Hamarivani.com

भड़ास

जब चीन २९ रुपये प्रति वाट के हिसाब से सौर उर्जा पैनलो का बेहिसाब उत्पादन कर रहा है तो भारत २५ रुपये प्रति वाट के हिसाब से सोलर पैनल क्यों नहीं बना सकता है...भारत सरकार की बेहयाई देखिये...सोलर पैनल २२० रुपये (७-८ गुना) प्रति वाट बेचे जा रहे है साथ में दूसरी चीजों को खरीदने के ...
भड़ास...
Tag :
  July 14, 2012, 11:09 am
एशियाड गोल्ड मेडलिस्ट है पिंकी, लैंगिक विभेद के आरोप.....अगर पिंकी महिला नहीं है तो बगाल पुलिस का ये बुड्ढा साला चूतिये का पट्ठा का हाथ देखिये, ये पिंकी के स्तन को दबाते हुए न्यायालय ले जा रहा है, न्याय का मंदिर जिसमें जज है क्या वो लैंगिक विकृति मानसिकता का नहीं है जो इस ए...
भड़ास...
Tag :
  July 6, 2012, 12:27 pm
वेब पत्रकारिता को दलाली रंगदारी और अश्लीलता से कलंकित करने वाले यशवंत सिंह की जमानत खारिज हो गई, फिलहाल यशवंत को रहना होगा जेल.पूरी खबर ...
भड़ास...
Tag :
  July 3, 2012, 11:42 am
यशवंत सिंह की गिरफ्तारी के बाद जिस तरह से वेब मीडिया ने आँख बंद कर हो हल्ला मचाया नि:संदेह निंदनीय है. गिरफ्तारी के कारण का खुलासा हो जाने के बाद संदेह और शको सुभा की गुंजाइश नहीं रह गई कि यशवंत की चरित्रहीनता ही उसके गिरफ्तारी का सबब बनी. संगठित होना और सहयोग के साथ कलम ...
भड़ास...
Tag :
  July 3, 2012, 11:35 am
दैनिकजागरण १७जून२०१२    सम्पादकीयपृष्ठ संत समाज और राजनीति --आर. विक्रम सिंह गंगा विमुक्ति अभियान के तहत संतगण का दिल्ली कूच का आ ान आश्चर्यजनक है। सरकारों को समझाने से पहले गंगा स्वच्छता के प्रति आम लोगों, देश की धर्मप्राण जनता को जागरूक किया जाए, जो उत्साह से तिथि-...
भड़ास...
Tag :
  June 17, 2012, 12:47 pm
Hey, Since Sunday 27 May 2012, you've been invited by 7 of your contacts to join Netlog, the social community for millions of users.ghufrans… Invitation from Ghufran Siddiqui 30 years - male Contact Ghufran Siddiquiguddo9 Invitation from गुड्डों दादी 72 years - female Contact गुड्डों दादीkhansale… Invitation from Saleem Khan 31 years - male Contact Saleem Khanadlakhad… Invitation from dharmendra adlkha 44 years - male Contact dharmendra adlkhamdave42 Invitation from MARKAND DAVE 60 years - male Contact MARKAND DAVErekha_jha Invitation from rekha jha 28 years - female Contact rekha jhakumarmis… In...
भड़ास...
Tag :
  June 10, 2012, 2:12 pm
---------- Forwarded message ----------From: Madan Gopal Garga<mggarga@gmail.com> Date: 2012/6/9Subject: [GURU VATIKA SE CHUNE PHOOL] आज का जीवन सूत्र 9-6-2012To: mggarga1@gmail.comआज का जीवन सूत्र 9-6-2012To SEE MORE POSTINGS(AAJ KA VICHAR) VISIT BLOGS वाणी मैं अनर्थ बैठ जाए तो चारों तरफ अनर्थ ही घटता है ! वाणी गन्दी होने लग जाए तो पित्रों का आशीर्वाद नहीं रहता ! व्यक्ति देवताओं और भगवान की कृपा से वं...
भड़ास...
Tag :
  June 10, 2012, 11:43 am
Add extra energy and extra length http://apweb.ir/apartment.html...
भड़ास...
Tag :
  June 10, 2012, 2:17 am

...
भड़ास...
Tag :
  June 10, 2012, 12:27 am
http://tendance-innovation.fr/shade.html Be the girls' best lover, ask us how...
भड़ास...
Tag :
  June 9, 2012, 8:07 pm
                                                        AN APPEAL FROM SANSKRIT INSTITUTION FOR MAINTAINING SANSKRIT IN BHAARAT  Sanskrit College, Mylapore, Madras is a Great Old institution and deserves to go on. Let us do our bit to help them continue their good work. Please help them with your contributions.Please also forward this to your contacts whom you think may want to help.I have pasted below an appeal mail received for your information please.Dear All,  I'm sad to put this news - which is quite painful to read...however the fact of the matter needs to be brought out. It is about saving a Sanskrit Resea...
भड़ास...
Tag :
  June 9, 2012, 8:30 am
---------- Forwarded message ----------From: Madan Gopal Garga<mggarga@gmail.com> Date: 2012/6/8Subject: [GURU VATIKA SE CHUNE PHOOL] आज का जीवन सूत्र-७-६-२०१२To: mggarga1@gmail.comआज का जीवन सूत्र-७-६-२०१२ To SEE MORE POSTINGS VISIT BLOGS मीठा बोलने में कुछ घटता नहीं ! मीठा बोलकर आप सबके प्रेम के पात्र बन जाते  हैं !आपके प्यार भरे दो  शब्द्ध , दूसरों के लिए जीवन शक्ति बन जाती हैं !परम प...
भड़ास...
Tag :
  June 8, 2012, 4:38 pm
Madan Saxena has sent you a link to a blog: Please find attached rachna. Blog: काब्य सरोबर Post: आज का यथार्थ Link: http://madanmohansaxena.blogspot.com/2011/08/blog-post.html -- Powered by Blogger http://www.blogger.com/ ...
भड़ास...
Tag :
  June 8, 2012, 10:44 am
----- Forwarded Message -----From:काब्य सरोबर <noreply@blogger.com>To: madansbarc@ymail.com Sent: Thursday, 7 June 2012 8:02 PMSubject: Madan mohan saxenaकाब्य सरोबर Madan mohan saxenaगीतPosted: 07 Jun 2012 01:52 AM PDTखुशबुओं  की   बस्ती में  रहता  प्यार  मेरा  है आज प्यारे प्यारे सपनो ने आकर के मुझको घेरा है उनकी सूरत का आँखों में हर पल हुआ यूँ बसेरा है अब काली काली रातो में म...
भड़ास...
Tag :
  June 8, 2012, 10:35 am
मेरे एक ईमेल मित्र के द्वारा भेजी गई ईमेल पर जरा गौर करेः60 साल में इतने घोटाले यानी कि राजनेताओ ने एक यही काम पूरे मन से किया- कौन कहता है कि नेता काम नहीं करतेRepublic Of ScamsThe latest issue of India Today (January 3, 2010) carries aninteresting cartoon by Ravi Shankar with an amount boldly inscribed atthe top : Rs.176, followed by eleven zeroes. The main cartoon showsDr. Manmohan Singh and Sonia Gandhi declaring "We have ZERO tolerancefor corrup...
भड़ास...
Tag :
  June 1, 2012, 9:02 am

बढ रही है किसिंग !जनता से ख़रीदे जा रहे है वोट , संसद मे भी वोट के बदलेहमारे हमसफ़र हिन्दुस्तान के बारे में देश की राजनीति को लग चुका है अभिशाप ,गुरु कर रहे है शिष्यों के साथ पाप,अस्पतालों मे हो रही है बच्चों की हेराफेरी,पुलिस को जीने के लिए जरुरी है घूसखोरी,खेलो मे खिलाडियों को रास आ रही है मैच फिक्सिंग , धार्मिक पत्रों के कलाकारों मे बढ रही है किसिंग !जनता से ख़रीदे जा रहे है वोट , संसद मे भी वोट के बदले नोट !देश के इसी तरह के गर्मागर्म मुद्दों पर आधारित ''हिन्दुस्तान का दर्द'' आपको मौका देता है अपनी बात कहने का! तो खामोश मत रहिये अपनी बात कहिये.....अगर आप भी इस ब्लॉग पर लिखना चाहते है तो अपना ईमेल अकाउंट आपके फ़ोन नंबर और पते के साथ हमें-mr.sanjaysagar@gmail.com पर भेजें और अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें-9907048438 फेसबुक पर जुडिए Sanjay Sen Sagar Create Your Badge लिखिए अपनी भाषा में कॉमनवेल्थ याद रहेगा? कार्टून नेटवर्क कार्टून नेटवर्क • पुरस्कार • विश्व मानवाधिकार दिवस पर भी कुछ लिखा जाए • भारत में परमाणु ऊर्जा की आवश्यकता • हिन्दुस्तान का दर्द के समर्थक ध्यान दें. • अंदाज़ अपना - अपना • यह केसा मानवाधिकार जो लागू नहीं हे • एक चोराहा जिसने देखी भ्रस्ताचार और तोड़ फोड़ की सियासत • इस्लामिक नया साल पुरे देश और विश्व को मुबारक हो • हाय केसा हे यह आतंकवाद • अनजाना शख्श • पढ़िए सत्ता की सबसे बड़ी दलाली की कहानी • राजदीप सरदेसाई से एम जे अकबर तक- सब पर्दा डालने में जुटे हैं • भाई ललित शर्मा का राम राम कोटा के लियें • • Powered By Tech Vyom Thursday, December 9, 2010 पुरस्कार कोई पुरस्कृत क्यु होता है ? कोई जिंदगी भर बिना इनाम के ही .... इनाम वाला भी हो जाता है और कुच्छ लोग लगातार ......... नाम - इनाम बटोरते ही रहते हैं तो कुच्छ नाम येसे भी हैं , जो इनाम की शक्ल ही बदल देते हैं वे लेते हैं......... तो खबर बनती है ठुकराते हैं...... तो भी खबर बनती है क्युकी जो धूर्त होते हैं ... वो ........बहुत मीठे होते हैं और मीठे फलो मै कीड़े भी जल्दी होते हैं ............... तो बस उनकी मुस्कराहट को तय करने दो .......?. की उनकी मुस्कान कितनी निर्दोष है और फिर वो मिले तो जानो ..... की उनकी आँखों मै कितनी चमक है ? आखिर मै बस..... मिट्ठा न मिले तो.......... नमकीन से काम चलेगा क्या ? आजकल तो जेबकतरों और उठाई -गीरों को भी इनाम दे दिए जाते हैं ............... तो अब हम केसे तय करे की ........... पुरस्कार केसे दिए जाते हैं ? You might also like: गूगल डाका डाल रहा है, गूगल की डाकेजनी का वि‍रोध करो "पितृ पक्ष श्राद्ध " में कौओं का अकाल लो क सं घ र्ष !: या सुंदर केवल आशा... लो क सं घ र्ष !: यूं नियति नटी नर्तित हो.... LinkWithin Posted by Minakshi Pant at 11:12 PM 1 comments विश्व मानवाधिकार दिवस पर भी कुछ लिखा जाए विश्व मानवाधिकार दिवस की नोटंकी कल होगी देश भर में विश्व मानवाधिकार दिवस कल दस दिसम्बर को मनाने की नोटंकी की जाएगी इस नोटंकी में देश में कथित रूप से राष्ट्रिय स्तरीय और राज्य स्तरीय कई कार्यक्रम आयोजित कर लाखों रूपये बर्बाद किये जायेंगे लेकिन देश में आज भी मानाधिकार कानून मामले में देश पंगु बना हुआ हे देश में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का गठन वर्ष १९९३ में गठित कर सुप्रीम कोर्ट के जज रंगनाथ मिश्र को इसका अध्यक्ष बनाया गया और इसी के साथ ही राष्ट्रिय मानवाधिकार कानून देश भर में लागू कर दिया गया , रंगनाथ मिश्र ने इस कानून के माध्यम से देश भर में लोगों को न्याय दिलवाया लेकिन फिर सरकार अपने स्तर पर इस आयोग में नियुक्तियां करने लगी और आज देश भर में राष्ट्रिय और राज्य मानवाधिकार आयोग खुद एक सरकारी एजेंसी बन कर रह गये हें आयोग खुद काफी लम्बे वक्त तक खुद की सुख सुविधाओं के लियें लड़ता रहा और फिर जब राजकीय नियुक्तिया इस आयोग में हुई तो आयोग सरकार के खिलाफ कोई भी निर्देश देने से कतराने लगा , राजस्थान में भी मानवाधिकार आयोग हे लेकिन कई ऐसे मामले हें जिनमे सरकार के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हो सकी हे जब योग और कर्मचारियों तथा पदाधिकारियों की नियुक्ति सरकारी स्तर पर होती हे और वेतन भत्ते सरकार से उठाये जाते हें तो जिसका खायेंगे उसका बजायेंगे की तर्ज़ पर कम होता हे और स्थिति यह हे के देश में १९९३ में बने कानून के तहत आज तक किसी भी हिस्से में मानवाधिकार न्यायालय नहीं खोली गयी हे जबकि अधिनियम में हर जिले में एक मानवाधिकार न्यायायलय खोलने का प्रावधान हे लेकिन सरकार ने नातो ऐसा किया और ना ही पद पर बेठे आयोग के अध्यक्षों ने इस तरफ सरकार पर दबाव बनाया जरा सोचो जब आयोग खुद ही अपने कानून को देश में लागु करवा पाने में असमर्थ हे तो फिर दुसरे कल्याणकारी कानून केसे लागू होंगे । राजस्थान में पुलिस नियम अधिनियम २००७ में पारित हुआ इस कानून के तहत पुलिस और जनता की कार्य प्रणाली पर अंकुश के लियें समितियों और आयोग के गठन का स्पष्ट प्रावधान हे लेकिन आज तक तीन वर्ष गुजरने पर भी समितिया गठित नहीं की गयी हें जबकि थानों पर अंकुश के लियें इन समितियों का गठन विधिक प्रावधान हे इसी तरह मानवाधिकार कानून के तहत जिलेवार प्रतिनिधियों की नियुक्ति नहीं की गयी हे । देश के थानों में आज भी प्रताड़ना का दोर जारी हे हालात यह हें के हिरासत में मोतों का सिलसिला थमा नहीं हे सरकारी मशीनरी कदम कदम पर मानवाधिकारों का शोषण कर रही हे लेकिन आयोग के दायरे सीमित हें स्टाफ और सदस्य सीमित हें जिला स्तर पर कोई प्रतिनिधि नियुक्त नहीं किये गये हें और आयोग मात्र कार ड्राइवर और भत्तों का बन कर रह गया हे कुछ मामलों में आयोग कठोर रुख अपनाता हे तो उसकी पलना नहीं होती हे कोटा जेल के अंदर इन दिनों नियमित हिरासत में मोतें हो रही हें और हालात यह हें के राजस्थान और राष्ट्रिय मानवाधिकार आयोग ने कोटा जेल में मानवीय व्यवस्थाएं करने के लियें एक दर्जन से अधिक मेरी सोसाइटी ह्युमन रिलीफ सोसाइटी की शिकायत पर राज्य सरकार और कोटा के अधिकारीयों को निर्देश दिए हें मुझे गर्व हे के मानवाधिकार क्षेत्र में कार्य करने के लियें मेरी सोसाइटी ह्यूमन रिलीफ सोसिईती १९९२ में बनी और फिर १९९३ में आयोग और राष्ट्री मानवाधिकार कानून बना राजस्थान में कोटा से राष्रीय मानवाधिकार आयोग में सबसे पहली शिकायत मेरी दर्ज की गयी और इस शिकायत पर बाबू इरानी पीड़ित को न्याय दिलवाकर एक थाना अधिकारी को अपराधी बना कर मुकदमा दर्ज करवाने के निर्देश दिए गये और मुआवजा भी दिलवाया गया । कल विश्व मानवाधिकार दिवस पर अप सभी ब्लोगर बन्धु जिलेवार मानवाधिकार कोर्ट खोलने ,समितिया गठित करने पुलिस आयोग और समितिया गठित करने , न्यायालयों और थानों में कमरे लगवाने के मामले में एक एक ब्लॉग अवश्य लिख कर नुब्ग्र्हित करने ताकि देश में कम से कम इस कानून की १७ साल बाद तो क्रियानाविती हो सके । अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान You might also like: लो क सं घ र्ष !: मेजबान होटल लखनऊ में लोकसंघर्ष पत्रिका के ... लो क सं घ र्ष !: क्या पतन समझ पायेगा... शिकारी .............. लो क सं घ र्ष !: या सुंदर केवल आशा... LinkWithin Posted by Akhtar Khan Akela at 9:33 PM 0 comments भारत में परमाणु ऊर्जा की आवश्यकता तरह के गर्मागर्म मुद्दों पर आधारित ''हिन्दुस्तान का दर्द'' आपको मौका देता है अपनी बात कहने का! तो खामोश मत रहिये अपनी बात कहिये.....अगर आप भी इस ब्लॉग पर लिखना चाहते है तो अपना ईमेल अकाउंट आपके फ़ोन नंबर और पते के साथ हमें-mr.sanjaysagar@gmail.com पर भेजें और अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें-9907048438 फेसबुक पर जुडिए Sanjay Sen Sagar Create Your Badge लिखिए अपनी भाषा में कॉमनवेल्थ याद रहेगा? कार्टून नेटवर्क कार्टून नेटवर्क • पुरस्कार • विश्व मानवाधिकार दिवस पर भी कुछ लिखा जाए • भारत में परमाणु ऊर्जा की आवश्यकता • हिन्दुस्तान का दर्द के समर्थक ध्यान दें. • अंदाज़ अपना - अपना • यह केसा मानवाधिकार जो लागू नहीं हे • एक चोराहा जिसने देखी भ्रस्ताचार और तोड़ फोड़ की सियासत • इस्लामिक नया साल पुरे देश और विश्व को मुबारक हो • हाय केसा हे यह आतंकवाद • अनजाना शख्श • पढ़िए सत्ता की सबसे बड़ी दलाली की कहानी • राजदीप सरदेसाई से एम जे अकबर तक- सब पर्दा डालने में जुटे हैं • भाई ललित शर्मा का राम राम कोटा के लियें • • Powered By Tech Vyom Thursday, December 9, 2010 पुरस्कार कोई पुरस्कृत क्यु होता है ? कोई जिंदगी भर बिना इनाम के ही .... इनाम वाला भी हो जाता है और कुच्छ लोग लगातार ......... नाम - इनाम बटोरते ही रहते हैं तो कुच्छ नाम येसे भी हैं , जो इनाम की शक्ल ही बदल देते हैं वे लेते हैं......... तो खबर बनती है ठुकराते हैं...... तो भी खबर बनती है क्युकी जो धूर्त होते हैं ... वो ........बहुत मीठे होते हैं और मीठे फलो मै कीड़े भी जल्दी होते हैं ............... तो बस उनकी मुस्कराहट को तय करने दो .......?. की उनकी मुस्कान कितनी निर्दोष है और फिर वो मिले तो जानो ..... की उनकी आँखों मै कितनी चमक है ? आखिर मै बस..... मिट्ठा न मिले तो.......... नमकीन से काम चलेगा क्या ? आजकल तो जेबकतरों और उठाई -गीरों को भी इनाम दे दिए जाते हैं ............... तो अब हम केसे तय करे की ........... पुरस्कार केसे दिए जाते हैं ? You might also like: गूगल डाका डाल रहा है, गूगल की डाकेजनी का वि‍रोध करो "पितृ पक्ष श्राद्ध " में कौओं का अकाल लो क सं घ र्ष !: या सुंदर केवल आशा... लो क सं घ र्ष !: यूं नियति नटी नर्तित हो.... LinkWithin Posted by Minakshi Pant at 11:12 PM 1 comments विश्व मानवाधिकार दिवस पर भी कुछ लिखा जाए विश्व मानवाधिकार दिवस की नोटंकी कल होगी देश भर में विश्व मानवाधिकार दिवस कल दस दिसम्बर को मनाने की नोटंकी की जाएगी इस नोटंकी में देश में कथित रूप से राष्ट्रिय स्तरीय और राज्य स्तरीय कई कार्यक्रम आयोजित कर लाखों रूपये बर्बाद किये जायेंगे लेकिन देश में आज भी मानाधिकार कानून मामले में देश पंगु बना हुआ हे देश में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का गठन वर्ष १९९३ में गठित कर सुप्रीम कोर्ट के जज रंगनाथ मिश्र को इसका अध्यक्ष बनाया गया और इसी के साथ ही राष्ट्रिय मानवाधिकार कानून देश भर में लागू कर दिया गया , रंगनाथ मिश्र ने इस कानून के माध्यम से देश भर में लोगों को न्याय दिलवाया लेकिन फिर सरकार अपने स्तर पर इस आयोग में नियुक्तियां करने लगी और आज देश भर में राष्ट्रिय और राज्य मानवाधिकार आयोग खुद एक सरकारी एजेंसी बन कर रह गये हें आयोग खुद काफी लम्बे वक्त तक खुद की सुख सुविधाओं के लियें लड़ता रहा और फिर जब राजकीय नियुक्तिया इस आयोग में हुई तो आयोग सरकार के खिलाफ कोई भी निर्देश देने से कतराने लगा , राजस्थान में भी मानवाधिकार आयोग हे लेकिन कई ऐसे मामले हें जिनमे सरकार के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हो सकी हे जब योग और कर्मचारियों तथा पदाधिकारियों की नियुक्ति सरकारी स्तर पर होती हे और वेतन भत्ते सरकार से उठाये जाते हें तो जिसका खायेंगे उसका बजायेंगे की तर्ज़ पर कम होता हे और स्थिति यह हे के देश में १९९३ में बने कानून के तहत आज तक किसी भी हिस्से में मानवाधिकार न्यायालय नहीं खोली गयी हे जबकि अधिनियम में हर जिले में एक मानवाधिकार न्यायायलय खोलने का प्रावधान हे लेकिन सरकार ने नातो ऐसा किया और ना ही पद पर बेठे आयोग के अध्यक्षों ने इस तरफ सरकार पर दबाव बनाया जरा सोचो जब आयोग खुद ही अपने कानून को देश में लागु करवा पाने में असमर्थ हे तो फिर दुसरे कल्याणकारी कानून केसे लागू होंगे । राजस्थान में पुलिस नियम अधिनियम २००७ में पारित हुआ इस कानून के तहत पुलिस और जनता की कार्य प्रणाली पर अंकुश के लियें समितियों और आयोग के गठन का स्पष्ट प्रावधान हे लेकिन आज तक तीन वर्ष गुजरने पर भी समितिया गठित नहीं की गयी हें जबकि थानों पर अंकुश के लियें इन समितियों का गठन विधिक प्रावधान हे इसी तरह मानवाधिकार कानून के तहत जिलेवार प्रतिनिधियों की नियुक्ति नहीं की गयी हे । देश के थानों में आज भी प्रताड़ना का दोर जारी हे हालात यह हें के हिरासत में मोतों का सिलसिला थमा नहीं हे सरकारी मशीनरी कदम कदम पर मानवाधिकारों का शोषण कर रही हे लेकिन आयोग के दायरे सीमित हें स्टाफ और सदस्य सीमित हें जिला स्तर पर कोई प्रतिनिधि नियुक्त नहीं किये गये हें और आयोग मात्र कार ड्राइवर और भत्तों का बन कर रह गया हे कुछ मामलों में आयोग कठोर रुख अपनाता हे तो उसकी पलना नहीं होती हे कोटा जेल के अंदर इन दिनों नियमित हिरासत में मोतें हो रही हें और हालात यह हें के राजस्थान और राष्ट्रिय मानवाधिकार आयोग ने कोटा जेल में मानवीय व्यवस्थाएं करने के लियें एक दर्जन से अधिक मेरी सोसाइटी ह्युमन रिलीफ सोसाइटी की शिकायत पर राज्य सरकार और कोटा के अधिकारीयों को निर्देश दिए हें मुझे गर्व हे के मानवाधिकार क्षेत्र में कार्य करने के लियें मेरी सोसाइटी ह्यूमन रिलीफ सोसिईती १९९२ में बनी और फिर १९९३ में आयोग और राष्ट्री मानवाधिकार कानून बना राजस्थान में कोटा से राष्रीय मानवाधिकार आयोग में सबसे पहली शिकायत मेरी दर्ज की गयी और इस शिकायत पर बाबू इरानी पीड़ित को न्याय दिलवाकर एक थाना अधिकारी को अपराधी बना कर मुकदमा दर्ज करवाने के निर्देश दिए गये और मुआवजा भी दिलवाया गया । कल

फ़्रांस की अरेवा कंपनी द्वारा महाराष्ट्र के जैतपुर में १६५० मेगावाट की दो नाभिकीय रिएक्टर स्थापित किया जायेगा .यह एक अच्छी खबर है .पर्यावरण मंत्रालय ने भी कुछ शर्तों के साथ इसकी स्थापना की इज़ाज़त दे दिया है .भारत को इस वक्त उर्जा की बहुत जरुरत है ,पेट्रोलियम के भण...
भड़ास...
Tag :
  June 1, 2012, 9:00 am
जीवन में पानीका रिश्तेमेंनानीकाऔर साहित्य में कहानी काबहुत महत्व होता है। लेकिनआनेवालेदिनोंमें पानी काप्रवाह ‘ठहर’ जाएगा। तब दुनिया में सिर्फ पानी कीकहानी होगी । नानी भी उसी कोयाद , जिसे पानी ·ी दर·ार होगी। होली में पिच·ारी न होगी, जेब में रेच·ारी न होगी। ले...
भड़ास...
Tag :
  June 1, 2012, 8:58 am
न्यूनतम  मजदूरी भी तो दो ?देश में नित नए नए समाचार चेनलो की बाढ़ आ रही है युवाओ को प्रलोभन देकर तो कुछ बेरोजगारी के कारन इन समाचार चेनलो से जुड़ रहे है लेकिन इन चेनलो द्वारा जिस तरह से युवाओ का दोहन किया जा रहा है इसे देखने वाला कोई नहीं है भले ही देश में पत्रकारों के हितो ...
भड़ास...
Tag :
  May 31, 2012, 11:40 pm
बाबा के समर्थन से अण्णा बने प्रधानमंत्री!25 जून 2012, नयी दिल्ली। गांधीवादी और सामाजिक कार्यकर्ता किसन बाबूराव उर्फ अण्णा हजारे भारत के नये प्रधानमंत्री मनोनीत किये गये हैं। बीते महीने देश में हुए ऐतिहासिक मध्यावधि चुनावों के परिणाम आज घोषित कर दिये गये। गांधीवादी औ...
भड़ास...
Tag :
  May 31, 2012, 12:36 pm
वर्ष 1991 में भारत सरकार के वित्त मंत्री ने ऐसा ही कुछ भ्रम फैलाया था कि निजीकरण और उदारीकरण से 2010 तक देश की आर्थिक स्थिति सुधर जाएगी, बेरोज़गारी खत्म हो जाएगी, मूलभूत सुविधा संबंधी सारी समस्याएं खत्म हो जाएंगी और देश विकसित हो जाएगा। वित्त मंत्री साहब अब प्रधानमंत्री बन ...
भड़ास...
Tag :
  May 31, 2012, 12:34 pm
केन्द्र सरकार का तुगलकी - फरमान एकाएक २३-०५-२०१२ को पेट्रोल की कीमत ७-५४ रुपये पैसे प्रति लीटर बढ़ा दी गयी। देश के हर पेट्रोल पम्पों पर अपनी अपनी गाड़ियों के साथ रात १२ बजे तक ग्राहकों की भारी भीड़ ताकि अपने अपने संसाधन और वाहन के हिसाब से वे अधिक से अधिक पेट्रोल भराकर ब...
भड़ास...
Tag :चिन्तन
  May 31, 2012, 9:05 am
"राइट टू रिजेक्ट" और "राइट टू रिकाल यानि प्रजाधीन राजा "  कानून होने भारतीयों को क्या मिलेगा जानिए--राईट टू रिजेक्ट  --१- किसी भी जन प्रतिनिधि का चुनाव  करते समय यह सुनिश्चित हो जायेगा की सही प्रत्यासी ही चुना जाये और गलत लोग न चुने ज़ा सके.२- आज की चुनाव  व्यवस्था म...
भड़ास...
Tag :
  May 30, 2012, 9:18 pm
भारत को विकसित बनने के लिए अपरिहार्य शर्ते : यह करना ही पड़ेगा और और यह संभव भी है - तो इस दिशा कदम बढ़ने में बाधक कौन है???१-कांग्रेस को जड़ से ख़तम करके दुबारा सत्ता में लौटने की सभी सम्भावनाये समाप्त करना होगा.२-विदेशी कंपनियों का भारत में आयात शुन्य करके इनके उत्पादों क...
भड़ास...
Tag :
  May 30, 2012, 4:41 pm
समाचारदूधातोली लोक विकास संस्थान को मिलेगा राष्ट्रीय महात्मा गांधी सम्मानमध्य प्रदेश सरकार ने वर्ष 2008-09 के राष्ट्रीय महात्मा गांधी सम्मान की घोषणा कर दी है। राष्ट्रीय महात्मा गांधी सम्मान राशि के मामले में भारत का सबसे बड़ा सम्मान है। इसमें 10 लाख रुपए की राशि एवं सम...
भड़ास...
Tag :
  May 30, 2012, 10:10 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3666) कुल पोस्ट (165842)