Hamarivani.com

...................बात दिल कि ... दिल से

 मैंने बिज बोये कुछ सपने संजोये,जब आसमान से न बरसा पलकों को भिगो गया पानी ...अपनी  हिम्मत संजोये मैंने फिर बिज बोये बरसा जो कहर बनकर मेरे सपने डुबो गया पानी ........
...................बात दिल कि ... दिल से...
Tag :सामजिक
  September 7, 2012, 7:17 pm
एक पालक का शिक्षिका के नाम पत्र ...मैडम जी जब से मेरा बेटा संसद के स्टडी टूर से आया है,उसके स्वाभाव में काफी बदलाव आया है .दो रूपये के सामान को दस का बतलाता है .जवाब पूछो तो यह मेरे खिलाफ साजिश है कहकर जोर जोर से चिल्लाता है ..अपनी बात मनवाने सौ झूठे वादे करता है,बात बेबात  प...
...................बात दिल कि ... दिल से...
Tag :सामजिक
  September 7, 2012, 6:25 pm
कागज पर करोड़ों खाक - नहीं बुझी पलायन की आग चिखलदरा-मेलघाट से रोजगार की तलाश में होनेवाले पलायन का मुद्दा अख़बारों की सुर्ख़ियों से लेकर सरकारी महकमे की फाइलों को गर्म करता रहता है. कभी तो यह मुद्दा कागजों पर करोड़ों की योजनाओं  के खाके को जन्म देता है तो कभी एन जी ओ द्वारा ...
...................बात दिल कि ... दिल से...
Tag :MGNREGS
  December 8, 2011, 6:45 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163585)