away wouldn’t they? should she assume that no news is good.1.                  Yes, no news is good news. 2.       &nbs... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 20, 2014, 3:36 pm
1
View
My ImageAuthor ANURAG TIWARI
गीतगीत मेरे एकाकीपन के साथी हैं।प्रियतम को जो लिखता हूँ, वह पाती हैं।तपते मरुथल में छाया, शीतल पानी हैं।मन के तारों को झंकृत करती बानी हैं।हम जियें न जियें, ये गीत सदा ही जीते हैं।जीव... Read more
Tag :
4
View
My ImageAuthor anusha mishra
बहुत प्यार करती हूं मैं तुमसेखुद से भी ज्यादाशायद रह लूं मैं तुमसे दूर भीलेकिन नहीं रहना चाहती मैं तुम्हारे बिनाआज मांगना है मुझे तुमसे एक हकक्या तुम मुझे दोगे ये अधिकार किसुबह आंख... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 20, 2014, 12:49 pm
3
View
My ImageAuthor kuldeep thakur
कौन कहता हैनशा जहर है,जहर मारता है केवल  एक बार,नशे से मरते हैं बार बार...जहर  को पीकर,मरते हैं केवल खुद,नशा लेने वाला,मारता हैं औरों को भी...जहर पीना तो शायद,किसी की मजबूरी भी  हो सकती ... Read more
Tag :आदत
3
View
My ImageAuthor HARSHVARDHAN SRIVASTAV
सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन 'अज्ञेय' यह दीप अकेला स्नेहभरा है गर्व भरा मदमाता, पर इसको भी पंक्ति को दे दो। यह जन है: गाता गीत जिन्हें फिर और कौन गाएगा ?पनडुब्बा: ये मोती सच्च... Read more
Tag :सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन 'अज्ञेय'
2
View
My ImageAuthor Kalipad "Prasad"
खोजता  हूँ तुझे यहाँ वहां भटका हूँ तेरे लिए न जाने कहाँ कहाँ ! थक कर बैठ जाता हूँ आँख मूंदकर बन्ध आँखों में आता है तु प्रकाशपुंज बनकर !सहस्र कोटि सूर्य सम वह तेज कर देता है मेरी आखों को ... Read more
Tag :ध्यान
2
View
My ImageAuthor सुनील दीपक
Kesla, MP, India: At the weekly village market, people come from the surrounding villages and it seems like a fair.केसला, होशंगाबाद, मध्यप्रदेशः सप्ताह में जिस दिन गाँव में बाज़ार लगता है, आस पास के गाँवों से लोग आते हैं और मेला सा लग जाता है.Kesla, MP, India: Il giorno del me... Read more
Tag :India
3
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मनुष्य सामाजिक प्राणी है और सामाजिक जीव होने के कारण उसके मन में रचनात्मकता सदैव चलती रहती है। जो लोग अपनी इस रचनात्मकता अभिव्यक्ति को शब्दों का रूप देकर सामने लाते हैं मेरे विचार... Read more
Tag :हिन्दी ब्ल़गिंग-अपार सम्भावनाएँ
Blogs
Follow me
October 20, 2014, 7:54 am
1
View
My ImageAuthor दिनेशराय द्विवेदी
समस्या- सुशील कुमार शर्मा ने अवन्तिका, रोहिणी, दिल्ली से समस्या भेजी है कि- मैंने बिमला पर विश्वास कर अपनी पुत्री का विवाह उसके दत्तक / गोद लिये हुए पुत्र अमित से कर दिया था। जब तक बिमल... Read more
Tag :Marriage
1
View
My ImageAuthor तुषार राज रस्तोगी
हे ईश्वरमानव को अपने रिश्तों का मोह क्यों होता है ?उसके खींची हुई रिश्तों की कड़ीज्यों ज्यों बढ़ती है उसका मोह उतनी ही मज़बूत ज़ंजीर में उसको जकड़ता है एक कैदी की बड़ियों की तरह हर समय कष्ट ... Read more
Tag :कमल
3
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों।सोमवार की चर्चा में आपका स्वागत है।देखिए मेरी पसंद के कुछ लिंक।(डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')--रमोना, तुम ठीक तो हो ना.... ? Vishaal Charchchit --कालाजार.... Kunwar Kusumesh--१४२. दिया, हवाओं से कवि... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 20, 2014, 5:00 am
3
View
My ImageAuthor Sudheer Maurya
अपनीबाहोंकेसहारेझूलकरमेरेगलेसेएकदिनकहाथाउसनेवेकरतीटूटकरप्यारमुझसेऔरदेखोलहुलुहानहूंमैउसकेटूटेहुएप्यारकीकिरचोंसेआज....सुधीर... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 19, 2014, 10:24 pm
3
View
My ImageAuthor rozkiroti
   मेरी पहली साईकिल में केवल एक ही गियर था - चाहे मैं तेज़ी से चल रही हूँ या धीमे, चाहे मैं चढ़ाई पर चढ़ रही हूँ या ढाल पर उतर रही हूँ, सब कुछ बस उस एक ही गियर की सहायता से करना होता था। मेरी ... Read more
Tag :कौशल
4
View
My ImageAuthor zeashan zaidi
आज पूरी दुनिया एक अजीब पहेली में उलझी हुई है। वह पहेली इस्लाम व मुसलमानों के बारे में है। दरअसल कुछ दहशतगर्द ग्रुप ऐसे फैल गये हैं जो इस्लाम के नाम पर पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रहे ... Read more
Tag :Khilafat
Blogs
Follow me
October 19, 2014, 8:35 pm
1
View
My ImageAuthor पुंज प्रकाश
बंगला पुस्तक “प्रसंगः नाट्य” में प्रकाशित ख्याति प्राप्त रंगकर्मी शंभू मित्र द्वारा मूलतः बंगला में लिखित इस महत्वपूर्ण अभिनय चिंतन का हिंदी अनुवाद प्रसिद्द रंग-चिन्तक नेमीचन्... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 19, 2014, 8:12 pm
1
View
My ImageAuthor सरिता भाटिया
उत्सव लाये हैं ख़ुशी,खूब सजे बाजार साथ मिठाई के सजे,भिन्न भिन्न उपहार  |रंग रूप लेकर नए ,चमक उठे सब गेह  उत्सव हैं सब गर्व के ,बाँटे खुशियाँ नेह |उत्सव धनतेरस हुआ,त्रयोदशी के वार न... Read more
Tag :छंद
Blogs
Follow me
October 19, 2014, 8:09 pm
4
View
My ImageAuthor Rakesh Prakash
छपाई एक कलाकृति है। यह प्रारंभिक चित्र के समान प्रकार में लगभग विविधता की अनुमति देती है। भारत में छपाई का इतिहास 1556 से शुरू होता है। इस युग में गोवा में पुर्तगालियों ने छपाई की मशीन ... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
October 19, 2014, 7:28 pm
[Prev Page] [Next Page]
Share:
  गूगल के द्वारा अपनी रीडर सेवा बंद करने के कारण हमारीवाणी की सभी कोडिंग दुबारा की गई है। हमारीवाणी "क्...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3209) कुल पोस्ट (119975)