Hamarivani.com

प्रेमवाणी

एक सज्जन ने फेसबुक पर लिखा है कि " बुरा ना मानें पर मैंने सुना है कि गैर मुस्लिम को मारो सताओ कुछ भी करो पर उन्हें इस्लाम कबूल करवाओ। जिसे जिहाद का नाम दिया गया है और जो भी इस काम करेगा उसे जन्नत प्राप्त होगी। क्या ये बात सही है ?"सर्व प्रथम हम आपके स्वभाव की शुद्धता का सम्म...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  September 6, 2014, 8:02 pm
अपनी मातृभूमि से प्रेम, स्नेह और मुहब्बत एक ऐसी प्राकृतिक भावना है जो हर इंसान बल्कि हर ज़ीव में पाई जाती है। जिस धरती पर मनुष्य पैदा होता है, अपने जीवन के रात और दिन बिताता है, जहां उसके रिश्तेदार सम्बन्धी होते हैं,वह धरती उसका अपना घर कहलाती है, वहाँ की गलयों, वहाँ के दर...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  August 14, 2014, 4:47 pm
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  July 3, 2014, 1:29 am
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  July 3, 2014, 1:09 am
यदि आप धर्मों का अध्ययन करें तो पाएंगे कि हर युग में महिलाओं के साथ सौतेला व्यवहार किया गया, हर धर्म में महिलाओं का महत्व पुरुषों की तुलना में कम रहा। बल्कि उनको समाज में तुच्छ समझा गया, उन्हें प्रत्येक बुराइयों की जड़ बताया गया, उन्हें वासना की मशीन बना कर रखा गया। एक त...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  March 9, 2014, 1:25 am
अपनी मातृभूमि से प्रेम, स्नह और मुहब्बत एक ऐसी प्राकृतिक भावना है जो हर इंसान बल्कि हर ज़ीव में पाई जाती है। जिस धरती पर मनुष्य पैदा होता है, अपने जीवन के रात और दिन बिताता है, जहां उसके रिश्तेदार सम्बन्धी होते हैं,वह धरती उसका अपना घर कहलाती है, वहाँ की गलयों, वहाँ के दरो-...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  January 26, 2014, 5:51 pm
यदि कुरआन मुहम्मद सल्ल. का संकलन होता और वह अल्लाह के भेजे गए रसूल न होते तो क्या मुहम्मद सल्ल. स्वयं को धोखा में रख कर अपनी जान जोखिम में डाल सकते थे ?आपके सामने एक घटना बयान कर रहा हूँ आप अपनी बुद्धि विवेक से उस पर विचार करें:अल्लाह तआला ने फरमाया : يَا أَيُّهَا الرَّس...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :अवतार
  January 19, 2014, 2:14 pm
मुस्लिमःकिसने हमें, आपको तथा सम्पूर्ण संसार को पैदा किया ?इसाईः गाड नेमुस्लिमः गाड कौन है ?इसाईःजिससमुस्लिमः क्या हम आपकी बात से यह समझें कि जिसस ने अपनी माता को भी पैदा किया और उन से पूर्व संदेष्टा हज़रत मूसा अलैहिस्सलाम आए थे, उनको भी पैदा किया ?इसाईःजिसस प्रमेश...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  December 26, 2013, 11:04 am
ज़कात इस्लाम के पाँच स्तम्भों में से एक महत्वपूर्ण स्तम्भ है,यह हृदय को बख़ीली और कंजूसी से शुद्ध करती है और दानशीलता लाती है, सहानुभूति और निर्धनों की सहायता की भावना पैदा करती है और जब हम अपने पैदा करने वाले के समक्ष उपस्थित होंगे तो उसका पुण्य भी बड़ा लाभदायक और स...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  December 11, 2013, 10:00 pm
नमाज़ मुसलमान और उसके रब के बीच एक प्रकार का सम्पर्क है, जब मुस्लिम नमाज़ में विनम्रता अपनाता है तो उसे शान्ति, सुकून और राहत का अनुभव होता है इसलिए कि उसने एक सर्वशक्तिमान अल्लाह से सम्पर्क किया और उसका द्वार खटखटाया है। इसी लिए मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम  ह...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  December 11, 2013, 9:53 pm
मुसलमान मात्र एक अल्लाह की पूजा करतें हैं जो प्यारे प्यारे नामों और महान गुणों से सुसज्जित है। वह उस अल्लाह पर विश्वास रखते हैं जो उनका श्रृष्टा और मालिक है, उसे न पत्नी की आवश्यकता है, न सन्तान की ज़रूरत है, उसे न निन्द्रा आती है और न ऊँघ, उसने आकाश और पृथ्वी की रचना की, ...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :ईश्वर की पहचान
  September 22, 2013, 1:48 pm
विज्ञान के इस आधुनिक युग में इस्लामी उपवास के विभिन्न आध्यात्मिक, सामाजिक, शारीरिक, मानसिक तथा नैतिक लाभ सिद्ध किए गए हैं। जिन्हें संक्षिप्त में बयान किया जा रहा है।आध्यात्मिक लाभः (1) इस्लाम में रोजा का मूल उद्देश्य ईश्वरीय आज्ञापालन और ईश-भय है, इसके द्वारा एक व्...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :इबादत
  July 9, 2013, 6:00 pm
यह एक व्यर्थ प्रश्न है। सर्वप्रथम हम यह सवाल करते हुए मान रहे हैं कि अल्लाह  है और यदि किसी को इस विषय पर विश्वास नहीं है तो स्वयं उसे अपने वजूद पर भी विश्वास नहीं करना चाहिए क्यों कि उसका वजूद यह पता देता है कि उसका कोई बनाने वाला है, हम बिना बनाने वाले के नहीं बन सकत...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  July 4, 2013, 7:16 pm
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  June 2, 2013, 1:50 am
वन्दे मातरम् बंगला भाषा के प्रसिद्ध उपन्यासकार बंकिमचंद्र चटर्जी की उपन्यास 'आनंदमठ' मैं शामिल है। मूल रूप में यह उपन्यास इस्लाम शत्रुता पर आधारित है और उसमें अंग्रेज़ों को अपना सुरक्षक और मसीहा सिद्ध किया गया है। वन्दे मातरम् उपन्यास का एक भाग है। उपन्यास में विभि...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  May 10, 2013, 11:00 pm
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 29, 2013, 10:47 am
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 29, 2013, 10:46 am
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 29, 2013, 10:44 am
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 29, 2013, 10:43 am
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 29, 2013, 10:42 am
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 29, 2013, 10:40 am
بِسْمِ اللَّهِ الرَّحْمَٰنِ الرَّحِيمِअल्लाह के नाम से जो बड़ा कृपाशील और अत्यन्त दयावान हैं प्रिय मित्रो, कुछ समय से इन्टरनेट पर पंडित महेंद्रपाल आर्य के 15 प्रश्नों की अधिक चर्चा थी। आर्य समाज की विचारधारा के लोग इस प्रश्नपत्र को प्रचारित कर रहे हैं, और इस प्रश्नपत्र के उत्...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 19, 2013, 2:48 am
http://feeds.feedburner.com/http/safatalamblogspotcom...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 13, 2013, 3:40 am
 Global Warming आज की सब से बड़ी समस्या है। रसूल सल्ल. ने इस्लाम की रोशनी में धरती से अमली तौर पर हर प्रकार की गंदगी को दूर करने की ताकीद की जिस से पर्यावरण भंग हो सकता हो. आप (सल्ल.) ने पवित्रता और सफाई के लिए लोगों की समझ को जागरूक किया। आप सल्ल. ने रास्ते और साए में शौचालय करन...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  April 10, 2013, 11:17 am
  इस्लाम में अल्लाह के अधिकार के तुरन्त बाद मानव के अधिकार के पालन का आदेश दिया गया है। क़ुरआन कहता हैः "नेकी और भलाई के काम में एक दूसरे की सहायता करो।" (अल-माईदा 2")मुहम्मद सल्ल. की जीवनी का अध्ययन करें तो पाएंगे कि आप बाल्यावस्था से ही जनसेवा में ग्रस्त रहे, जब ...
प्रेमवाणी...
safat alam taimi
Tag :
  March 13, 2013, 8:15 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3676) कुल पोस्ट (166909)