Hamarivani.com

रायटोक्रेट कुमारेन्द्र

गोपीनाथ  मुंडे के लोकसभा खर्च सम्बन्धी बयान ने राजनैतिक हलकों में एक तरह का बवंडर खड़ा कर दिया है. इससे चुनाव में प्रत्याशियों द्वारा अंधाधुंध खर्च करने की मानसिकता की वर्तमान स्थिति ही उजागर हुई है. चुनाव आयोग पिछले कई वर्षों से चुनाव में काले धन के उपयोग को लेकर, एक न...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :गणतंत्र
  June 30, 2013, 1:03 pm
आये दिन समाज में किसी न किसी बात को लेकर विरोध प्रदर्शन किये जाते दिख जाते हैं. कभी सरकार की कार्यप्रणाली को लेकर, कभी प्रशासन की गतिविधियों को लेकर, कभी राजनैतिक दलों को लेकर, कभी व्यापार को लेकर, कभी विरोध होता है टीवी/फिल्म आदि को लेकर और सबसे बड़ी बात कि कुछ दिन के इन प्...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :आधुनिकता
  June 27, 2013, 11:29 pm
उत्तराखंड की आपदा, केदारनाथ की तबाही से प्रभावित इंसानों ने अपना बहुत कुछ गंवाया है, अपने परिवार को खोया है. वहां रह रहे लोगों ने एक तरह से अपने वजूद को भी गंवाया है. हर गलती इन्सान को कुछ न कुछ सीखने का अवसर देती है. हर संकट से बाहर निकलने के रास्ते मिलते हैं, संकट से लड़ने क...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :पर्यावरण
  June 25, 2013, 11:43 pm
मनुबेन की डायरी से मोहनदास करमचंद गाँधी नामक व्यक्ति, जिसे देश ने महात्मा, बापू, राष्ट्रपिता जैसे सम्मानीय संबोधनों से पुकारा, के ब्रह्मचर्य के प्रयोग की सत्यता प्रकट हुई. जितना कुछ मीडिया के माध्यम से सामने आया है उसमें कुछ नया नहीं है, पहले भी इस सम्बन्ध में कई तरह के...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :जानकारी
  June 23, 2013, 6:24 pm
ऐसा लग रहा है जैसे हमारे देश में प्राकृतिक आपदा पहली बार आई हो. सभी चिंतातुर हैं, मीडिया से लेकर समाजसेवी तक, राजनेता से लेकर आम आदमी तक किन्तु कुछ सीखेंगे नहीं. जिस-जिस के हाथ में कैमरा है, जिस-जिस के पास इंटरनेट है, जिस-जिस के सामने टीवी खुला हुआ है वो ‘सबसे पहले हमने’ की त...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :पर्यावरण
  June 20, 2013, 7:18 pm
कौरव भाइयों के नाम१-दुर्योधन२-दुःशासन३-दुसः४-दुःशल५-जलसन्ध६-सम७-सह८-विंद९-अनुविन्द१०-दुर्धर्ष११-सुबाहु१२-दुःशप्रघर्षण१३-दुर्मर्षण१४-दुर्मुख१५-दुश्कर्ण१६-कर्ण१७-विविंशीत१८-विकर्ण१९-शल२०-सत्व२१-सुलोचन २२-चित्र२३-उपचित्र२४-चित्राक्ष२५-चारुचारित्र२६-शरासन२७-...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :जानकारी
  June 19, 2013, 11:25 am
जीव-जंतुओं से भरी समूची सभ्यता में इन्सान अपने आपको जानवरों से श्रेष्ठ मानता रहा है. कहा जाता है कि इंसानों के सोचने-समझने की शक्ति के कारण उसे जानवरों से उच्च माना जाता है, ऐसा भी दावा है कि इंसानों ने भाषाई रूप के कारण जानवरों से श्रेष्ठता हासिल कर रखी है, इसके अलावा मन...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :समस्या
  June 17, 2013, 2:52 am
हाल ही में फिल्म इंडस्ट्री की एक युवा अभिनेत्री की आत्महत्या से न केवल बॉलीवुड आहत हुआ बल्कि मीडिया, सोशल मीडिया में अभी तक हताशा-निराशा के बादल घिरे हैं. ऐसा लग रहा है जैसे देश में पहली बार किसी युवा ने आत्महत्या की हो. दरअसल उस अभिनेत्री की आत्महत्या का मसला उसके बॉली...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :आधुनिकता
  June 13, 2013, 5:58 pm
भाजपा ने मोदी के नाम की घोषणा चुनाव प्रचार अभियान के प्रमुख के रूप में की तो तमाम गैर-भाजपाइयों के दिल पर साँप लोट गया मानो उनके हाथ से आज ही सत्ता निकल गई हो. विरोधी दलों के साथ-साथ मीडिया पूरे जोर-शोर से नरेंद्र मोदी के नाम पर सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने में लगे हैं. स...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :पर्यावरण
  June 11, 2013, 8:13 pm
मोदी को लोकसभा चुनाव प्रचार की कमान सौंपने के बाद से भाजपा के, मोदी के तमाम विरोधियों ने एक अलग तरह का मोर्चा खोल लिया है. यहाँ ध्यान रखना चाहिए कि अभी मोदी को चुनाव की कमान सौंपी गई है, केंद्र की सत्ता की नहीं. विगत कुछ दशकों से देश की राजनीति को जिस तरह से धर्मनिरपेक्षता ...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  June 9, 2013, 8:57 pm
राजनीति पर निगाह भी सब रखेंगे, राजनीति की चर्चा भी चाय-पान की दुकान पर करेंगे, राजनैतिक विश्लेषक बनके अपने को बुद्धिजीवी साबित करेंगे, राजनैतिक आकलन करके लोगों पर रोब ज़माने की कोशिश की जाएगी और अंत में निष्कर्ष निकालेंगे कि राजनीति सबसे गन्दी चीज है. बात-बात में उस नेत...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  June 8, 2013, 10:42 am
तमाम आयोजनों में ढकोसलों को करने के अभ्यस्त इन्सान ने पर्यावरण बचाने के लिए भी जबरदस्त रूप से ढकोसला करके दिखा दिया. पूरी शिद्दत से उसके द्वारा वृक्षारोपण किया गया, हरित-गोष्ठियों का आयोजन किया गया, लोगों को बाग़-बगीचों, हरे-भरे पेड़-पौधों के लाभों से परिचित करवाया गया. ध...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :पर्यावरण
  June 6, 2013, 5:53 pm
अभी कुछ समय पहले तक अपनी तमाम नाकामियों, असफलताओं को छिपाने के लिए सूचना अधिकार अधिनियम को लागू करने का श्रेय लेकर खुद अपनी पीठ थपथपाने वाली कांग्रेस आज इसी अधिनियम का विरोध करती दिख रही है. खुद को देश की एकमात्र पाकसाफ पार्टी कहने वाली माकपा भी विरोध का झंडा उठाकर कां...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  June 5, 2013, 10:06 am
केन्द्रीय सूचना आयोग ने राजनैतिक दलों (अभी मात्र छः राष्ट्रीय दल) को सूचना का अधिकार अधिनियम के अधीन किये जाने का निर्णय दिए जाने से दो तरीके की प्रतिक्रियाएं देखने-सुनने को मिली. एक उन लोगों की तरफ से जो  निर्णय से प्रसन्न दिखे कि अब राजनैतिक दलों से भी उनका हिसाब-किता...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  June 4, 2013, 11:43 pm
नक्सलवाद का असल क्रूर चेहरा अब राजनीतिज्ञों की समझ में अवश्य ही आया होगा. अभी तक जब भी नक्सलवाद का खात्मा करने की बात चाहे सदन में उठाई गई हो अथवा सदन से बाहर जनमानस द्वारा, हरेक मांग के साथ उठे अधिकतर स्वर नक्सलियों के समर्थन में ही उठे. किसी ने नक्सलियों को शोषित बताया ...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  May 31, 2013, 11:12 pm
विगत नौ वर्षों से अपनी (अन)उत्कृष्ट सेवाएँ देने वाली संस्था के द्वितीय पंचवर्षीय सत्र का वार्षिक रिपोर्ट कार्ड पेश किया जाना है. शानदार पार्टी की तैयारियां चल रही हैं, तमाम कारिंदे इधर से उधर भागदौड़ करते दिख रहे हैं.  Useless Progressive Academy (UPA)नाम की ये संस्था पंचवर्षीय कोर्स का सञ...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :भ्रष्टाचार
  May 23, 2013, 10:48 am
केंद्र सरकार और इस सरकार के चार वर्षों का कार्यकाल देखा जाये तो कोई भी आसानी से कह सकता है कि वर्तमान सरकार लगभग सभी मोर्चों पर विफल रही है. यूपीए गठबंधन की पहली पारी को देखने के बाद मतदाताओं ने उसे लोकसभा में दूसरी पारी के लिए भेजा. इस दूसरी पारी में सरकार का, उसके मंत्र...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  May 22, 2013, 9:41 am
हालात दिन प्रतिदिन बिगड़ते ही दिख रहे हैं, जनप्रतिनिधि हर पल निरंकुश नज़र आ रहे हैं, सत्ताधारी निर्लज्ज से समझ आते हैं, विपक्ष गुमसुम सा दिखाई देता है, जनता बदहाल-परेशान-विक्षिप्त लगती है.....ये किसी एक नगर के, किसी एक राज्य के हालात नहीं वरन समूचे देश के हैं. किसी एक क्षेत्र ...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :समस्या
  May 17, 2013, 1:32 pm
कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद मीडिया के द्वारा, चाहे वह प्रिंट मीडिया हो, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया हो या फिर सोशल मीडिया, सभी में भाजपा-कांग्रेस, मोदी-राहुल, हार-जीत आदि के समीकरणों पर चर्चा-बहस होने लगी है. इस बहस के परिदृश्य में आगामी लोकसभा चुनाव ही है. तमाम बहस, चर्चाओं मे...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  May 12, 2013, 10:16 am
केंद्र सरकार जिस तरह से अपने भ्रष्ट मंत्रियों का बचाव करने में लगी है वह देश के लिए चिंता का विषय है. विद्रूपता ये है कि न केवल मंत्री बल्कि तमाम मंत्रालयों, विभागों में बैठे शीर्षस्थ पदाधिकारी भी मनमाने ढंग से अपने मंत्रियों की, अपनी कारगुजारियों को छिपाने का काम कर र...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  May 7, 2013, 3:13 pm
विगत कुछ वर्षों से देश में जैसे हालात दिख रहे हैं, देश के केन्द्रीय नेतृत्व के जैसे चाल-चलन दिख रहे हैं, नागरिकों की जो मानसिकता दिख रही है उससे घनघोर अलोकतांत्रिक स्थिति का आभास होता है. केन्द्रीय मंत्रिमंडल निर्लज्जता से भ्रष्टाचार में लिप्त है और इसके बाद भी उसके ह...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  May 6, 2013, 11:41 pm
एक तरफ सरबजीत का मामला और दूसरी तरफ चीन का हमारी सीमा में घुसकर अपने कैम्प बना लेना साफतौर पर हमारी सरकार की कूटनीतिक विफलता को दर्शाता है. पाकिस्तान और चीन की क्षमताएं हमारे देश की तुलना में अलग-अलग हैं और इन दोनों देशों के मंतव्य भी नितांत भिन्न हैं. पाकिस्तान इस तरह ...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  May 3, 2013, 6:05 pm
ये तो बहुत ही चिंता का विषय हो गया कि दुनिया हम पर हँस रही होगी. ये हमारे प्रधानमंत्री जी को भी बहुत देर में समझ में आया कि दुनिया हम पर हँसती भी है. अभी तक तो यही माना जा रहा था कि विश्वगुरु (पता नहीं कब) का स्वघोषित खिताब चपेटे भारत की हरकतों पर दुनिया गंभीरता से विचार करती...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :राजनीति
  April 30, 2013, 11:44 pm
कक्षा दो में पढने वाले, १०-११ वर्ष के बच्चे द्वारा खुद को बाथरूम में बंद करके आग लगाके आत्महत्या कर ली जाए तो इसे मात्र एक हृदयविदारक घटना ही न समझा जाए. आज के परिप्रेक्ष्य में इस घटना के कई सन्दर्भ निकाले जा सकते हैं. इस तरह की घटनाएँ हमारे आसपास बहुसंख्यक रूप से हो रही ह...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :समाज
  April 18, 2013, 2:29 pm
          जब भी आतंकवाद की चर्चा की जाती है तो मन में तुरन्त ही बम विस्फोट, अपहरण, आगजनी, रेल दुर्घटनायें, मौत जैसी वीभत्स घटनाओं की छवि अंकित हो जाती है। देश तथा देशवासी विगत कई वर्षों से आतंक के इसी चेहरे से परिचित रहे हैं। आतंकवाद का यह रूप हमारे मन-मष्तिष्क पर इस कदर से ह...
रायटोक्रेट कुमारेन्द्र...
Tag :समस्या
  April 7, 2013, 9:45 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163829)