POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: पटियेबाजी

Blogger: Rakesh Kumar Malviya
टोल कर दीजिए कि हमारी कई कारणों से मतदान में रुचि नहीं रही हैं। 2014 से पहले से लगता रहा कि कुछ आधा—अधूरा है। यह भी लगता रहा कि विकल्प क्या है। यह भी लगता रहा कि जिसे बैठाते हैं वह जनपक्षीय न होते हुए कुछ और ही नीतियों पर चलता है, उसके केन्द्र में सबसे गरीब आदमी नहीं होता। फि... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   6:05am 12 May 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
चूंकि आज ​विश्व पुस्तक दिवस है, और भले ही अपन खूब पढ़ा​—लिखी नहीं भी कर पाते हों पर किताबों से लगाव तो बना ही हुआ है, इसलिए बार—बार उनके पास जाने को मन करता है, और तब जबकि किताबें केवल अपने ज्ञान का स्तर बढ़ाए जाने के लालच से बढ़कर समाज की घटनाओं—परिघटनाओं के संदर्भ में ए... Read more
clicks 7 View   Vote 0 Like   11:26am 23 Apr 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीय परीक्षा में पास होने के लिए न्यूनतम 33प्रतिशत अंक होने चाहिए. हमने पिछली लोकसभा में 34प्रतिशत ऐसे सांसदों को चुन लिया, जिन्होंने अपने घोषणा पत्र में स्वयं पर कोई न कोई आपराधिक मामला दर्ज होना घोषित किया था. 2019में एक बार फिर यही राजनेता आपके सामने वोट मा... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   7:18am 19 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीय हमारे देश में दिवाली पर बीस—तीस रुपयों में मिलने वाली चाइनीज झालरों पर खूब हल्ला मचता है अबकी चाइनीज आइटम का विरोध दिवाली के अलावा भी टॉप ट्रेंड कर रहा है। इसलिए कि पुलवामा हमले के कर्ता धर्ता आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना अजहर मसूद को वैश्विक ... Read more
clicks 22 View   Vote 0 Like   7:55am 15 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयनया इंडिया अखबार के पहले पन्ने पर यह खबर है कि नोटबंदी के निर्णय पर देश का रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया सहमत नहीं था। नोटबंदी के ढाई घंटा पहले तक भी इस निर्णय पर सवाल किए गए थे और शंका जताई गई थी कि जिस लक्ष्य को लेकर यह फैसला लिया जा रहा है वह इससे हासिल नहीं ह... Read more
clicks 20 View   Vote 0 Like   9:37am 14 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयकल शहर में इतने कार्यक्रम थे कि कई जगह आमंत्रित महिलाएं पहुंच भी नहीं पाईं। एक साथ कई—कई कार्यक्रम चल रहे थे, कोईसभागार खाली नहीं था। देख—सुनकर अच्छा लगा कि महिलाओं को लेकर समाज में अचानक सम्मान उमड़ पड़ा है। पर क्या वाकई इतनी अच्छी स्थिति हो गई है य... Read more
clicks 18 View   Vote 0 Like   7:18am 11 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयविश्व महिला दिवस पर मैं आपको एक शब्द से परि​चित कराना चाहता हूं, इस शब्द को मैंने किसी डिक्शनरी में नì... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   8:00am 9 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीय बाजार में कुछभी बिक सकता है। लो साहब ! पातालकोट भी बिक गया। महज 11 लाख में मध्यप्रदेश की अनूठी दुनिया ‘पातालकोट’ का वह हिस्सा बेच दिया गया जहाँ से इस खूबसूरत वादी का विहंगम हिस्सा दिखाई देता था. बिकवाल कोई और नहीं, वही था जिस पर बचाए रखने की जिम्मेदारी ... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   8:54am 5 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयअब से कोई सौ साल पहले ‘गंगी’अपने पति ‘जोखू’के लिए एक दिलेर कोशिश के बाद भी घूंट भर पीने लायक पानी नहीं चुरा पाई। मुंशी प्रेमचंद की कहानी ‘ठाकुर का कुआं’की नायिका अंतत: खाली हाथ लौटी,तब तक लाचार जोखू किस्मत में लिखा वही गंदा—मैला पानी हलक में उतार रहा... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   8:53am 5 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयसंयोग से जिस शाम गंतव्य के लिए मैं रेलगाड़ी में सवार हुआ उसी शाम देश के सबसे प्रतिष्ठित अवार्ड भारत रत्न और पद्मश्री की घोषणा हुई। जिस इलाके के लिए मैं सवार हुआ उस इलाके से इस सूची में दो नाम थे। पहला नाम भारत रत्न के लिए नानाजी देशमुख का। दूसरा नाम एक... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   8:50am 5 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयक्या उस मनहूस रिपोर्ट को ठीक इसी जनवरी के महीने में आना था जो यह बताती है कि भारत में गैर बराबरी बढ़ रही है। जिस सप्ताह हम 26 जनवरी को अपने संविधान का 69 वां साल पूरा करते हुए एक महत्वपूर्ण पड़ाव याने सत्तवरें साल में प्रवेश करेंगे और इसकी प्रस्तावना में... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   8:49am 5 Mar 2019
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
 राकेश कुमार मालवीयनेताजी के आने से उस जगह की तस्वीर बदल जाती है। रातों—रात सड़कें बन जाती है। साफ—सफाई करके जगह चमका दी जाती है। अधूरे काम रातों रात पूरे कर दिए जाते हैं। सोया सिस्टम जाग जाता है। रात—रात भर काम करता है। नेताजी के लिए लाखों की लागत वाले शामियाने तान ... Read more
clicks 61 View   Vote 0 Like   3:32pm 30 Oct 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
पुत्र - पापा हम कौन सी परंपरा से हैंपापा- मतलब शैव या वैष्णव ( एपिक पर शो देखते हुए) दादाजी - बेटा हम जापानी परंपरा से हैं !!!rakesh.... Read more
clicks 48 View   Vote 0 Like   4:00pm 2 Oct 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
पापा !हां बेटा !!पापा ठाकुर जी की कितनी रानियां थीं ?बेटा सोलह हजार 108 रानियां थीं.तो पापा वह सबसे प्यार कैसे करते थे ?बेटा वह भगवान थे !!!पापा ठाकुरजी की उम्र कितनी थी ?बेटा तुम पिटोगे ऐसे सवाल करके !!!(पिता—पुत्र संवाद वास्तविक बातचीत पर आधारित है।) rakesh.... Read more
clicks 62 View   Vote 0 Like   10:36am 29 Sep 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
हम एक चुनौतीपूर्ण दौर में हैं. इस दौर में यह तय किया जाना है कि हमारे समाज का मूल स्वभाव क्या बने ? इसके लिए अनिवार्यता है कि राजनीतिक दल समाज के मूल विषयों, मुद्दों, चुनौतियों, क्षमताओं और कमजोरियों को संज्ञान में लें और इनके मुताबिक बदलाव और बेहतरी की कार्ययोजना बनाएं. ... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   6:38am 22 Sep 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयभारत में हर दो मिनट में 3 बच्चों की मौत हो जाती है पर जात—पात जैसे मुद्दों पर कोहराम मचाते समाज को एक पल की फुर्सत नहीं कि इस पर बैठकर थोड़ा सोच लें, विकास की गंगा बहाती सरकार को दो मिनट का वक्त नहीं कि इस पर कोई बयान जारी कर दें, और सॉफ्ट हिंदुत्व की तरफ क... Read more
clicks 53 View   Vote 0 Like   4:19pm 21 Sep 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
पापा...!हां बेटाआपको कौन सा दिन सबसे गंदा लगता है ?कोई सा दिन नहीं बेटा, सब दिन अच्छे लगते हैं.पर यह क्यों पूछ रहे हो बेटा ?कुछ नहीं पापा !तुम्हें कौन सा दिन सबसे गंदा लगता है बेटा ?जब गणेशोत्सव में सुंदरकांड होता है !वो क्यों बेटा ?क्योंकि हमें उस दिन लंगूर का स्थान दिया जाता ... Read more
clicks 62 View   Vote 0 Like   3:37pm 21 Sep 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
पापा...!हां बेटाआपको कौन सा दिन सबसे गंदा लगता है ?कोई सा दिन नहीं बेटा, सब दिन अच्छे लगते हैं.पर यह क्यों पूछ रहे हो बेटा ?कुछ नहीं पापा !तुम्हें कौन सा दिन सबसे गंदा लगता है बेटा ?जब गणेशोत्सव में सुंदरकांड होता है !वो क्यों बेटा ?क्योंकि हमें उस दिन लंगूर का स्थान दिया जाता ... Read more
clicks 49 View   Vote 0 Like   3:37pm 21 Sep 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस 21 सितम्बर पर विशेष लेख राकेश कुमार मालवीय विकास के लिए सबसे अहम चीज है शांति। शांति केवल व्यक्ति को समृद्ध नहीं करती, पूरे समाज का इस पर असर होता है। जिन भौगोलिक क्षेत्रों में शांति का बसेरा है, वहां के समाज ने स्वयं अपने को हर स्तर पर अपने जीव... Read more
clicks 69 View   Vote 0 Like   4:07pm 20 Sep 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
राकेश कुमार मालवीयआज शिक्षक दिवस है। देश के तकरीबन चौदह लाख स्कूलों के बच्चे अपने प्रिय शिक्षक को तरह—तरह से शुभकामना दे रहे होंगे। किसी ने अपने प्रिय शिक्षक के चेहरे पर मुस्कान बिखेरने के लिए घर के बगीचे से फूल तोड़कर दिया होगा, कुछ ने ग्रीटिंग कार्ड बनाकर दिया होगा... Read more
clicks 52 View   Vote 0 Like   12:13pm 6 Sep 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
नर्मदा के दर्शन तो लाखों ने किए, लेकिन ​जैसे दर्शन का लाभ बेगड़ जी को नर्मदा ने दिया, वह दुर्लभ है। बेगड़ की आंखों से नर्मदा के दर्शन करना, आपकी दर्शन दृष्टि को खोल देना है। नर्मदा के दर्शन की अपार संभावनाएं हैं, अलबत्ता पिछले तीन—चार दशकों में नर्मदा नदी की जो दुर्दशा व... Read more
clicks 52 View   Vote 0 Like   10:26am 6 Jul 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
दिग्विजय सिंह जो कहते हैं, करते भी हैं. राजनीति से 10 साल संन्यास लेने को कहा था, हारे, तो करके दिखाया भी. नर्मदा परिक्रमा को ही लीजिए. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की यात्रा पूरी होते-होते पूर्व मुख्यमंत्री ने भी घोषणा कर दी, और उसे पूरा किया भी. शि‍वराज की भव्‍य यात्रा का जवाब ... Read more
clicks 103 View   Vote 0 Like   6:33am 14 Apr 2018
Blogger: Rakesh Kumar Malviya
प्रवेश प्रक्रिया के दौरान मैंने यह महसूस किया कि स्कूल प्रबंधन की मानसिकता सिर्फ अंको की दौड़ तक ही सीमित है और अंकीय आधार का यह क्रूर पैमाना कक्षा 1 के स्तर पर कितना उचित है. यह कैसा पैमाना है जो प्रतिभा की भ्रूण हत्या कर दे, जो प्रतिभा को निखारने के पहले उसे संभावना शून... Read more
clicks 70 View   Vote 0 Like   6:25am 14 Apr 2018
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3911) कुल पोस्ट (191547)