Hamarivani.com

आर्यन

जल जंगल जमीन ने कब कहा नदियों में बहेगी खून की धारजल जंगल जमीन ने कब कहा हरियाली पहनेगी खूनी हारजंगल से पूछा है तुमनेअमन चाहिए या चित्कारनदियों से पूछा  है तुमनेजल चाहिए या रुधिर धारकिसने दी आवाज तुमको कब लगाई  है गुहारदेकर वास्ता भलाई का कर रहे  हो अत्याचार जंगल ...
आर्यन...
Tag :
  April 15, 2018, 3:53 pm
नीम का पेड़मूक-मौन खड़ा हैदशकों सेलड़ता रहा हैतपिश से छांव के लिएनिःशब्द सवाल करता हैइंसान सेजाति-धर्म काविधान क्या है?इंसानियत कासंविधान क्या है?लोग आते हैंसुस्ताते हैं,चले जाते हैं दशकों सेक्रम जारी हैजवाब के इंतजार में यू्ं ही खड़ा हैनीम का पेड़...
आर्यन...
Tag :
  December 30, 2017, 2:57 pm
इस अंधेरी बस्ती में,उम्मीद की लौ जलती है|टूटे हुए छप्पर में,गरीबी सिसकती है|लिहाफ के छेद में,सपने हजार पलते हैं|सूरज की ईष्या से,पलभर में दरकते हैं |दिन के उजाले में,सन्नाटा पसर जाता है|बस्ती की गलियों में,भूख जो टहलती है|अखबारों, इश्तिहारो में,विकास की बाते हैं|कोई तो पत...
आर्यन...
Tag :
  December 27, 2017, 3:53 pm
शहर में पसरा सन्नाटा कुछ कह रहा हैलेकिन उनके पास वक्त नहीं दरअसल वो देशहित चिंतक हैंउनके अपने विचार और आदर्श हैंवे विमर्श करेंगे वर्तमान हालात पर प्रकाश डालेंगे कूटनीति परवे राष्ट्रभक्त हैं और बुद्धिजीवी भी हैंवे सिर्फ सवाल तय करते हैंअधिकार है उनका, देश खतरे में ह...
आर्यन...
Tag :
  December 27, 2017, 3:28 pm
गीत या गजल बन कर दूंगा जब आवाज मैंगुनगुना लेना तुम बन जाउंगा राग मैंइश्क़ को सजदा करेंगे, तारे जगमगाएंगेआशिकी की दास्तां संग तेरे गुनगुनाएंगेचुपके चुपके चांद संग चांदनी भी आएगीप्रीत की चुनरिया ओढ़े प्रेम गीत गाएगीरागिनी बन जाना तुम बन जाउंगा साज मैं |इश्क नेमत है खु...
आर्यन...
Tag :
  December 25, 2017, 2:38 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3801) कुल पोस्ट (179816)