Hamarivani.com

संवेदना

ये जख्मे जिगर हम उठाए  कैसे तुम ही कहो अब मुस्कुराए कैसेआते है बार बार मेरी आंख मे आंसूहम अश्क अपने उनसे छुपाए कैसेतेरी यादो से ही रौशन है मेरी दुनियाये दिया अपने हाथो से बुझाए कैसेजुबां खुलती नही मेरी तेरी महफिल मेइस भरे बज्म हम कोई गीत सुनाए कैसे  ...
संवेदना...
Tag :अनु
  November 3, 2012, 12:56 pm
 ये जख्मे जिगर हम उठाए कैसेतुम ही कहो अब मुस्कुराए कैसे आते है बार बार मेरी आंख मे आंसूहम अश्क अपने उनसे छुपाए कैसे तेरी यादो से ही रौशन है मेरी दुनियाये दिया अपने हाथो से बुझाए कैसे जुबां खुलती नही मेरी तेरी महफिल मेइस भरे बज्म हम गीत सुनाए कैसे ...
संवेदना...
Tag :अनीता
  September 4, 2012, 12:07 pm
जिंदगी मेरी अब सजा हो गईमौत भी मुझसे बेवफा हो गईमोहब्बत का पैगाम न आया कोईजाने हमसे क्या खता हो गईरंजो गम फैला है इन हवाओं मेंक्यूँ हमसे खफा ये सबा हो गईखामोश बैठे है महफ़िल में इस तरहशामे मेरी भी अब बेसदा हो गई भटकते कदमों की आरही है सदाउनकी आवारगी की इन्तिहाँ हो गई...
संवेदना...
Tag :अनु
  July 16, 2012, 10:36 pm
कयामत की रात ये ढलती नहीं क्योंखिजा की रुत भी बदलती नहीं क्योंक्याबतलाऊ मैं तुझको ऐ दिलबरतन्हा रुत अब गुजरती नही क्यों टुटा है जब से ख्वाब मेरी आँखों काआंख शब भर मेरी लगती नहीं क्योंअब्र आते है बरसते हैं चले जाते हैकली दिल की मगर खिलती नहीं क्यों     बैठी हूँ बीच दरिया ...
संवेदना...
Tag :अनु
  January 2, 2012, 2:54 pm
This is a temporary post that was not deleted. Please delete this manually. (df5c4fbd-477e-452a-935b-b892f04a6db2 – 3bfe001a-32de-4114-a6b4-4005b770f6d7)...
संवेदना...
Tag :अनु
  December 29, 2011, 3:52 pm
उनके होठो पे तबसुम कोई प्यारा नही देखाफिर निगाहों ने कोई ख्वाब दोबारा नही देखाबारहा महके है गुज़रे हुए मौसम का खयाल कफस में फिर कभी गुलज़ार नज़ारा नहीं देखा शब को रोशन करें ये चाँद सितारे सारे करे जो रूह को रोशन वो सितारा नही देखातिश्नगी रूह की मेरी जो बुझाये कोई अब तल...
संवेदना...
Tag :अनीता
  December 29, 2011, 3:37 pm
वक्त रहता कभी एक सा नहीं हैयहाँ मोहोबत करना आसां नहीं हैउनकी यादो का साया है साथ मेरेक्या हुआ जो सर पर आसमां नहीं हैपीकर अक्सर बेअसुल हो जातेहो तुमपर जानती हूँ मै दिल तेरा शैतां नहीं हैखुदा की बख्स है चल रही है सांसेवरना जीने का मुझको अरमां नहीं हैमेरी बर्बादियो का तु...
संवेदना...
Tag :अनीता
  May 13, 2011, 4:47 pm
तीसरी कसम का खूबसूरत गीत जिसको राजकपूर ने अपनी अदाकारी से अमर बना दिया….का निर्गुण स्वभाव इसे रूहानी बनाता है… सुनिए खूबसूरत गीत सजन रे झूठ मत बोलो…………..संवेदना अनीता सिंह का ब्लॉग  http://abmp3.com/player/player.swfसंवेदना  Found at abmp3 search engine ...
संवेदना...
Tag :अनु
  March 5, 2011, 6:03 pm
CoolScraps.info !! More Bollywood Music Scraps !!http://coolscraps.info/img/Kalyug/2JiyaDhadakDhadakJaaye.swf...
संवेदना...
Tag :गीत
  February 25, 2011, 10:00 pm
कभी नजर से गिरा दियाकभी दिल में बसा दियामुहब्बत में तुमने हमेकभी हंसा तो कभी रुला दियाकभी प्यार बेसुमार कियाकभी दर्द बेइंतिहा दियाअपनी दीवानगी में तुमने हमेकिस मक़ाम पर पंहुचा दियाकभी मुसान में भर मिला दियाकभी सेहरा में तन्हा कर दियादिल को खिलौना समझ कर तुमनेहमे ह...
संवेदना...
Tag :अनीता
  February 22, 2011, 1:23 pm
ऐ मेरे सनम तेरी महोब्बत में हार के यूँ ही चले जाएगे शबे गम गुजार केहै मयकदा वीरान और सागर उदास है जाने से उनके रूठ गए दिन बहार केहम टूट भले जाएँगे शिकवा न करेंगे हमपे करम बहुत हैं उस सितमगार केख्वाबो के ही आलम में आजाये वो कभी पलकों में पालती रही दिन इंतजार केफिर तोड़ के ...
संवेदना...
Tag :अनीता
  February 19, 2011, 12:36 pm
This is a temporary post that was not deleted. Please delete this manually. (a56862c5-734c-4623-b824-a58210ad39ad – 3bfe001a-32de-4114-a6b4-4005b770f6d7)...
संवेदना...
Tag :अनु
  February 19, 2011, 12:22 pm
दर्द है दिल में और दिल परेशान हैबस यही दर्द अब मेरी पहचान है हम तेरी  आरजू में  फना होगयेमेरी चाहत से बस तू ही अनजान है अपना जीना फकत एक एहसास हैजिस्म में  जिंदगी जैसे मेहमान है हँसती रहती हूँ दिल को भी बहलाती हूँपर लबो की  हँसी भी तो  बेजान है तुझ को चाहा मेरी बस यही है ख...
संवेदना...
Tag :अनीता
  February 11, 2011, 1:20 pm
          सहराए जीस्त में गुलदान सजा रखा हैप्यार का दिया हवाओ में जला रखा है रोज़ ख़्वाबों में गिला करता है वफाओं कीएक मुद्दत से हमें जिसने भुला रखा है जाने वाले पलट के अलविदा तो कह जातेदिल को उम्मीद के साये में बिठा रखा है याद करते ही उन्हें डबडबा गयी आंखेजाने हमने भी ये ...
संवेदना...
Tag :अनु
  December 27, 2010, 11:49 am
...
संवेदना...
Tag :अनीता
  October 8, 2010, 6:16 am
मेरे जख्मो के जो मिल जाते निशां तन्हा होती मै न जिंदगी होती वीरां तेज आंधियों ने जो बुझाये है दिए उन चरागों से क्यों उठता है धुआँ तुम गर तोड़ दोगे यूँ आईने मेरे इन टूटी तस्वीरों को मै देदुंगी जुबाँ कल रात तेरी याद में रोते ही रहे संग रोने लगी ये सावन की घटा ऐसी राहों से भी ह...
संवेदना...
Tag :अनु
  September 12, 2010, 2:14 pm
मेरे जख्मो के जो मिल जाते निशां तन्हा होती मै न जिंदगी होती वीरां तेज आंधियों ने जो बुझाये है दिए उन चरागों से क्यों उठता है धुआँ तुम गर तोड़ दोगे यूँ आईने मेरे इन टूटी तस्वीरों को मै देदुंगी जुबाँ कल रात तेरी याद में रोते ही रहे संग रोने लगी ये सावन की घटा ऐसी राहों से भी ह...
संवेदना...
Tag :अनु
  September 12, 2010, 2:09 pm
...
संवेदना...
Tag :अनु
  September 7, 2010, 4:39 pm
उसने देखा न कभी एक नजर शाम के बाद कितने चुपचाप से लगते है शजर शाम के बाद गर जानना हो हाले दिल मेरा ऐ सनम देखना चाँद के दर्पण में मुझे शाम के बाद इतने चुप की रास्ते को भी नहीं याद होगा छोड देगे किसी रोज ये नगर शाम के बाद शाम से पहले मस्त परिंदे अपनी उड़ानों में छुप जाते है इन ध...
संवेदना...
Tag :अनु
  August 30, 2010, 7:32 pm
माना की आँख में नींद के सिलसिले नहींशिकस्त खवाब के मुझमे अब हौसले नहींये खबर मेरे दुश्मनों ने दी होगी तुमकोवो आये आके चलेगये और मिले भी नहींकौन है वो जो करता है अधेरो की बातचाँद तेरी याद के अभी तो ढले ही नहींअभी से हाथ तेरे थकने लगे है दिलदारअभी तो जख्म जिगर के मेरे सिल...
संवेदना...
Tag :गज़ल
  August 13, 2010, 6:39 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3666) कुल पोस्ट (165897)