Hamarivani.com

मेरी दुनिया

फुलझड़ी को देखकर ही भर गया है जी...ये दो घंटे भी हुजूर मेरे लिए पहाड़ हैं।चर्खी की चर्चा न करो, क्योंकि मैं स्वयं हो गया हूँ एक चर्खी जीवन के चाक पर चढ़ा हुआ। एक सेकंड भी और नाच नहीं सकता। दो घंटे में दम निकल जायेगा।अभी नथुनों से विजयदशमी के रावणों के बारूद की गंध निकली नहीं ह...
मेरी दुनिया...
Tag :विचार
  October 29, 2018, 2:09 pm
एक मच्छर दूसरा तिलचट्टा है,एक सिल है तो दूसरा बट्टा है,थोड़ी खटर पटर ही सही,प्रेम में लुनाई न सहीथोड़ा मीठा है थोड़ा खट्टा है।।1।।तुम अनार का जूस पीती रहो,और हथिनी सा जीती रहो,चिन्ता ये नहीं कि तू ज्यादा जी जायेगी,चिन्ता ये है उठायी कैसे जायेगी।।2।।कृपया पोस्ट पर कमेन्ट कर...
मेरी दुनिया...
Tag :हास्य
  October 29, 2018, 1:49 pm
बहुत दिनों के बाद जिसे मैं कविता कहता हूँ प्रस्तुत कर रहा हूँ।शराफत शरीफों के घर से गई,हवेली हमारी नजर से गई।।कहाँ कौन शातिर बताये भला,चमन छोड़ चिड़िया किधर से गई।।करूँ वायदा फिर से मुमकिन नहीं,अभी पीर पिछली जिगर से गई।।परेशान रातों की चुभती घुटन,बहुत वक्त बीता उमर से ग...
मेरी दुनिया...
Tag :गजल
  October 21, 2018, 3:27 pm
सामने दुकान है, दुकान के पास खड़ा है नीम का पेड़, इस पेड़ के चारों ओर बाँधा गया है चबूतरा। कल तक पेड़ और चबूतरा दोनों प्रफुल्लचित्त रहते थे कल शायद फिर प्रसन्न हों किन्तु आज उदास हैं, शायद सिर्फ यही उदास हैं अगर कोई अन्य उदास है तो वह है लेखक। क्योंकि थोड़ी देर पहले इस चबूतरे से...
मेरी दुनिया...
Tag :
  October 11, 2018, 6:41 am
सीता जी के जन्म को लेकर बड़ा विवाद है भाई, कोई उन्हें जनकसुता कहता है तो कोई कोई उसे रावण की पुत्री तक सिद्ध करते हैं कोई उसे...
मेरी दुनिया...
Tag :विचार
  June 2, 2018, 5:22 pm
27/05/2018सत्तर साल में जैसे झेले,तुम भी वैसे निकले बाबा।हम समझे थे शुरू हमारा,अब सौतन का राज गया।छाएगी हलवे की खुशबू,घर से लहसुन प्याज गया।संस्कृति संस्कृत के दिन आये,तन से खुजली खाज गया।घोड़े रेस जीत पायेंगे,अब गदहों का ताज गया।अब हम जाने फर्क नहीं कुछ,जैसे काशी वैसे काबा।...
मेरी दुनिया...
Tag :काशी
  May 29, 2018, 1:30 pm
18/05/2018आलिंगन की बेला थी तब दोनों खोये|यौवन के घमण्ड में भरकर मुड़ मुड़ रोये|निशा गयी प्राची में ऊषा झांक रही है|तब क्यों मुझसे भीख प्रणय की माँग रही है|विषय वासना के क्षण बीते ओ! मतवाली|शैय्या तज दे सुबह हुई फैली उजियाली|मेरे तेरे मध्य न दालें गलने वाली|जब उपवन में भँवरों की ग...
मेरी दुनिया...
Tag :ऊषा
  May 26, 2018, 12:00 pm
4/05/2018हम तो एक से ही परेशान थे।अब तो दो दो जेठ आ गये।बादल कहाँ हैं? घूँघट कर लूँ।फिर पिया की याद के झोंके सता गये।।उसके पास होने का अहसास,तपती दोपहर जिया जुड़ा जाता है।जेठ या देवर, चिन्ता नहीं होती,सारा रंज और भय उड़ा जाता है।।घर बड़ा फिर मैं अकेला खोज हारा,बिन पिया के मिल न पाय...
मेरी दुनिया...
Tag :घूँघट
  May 25, 2018, 9:55 am
लिखना तो बहुत दिनों से चाहता था किन्तु लिखा नहीं| जैसे ही मोदी सरकार ने रेपिस्टों के खिलाफ कठोर कानून बनाया कि नाबालिग से रेप करने वाले को फाँसी की सजा दी जायेगी व अन्य में अधिकतम सजा उम्रकैद होगी तो मैं अपने को लिखने से रोक नहीं पाया|रेप अत्यधिक निन्दनीय कृत्य है, किसी ...
मेरी दुनिया...
Tag :रेप
  April 26, 2018, 4:58 pm
आज समाचार छपा है कि जनधन खातों से अब 24 घण्टे के लिए 5000 हजार का कर्ज बिना ब्याज लिया जा सकता है। अब किसी गरीब से इतना भद्दा मजाक...
मेरी दुनिया...
Tag :विचार
  April 25, 2018, 3:04 pm
हो सके तो प्रेम की लौ खुद जलाइए।यूँ नहीं इल्जाम ये हम पर लगाइए।खत अनेकों लिख लिए हैं तेरे वास्ते।किस पते पर भेज दूँ इतना ...
मेरी दुनिया...
Tag :कविता
  April 22, 2018, 12:06 pm
हर किसी के वास्ते ठहरा नहीं जाता। टोटकों से प्रेंम सच गहरा नहीं जाता।नेह उर  में हो अगर स्वारथ रहित प्यारे,तो हृदय में बì...
मेरी दुनिया...
Tag :चेहरा
  April 20, 2018, 8:24 am
हो लिया है बन्द भी और हो लिया उपवास भी|हानि में है देश क्या कुछ शेष है उपहास भी|खिंच गये पाले हमारे दो करों के मध्य में,हम हो गये हैं एक सँग प्रसन्न भी उदास भी|दी गयीं बैशाखियाँ थीं दस बरस के ही लिए,जो थे लंगड़े उनकी संख्या में कमी आई नहीं,स्थिर व्यवस्था हो गयी है नफरतों क...
मेरी दुनिया...
Tag :
  April 12, 2018, 8:55 pm
गंगाघाट की सीढियों पर बैठे हुए संजय मानो गंगा माँ में तैरते व हिचकोले खाते हुए दीपों की गिनती कर रहा था| अभी सूरज ठीक से अस्त नहीं हुआ था, किन्तु हर की पैड़ी पर होने वाली गंगा आरती में भाग लेने के लिए आने वाले श्रद्धालुओं का जमघट लगना शुरू हो गया था| संजय भी आरती में भाग लेन...
मेरी दुनिया...
Tag :
  April 12, 2018, 7:52 pm
उसको थोड़ा ऊँचा कर दो इसको थोड़ा नीचा।हम समान करके मानेंगे गद्दा और गलीचा।।कोई सिर न झुकायेगा अब चाहेगा आशीष नहीं।एक कुड़...
मेरी दुनिया...
Tag :
  April 6, 2018, 9:03 pm
भागने की कला में प्रवीण पैदाइशी हूँ,जब चाहे मुझे आजमाके देख लीजिये|छोड़ पाठशाला कई बार भाग आया घर,टीचरों से मेरे स्वर्ग जाके पूछ लीजिये|छिपता था ऐसी जगह ढूँढ़ हारते थे मित्र,कहते थे इसे कभी खेल में न लीजिये|अरे! बैंक वाले मित्र हो जाएगा विश्वास,एक बार कर्ज देके मुझे जाँच ल...
मेरी दुनिया...
Tag :घनाक्षरी
  March 23, 2018, 7:10 pm
1- जब मैंने पहली बार अपनी कनपटी पर,सफेद बाल देखा। तो भूल गया सुषमा, सुशीला, सुरेखा।वक्त का मैसेज ज्यों गाल पर चाँटा,यू हैव यूज्ड फिफ्टी परसेंट ऑफ योर डाटा।2-  चलो थोड़ा सा ही सही भ्रष्ट हो लें,बनाकर पार्टी सन्तुष्ट होलें|न्यायालय कहाँ रोकता है तुम्हें,राजनीति में उ...
मेरी दुनिया...
Tag :डाटा
  March 22, 2018, 3:39 pm
कृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके प्रोत्साहित अवश्य करें|...
मेरी दुनिया...
Tag :
  March 17, 2018, 10:02 pm
https://youtu.be/ERAGv3MooNYकृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके प्रोत्साहित अवश्य करें|...
मेरी दुनिया...
Tag :
  March 7, 2018, 8:23 am
होली पर कुछ रंग,मेरी कलम से बिना भंग|विजय माल्या से लिया, जिन असली संदेश।नीरव मोदी खेलि के, होली भगे विदेश।।पी एन बी के हाथ, लगी खाली पिचकारी।।1।।राहुल बाबा ने रखी, सब नातिन की लाज।नानी के घर खेलने, पहुंचे होली आज।।सत्ता तौ गयी छूटि, कहाँ बैठें सत्तारी।।2।।खांसी अब आती नह...
मेरी दुनिया...
Tag :केजरीवाल
  March 3, 2018, 9:47 am
काश मय के साथ,पैमाना नाच उठे,और उड़ेल दे चारों ओर,बसंत की मादकता,और भुला दे कि आप,कुछ और नहीं इसी फागुनी पवन के,अंश हैं|अर्धांगिनी,मोहिनी नजर आये,वो जिसने,वैलेंटाइन पर उपहार,न स्वीकारा हो,आपके साथ होली खेल जाये|ऐसी विमल भावना के साथ विमल की विमल शुभकामनाएँ जिनमें आप अपनी इ...
मेरी दुनिया...
Tag :होली
  February 28, 2018, 3:22 pm
कल सभी को मुफ्त में पर्स बाँटे जायेंगे।हाथ फैलाना सम्भलकर हाथ काटे जायेंगे।क्या हुआ नाराज हो तो बन्धु ये बतलाइये,पर्स ...
मेरी दुनिया...
Tag :मुक्तक
  February 22, 2018, 7:00 pm
समद्विबाहु त्रिभुज:- जिस त्रिभुज की दो भुजाएं बराबर हों समद्विबाहु त्रिभुज होता है|समद्विबाहु त्रिभुज का क्षेत्रफल:- यदि दो समान भुजाओं की लम्बाई a हो तथा तीसरी भुजा की लम्बाई b हो तो समद्विबाहु त्रिभुज का क्षेत्रफल निम्नलिखित सूत्र से प्राप्त कर सकते हैं|सूत्र की...
मेरी दुनिया...
Tag :समद्विबाहु त्रिभुज
  February 14, 2018, 6:55 pm
कली यदि देखकर भँवरे को मुस्काई नहीं होती|समन्दर में सुनामी की लहर आई नहीं होती||मुझे क्या गर्ज थी बाँहों में उसको भर लिया मैंने,अगर द्वारे की साँकल उसने खटकाई नहीं होती||कृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके अवश्य प्रोत्साहित करें| कृपया पोस्ट पर कमेन्ट करके प्रोत्साहित अवश्य क...
मेरी दुनिया...
Tag :भँवरे
  February 7, 2018, 8:35 pm
वर्तमान में यह महाराष्ट्र में है| मध्यकाल में यह निजाम शाही सुल्तानों की राजधानी रहा| इस नगर की स्थापना निजामशाही वंश के प्रथम शासक अहमद निजामशाह ने की थी| 1600 ई0 में यह मुगलों के कब्जे में आया| यहाँ की प्रमुख इमारतों में अहमदनगर का किला, बाग़-ए-रोजा, बाग़-ए-बहिरत, कोटला मस्जि...
मेरी दुनिया...
Tag :अहमदनगर
  February 3, 2018, 9:33 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3815) कुल पोस्ट (182942)