POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: अनकहे किस्से

Blogger: Amit Mishra
किसी इंसान की ज़िंदगी का वह दौर सबसे भयावह होता है जहाँ पूरी दुनिया की भीड़ मिलकर भी उसकी तन्हाई दूर नही कर पाती। उसके चारो... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   6:08am 12 Sep 2019
Blogger: Amit Mishra
निश्छल और निष्पाप रूप मेंजीव  धरा  पर  आता हैआसक्ति और मोह के वश मेंजीवन  व्यर्थ  गंवाता  हैज्ञानी रावण भी क्रोधित होप... Read more
clicks 14 View   Vote 0 Like   4:04am 10 Sep 2019
Blogger: Amit Mishra
व्यर्थ बहाता क्यों है मानवआँसू  भी  एक  मोती  हैजीवन पथ पर अग्निपरीक्षासबको  देनी  होती  हैअवतारी भगवान या मानवसब  ह... Read more
clicks 45 View   Vote 0 Like   4:12am 2 Sep 2019
Blogger: Amit Mishra
मैं अक़्सर सुनता हूँ तुम्हारा ये शिकायती लहजा जब तुम मुझे बताती हो कि तुमने बहुत बार प्रेमियों को अपनी प्रेमिकाओं से ये è... Read more
clicks 25 View   Vote 0 Like   4:13am 29 Aug 2019
Blogger: Amit Mishra
मैं  चाहूँ  तुझे  ही, ये  कैसे  बताऊँजो पढ़ के ना समझे तो कैसे जताऊँदेखूँ तुझे तो मैं, ख़ुद ही को भूलूँयूँ  चेहरे से नज़रें  म&#... Read more
clicks 29 View   Vote 0 Like   1:03pm 24 Aug 2019
Blogger: Amit Mishra
यूँ ही कल झाड़ पोंछ में ज़हन कीवक़्त की दराज़ से निकल आये कुछ ख़्याल पुराने जो कहने थे उनसे जो मौजूद नही थे सुनने के लिए....कुछ ख़त ज... Read more
clicks 33 View   Vote 0 Like   3:50am 19 Aug 2019
Blogger: Amit Mishra
प्रेम एक प्राकृतिक प्रक्रिया है।प्रेम होना ठीक वैसा ही है जैसे पेड़ों में स्वयं पत्ते लगना, कलियों का स्वयं फूलों में पर... Read more
clicks 53 View   Vote 0 Like   5:54am 12 Aug 2019
Blogger: Amit Mishra
हम सभी अक़्सर बस या रेल से सफ़र करते हैं और हर लंबें सफर के रास्ते में कुछ ऐसी जगहें आती हैं या दिखती हैं जब लगता है कि देखो किê... Read more
clicks 36 View   Vote 0 Like   9:28am 4 Aug 2019
Blogger: Amit Mishra
आज पहली बार इस डायरी में कुछ लिखने जा रहा हूँ।तुम अक़्सर कहा करती थी ना कि अगर तुम्हें लिखने का इतना ही शौक है तो डायरी में ल... Read more
clicks 28 View   Vote 0 Like   3:59am 31 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
उफ़्फ़ ये पहली बारिश...ये पहली बारिश भी ना बड़ी जिद्दी होती है, हर बार चली आती है, अपने उसी पुराने रूप में। बचपन से आज तक सब कुछ बद&#... Read more
clicks 30 View   Vote 0 Like   5:20am 29 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
तेरी याद में डूबा हूँ परग़म के प्याले नही भरूँगासुन लूँगा इस जग के तानेनाम तेरा मैं कभी ना लूँगाबढ़ जाऊंगा तन्हा ही अबराह ... Read more
clicks 76 View   Vote 0 Like   9:31am 19 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
मैंने आँखों में झाँक कर इजाज़त लेनी चाही मगर हर बार उसने नजरें मिलने से पहले ही पलकें झुका ली...आँखों की सहमती ना मिल पाने के... Read more
clicks 60 View   Vote 0 Like   4:51am 16 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
चुनाव:मुझे बुद्ध के मार्ग पर चलना था तो मैंने कृष्ण का उपाय चुना....जैसे कृष्ण ने संधि और युद्ध में से युद्ध को चुना ताकि शां... Read more
clicks 53 View   Vote 0 Like   4:20am 11 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
Hi,कैसी हो? ठीक ही होगी.....ठीक क्यों मजे में होगी..मजा ही आता है ना तुम्हे मुझसे दूर रहकर मुझे तड़पाने में...पर देखो अब मैं तड़पता नह... Read more
clicks 63 View   Vote 0 Like   4:37am 8 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
ज़िंदगी कट तो रही थी तुमसे पहले भीज़िंदगी  कट  जाएगी  तुम्हारे  बाद  भीतुम आए तो यूँ लगा मानो खुशियाँ वो नाव बनकर आयी हों ज&#... Read more
clicks 45 View   Vote 0 Like   4:04am 6 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
ज़िंदगी कट तो रही थी तुमसे पहले भीज़िंदगी  कट  जाएगी  तुम्हारे  बाद  भीतुम आए तो यूँ लगा मानो खुशियाँ वो नाव बनकर आयी हों ज&#... Read more
clicks 18 View   Vote 0 Like   4:04am 6 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
चाहता  मैं भी  हूँ  मैं  उधर जाऊंहै नही वो वहाँ फ़िर भी घर जाऊंगाँव की सारी गलियों में देखा उसेढूँढ़ने  अब  उसे  मैं  शहर  ज... Read more
clicks 68 View   Vote 0 Like   4:40am 3 Jul 2019
Blogger: Amit Mishra
उम्मीदें:हौसलों की कुछ स्वरचित कहानियाँ पढ़ने के बाद कभी कभी हम इतने ज्यादा आशावादी हो जाते हैं कि हमें लगने लगता है कि ह... Read more
clicks 59 View   Vote 0 Like   4:33am 28 Jun 2019
Blogger: Amit Mishra
छोटी  बिंदी  बड़ा  सा  गजराछम छम करती उसकी पायलसरके  चूनर  कांधे  से  जबतिल गर्दन का करे है घायलचले  तो  चूड़ी  शोर  मचाएë... Read more
clicks 77 View   Vote 0 Like   4:01am 27 Jun 2019
Blogger: Amit Mishra
प्यार में धोखा बात पुरानीग़म काहे को  करता प्यारेनदी, धरा और  ऊँचे पर्वतसब के सब ही ग़म के मारेबरखा, बारिश, ओस की बूंदेंनम  ç... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   4:24am 24 Jun 2019
Blogger: Amit Mishra
अक़्सर ही मैं दिल को अपने, ये समझाया करता हूँतू मरता है जिस पर पगले, मैं भी उस पर मरता हूँसाँझ सवेरे उसी चौक पर, जाने मैं क्यों जाता हूँयार मेरे हों या हों दुश्मन, सबसे मैं छुप जाता हूँचौराहे पर बैठा अक़्सर, राह उसी की तकता हूँतू मरता है जिस पर पगले, मैं भी उस पर मरता हूँमीर से ... Read more
clicks 58 View   Vote 0 Like   12:30am 20 Jun 2019
Blogger: Amit Mishra
लड़के अक़्सर लापरवाह होते हैं, उन्हें फ़र्क नही पड़ता समाज के किसी नियम-कानून से..उनके लिए समाज उनका सबसे बड़ा पक्षधर है...वो ख़ुद को सुरक्षित महसूस करते हैं....मगर प्यार में पड़े हुए लड़के समझदार हो जाते हैं, उन्हें ज्ञान हो जाता है समाज में फैली हर बुराई का..वो समाज में फैली उस बुर... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   10:43am 18 Jun 2019
Blogger: Amit Mishra
तिल काला  गोरे गालों पे, उस पर  होंठों की लालीचले तो ऐसी कमर हिले, हो जैसे गुड़हल की डालीनैन कटीले जिगर को चीरें, पास बुलाए ह&#... Read more
clicks 64 View   Vote 0 Like   7:27am 10 Jun 2019
Blogger: Amit Mishra
सहनशीलता की सीलन धीरे धीरे दिल की दीवारों को कमजोर बना देती है..समझदारी का सीमेंट बार बार लगाने पर अविश्वास की एक मोटी पर... Read more
clicks 46 View   Vote 0 Like   8:34am 9 Jun 2019
Blogger: Amit Mishra
विडंबना:एक इंसान के लिए सबसे ज़्यादा मुश्किल काम है उदासी में किसी अपने के ''क्या हुआ ??''पूछने पर ''कुछ नही''वाला जवाब देना...वो भी... Read more
clicks 72 View   Vote 0 Like   5:14am 1 Jun 2019
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3910) कुल पोस्ट (191424)