Hamarivani.com

रोज़ की रोटी - Daily Bread

   मूर्तिकारों के लिए एक शब्द प्रयुक्त होता है "वृहतदृष्टि", जिसका तात्पर्य है कि वह कलाकार एक बेडौल से पत्थर में उस पत्थर का वह अन्तिम और पूर्ण सुन्दर तथा आकर्षक रूप देख सकता है जो उसके अपना कार्य कर लेने से निकलकर आएगा।   गुटज़ोन बोर्गल्म (1867-1941) एक ऐसे मूर्तिकार हैं...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :कलाकृति
  February 12, 2016, 8:45 pm
   हमारे विवाह के बारह वर्ष बीत चुके थे और हम सन्तान पाने के सुख में बनने और बिगड़ने वाली आशाओं-निराशाओं में बारंबार पड़ने से हताश हो चुके थे। मेरे एक मित्र ने मुझे इस संबंध में "परमेश्वर के विचार"समझाने का प्रयास किया; क्योंकि वह जानता था कि मेरी माँ का क्रोध अति तीव्र ह...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :शंका
  February 11, 2016, 8:45 pm
   इंगलैण्ड के वेल्स इलाके में पुरुषों के गायन-समूहों का संगीत वहां की संसकृति का अभिन्न अंग है। दूसरे विश्वयुद्ध के पहले वेल्स के एक गायन-समूह की मित्रतापूर्ण किंतु वर्चस्व की स्पर्धा एक जर्मन गायन-समूह के साथ होती रहती थी। परन्तु दुसरे विश्वयुद्ध के दौरान और पश्...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :भजन
  February 10, 2016, 8:45 pm
   मैं अपने पोते एलेक्स को वापस उसके माता-पिता के पास छोड़ने जा रहा था। मार्ग में इतनी अधिक गाड़ियां थीं और वे तेज़ रफतार से भी चल रहीं थीं कि मुझे मार्ग का कर देने वाली सही पंक्ति में आना कठिन हो रहा था और ना चाहते हुए भी मैं गलत पंक्ति में फंस गया जिसमें केवल उन गाड़ियों को...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :बलिदान
  February 8, 2016, 8:45 pm
   परमेश्वर के वचन बाइबल के पुराने नियम खण्ड की न्यायियों की पुस्तक को पढ़ना किसी किसी को महानायकों वाली बच्चों की कॉमिक्स पढ़ने के समान लग सकता है। इस पुस्तक में दबोरा, बराक, गिदौन और शिमशोन जैसे महान नायकों एवं योद्धाओं का वर्णन है; लेकिन इसी पुस्तक में हम एक और पात्र...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :जीवन
  February 7, 2016, 8:45 pm
   किसी कठिन परीक्षा से निकलने के पश्चात मसीही विश्वास के जीवन में क्या परिवर्तन आते हैं? मैं इस बारे में सोचने लगा जब मैंने जमाइका निवासी एक पिता की त्रासदी से निकलने की घटना पढ़ी; उस पिता ने घर में घुसपैठ करने वाले लोगों से अपने परिवार कि रक्षा करते हुए गलती से अपनी ह...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :परिस्थिति
  February 6, 2016, 8:45 pm
   हाल ही में मैंने अमेरिका में व्यक्तियों के लिए जासूसी का काम करने वाले एक जन के बारे में पढ़ा जो लोगों के दरवाज़े पर जाकर खटखटाता था और जो भी दरवाज़ा खोलता उसे अपनी पहचान बताने वाला बिल्ला दिखाकर कहता, "मुझे पता है कि मुझे आपको मेरे यहाँ आने का कारण बताने की आवश्यकता नह...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :जानकारी
  February 5, 2016, 8:45 pm
   जब प्रभु यीशु से पूछा गया कि जीवन के लिए सबसे बड़ी आज्ञा क्या है तो उन्होंने कहा, "तू प्रभु अपने परमेश्वर से अपने सारे मन से और अपने सारे प्राण से, और अपनी सारी बुद्धि से, और अपनी सारी शक्ति से प्रेम रखना" (मरकुस 12:30)। इन शब्दों में प्रभु यीशु ने हमारे लिए परमेश्वर की इच्छ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :दृष्टिकोण
  February 4, 2016, 8:45 pm
   सामान्यतः लोग नव-वर्ष के आगमन पर अपने जीवनों में सुधार के लिए कुछ संकल्प करते हैं, परन्तु मैंने नव-वर्ष के साथ नए संकल्प करना सन 1975 से छोड़ रखा है। मुझे नए संकल्प करने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती - अभी तो मैं अभी पुराने संकल्प जैसे कि, प्रतिदिन जो परमेश्वर मुझे सिखाता है उ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :ठोकर
  February 3, 2016, 8:45 pm
   अपनी बेटी के साथ बच्चों के लिए लिखी गईं कुछ पुस्तकें पढ़ने के बाद मैंने उस से कहा कि अब मैं बड़ों के लिए लिखी गई एक पुस्तक पढ़ना चाहूँगी, और फिर बाद में हम बच्चों की और पुस्तकें पढ़ेंगे। यह कहकर मैंने अपनी पुस्तक उठाई और उसे खोलकर खामोशी से पढ़ना आरंभ कर दिया। कुछ देर तक म...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :प्रार्थना
  February 1, 2016, 8:45 pm
   क्या कभी आप ने खरीददारी के पछतावे का अनुभव किया है? मैंने किया है। कभी कभी कोई नई चीज़ खरीदने से ठीक पहले मेरे अन्दर कुछ नया पा लेने की उत्तेजना होती है, लेकिन उसे खरिद लेने के बाद पछतावे का भाव मुझे अभिभूत कर देता है; मैं सोचने लगता हूँ, क्या वास्तव में मुझे इस चीज़ की आ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :आशा
  January 31, 2016, 8:45 pm
   मुझे समाचार मिला कि मेरे एक मसीही विश्वासी मित्र का देहांत हो गया है; इस बात पर मेरे एक अन्य मसीही विश्वासी मित्र ने, जो उस स्वर्गवासी मित्र का भी मित्र था, मुझे परमेश्वर के वचन बाइबल के इस पद: "यहोवा के भक्तों की मृत्यु, उसकी दृष्टि में अनमोल है" (भजन 116:15) की याद दिलाई। ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :दृष्टिकोण
  January 30, 2016, 8:45 pm
   एक बार मैंने लोगों के परस्पर संबंधों को सुधारने की सलाह-मश्वरा देने का कार्य करने वाले एक व्यक्ति से पूछा कि मुख्यतः वे कौन सी समस्याएं हैं जिनके कारण लोग उनके पास आते हैं, या जो संबंध बिगड़ने का अकसर कारण होती हैं। बिना झिझके उसका उत्तर था, "अनेकों समस्याओं की जड़ हो...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :आशा
  January 29, 2016, 8:45 pm
   बाधाएं कोई नई बात नहीं हैं; हमारा शायद ही कोई दिन पूर्णतयः पूर्वनियोजित रीति से निकल पाता होगा। जीवन असुविधाओं से भरा रहता है; हमारी योजनाएं हमारे नियंत्रण से बाहर बातों के द्वारा प्रभावित तथा कुंठित होती रहती हैं। ऐसा करने वाली बाधाओं और असुविधाओं की सूचि लंबी ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :परिस्थिति
  January 28, 2016, 8:45 pm
   प्रतीक्षा करना कठिन होता है। हमें दुकान पर सामान खरिदने के समय, यात्रा में, डॉक्टर से मिलने के लिए, सभी स्थानों पर प्रतीक्षा करनी पड़ती है। ऐसा करते समय हम अपनी ऊँगलियों को चटकाते हैं, उबासी आने से रोकने का प्रयत्न करते हैं और अन्दर ही अन्दर खिसियाते हैं। कभी कभी प्...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :आराधना
  January 26, 2016, 8:45 pm
   संग्रहालय की एक प्रदर्श्नी, जिसका शीर्षक था "पॉम्पेई का एक दिन"देखते हुए मैं यह देखकर आश्चर्यचकित हुआ कि वहाँ की बातें बारंबार यह दर्शा रहीं थी कि पॉम्पेई के 20,000 लोगों के लिए 24 अगस्त सन 79 ईसवीं का दिन एक सामन्य दिन के समान ही आरंभ हुआ था, और लोग घरों, बाज़ारों और उस समृद...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :पुनःआगमन
  January 25, 2016, 8:45 pm
   मिशनरी मसीही सेवक एगर्टन रायर्सन यंग ने सन 1700 में कनाडा के सॉलट्यु कबीले के लोगों में सेवकाई करी। उस कबीले के मुख्या ने मसीह यीशु में पापों की क्षमा और उद्धार के सुसमाचार को उनके कबीले में लाने के लिए यंग का धन्यवाद किया, और टिप्पणी करी कि यह बात वे अपने जीवन में पहल...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :कथा
  January 24, 2016, 8:45 pm
   हम में से कई लोग सीमित संसाधनों के साथ कार्य करने की चुनौती का सामना करते हैं। कभी-कभी हमें कम धन, समय तथा सहायकों की घटी और क्षीण होती कार्यशक्ति के साथ भी पहले के जितने कार्यभार को निभाना ही होता है; और कभी-कभी तो यह कार्यभार घटने की बजाए बढ़ भी जाता है। एक वाक्यांश ह...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :परिस्थिति
  January 22, 2016, 8:45 pm
   मुझे पाँच तार वाला बैन्जो बजाना बहुत प्रीय है। लेकिन इस संगीत वाद्य में एक कमी है - उसका पांचवा तार बहुत ही सीमित एवं सरल स्वरों के साथ तालमेल बना सकता है। इसलिए संगीत वादक जब कुछ जटिल संगीत बजाना चाहते हैं तो बैन्जो बजाने वाले को सामंजस्य बनाने के लिए कुछ प्रयास क...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :वरदान
  January 21, 2016, 8:45 pm
   बच्चों को चर्च के लिए तैयार रखना हमेशा ही हमारे लिए चुनौती भरा रहा है। तैयार होकर चर्च पहुँचने के दस मिनट के अन्दर ही हमारा बेटा छोटा मैथ्यु ऐसा दिखने लगता था मानों उसके कोई अभिभावक हैं ही नहीं। वह चर्च के गलियारे में दौड़ लगाता जिससे उसकी आधी कमीज़ पैन्ट से बाहर हो ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :देखभाल
  January 20, 2016, 8:45 pm
   हमारे शहर में, एक ही दिन में, अलग अलग स्थानों पर, दो लोगों की हत्या हुई। पहला एक पुलिस अधिकारी था जो एक परिवार की सहायता करते समय मार गिराया गया। दूसरा एक बेघर व्यक्ति था जिसे प्रातः अपने मित्रों के साथ शराब पीते हुए गोली मार दी गई।   सारा शहर उस पुलिस अधिकारी के ल...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :जीवन
  January 19, 2016, 8:45 pm
   कुछ लोग अपने आप को एक विशाल खाई में कहीं खोए हुए एक छोटे से कंकड़ के समान देखते हैं; परन्तु हम अपने आप को चाहे जितना भी नगण्य समझें, हम सभी परमेश्वर द्वारा बहुतायत से प्रयोग किए जाने की क्षमता रखते हैं। सुप्रसिद्ध मसीही प्रचार्क मार्टिन लूथर किंग ने 1968 के आरंभ में, पर...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :प्रतिफल
  January 18, 2016, 8:45 pm
   कभी कभी हम चाहे जितना प्रयत्न कर लें, अपने तकिए को सही करें या उसे दबाएं-पीटें, करवटें बदलें लेकिन हमें नींद नहीं आती। एक अखबार में छपे लेख ने अच्छी नींद सोने के कुछ सुझाव देने के बाद अन्त में कहा कि अच्छी नींद प्राप्त करने का कोई "सही उपाय"नहीं है।   नींद ना आने के ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :नीद
  January 14, 2016, 8:45 pm
   प्रथम विश्व-युद्ध के समय, मॉरने की प्रथम लड़ाई में, फ्रांस के लेफ्टिनेंट जनरल फर्डिनेन्ड फॉक ने एक सूचना भेजी: "आक्रमण कर रही मेरी सेना का मध्य भाग कमज़ोर पड़ रहा है और दाहिने भाग को पीछे हटना पड़ रहा है। स्थिति उत्कृष्ट है; मैं आक्रमण में लगा हूँ!"कठिन परिस्थितियों में ...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :परेशानी
  January 11, 2016, 8:45 pm
   प्रभु यीशु के पृथ्वी के जीवन के समय में रोमी साम्राज्य था और रोमियों की धार्मिक आस्थाएं प्रचलित थीं। उन आस्थाओं में से एक थी कि जो ऊपर स्वर्ग में हो रहा होता है, उसका प्रभाव नीचे पृथ्वी पर पड़ता है। यदि युनानी देवराज ज़्यूस क्रोधित हैं तो पृथ्वी पर वज्रपात होगा। उन द...
रोज़ की रोटी - Daily Bread...
Tag :गवाह
  January 9, 2016, 8:45 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3473) कुल पोस्ट (147121)