Hamarivani.com

ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने....

उन तन्हां पलों में कभी ज़िंदगी को सोचता हूं,तेरी उन प्यारी बातों में अपना अक्स खोजता हूं,लम्हा थम सा गया थातेरे आने के बाद,&#...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :यादों की किताबें
  April 2, 2015, 8:08 am
चल उन शामों को याद करें,जो हमने साथ बिताईं...उन पलों को फ़िर जियेंजिनमें पूरी कायनात पाई,बस वो जुस्तज़ूं पूरी हो,उसका इंतज़ार &...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :इश्क
  March 28, 2015, 8:42 pm
The fragrance of your talks,In the garden of my memories,The evenings near the coastal rocks,Still say your untold stories.The wavy sea,that lovely sight,That embrace,that lingering kissThat blanket,the white night,That memorable moment of bliss.The insistence,the passionThe wish,the intoxicationMiss your ludicrous talks, with you that garden walks,your flirtatious looks,Read your letters,Kept in old books....
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :Memories
  March 18, 2015, 6:28 pm
अपने ज़िद के पर्दों कोमेरी ख्वाहिशों की खिड़कियों से हटाओ,मंज़िल की उम्मीद नहीं करता तुमसे, पर कुछ वक्त यूं ही राहों में त...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :राहें
  March 4, 2015, 4:25 pm
सियासी गुरूर तुम पर कुछ यूं सिर चढ़ बोलता है,कि ज़िक्र से भी हमारे लहू तुम्हारा खौलता है,इन्सानियत के कत्ल-ए-आमको माना तुम न&#...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :कौम
  March 2, 2015, 5:51 am
कभी किनारों से खौफ़ था मुझे,पर आज तेरे ख्यालों के साहिलोंसे नाता है मेरा,कभी जुबां पर लाने से कतराता था,पर आज हर सांस पर नाम ...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  February 27, 2015, 11:16 pm
तेरी बातों की खुश्बू फ़िरमन की हवाओं में आयी है,वक्त की धूप में अबशायद तेरी यादें ही मेरी ज़िंदगी की परछाई है !...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  February 26, 2015, 9:32 pm
ज़िक्र जो तेरा जब होता है, मुस्कुराहटों का सावन लबों से बरसता है,तेरे संग ज़िंदगी में इक मदहोशी सीलगती है,बिना तेरे खामोशी...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  February 25, 2015, 7:15 pm
कुछ यूं कहूं, सामने तुम्हारे मेरे लफ़्ज नहीं निकलते,ज़िंदगी की शाम यूं ही बीतती है, तेरी यादों के लम्हों में ढलते,आरजू तो बह&#...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  February 24, 2015, 2:35 pm
उन लम्हों से गुज़रीहर याद, अब अंजानी सी लगती है ! सोचता हूँ लिखूँ नज़्म तुझपे, पर 'नज़्म'पर नज़्म लिखना,बात बेमानी सी लगती है!...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  February 24, 2015, 4:20 am
कुछ ने कहा कि वो हिंदू था,कुछ ने कहा वो मुसलमान था,पर किसी ने ये न कहाकि वो भी इंसान था,ज़मीर सियासतदारों का उस वक्त सो रहा था,...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :कौम
  November 17, 2014, 2:22 pm
सोचता हूँ लिखुंगा तेरे बारे  में भी ऐ ज़िंदगी ,संघर्षों की धूप में ,सफलताओं की छांव में ,असफल पीड़ा के रुप में ,प्रयत्निक छा&#...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :मंजिल
  November 8, 2014, 3:11 pm
      ज़िंदगी का दरिया  ये जो           बहता है,       अक्सर ही मुझसे कुछ           कहता है,      इसके लफज़ों में  कुछ      ...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  November 5, 2014, 12:20 am
मैं इंतज़ार करता हुं,तेरे लौट आने का ऐ ज़िंदगी,हर पल तेरी बाट जोहता हुं,शायद ग़म है तेरे खो जाने का,वो ज़ुस्तज़ू, वो ख्वाहिशेंअभ&...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  October 24, 2014, 1:36 pm
एक नज़्म जो ख्वाहिशों कीस्याहियों में दबी है,जिसे लिखने की चाहतअभी भी जगी है,वो नज़्म कब मन के कागज़ों पर आयेगी,चन्द लफज़ों म...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  October 20, 2014, 1:46 am
ख्वाहिशों की बारिशों में भीग जाने  दो,मस्तियों के सैलाबों में डूब जाने दो,मुस्कुराहटो की लहरों कोज़िंदगी  के शहर में आ ज&...
ज़िंदगी की किताबों के कुछ पन्ने...
Tag :
  October 17, 2014, 7:01 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3666) कुल पोस्ट (165970)