Hamarivani.com

lalitvaani

राणा प्रताप के वंशज हो,क्यों कुल को कलंकित करते हो ,आराध्य तुम्हारे राम-कृष्ण,जो कर्म की राह दिखाते थे,जो दुश्मन हो आततायी, वो ''चक्र सुदर्शन''उठाते थे !श्री राम ने रावण को मारा, तुम गद्दारों से डरते हो,जब शस्त्रों से परहेज तुम्हे,तो ''राम-राम''क्यों जपते हो,अंग्रेजों ने दौलत...
lalitvaani...
Tag :
  February 11, 2014, 9:00 am
1)➤दूसरों की गलतियों से सीखो अपने ही ऊपर प्रयोग करके सीखने को तुम्हारी आयु कम पड़ेगी।2)➤किसी भी व्यक्ति को बहुत ईमानदार नहीं होना चाहिए। सीधे वृक्ष और व्यक्ति पहले काटे जाते हैं।3)➤अगर कोई सर्प जहरीला नहीं है तब भी उसे जहरीला दिखना चाहिए वैसे दंश भले ही न दो पर दंश दे सकन...
lalitvaani...
Tag :
  February 9, 2014, 8:00 am
1. दर्पण, झूठ बोलने नहीं  देगा।2. ज्ञान, भयभीत होने नहीं  देगा।3. अध्यात्म, मोह करने नहीं  देगा।4. सत्य, कमजोर होने नहीं  देगा।5. प्रेम, ईर्ष्या करने नहीं  देगा।6. विश्वास, सत22य दुःखी होने नहीं  देगा।7. कर्म, असफल होने नहीं  देगा।इन सातो मंत्रो को हमेशा साथ रखो।...
lalitvaani...
Tag :
  February 8, 2014, 9:00 am
अपने शत्रुओं से प्रेम करो और जिन्होंने तु हें कष्ट दिया, उनके लिए प्रार्थना करो, ताकि तुम स्वर्ग में बैठे परमपिता के सच्चे पुत्र हो सको, जो अच्छे और बुरे दोनों के लिए सूर्योदय करता है और ईमानदार और अन्यायी, दोनों पर बारिश करता है।मांगो और तु हें दे दिया जाएगा, खोजो और तु ...
lalitvaani...
Tag :
  February 6, 2014, 7:00 am
पहले हमारे घरों में एक चीज अनिवार्य रूप से हुआ करती थी, जो अब ज्यादा नजर नहीं आती। हालांकि यह चीज आज के जमाने में भी सफलता, आनंद, अच्छी छवि और मौज की कुंजी बन सकती है। इस बारे में कोई भी अनुमान लगाने से पहले बहुत सारे लोग सोचेंगे कि यह ‘कुंजी’ क्या बला है। तो जो इस शायद से पर...
lalitvaani...
Tag :
  February 4, 2014, 7:00 am
कल मैने खुदा से पूछा कि खूबसूरती क्या है?तो वो बोलेखूबसूरत है वो लब जिन पर दूसरों के लिए एक दुआ हैखूबसूरत है वो मुस्कान जो दूसरों की खुशी देख कर खिल जाएखूबसूरत है वो दिल जो किसी के दुख मे शामिल हो जाए और किसी के प्यार के रंग मे रंग जाएखूबसूरत है वो जज़बात जो दूसरो की भावना...
lalitvaani...
Tag :
  February 2, 2014, 7:00 am
पंचकूला शहर की युवा लेखिका माही सिंगला और 'ते अमो.. आई लव यू'नामक बेस्ट-सेलर उपन्यास के दिल्ली के लेखक रोहित शर्मा द्वारा लिखित '12 आवर्स'बारह लघु-कहानियों का एक खूबसूरत संकलन है, जिसकी हर एक कहानी भिन्न-भिन्न रिश्तों और जज्बातों को गहराई से छूती है। इस किताब में बारह अलग-अ...
lalitvaani...
Tag :
  February 1, 2014, 8:00 am
सार्वभौमिक सत्य - मैं बहुत ज्यादा बोलता हू...मैं एक बड़ा दिखावा (नौटंकी) बाज हूँ ..ऐसा सभी कहते है...:-)पर कभी कभी तो मुझ को भी यही लगता है की मै कितना बडा हठी (बदतमीज़) हू ..हॉ हॉ...मैं चाहे कितनी ही कोशिश कर लू चुप रहने की पर चुप नही रह पाता (बस मेरा मूड बंद न हो) ..और फिर तो ज्यादा ...
lalitvaani...
Tag :
  January 30, 2014, 6:00 am
जिंदगी अच्छी है .. सब कुछ अच्छा है ..पर  फिर भी जिंदगी मे एक समय आता है जब कोई अपना सा  नहीं लगता ..किसी से बात करने का मन करता ..आप आपने आप को ही अजनबी लगते है ..सब अजीब लगता है ..खुशी भी खुशी नहीं लगती...कैसी हैं ये जिंदगी कभी इतनी सारी खुशी, कभी उदासी तो कभी जीने का मतलब ही गायब......
lalitvaani...
Tag :
  January 28, 2014, 5:00 am
गणतंञ दिबस के पावनपर्व पर सभीमिञों को हार्दिक शुभकामनाएँ।--- जय हिन्द, जय भारत ---वतन हमारा मिसाल मोहब्बत कि,तोडना हे दीवार नफरत कि,मेरी खुशनसीबी मिली ज़िन्दगी इस चमन में,भुला न सके कोई इसकी खुसबू सात जनम में. ©ललित चाहार...
lalitvaani...
Tag :
  January 26, 2014, 12:00 pm
आपको ये जानकर अत्यधिक प्रसन्नता होगी की ब्लॉग जगत मैं ललित चाहार एक नया ब्लॉग शुरू कर रहा हॅू। ये एक हिंदी ब्लॉगर्स के साथ रिश्तों की एक नई शुरुआत है। यहॉ पर मैं आपनी भावनाएं जिन्हें शब्दों द्वारा अभिव्यक्त कर संसार से साझा कॅरूगा।आशा है आपको सम्पुर्ण सहयोग प्रदान ह...
lalitvaani...
Tag :
  January 26, 2014, 12:00 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163572)