Hamarivani.com

मल्हार Malhar

लगभग २ घंटे चश्मे शाही में बिताने के बाद पुनः एकबार राजभवन के रास्ते निशात बाग़ आना हुआ. मुख्य मार्ग के किनारे बने जलकुंड में लगभग १० फीट की ऊँचाई से ही बाग़ से निस्तारित होने वाला पानी एक जलप्रपात के रूप में नीचे आ रहा था. यह बागीचा भी डल झील  के किनारे से लगा हुआ है और पृ...
मल्हार Malhar...
Tag :Harwan Bagh
  June 30, 2012, 8:24 am
कभी कश्मीर  की नालों, नहरों,नदियों  पर लकड़ी के पुल हुआ करते थे जो आज पक्के हो गए और दो साल के अन्दर ही  रेलगाड़ी भी आ जायेगी. इस साल जितने सैलानी आये हैं उतने तो पिछले बीस साल में नहीं देखे गए थे. हमारे यहाँ कोई भिकारी नहीं है. कुछ लोग कामचोरी करने के लिए बहाने बना लेते हैं. ...
मल्हार Malhar...
Tag :Kashmir
  June 27, 2012, 9:41 am
आज एक वाकया हो गया. वैसे घर में तो तीन स्नानगृह/शौचालय है, मुझे ऊपर की मंजिल में एकदम बड़े वाले में जाना अच्छा लगता है. एक तसल्ली होती है क्योंकि मुंबई वाले जब यहाँ आते हैं तो उनका कहना होता था कि यह तो हमारे कमरे से बड़ा है. ऊपर से बाथ टब भी है जिसका प्रयोग हमने कभी नहीं किय...
मल्हार Malhar...
Tag :Humour
  May 25, 2012, 10:34 pm
आज विश्व धरोहर दिवस है. अपने आसपास बिखरे धरोहरों को संरक्षित रखने में सहायता करें.सदियों पहले से विभिन्न राजाओं के द्वारा अपनी शौर्य गाथा के प्रचार के लिए शिलालेखों  का प्रयोग होता रहा है. ऐसे लेखों को हम प्रशश्ति लेख कहते हैं. सम्राट अशोक के लेख कुछ लीक से हटकर है...
मल्हार Malhar...
Tag :Archaeology
  April 18, 2012, 9:16 pm
मेरे भाई के घर बहू का चचेरा भाई कहलाने वाला एक भद्र पुरुष आया हुआ था. कर्मकांडी प्रवृत्ति का और अपने शहर के समाज में कर्ता धर्ता.   उन्हें कांचीपुरम के मठाधीश (शंकराचार्य) से मिलने और सलाह मशविरा करने  जाना था जिसके लिए व्यवस्था कर दी गयी थी. बहू ने मुझसे कहा, आप भी चले जाओ,...
मल्हार Malhar...
Tag :History
  April 10, 2012, 8:35 am
रोगग्रस्त  हो जाने की स्थिति में आम आदमी किसी ऐसे डाक्टर के पास जाता है जिस पर उसकी आस्था हो और जो सर्वगुण संपन्न हो अर्थात एक जनरल प्रेक्टिशनर . यदि बीमारी उसके बूते के बाहर का हो तो किसी विशेषज्ञ को निर्दिष्ट कर दिया जाता है. शहरी व्यक्ति के पास बड़े विकल्प होते हैं. ना...
मल्हार Malhar...
Tag :Archaeology
  February 26, 2012, 9:30 am
विश्व व्यापार में काली मिर्च का महत्वपूर्ण स्थान रहा है, और संभवतः बना ही रहेगा. इसमें इतनी शक्ति थी कि इसने विश्व के इतिहास को ही बदल डाला. पश्चिम से जितनी भी समुद्री यात्राएं हुई हैं वे सब इसी वस्तु के खोज के लिए की गयीं थीं. अमरीकी महाद्वीप  भी इसी के चक्कर में अनायास ...
मल्हार Malhar...
Tag :Black Pepper
  January 22, 2012, 9:46 am
शहर की आपाधापी से तंग, काफी कुछ लोग अपने सप्ताहांत या छुट्टियाँ मनाने आसपास  किसी ऐसी जगह जाना चाहते हैं जहाँ उन्हें कुछ सुकून मिल सके. कुछ शहरों के आस पास ऐसे स्थल भी होते हैं. कोयम्बतूर इस मामले में धनी है क्योंकि कुछ अच्छी झीलों के अतिरिक्त पश्चिमी घाट  श्रंखला करीब ...
मल्हार Malhar...
Tag :Bio-diversity
  January 13, 2012, 8:58 am
कोयम्बतूर (तामिलनाडू) से लगभग ३० किलोमीटर  दूर वेल्लियांगिरी पर्वत की तलहटी में, वर्षा वनों के मध्य, १५० एकड़ के भूभाग में फैला एक संस्थान है, “ईशा”. एक आधुनिक महानात्मा जिन्हें सदगुरु कह कर संबोधित किया जाता है, उनके क्रिया कलापों का केंद्र “ईशा संस्थान – Isha Foundation”. ऐसा क...
मल्हार Malhar...
Tag :Iconography
  January 5, 2012, 7:00 am
कोच्ची के ब्रोडवे में गाडी पार्क कर पैदल ही फूटपाथ पर निकल पड़े. कुछ ही दूर गए की सड़क पर एक तंदरुस्त व्यक्ति भीक मांग रहा था, कह रहा था, मैं आँखों और पैर दोनों से लाचार हूँ. इस बात की पुष्टि हो रही थी कि वह एक पैर गवां चुका था. परन्तु उसके पास आधुनिक बैसाखी भी थी. कुछ शंका हुई औ...
मल्हार Malhar...
Tag :Community
  December 20, 2011, 12:38 pm
संयोगवश आज कोको दिवस है.हम सब भाई बहन केरल के अपने घर में इकट्ठे  हुए थे अपने दिवंगत पिता की जन्म शताब्दी मानाने. मैं अपना केमरा लिए बागीचे की बाड के आस पास घूम रहा था. बहुतेरे जंगली बेल आदि उग आये थे जिनमे खूबसूरत फूल या फल लगे थे. जो अच्छे लगे उनकी तस्वीर ले रहा था. एक भाई ...
मल्हार Malhar...
Tag :Bio-diversity
  December 13, 2011, 7:30 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163583)