POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: उड़न तश्तरी ....

Blogger: समीर लाल
बाजार जाता हूँ तो देख कर लगता है कि जमाना बहुत बदल गया है. साधारण सी स्वभाविक बातें भी बतानी पड़ती है. कल जब दही खरीदने लगा तो उसके डिब्बे पर लिखा था कि यह पोष्टिक दही घास खाने वाली गाय के दूध का है. मैं समझ नहीं पाया कि इसमें बताने जैसा क्या है? गाय तो घास ही खाती है. मगर इतना ... Read more
clicks 3 View   Vote 0 Like   2:49am 20 Oct 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
बचपन में वह बदमाश बच्चा था. जब बड़ा हुआ तो गुंडा हो गया. और बड़ा हुआ तो बाहुबली बना. फिर जैसा कि होता है, वह विधायक बना और फिर मंत्री भी. नाम था भगवान दास.रुतबे और कारनामों की धमक ऐसी कि पुलिस भी काँप उठे. कम ही होते हैं जो इस कहावत को धता बता दें कि पुलिस से बड़ा कौन गुंडा. भगवान द... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   11:54pm 12 Oct 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
आजकल मौलिक अधिकारों पर लगातार चर्चा हो रही है. किसी गलत बात को भी सही ठहरा देना और उसे राष्ट्रहित में बताना भी एक वर्ग विशेष के लिए आजकल मौलिक अधिकार की श्रेणी में आ गया है. मौलिक अधिकारों से छेड़छाड़ कतई बर्दाश्त नहीं की जायेगी. अगर आप उनके मौलिक अधिकार में दखल देंगे तो आप... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   1:26am 8 Sep 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
जिस हिसाब से आज इतिहास बदला जा रहा है, सड़को और शहरों के नाम बदले जा रहे हैं, गांधी नेहरू के काम बदले जा रहे हैं, ऐसे में पुराने समय की कहावतें और मुहावरों को भी एक बार पुनः देखा जाना चाहिये एवं अगर आवश्यक लगे तो बदला जाना चाहिए. यूँ तो अन्य चीजों में बदलाव बिना आवश्यकता के भ... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   12:39am 2 Sep 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
बचपन से परिचित - हम सहपाठी थे दर्जा आठ तक.फिर उसकी पढ़ाई की रफ्तार शनैः शनैः मद्धम पड़ गई और ११ वीं तक आते आते उसकी शिक्षा यात्रा ने उस वक्त के लिये दम तोड़ दिया.अक्सर मौहल्ले के चौराहे पर खड़ा दिखता ४-६ आवारा लड़कों के साथ. किसी ने बताया कि अब वो छोटी मोटी चोरी की वारदातों में शा... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   1:39am 25 Aug 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
हाल ही गोयनका जी के विपश्यना शिविर से लौटे. एक अद्भुत अनुभव. शायद अब बार बार जाना हो. लेकिन हम जैसे व्यंग्यकारों का मन तो हर जगह से कुछ और ही खोज लाता है. हमें तो राजपथ पर भी चलवाओ तो भी नजर साईड वॉक पर ही रहती है. अन्यथा मेरा अब मानना है कि हर व्यक्ति को अगर मौका लगे तो जीवन क... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   2:35am 18 Aug 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
कोई सुन्दर बाला आपसे कहे किवो २०-२० मैच में हिस्सा लेकर लौट रही है, तो सीधा दिमाग में कौंधता है कि चीयर बाला होगी. किसी के दिमाग में यह नहीं आता कि हो सकता है महिला लीग का २०-२० खेल कर लौट रही हो. वही हाल हमारा होता जा रहा है जब शाम हमारे घर लौटते समय कोई मिल जाये और उसे हम बता... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   1:47am 11 Aug 2019 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
भारत में जब रहा करते थे तब अक्सर पंखे के ऊपर और रोशनदान आदि में लगभग हर ही जगह चिड़िया का घोसला देख पाना एक आम सी बात थी. अक्सर घोसले से उड़ कर घास और तिनके जमीन पर, बाल्टी में और कभी किसी बरतन में गिरे देख पाना भी एकदम सामान्य सी घटना होती थी.उस रोज एक मित्र के कार्यालय पहुँ... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   1:15am 4 Aug 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
कुछ दिन पहले फ्रांस ने जब बच्चों को चपत लगाने को गैर कानूनी घोषित किया तो वो इस तरह का ५५ वाँ देश बना. सबसे पहले १९५७ में स्वीडन ने इसकी शुरुवात की थी. हमारा जन्म १९५७ के बाद हुआ. मगर जब किस्मत में पिटना लिखा हो तो कौन बचा सकता है?अतः भारत में पैदा हुए.शायद पिछले जन्म में न... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   1:31am 7 Jul 2019 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
आज सुबह से ही चौक पर भीड़ लगी है. विश्व कप चल रहा है. बिट्टू ने टीवी दुकान के बाहर निकाल कर रख दिया है. आज भारत पाकिस्तान का मैच होना है. पान की दुकान, चाय की दुकान सब आजू बाजू में ही हैं. कहीं भी बैठ लो और मैच के मजे लो.चौक पर मैच देखने का आनन्द ही अलग होता है. टीवी के समानन्तर एक ... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   12:03am 30 Jun 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
कल कलेक्टर साहब शाम को ही बोतल खोल कर बैठ गये. कहने लगे कि आज जल्दी सोना है. सुबह ५ बजे से अंबेडकर मैदान में योगा डे की ड्यूटी लगी है. वैसे भी जल्दी सोना और जल्दी जागना स्वास्थय के लिए बहुत लाभदायक है. ये खासियत है हमारे देश की. अगर बिजली चली जाये तो हम अँधेरे के फायदे गिनाने... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   5:42am 23 Jun 2019 #vyanga
Blogger: समीर लाल
हमारे शहर से ६० किमी दूर एक दूसरा शहर था. वहाँ पर स्टेशन के आलूबोंडे (बटाटा बडा) बहुत मशहूर थे. छुट्टी के दिन अक्सर हम मित्र लोग एक ट्रेन से जाते. छक कर आलूबोंडे खाते और दूसरी ट्रेन से लौट आते. रास्ते भर गप्प सटाका भी हो जाता. तब व्हाटसएप, फेसबुक आदि नहीं होते थे,अतः समय की कम... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   11:35pm 15 Jun 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
इस बार देश में ऐसी भीषण गर्मी पड़ी कि अच्छे अच्छों की गरमी उतार कर रख दी.चुनाव की गरमी उतरी और बस, सूरज महाराज ने कमान थाम ली. मीडिया से कहने लगे कि अब हमें कवरेज दो. टीआरपी का मजा तुम लूटो और जबरदस्त कवरेज के कारण सेलीब्रेटी होने का मजा हम लूटेंगे. बस, फिर क्या था मीडिया कवरे... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   1:42am 9 Jun 2019 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
अगर आपको यह लगता है कि बुद्धिजीवी बुद्धिमान होता है तो यह आपकी गलतफहमी हैं. बुद्धिजीवी और बुद्धिमानी का वो ही रिश्ता होता है जैसा कि जगमग रोशन ईमारतों का अपनी घुप्प अंधेरी नींव से होता है. बड़ी बड़ी बेवकूफियों की आधारशीला पर इन ऊँचे बुद्धिजीवियोंके गुंबद खड़े है.मूलतः बु... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   12:16am 2 Jun 2019 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
चुनाव के परिणाम आ गये हैं. जनता ने अपना आदेश दे दिया है. टीवी पर तो सभी नेताओं ने इसे जनादेश कहते हुए सर माथे से लगा लिया है. यही एक मात्र दिन होता हैं जब जनता को आदेश देने की अनुमति होती है. अब इसके बाद पाँच साल तक वो इस गुस्ताखी की सजा काटती है कि तेरी इतनी हिम्मत कि हमें आदे... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   1:06am 26 May 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
भारत गपोड़ियों का देश है. जो गप्पी नहीं हैं, उनकी देश में कोई पूछ नहीं है.ऐसे मेंएक बड़ी सी गप्प हम भी हाँक ही लें. हुआ यूँ कि जब हमने सहित्यिक कृति ’बाल नरेन्द्र’ पढ़ी, तो हमसे रहा नहीं गया और हम पहुँच गये साहब कासाक्षात्कार लेने. सर, आपके बचपन पर लिखी गई ’बाल नरेन्द्र’ पढ़ी. उस... Read more
clicks 34 View   Vote 0 Like   5:46am 19 May 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
सुजलाम सुफलाम, मलयज शीतलाम//शस्यश्यामलाम, मातरम//शुभ्रज्योत्स्ना पुलाकितायामिनिम//फुल्लाकुसुमिता द्रुमदला शोभिनीम//सुहासीनीम, सुमधुर भाषिणीम//सुखदम, वरदाम, मातरम//तिवारी जी भाव विभोर हुए मंच से आँख मींचे पूरे स्वर में गीत गा रहे थे. वे ’भाषा का स्तर और संयमित भाषा के ... Read more
clicks 67 View   Vote 0 Like   4:11pm 12 May 2019 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
देश में चक्रवाती तूफान आया है. ऐसा नहीं है कि बिना बताये चुपचाप से चला आया हो. मौसम विभाग को पूरी जानकारी होती है. कितने बजे आयेगा. कहाँ से शुरु होगा, किन राहों से गुजरता हुआ कहाँ पर खत्म होगा. कितनी रफ्तार से गुजरेगा. सभी जानकारी दे दी जाती है. तैयारियाँ भी भरपूर की जाती है... Read more
clicks 87 View   Vote 0 Like   1:30am 5 May 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
पास के घर से रेडिओ पर फरमाईशी नगमों के कार्यक्रम में गाना बज रहा था.गाने की फरमाईश इतने लोगों ने की थी कि लगा जैसे लोगों के पास पोस्ट कार्ड लिखकर गाने की फरमाईश करने के सिवा कोई काम ही नहीं है. जितनी देर गाना न बजता, उससे ज्यादा देर फरमाईश करने वालों के नाम बजते. मेरा बस चल... Read more
clicks 27 View   Vote 0 Like   2:47am 28 Apr 2019 #satire
Blogger: समीर लाल
नव रात्रे चल रहे हैं.आजकल घन्सु मौन धरे हैं. नंगे पाँव रहते हैं. सुबह एक गिलास दूध पीते हैं. फिर सारा दिन पूजा पाठ में लिप्त रहते हैं. शाम को आदतानुसार चौक पर आते हैं पान की दुकान पर, मगर जुबान से बोलते कुछ नहीं, बस आँख से बतियाते हैं. बात बात पर मुंडी मटकाते हैं न और हाँ करने ... Read more
clicks 116 View   Vote 0 Like   1:24am 21 Apr 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
तिवारी जी और घंसु देश की दोनों बड़ी पार्टियों का और तमाम आंचलिक पार्टियों का घोषणा पत्र पढ़ पढ़ कर तय कर रहे हैं कि किसमें से कौन सा हिस्सा उठाना है. इस तरीके से वो एक नया घोषणा पत्र तैयार कर रहे हैं. तिवारी जी और घंसु ने मिलकर गैर मान्यता प्राप्त एक नई पार्टी बना ली है. बस दो ह... Read more
clicks 120 View   Vote 1 Like   2:24am 14 Apr 2019 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
यह उस आलेख का विस्तार है जो सन २००७ में लिखा था. माँ के गुजर जाने के पश्चात पहली बार पिता जी अकेले कनाडा आये हुए थे मेरे पास. समय भी अजब शै है. जब हम चाहते हैं कि जल्दी से कट जाये तो ऐसा रुकता है कि पूछो मत और जब चाहें कि थमा रहे, तो ऐसा भगता है कि पकड़ ही नहीं आ पाता. बिल्कुल विद्... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   12:47am 9 Apr 2019 #Jugalbandi
Blogger: समीर लाल
युवा अवस्था क्रांतिकारी होती है. क्रांति भी ऐसी कि बस विरोध करना है एक बड़ी भीड़ का. इस चक्कर में वो गाँधी के स्वतंत्रता आंदोलन में योगदान को नकार देता है. नेहरु के राष्ट्र निर्माण को नकार देता है. वो इतने विश्वास से यह बात कहता है कि अगर गाँधी ने नेहरु की जगह पटेल को प्रधान... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   4:14am 31 Mar 2019 #hindi_blogging
Blogger: समीर लाल
साहित्य के रंग – शैलजा के संगटोरंटो के TAG TV से प्रसारित ’साहित्य के रंग – शैलजा के संग’ पर समीर लाल ’समीर’ और न्यू यॉर्क से अनूप भार्गव जी से बातचीत शैलजा जी की.TAGTV का facebook link:https://www.facebook.com/TAGTVCANADA/videos/1054068268118453/... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   12:57am 26 Mar 2019 #साक्षात्कार
Blogger: समीर लाल
रंग बिरंगी दुनिया मॆं कितने ही सफहें हैं अलग अलग रंगो के. हर वक्त हर व्यक्ति के लिए कोई न कोई नया रंग.  सब जोड़ कर देखो तो एक एकदम इन्द्रधनुषी दुनिया नजर आये. होना भी यही चाहिये.कल ही होली के रंगो से सारोबार मस्ति में नाचते गाते लोग आज उसी रंग के निशानों को दाग बताने में जु... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   1:22am 24 Mar 2019 #hindi_blogging
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post