Hamarivani.com

अनकहे एहसास

मैं कुछ इस तरह से रहूं -::स्वाद की तरह लोगों की यादों मेनमक की तरह जरूरत बनकरपानी की तरह घुल -मिल जाऊंसुख-दुख में और दुनिया रहे मेरे आसपास मां की तरह. ---नीलम ...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  November 28, 2014, 4:40 pm
हमें कोई संतुष्ट नहीं कर सकता, मुझे तो लगता है ईश्वर भी नहीं ! क्योंकि हमारा  मन  भटकता है  सुनता सबकी है पर  करता अपने मन की है!  हम किसी चर्चा में  हो या गोष्ठी  में , सुनते हम ध्यान से हैं और ऐसे लगता है मानो आज से ही हम चर्चित  बात मान लेंगे या फिर उन ...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  November 28, 2014, 4:35 pm
हार  न मान हार  न मानजीवन की राह  बड़ी है आसान थोड़ा सब्र  थोड़ा साहस थोड़ी परेशानी  थोड़ी  कठिनाई फिर ढेर सारी  मुस्कराहट! ...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  October 30, 2014, 3:38 pm
हर सुबह एक पैगाम लाती है खुशबू भर कर हवा में संगीत सुनाती है इन खुशबुओं से महकती है जिंदगीबस. ये ज़िंदगी दुनियाँ को भी महकाना चाहती है!...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  October 27, 2014, 2:00 pm
लो फिर आया राखी का त्यौहार    सज गया राखियों  का हॉट-बाजार !सुंदर -सुंदर, रंग- बिरंगी ,नीली ,पीली  सुनहरी          भाई के हाथ पर  बँधने को राखी है तैयार !सजी -सवँरी ,रंग- बिरंगी पोशाकों में         बहने  भाई के घर जाने को भी तैयार !धागे ये प्यार के- बने हैं...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  August 9, 2014, 9:55 pm
मन से मन के होते हैं कुछ रिश्ते,सच्चाइयों की गहराइयों तक होते हैं कुछ रिश्ते.मगर,सच्चाई की जिसको समझ नहीं,गहराई तक जिसकी पहुँच नहीं,जाने क्या वो , वो क्या समझें,मन से मन के ये रिश्ते....
अनकहे एहसास ...
Tag :
  August 7, 2014, 2:21 pm
बारिश  की बूंदे झूम -झूम के बरस रही हैं मिज़ाज़ आसमाँ  का बदलारुत ने भी रुख बदला   नई फ़िजा है आई, धरती फिर से महकी -सजी- सवँरी है ! बारिश  की बूंदे तन -  मन  को भी भिगोने लगी मन मचलने लगा है--- भीगने कोआस बढ़ने लगी  हैप्यास  बढ़ने लगी  है --पिया मिल...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  August 5, 2014, 12:14 am
जिन्दगी की असली खूबसूरती ये नहीं है कि आप कितने खुश है, जिन्दगी की असली खूबसूरती तो ये है कि आपसे कितने खुश  है !अपनों से छोटी छोटी बातों पर नाराज़ ना होकर, बड़ा दिल रख कर मुस्करा कर उन्हें अपना लेना चाहिए क्योंकि :"रोने से आंसू भी पराये हो जाते है और मुस्कराने से पराये ...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  July 25, 2014, 2:12 pm
हर मुस्कराहट  मुस्कान नहीं होती है - दोस्त और दुश्मन की पहचान आसान नहीं होती हैआंसू ग़म के हो या ख़ुशी केइनकी पहचान आसान नहीं होती है ...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  July 25, 2014, 12:24 am
ख़ुशी क्या है ,-काम करने की ख़ुशी- काम करने  से मिली ख़ुशी -काम के लिए ख़ुशीसमझ  नहीं आता  कैसी  ख़ुशी चाहिए ...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  July 24, 2014, 11:57 pm
!!!!यादों को समेटा ::::::कविता बन गईज़िन्दगी को समेटना शुरू किया::::::: कहानी बन गई!!!!...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  June 3, 2014, 4:21 pm
जीवन का नया अध्याय शुरु  होने जा रहा है ! मन अति प्रफुलित हो रहा है  पर डर  और घबराहट  भी हो रही   है ...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  June 3, 2014, 4:06 pm
आज का दिन बहुत बढ़िया रहा !मैंने ब्लॉग लिखना शुरु किया ,mom  की fav 'मेरी ',बनाई , brownies  बनानी सीखी !...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  May 15, 2014, 3:06 pm
 पल ठहरते नहीं ....बीत जाते हैं,हाँ अपनी पसंद और सुविधानुसार उन्हें ठहरा हुआ मान लेते हैं...
अनकहे एहसास ...
Tag :
  May 15, 2014, 1:57 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3661) कुल पोस्ट (164704)