Hamarivani.com

HEART SINGS

कभी सपने सज़ाता है कभी आंसू बहाता है खुदा दिल चीज़ कैसी है जो पल में टूट जाता है मेरी ज़र्रा नवाज़ी को न कमज़ोरी समझना तुम अदाकारी परखने का हुनर हमको भी आता है ये उठते को गिराता है ये गिरते को उठाता है अरे ये वक्त ही तो है सदा हमको सिखाता है जो ज़ेरेख्वाब ही मदमस्त हो अपने लिए जी...
HEART SINGS...
Tag :
  July 13, 2013, 2:48 pm
मुझसे मेरी हयात ऐसी दिल्लगी करेमंजिल का मेरी फैसला आवारगी करेतुझसे भी हैं ज़रूरी दुनिया में और कामसब को भुला के कौन तेरी बंदगी करेबेपीर बेमुरव्वत मुझसे न पूंछ कुछ भीमेरा बयान-ए-हाल ये बेचारगी करेमुद्दत से थोड़े ख्वाब सहेजे हैं आँख मेंकी इंतज़ार-ए-आब जैसे तिश्नगी करे...
HEART SINGS...
Tag :
  June 29, 2013, 2:40 pm
मै खड़ा हूँ यूँ बांहों को खोले हुए मेरी बाँहों में आने का वादा करो मै जहाँ ये भुला दूँगा सुन लो मगर मुझको दिल में बसाने का वादा करो मै जो अब तक अकेला हूँ जीता रहा धुंधले ख्वाबों को आँखों से सीता रहा ये जो कोरी पड़ी है मेरी जिंदगी रंग अपना चढ़ाने का वादा करो मै खड़ा हूँ यूँ बांह...
HEART SINGS...
Tag :
  June 24, 2013, 9:55 pm
यूँ पाठ जिंदगी का, पढ़ाने का शुक्रियाकी बेरुखी से मुझको, भुलाने का शुक्रिया गुज़रे हुए निशान कुछ, रेती पे पैर के यादें यूँ अपनी छोड़ के, जाने का शुक्रियाकोई तो चाहिए ही था, इक हमसफ़र तुझे दिल में किसी को और, बसाने का शुक्रियारातों से हो गयी है, मुहब्बत सी अब हमें ख्वाबों में ही...
HEART SINGS...
Tag :
  June 11, 2013, 9:13 am
भले ही आज जीवन में, तेरी कायम अँधेरा है इसी दुनिया में ही लेकिन, कहीं रौशन सवेरा है मै इक ऐसा परिंदा हूँ, नही सीमाएं है जिसकी मेरी परवाज़ की खातिर, ये दुनिया एक घेरा है कभी हिंदू कभी मुस्लिम. रहे हैं हारते हरदम सियासत खेल ऐसा है, न तेरा है न मेरा है कुतरते ही रहे है देश को, हरदम...
HEART SINGS...
Tag :
  June 5, 2013, 3:58 pm
मै नही कहता कि बस भगवान होना चाहिए आदमी के दिल में तो इंसान होना चाहिए पास ही संसद बसी है प्रेत नेतों की यहाँ साथ में हर दम यहाँ लोबान होना चाहिए हाँ भले बंगले न हो इस आज की अवाम के पर सभी के पास एक माकान होना चाहिए कमतरी कपड़ों कि है न प्यार की विश्वास की नारियों का आज भी सम्...
HEART SINGS...
Tag :
  May 30, 2013, 6:22 pm
आज भी ढूँढता रहता हूँ तुम्हे पागलों कि तरह हाँ बिलकुल पागलों कि तरह देता रहता हूँ मै खुद को ही झूठी सांत्वना कैसे मिटा दूँ ये यादें ?जिनमे बसते हो तुम मै हूँ किसी उजाड सूखे पेंड़ सा और यादें हैं हरी बेलों कि तरहजिन्होंने बचा रखा है मेरा अस्तित्वहरा रहने का जो ल...
HEART SINGS...
Tag :
  May 29, 2013, 9:10 am
जिधर देखता हूँ नशा ही नशा है इधर कहकशा है उधर कहकशा है कई रोज तूफान को झेल कर केजहाज़ी ये साहिल पे आकर फंसा है भले सांप सारे हैं अपने बिलों में मेरे मुल्क को कुर्सियों ने डसा है ज़रा मुल्क का अपने नक्शा उठानाबताना कहाँ आज भारत बसा है नहीं कोई दुश्मन रहा दोस्त होगाजो ये तीर ...
HEART SINGS...
Tag :
  May 25, 2013, 8:24 am
मेरे सीने में मेरे दिल को खंगाला जाए मेरे हालात को कुछ ऐसे सम्हाला जाए मै नही कहता कि वो भी भूल जाए मुझे पर मेरी याद से उसको तो निकाला जाए सोते जगते जुबां पे अपनी नाम भारत हो ख्याल-ए-मुल्क को कुछ इस तरह पाला जाए न अपनी सभ्यता को छोड़ कभी जाएँ कहीं नई पीढ़ी को इस हिसाब से ढाला ज...
HEART SINGS...
Tag :
  May 19, 2013, 2:51 pm
अश्क आते रहे, हम छिपाते रहे दर्द उठता रहा, हम दबाते रहे तुमने सुन कर के भी, अनसुना कर दिया हम तुम्हारी गज़ल, गुनगुनाते रहे मन भी तेरा रहा, तन भी तेरा रहा गीत अपने बचे, जिनको गाते रहे ज़ख्म पे ज़ख्म देता रहा, हर कोई   फिर भी क्यों बेवजह, मुस्कुराते रहे मेरे दिल पे लिखी, तेरी हर इ...
HEART SINGS...
Tag :
  May 16, 2013, 10:17 am
माँ जो होती है सदा अपने बच्चों के लिए भगवान या उससे भी बड़ी कोई और नही कर सकता उनकी बराबरी यहाँ तक कि ईश्वर भी.अनादि कल से प्राप्त है माँ को प्रथम गुरु होने का श्रेयऐसा गुरु जिसे कबीर ने बताया है ईश्वर से भी महान.जो हमेशा हमारी ही करती हैं चिंता खुद सोती है गीले में हमें सुल...
HEART SINGS...
Tag :
  May 12, 2013, 8:41 am
हमें तन्हाई में यादें तुम्हारी आती हैं रोज आती हैं हमे रोज ही जलाती हैं अपनी यादों से कहो यूँ न सताएं हमको जब भी आती हैं हमें बेवजह रुलाती हैलाखों कोशिस से है यूँ हमने मनाया दिल को याद फिर से पुराने गीत गुनगुनाती हैं हालाकीयाद की अपनी कई जरूरत हैं जिंदगी जीने का ये रास्...
HEART SINGS...
Tag :
  May 11, 2013, 7:48 am
आज फिर मुझको सताने को तेरी याद आयी,तुझसे महरूम दीवाने को तेरी याद आयी,दिल-ए-मासूम पे इस दुनिया ने ढाए जो सितम,दर्द दिल के ही भुलाने को तेरी याद आयी,मन को बहलाना और समझाना है नही आसां,मुझे ये राज़ बताने को तेरी याद आयी,उसकी यादें ही मेरी आखिरी अमानत हैं, हमें शायद ये जताने को ...
HEART SINGS...
Tag :
  May 11, 2013, 7:29 am
मालिक तुझे दुनिया को बसाने का शुक्रिया इंसान को इंसान बनाने का शुक्रिया तेरा रहा तो मैंने भले काम कर लिए मुझसे न बुरा काम कराने का शुक्रियाइस देश में जनम दे देवों कि भूमि जो,मुझको ये बड़ी शान दिलाने का शुक्रियाइंसान हूँ इंसान कि आदत है गलतियाँगलती को माफ़ करते ही जाने ...
HEART SINGS...
Tag :
  May 1, 2013, 6:55 am
अपने हयात गम में डुबोता रहा हूँ मैं,खुद को ही नस्तरों से चुभोता रहा हूँ मैं,तेरी हैं ये अमानतें जिनको सम्हाल कर,हर ज़ख्म एक साथ पिरोता रहा हूँ मैं,कोई गिला नही है इन आँखों में अब तेरा,अश्कों से अपनी आँख यों धोता रहा हूँ मैं,ज़श्न-ऐ-ज़हाँ के शोर में कुचली सी सिसकियाँ,महफ़िल से फ...
HEART SINGS...
Tag :
  April 28, 2013, 9:35 am
 शांत है विद्रोह पर सेना खड़ी तैयार हैहमको अपनी बात भी न रखने का अधिकार हैगर करो आवाज ऊंची लाठियां खाओगे तुमबंधनों में बांधती भारत को ये सरकार हैबात अपनी रख रहे लोगों को डाले कैद मेंहाँ भले मुजरिम जो जाए तो इन्हें स्वीकार हैवक्त है अब भी जो चेतो देख लो अच्छी तरहझूठ की, ...
HEART SINGS...
Tag :
  April 26, 2013, 9:27 am
इंसान को इंसान बनाती हैं गलतियाँ अनुभव के साथज्ञान भीलाती हैं गलतियाँ  आखिर कमी कहाँ थी क्या बात रह गई तुमको तुम्हारी भूल बताती हैं गलतियाँहर राह पे चलने के कुछ अपने कायदे हैं ठोकर कि तरह तुमको सिखाती हैं गलतियाँआगे पता चलेगा इनकी जरूरतों का तुमको भले ही आज सताती है...
HEART SINGS...
Tag :
  April 14, 2013, 1:23 pm
आज फिर धुप नही निकली है, देखो फिर काली घटा छाई हैआज तक इन्त्जार था जिसका, अभी शायद वो घड़ी आई हैवो बिन बताए ही जाने का गिला, पलट के देख न आने का सिलागमो को बाँध कर वो आँचल से, न जाने कितने शिकवे लाई है इन आलिशान खड़े बंगलों से, मगर इंसानियत में कंगलों से इन अमीरों से कोई तो पूछ...
HEART SINGS...
Tag :
  February 27, 2013, 3:04 am
 कभी-कभी तन्हाई की आवाज सुनाई देती है कभी-कभी इक सोई सी, हसरत अंगड़ाई लेती हैदुनिया के इन तौर तरीकों के डर से सहमी-सहमीएक भोली पर सच्ची सी,सूरत दिखलाई देती है दिल वालों की दिल्ली में अब पत्थर दिल हैं लोग यहाँ बेमतलब के मुद्दों की,घंटों सुनवाई होती है इस बदली दुनिया के है ...
HEART SINGS...
Tag :
  January 30, 2013, 12:45 am
कभी सूरज नही निकला तो क्या अज़ब होगा ?उसकी इस बेवफाई का भी एक सबब होगाकि जिसकी सादगी पे दुनिया सारी मरती है उसका हंस कर के मचलना भी क्या गजब होगावो जिस घड़ी में कभी हमने तुझे देखा था न मुझे याद पर वो माह ही रज़ब होगाहैं तार-तार ही करते रहे जो मानवता न उनकी कौम ही और न कोई मज़ब ह...
HEART SINGS...
Tag :
  January 29, 2013, 11:51 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3685) कुल पोस्ट (167911)