Hamarivani.com

My Shayari

बस कमी सी तेरी खलती है।पर शामें अब भी ढलती हैं।तुम होते तो शायद ओर अच्छा होताखैर!  दुनिया तो अब भी चलती है।....... मिलाप सिंह भर...
My Shayari...
Tag :
  October 23, 2018, 2:19 pm
अपने जीवन के इस  विस्तृत मैदान में।अवगुणों के आलंवन से खड़े हो चुके शैतान में।आज सतगुणों के अस्त्र से प्रहार करते हैं।र&...
My Shayari...
Tag :
  October 19, 2018, 10:37 am
चलने से टिकती हैऔर रुकने से गिर जाती है।यह जिंदगी बिना स्टैंड की साईकिल है।बिना स्टैंड की साइकिल🚲🚲🚲🚲🚲🚲🚲चलती है तो ट&...
My Shayari...
Tag :
  October 15, 2018, 8:57 am
मैं जब भी तन्हा होता हूँ।तेरे सुंदर सपने बोता हूँ।कभी उड़ता हूँ उन्मुक्त सा होकरकभी देख हकीकत रोता हूँ।कभी लगती है हर राह आसानकभी ठोकर पे ठोकर खाता हूँ।..... मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :
  October 8, 2018, 10:17 pm
मेरे मन को हल्का करती हैजब कुदरत रंग बदलती है।तुम भी तो कुदरत का हिस्सा होतू भी इक सुंदर दिल रखती है।तेरा गुस्सा तपता सू...
My Shayari...
Tag :
  October 5, 2018, 5:47 am
कुछ दूर चलते हैंफिर कदम रुक जाते हैंमेरी मजबूरियों में सबख्वाब बिक जाते हैं।वो सामने आते हैं तोमिलते हैं बड़ी हमदर्दी स...
My Shayari...
Tag :
  August 26, 2018, 9:19 am
हम बी. पी. एल. जिसे कहते हैंवो आर्थिक आधार पर आरक्षण है।पर अफसोस की बात यह है किइसमें भी बहुत भ्रष्टाचार के लक्षण हैं।         ....... मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :
  August 26, 2018, 9:17 am
लम्हा लम्हा है मुश्किलकिस किस से लड़ता है ये दिलइक ओर मोहब्बत के धोखेइक ओर अधर में मुस्तकबिल ।कभी तेरे संग के ख्बाब सजाऊæ...
My Shayari...
Tag :
  August 12, 2018, 3:23 pm
बच के निकलता हूँतेरी गली सेकि फिर तुमसे सामना न हो जाए।बड़ी मुश्किल सेसमेटे हैं दिल के टुकड़ेकि फिर वही मामला न हो जाए।बहुत डरता हूँ तेरीझुकी सी पलकों सेअसर बहुत हैतेरी शोख़ नजरों में।जानलेवा है बहुतयह बेरुखी तेरीदर्द सीने में वो फिरवेवजह न हो जाए।....... मिलाप सिंह भर...
My Shayari...
Tag :
  August 10, 2018, 11:47 am
नदी किनारे शाम कोजब दिन ढ़लता है।सूरज धीरे- धीरेपानी के बीच उतरता है।ताजा हो जाती हैं फिरभीगी सी यादें।एक तूफान सा जैसेआँखों के बीच उमड़ता है।........ मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :हिन्दी शायरी
  August 9, 2018, 1:29 pm
दूरियां बना देती हैंमीलों की दरमियाँबड़ी बतमीज होती हैंयह गलतफहमियां...
My Shayari...
Tag :
  July 24, 2018, 1:08 pm
बैठी हुई आँखें हैंऔर सूखे हुए गाल।कुछ ठीक नहीं लगता तुम्हारा ये हाल।जहर बन जाएगाजो दिल में छुपा रखा है।तू बाहर बहने दे आंसूगम अपना निकल।....... मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :
  July 2, 2018, 8:15 pm
...
My Shayari...
Tag :
  April 4, 2018, 9:25 am
अच्छा नहीं है ये काम न करो।बेटी किसी की यारो बदनाम न करो।दफ़न करो बातें मिट्टी डालकर ।ये बेआबरू की बातें तुम आम न करो।....... मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :milap singh bharmouri
  April 4, 2018, 7:34 am
यहां तु ही नहीं अकेला है कहना ओर भी कई मोड चुके हैं।अपने किए हुए वादे महफ़िल में हजार तोड चुके हैं।सुना है तरक्की बहुत प...
My Shayari...
Tag :
  April 1, 2018, 4:09 pm
दिल धीरे - धीरे घवरा जाता है।जब वक़्त जुदाई का आ जाता है।पल साथ बिताए याद आते हैंऔर आंखों में पानी आ जाता हैै ।क्यों खुशियां हर पल देता नहीं हैक्यों कहर खुदा ये ढा जाता है।दिन की है बस चहल- पहल सबशाम होते ही अंधेरा छा जाता है।....... मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :
  March 11, 2018, 8:49 am
बीत गया वक़्त जो साथ गुजारा था।जब हर दिन हर लम्हा प्यारा था।हमेशा न थी विरान यह जिंदगी अपनीएक वक़्त था जब अपना जहां सारा ...
My Shayari...
Tag :sad shayari
  March 9, 2018, 1:35 pm
नफरतें  न   बढाया   करो।अच्छा है  मुस्कुराया  करो।जीने  को  लिए है यह पलहर पल जी को आया करो।गम  रोके  जो आके  कभीतुम भी गम को चिढाया करो।जहर लगती हैं खामोशियांकहर  इतना  न  ढाया  करो।कद्र  बढ   जाएगी  देखनातुम  भी  बातें  बनाया  करो।या...
My Shayari...
Tag :
  February 12, 2018, 10:21 pm
बात हुई जब खुद की तोकह दिया झटसे छौडो खैर।सच को हवा बताने वाले झूठ के गिनते देखे पैर।ओरों से नहीं हो पाएगाआ खुद  से करके द...
My Shayari...
Tag :
  January 17, 2018, 9:14 pm
चारों ओर दिवारे हैं ।कुछ लम्हें मीठे खारे हैं।उलझ गया है किस उलझन मेंपतझड के बाद बहारें हैं।जीत हुई है उनकी अक्कसरजो कई...
My Shayari...
Tag :मिलाप सिंह भरमौरी
  January 16, 2018, 9:17 pm
क्यों बहशी बन रहा  हदें शराफतों की लांघ कर।अँधेरे में खो गया  है तू खुद में  कुछ सुधार कर ।झूठी  तमाम  बातें हैं जो  चौरा...
My Shayari...
Tag :
  January 5, 2018, 4:49 pm
दो हजार अठारह-------------------------चमक उठे किसमत का सितारा।हर दिन हो सबका प्यारा प्यारा।खुशियां  पल  पल  आती  जाएंगम जीवन के  हो नौ दो ग्&...
My Shayari...
Tag :new year shayari
  December 31, 2017, 8:40 pm
निरंतर उत्कर्ष हो हर्ष काऔर शुभ असर मिले हर संघर्ष का।हर दिन लाए आपके लिए इक नई खुशी।हो खुशियों से भरा आपके लिए कलेंडर न...
My Shayari...
Tag :shayari of milap singh bharmouri
  December 31, 2017, 8:06 am
दरिया जब बनता है किनारे भी बन जाते हैं।दुखों  के आने  पर सहारे भी  मिल जाते हैं।परिवर्तन तो तय है हर पल निरंतर चलता रहताफ...
My Shayari...
Tag :मिलाप की शायरी
  December 28, 2017, 9:17 am
दुनिया में बहुत नजारे देखे।चांदनी रात में तारे देखे।जो दिल को चीरते जाते थेऐसे भी बहुत इशारे देखे।नदियां शहद मिलाती र&...
My Shayari...
Tag :
  December 21, 2017, 9:14 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3815) कुल पोस्ट (182942)