Hamarivani.com

Amit Mishra

अस्थायी रिश्ते:कुछ रिश्ते गमले में उगी घास की तरह होते हैं...घास जो अचानक ही पेड़ के आस पास उग आती है उसके चारों ओर एक सुंदर हë...
Amit Mishra...
Tag :
  May 20, 2019, 10:00 am
आजकल मार्केट में एक नई खेप आयी है मोटिवेशनल स्पीकर्स की जो बच्चों को सिखाते हैं कि आप अपने मार्क्स पर ध्यान मत दीजिए... बिन&...
Amit Mishra...
Tag :
  May 16, 2019, 11:17 am
एक लड़की प्यारी  सुंदर परियों  के जैसी ना जाने क्यों वो बस मुझ पर ही मरती हैमैं टूटा बिखरा  ख़ुद में खोया रहता हूँवो उसपे भी...
Amit Mishra...
Tag :
  May 14, 2019, 9:29 am
प्रेम पथिक बनने की मैंने, वजह को ऐसे ढूंढ़ लियाचाँद सितारों से जाकर के, पता तुम्हारा पूछ लियापाकर तुमको ये जाना है-2, मैंने ख़...
Amit Mishra...
Tag :
  May 3, 2019, 10:39 am
जो वक़्त की बिसात पे तू हौसले बिछाएगाफ़लक नही है दूर फिर सितारे तोड़ लाएगाआँधियों के वेग में अडिग खड़ा रहा अगररुख़ हवाओं का त...
Amit Mishra...
Tag :
  April 28, 2019, 10:02 am
आदतन रो लेता हूँ अबउदासी  खूब  भाती  हैतन्हाई माशूका है  मेरीदूर जा जाके लौट आती हैदिल के दरिया से निकलकोई  नदी  सी  आती...
Amit Mishra...
Tag :
  April 23, 2019, 11:21 am
सुबह ने कान मेंकुछ कह दिया उधर सूरज सेझाँकने लगी है किरणेंइधर खुली खिड़कियों सेदीवारें चीख रही हैं शायद कोई किस्सा लिए ब...
Amit Mishra...
Tag :
  April 19, 2019, 2:52 pm
तन्हाई के तकिये तले जलती रही एक आस की लौ आँसुओं की ओस में भीग रही दो अधखुली आँखेंपलकों के दरवाजे पर दस्तक दे रही है नींदइं&#...
Amit Mishra...
Tag :
  April 17, 2019, 12:50 pm
लंका दहन के पश्चात जब हनुमान जी श्रीराम एवं सुग्रीव जी के पास शिविर में वापस आये तो सभी ने हर्षोल्लास के साथ उनका स्वागत ...
Amit Mishra...
Tag :
  April 2, 2019, 11:22 pm
रेगिस्तान ढक दिए जाएंगे समंदर के पानी सेमछलियाँ साहिल पे गुफा बना कर रहने लगेंगीतितलियाँ पेड़ों पर अपने घोसलें बना लें&...
Amit Mishra...
Tag :
  March 26, 2019, 9:37 am
कोई प्रेमी जब चाँद को ज़मीन पर ले आएगाप्रेमिकाएं सितारों को अपने जूड़े में बांधेंगीशराबी मयखाने ना जाकर आँखों से नशा करे...
Amit Mishra...
Tag :
  March 26, 2019, 9:36 am
एक आशिक़ को इस तरह बेचारा नही करतेबाद  जुदाई  के  प्यार  से  पुकारा नही करतेकुछ  तो  खौफ़  ख़ुदा  का  तुम  भी रखोकरके  वादे&nbs...
Amit Mishra...
Tag :
  March 19, 2019, 10:59 am
मैं तुम्हे बाँधना नही चाहता थामैं तुम्हे रोकना चाहता थातुम कल कल करती एक नदी की मानिंद बह जाना चाहती थी अन्जान दिशा में ...
Amit Mishra...
Tag :
  March 10, 2019, 9:32 pm
प्रेम पर रची गयी हर कविता में मैं तुम्हे पढ़ता हूँविरह के हृदय भेदी शब्दों को महसूस करता हूँपरिस्थितियों को परिभाषित कर...
Amit Mishra...
Tag :
  March 8, 2019, 11:59 am
टूटे  इस  रिश्ते  में, आ  कर के  गिरह  दे दोशिकवों को संग लाओ, लंबी सी जिरह दे दोअश्कों  से  भरी आँखें, ग़मगीन  सी  हैं  रातेæ...
Amit Mishra...
Tag :
  February 27, 2019, 9:32 am
रब से कोई दुआ थी माँगीफल में जिसके  पाया ग़मसबके हिस्से आई खुशियाँमेरे   हिस्से   आया   ग़मभोर दोपहर या हो संध्याबदली बन ...
Amit Mishra...
Tag :
  February 24, 2019, 3:27 pm
यादें....याद है तुम्हें जब थोड़ी सी बारिश में भी मैं बहुत ज्यादा भीग जाया करता था..क्योंकि मैं जानता था घर पहुँचने पर तुम डाँट...
Amit Mishra...
Tag :
  February 23, 2019, 9:52 am
अथाह प्रेम की गहराइयों में उतरसहनशीलता के चरम को पा लेती हूँमैं  प्रेम  में  डूबी  स्त्री  हूँमैं सब कुछ छुपा लेती हूँë...
Amit Mishra...
Tag :
  February 20, 2019, 3:10 pm
हो बात अगर बस ख्याति कीमैं  ख़ुद  ही  पीछे  हो  जाऊंविख्यात बनो तुम अमर रहोमैं इतिहास बनूँ और खो जाऊंतुम बनो देवता मंथन म...
Amit Mishra...
Tag :
  February 19, 2019, 11:25 am
गिरा है जो उठा ना हो, जो उठ गया गिरा नहीजो पास है तेरा ही है, जो ना  मिला  तेरा नहीआदि है अनंत है, प्रयत्न का ना  अंत हैमार्ग जो...
Amit Mishra...
Tag :
  January 15, 2019, 1:21 pm
विश्वास हमारी गाड़ी में लगे पहिये के मानिंद है.. पहिया जो कि निरंतर चलता रहता है बिना रुके और हम मानते हैं कि वो पहिया पहुंच&...
Amit Mishra...
Tag :
  January 15, 2019, 1:19 pm
आकर्षण एक नवजात शिशु की मानिंद होता है जो शुरू में तो बहुत निर्मल, निश्छल, प्यारा और मोहक लगता है क्योंकि वो अभी अभी हमारे &...
Amit Mishra...
Tag :
  January 15, 2019, 1:17 pm
रात अमावस गहरी कालीजाने क्यों ना  आया  चाँदओढ़ी बदरी सोया फिर सेथोड़ा सा  अलसाया  चाँदसहमी चिड़िया डरी गिलहरीथोड़ा  और  इ&...
Amit Mishra...
Tag :
  January 6, 2019, 7:13 pm
क्यों माई मुझे  अब बुलाती नही हैक्या तुझको मेरी याद आती नही हैबड़ी बेरहम है  शहर की ये दुनियाजो भटके तो रस्ता दिखाती नही ह...
Amit Mishra...
Tag :
  January 6, 2019, 7:09 pm
चाँद रात्रि का बड़ा बेटा है और ये सितारे उसके छोटे भाई बहन...दिन का समय इनका खेलने और सीखने का समय होता है तो ये घर से बाहर निक...
Amit Mishra...
Tag :
  December 28, 2018, 10:11 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3872) कुल पोस्ट (188653)