POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: छत्तीसगढ़ के धार्मिक स्थल

Blogger: devendra chandrakar
चंडीमातामन्दिरमहासमुंदजिलाअंतर्गतग्रामघुंचापाली मेंस्थितहै।ग्राम  घुंचापाली - बागबाहराप्राकृतिकसौंदर्यसेपरिपूर्णहै।चारोओर सेजंगलोऔरपहाड़िओसेघिरेग्राममेंविराजमानहैमाँचंडी। माँ चण्डी मंदिर माताचंडीरूपदेखतेहीबनताहैलगभग 9 फिटऊचीमाँकीविश... Read more
clicks 15 View   Vote 0 Like   3:29pm 13 Jan 2020 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
चंडीमातामन्दिरमहासमुंदजिलाअंतर्गतग्रामघुंचापाली मेंस्थितहै।ग्राम  घुंचापाली - बागबाहराप्राकृतिकसौंदर्यसेपरिपूर्णहै।चारोओर सेजंगलोऔरपहाड़िओसेघिरेग्राममेंविराजमानहैमाँचंडी। माँ चण्डी मंदिर माताचंडीरूपदेखतेहीबनताहैलगभग 9 फिटऊचीमाँकीविश... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   3:29pm 13 Jan 2020 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
माँ खल्लारी मंदिर महासमुंद से 23 km दूर बागबाहरा मार्ग पर ग्राम भीमखोज में स्थित है।जिला महासमुंद में कई पर्यटन स्थल जैसे बागबाहरा चंडी,कोसरंगी के सिद्ध बाबा व स्वप्न देवी महामाया,मामा भांजा मंदिर, सिरपुर, बेमचा खल्लारी, बिरकोनी चंडी, शक्ति माता हथखोजआदि अनिके दर्शनीय... Read more
clicks 9 View   Vote 0 Like   1:32am 12 Jan 2020 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
कभी यह स्थान देवल ऋषि का बसेरा था..... ज़िला महासमुन्द से केवल 8 कि.मी. कि दुरी पर स्थित है ग्राम बम्हनि, ग्राम बम्हनि स्थानिय शिवभक्तो के लिये प्रमुख आकर्षण का केन्द्र है। इसकि खास वजह है यहा स्थित श्री ब्रम्ह्नेश्वरनाथ मन्दिर। यह मन्दिर कितना पुराना है इस कोई साफ अनुमा... Read more
clicks 15 View   Vote 0 Like   3:01pm 8 Jan 2020 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
ये स्थान है माँ खल्लारी का प्रथम निवास....महासमुंद से मात्र 4 कि.मी. कि दूरी पर ग्राम बेमचा मे स्थित है बड़ी खल्लारी माता मंदिर इस मंदिर कि ग्रामीणो मे बहुत मान्यता है कहते है सबसे पहले खल्लारी माता का आगमन इसी गाँव मे हुआ था। इसके बाद माँ भीमखोज स्थित पहाड़... Read more
clicks 15 View   Vote 0 Like   2:32pm 7 Jan 2020 #cg tourism
Blogger: devendra chandrakar
वैसे तो पूरा भारत कई अनेक मान्यताओ और सभी धर्मो के प्रति धार्मिक आस्था के लिए पूरे विश्व मे अलग ही पहचान रखता है परंतु यदि बात की जाए हमारे छत्तीसगढ़ की तो इस मामले मे भी हम किसी से कम नहींवो कहते है न “ सौ सुनार की तो एक लुहार की ” चाहे प्रकृतिक विविधता की बात हो या यहा बसन... Read more
clicks 23 View   Vote 0 Like   1:08pm 6 Jan 2020 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
वह पहाड़ी जहा सिद्ध बाबा मंदिर स्थित हैसिद्ध बाबा मंदिर, महासमुंद से बागबाहरा मार्ग पर ग्राम कोसरंगी में स्थित है। महासमुंद से इसकी दुरी महज 10 km. है। ग्रामीणो के अनुसार मंदिर करीब 150 से 200 साल पुराना है मंदिर उची पहाड़ी पर स्थित है। प्रकृति प्रेमियों के लिए यह स्थान आकर्... Read more
clicks 5 View   Vote 0 Like   10:32am 25 Dec 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
Bastar, the heart of Chhattisgarh, is blessed with exceptional scenic beauty and a unique fascinating cultural heritage. Bastar can also be an anthropologist and naturalist's delight as the region is known for its unique tribal population including Gonds who are world-famous for their 'Ghotul' system of marriages. Each tribe has its own distinct dress, culture and way of life and they can easily be differentiated by their specific costumes, jewellery, headdresses, baskets and tools. The main tribes in Bastar are Gond, Abhujmaria, Bison-horn Maria, Muria, Halbaa, Bhatra, Parja and Dhurvaa. Visit and explore the breathtaking natural surroundings and unique tribal life of Bastar on your visit t... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   1:06am 20 Nov 2019 #cg tourism
Blogger: devendra chandrakar
Beautiful Images Collection of Ram Mandir Raipur(Chhattisgarh)प्रवेश द्वार राम मंदिर -रायपुर श्री राम मंदिर                                                                                                                                                 &nbs... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   11:43am 17 Nov 2019 #Raipur
Blogger: devendra chandrakar
माता कौशिल्या कि इस जन्म भूमि, ग्राम चंदखुरी में विद्यमानहै,प्राचीन शिव मंदिर जिसे छ:माशी मंदिर के नाम से भी जाना जाता है| Shiva Temple ChandkhuriSix Mashi Shiva Temple Chandkuri Raipur माता कौशिल्या मंदिर से लगभग आधा किलोमीटर कि दुरी पर चंदखुरी ग्राम के बाये किनारे पर पतली सडको को पार करके पटेल पारा म... Read more
clicks 3 View   Vote 0 Like   5:20pm 16 Nov 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
“गोधारा ! अर्थात गौ–धारा” जिला महासमुंद से लगभग 10 कि.मी. कि दूरी पर उमरदा नामक गाँव स्थित है| ग्राम से 01 किलोमीटर की दुरी पर दलदली है| जहां स्थित है भगवान श्री शिव जी कि पावन स्थली गोधारा।जहा विराजे है भगवान दूधेश्वर नाथ एवं सिद्धेश्वर नाथ | यहाँ का प्रमुख आकर्षण है, गौ... Read more
clicks 1 View   Vote 0 Like   4:06pm 14 Nov 2019 #cg tourism
Blogger: devendra chandrakar
Ancient Shiva Temple Navagaon Raipurयह प्राचीन ईट निर्मित मंदिर रास्ट्रीय राजमार्ग एन एच 53 पर रायपुर से 19 किलोमीटर कि दुरी पर नावगाव के तालाब के तटबंध पर अवस्थित है| |उचे चबूतरे विद्यमान इस पूर्वाभिमुखी मंदिर में गर्भगृह ,अन्तराल एवं मण्डप तीन अंग है|वर्तमान में इस मंदिर का गर्भगृह रिक्त ... Read more
clicks 3 View   Vote 0 Like   3:17pm 14 Nov 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
भगवान शिव और विष्णु का एक ऐशा धाम जहां आज भी 500 साल से प्रज्वलित हो रहा है अखंड धुना, महादेव घाट के नाम से प्रसिद्ध शिव की इस पावन नगरी में विराजे है। हटकेश्वर नाथ।Hatkeshwar Nath Mahadevरायपुर के खारुल तट पर स्थित है। भोले बाबा का दरबार इसे महादेव घाट के नाम से जाना जाता हैऔर भगवान शिव ... Read more
clicks 3 View   Vote 0 Like   4:38pm 11 Nov 2019 #Tourism Places
Blogger: devendra chandrakar
आश्चर्य और रहस्य से भरा है, देवबलोदा का यह ,छ: माशी मंदिर।   भगवान शिव को समर्पित इस मंदिर का निर्माण 12वीं से 13 शताब्दी के बीच कलचुरी कालीन राजाओं के द्वारा कराया गया था ,यह अधूरा मंदिर, लाल बलुवा पत्थरों से नागर शैली में बनाया गया है। जिसका मंडप भाग नवरंग शैली में बना ह... Read more
clicks 5 View   Vote 0 Like   3:46pm 11 Nov 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
Purkhouti Muktangan image collectionछत्तीसगढ़ के नवा रायपुर,अटल नगर में स्थित पुरखौती मुक्तांगन महामहिम राष्टपति भारत सरकार डॉ ए.पी.जे.अब्दुल कलाम द्वारा 7 नवम्बर 2006 को उद्घाटित पुरखौती मुक्तांगन छत्तीसगढ़ कि कला- संस्कृति कि एक झलक .एक ही स्थान में कला तीर्थ के रूप में प्रदर्शित किया गया है|र... Read more
clicks 1 View   Vote 0 Like   2:06am 7 Nov 2019 #cg tourism
Blogger: devendra chandrakar
Images For Pragyagiri  Dongargarhछ:ग कि इस पावन धरा पर माँ बमलेश्वरी के प्रांगन में प्रज्ञागिरी कि इन पर्वत पर विशाल बुद्ध कि प्रतिमा पर्यटकों को आकर्षित करती रहती है| प्रज्ञागिरी पर्वत पर बुद्ध का दर्शन करके विशेष शांति कि अनुभति प्राप्त होती है|जिनसे लोगो को ज्ञान ,बुद्धि ,वैराग्य में... Read more
clicks 1 View   Vote 0 Like   1:43am 7 Nov 2019 #cg tourism
Blogger: devendra chandrakar
History of Shiv Mandir Sahaspur in HindiShiv Mandir Sahaspurजिला मुख्यालय से 24 किलोमीटर कि दुरी पर दुर्ग रायपुर मार्ग पर देवकर से 04 कि .मी. पर ग्राम सहसपुर में प्राचीन बजरंग बली मंदिर के निकट स्थित है|इस पूर्वाभिमुख मंदिर में गर्भगृह,अन्तराल एवं मण्डप है|आमलक एवं कलश युक्त शिखर भाग नागर शैली में निर्मित है... Read more
clicks 3 View   Vote 0 Like   12:18am 5 Nov 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
Ancient Bajrang Bali Temple Sahaspur,ChhattisgarhBajrang Bali Temple Sahaspurबजरंगबलि मंदिर सहसपुर जिला – बेमेतरा यह प्राचीन स्मारक दुर्ग बेमेतरा रोड पर देवकर से 04 किलोमीटर दूर स्थित सहसपुर नामक ग्राम में स्थित है| चूँकि परवर्तित काल में ग्रामवासी ने इस मंदिर में बजरंगबलि हनुमान जी कि प्रतिमा गर्भगृह में स्थापित... Read more
clicks 3 View   Vote 0 Like   11:56pm 4 Nov 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
History of Sita Devi Temple, Village Deorbijaसीता देवी मंदिर – देवरबीजा (जिला – बेमेतरा)  भू निर्देशांक 21० 40० 11.33” उत्तरी अक्षांस 81०24’28.76 पूर्वी देशांतर मंदिर कि स्थति :– बेमेतरा से 16  कि.मी पर रायपुर बेमेतरा मार्ग पर देवरबीजा ग्राम के तालाब के किनारे यह प्राचीन स्मारक स्थित है| सीता देवी मंद... Read more
clicks 3 View   Vote 0 Like   4:36pm 4 Nov 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
Ancient Shabri Mata Temple Kharodखरौद एक प्राचीन नगरी है| यहाँ पर अनेको प्राचीन मंदिर विद्यमान है|इनमे से सबसे प्राचीन लक्ष्मनेश्वर महादेव मंदिर को माना गया है|शबरी माता मंदिर – खरौदइस शिवलिंग में एक लाख छिद्र है|जिसकी स्थापना त्रेता युग में,वनवास काल के दौरान भगवान लक्ष्मण ने किया गया थ... Read more
clicks 46 View   Vote 0 Like   12:30am 24 Oct 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
Ancient Shiva Temple Narayanpurछत्तीसगढ़ के बलौदा बाज़ार जिले के अंतर्गत कसडोल के समीप महानदी के तट पर प्राचीन और धार्मिक महत्व का स्थल है| जिसे नारायणपुर नामक ग्राम के नाम से जाना जाता है| यहाँ का प्रमुख आकर्षण का केंद्र भव्य प्राचीन शिव मंदिर है|  शिव मंदिर नारायणपुरइस नगर कि प्राचीनता ... Read more
clicks 13 View   Vote 0 Like   4:57pm 23 Oct 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
छत्तीसगढ़ कि इस पावन धरा में ऐसे अनेको तीर्थ स्थल जो रहस्य से भरा पड़ा है| उसी में से एक तीर्थ स्थल है|लक्ष्मणेश्वर महादेव मंदिर- खरौदLakshmaneshwar Mahadev Temple, Kharod ,Janjgir Champa-Chhattisgarh जिसे खरौद कहा जाता है|यह एक प्राचीन और ऐतिहासिक नगरी है | खरौद को छत्तीसगढ़ का काशी कहा गया है| यह वह स्थान है ... Read more
clicks 8 View   Vote 0 Like   4:52pm 19 Oct 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
Shivrinarayan Temple history in Hindi छत्तीसगढ़ में एक ऐसा प्राचीन तीर्थ स्थल है|जिसका संबंध रामायण काल से जुड़ी हुई है।रामायण काल के कई रहस्य इस क्षेत्र में छुपी हुई है।जिसे आदिकाल से ही पुरषोत्तम तीर्थ , एवम् छत्तीसगढ़ का जगन्नाथ पूरी भी कहा जाता है।शिवरीनारायण मंदिरइस तीर्थ की पूजा गु... Read more
clicks 8 View   Vote 0 Like   11:07am 19 Oct 2019 #cg places
Blogger: devendra chandrakar
गिरौदपुरी धाम के दर्शन / बाबा का जीवन परिचय छत्तीसगढ़केइस पावनधरा पर,गिरौदपुरीनामकग्राममेंसन1756 ईसवीमेंएकनिर्धनपरिवारकेबीच गुरुघासीदास बाबा का जन्म हुआथा,बाबासाहबका परिवार कृषिकार्यकरकेजीवन यापन कियाकरतेथे, आगेचलकरछत्तीसगढ़मेंसतनामपंथकेसंस्थापकबने,ब... Read more
clicks 17 View   Vote 0 Like   12:55am 16 Oct 2019 #cg tourism
Blogger: devendra chandrakar
Harishankar Temple History in Hindiप्रकृति कि मनोरम वादियों में झरनों कि कलकल कि ध्वनी का आनंद लेना चाहते है तो हरिशंकर पधारे, यहाँ आकर आप प्राकृतिक वातावरण से रूबरू होने का मौका मिलता है| ओडिशा कि पावन धरा पर वैसे अनेक प्राचीन, दैवीय स्थल है | इन्ही में से एक तीर्थ जिसे हरिशंकर कहा जाता है|Harisa... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   1:37am 1 Aug 2019 #Other Temples
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3929) कुल पोस्ट (194200)