Hamarivani.com

Sanskritbhashi संस्कृतभाषी

मैं अपने इस लेख में संस्कृत के उस पक्ष की चर्चा करने जा रहा हूँ, जिसकी चर्चा समाज में  प्रायः वर्जित माना जाता है। वह है कामकला। अनादिकाल से स्त्रीपुरुष परस्पर आसक्त रहे हैं। अतएव दर्शन, साहित्य,पुराण आदि की तरह ही संस्कृत में कामकला से सम्बन्धित ढ़ेर सारी पुस्तकें ल...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  March 10, 2017, 12:36 pm
            संस्कृत का स्वरूप और भेद अक्सर लोग आकर कहते हैं- मैं संस्कृत पढ़ना चाहता हूं। मैं पूछता हूं - आप संस्कृत क्यों पढ़ना चाहते हैं? उनका उत्तर होता है ताकि मैं हिंदू धर्म ग्रंथों को पढ़ सकूँ। लोग कहते हैं मुझे प्राचीन ज्ञान विज्ञान को जानने की उत्सुकता है- जैसे गीता,...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :संस्कृत
  March 4, 2017, 8:40 pm
हिंदुओं के अनेक प्रकार के तीर्थ है। ब्रह्म पुराण के अनुसार तीर्थों चार प्रकार के होते हैं 1- ईश्वर द्वारा उत्पन्न 2- असुर से सम्बन्धित 3- ऋषियों से सम्बन्धित 4- राजाओं (मनुष्यों) द्वारा निर्मित। गया के तीर्थों का संबंध मृत मानवों अर्थात् पितरों के साथ है। गया एक ऐसा तीर्थ ...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :तीर्थ
  March 2, 2017, 8:21 pm
स्वामी श्रीपराङ्कुशाचार्य जी महाराज        (1921-2036) श्रीस्वामी जी का अवतार स्थल महमत्पुर गॉंव हैं जो विक्रम नौवतपुर के समीप अवस्थित है। 10 मार्च 1865 तदनुसार फाल्गुन शुक्ल त्रयोदशी शुक्रवार संवत् 1921 कुंभ के सूर्य में मघा नक्षत्र में नौवतपुर के समीप अवस्थित महमत्पुर गॉंव के...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  February 25, 2017, 8:38 pm
               शब्दार्थयोः समो गुम्फः पाञ्चाली रीतिरिष्यते  ।                 शिलाभट्टारिकावाचि बाणोक्तिषु च सा यदि  ॥ धनपाल महाकवि बाणभट्ट ने हर्षचरित के प्रथम दो उच्छ्वास और कादंबरी की भूमिका श्लोक संख्या 10 से 20 तक में  अपनी आत्मकथा और वंश परिचय सविस्तार दिया है। संस्कृत ...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  February 24, 2017, 4:41 pm
असम्पादित मैंने अपने पूर्व आलेख में स्पष्ट कर दिया है कि मगध क्षेत्र का अतीत अत्यंत ही गौरव पूर्ण रहा है। मध्यकाल में यहाँ संस्कृत का उत्थान अधिक नहीं हो सका, परंतु उन्नीसवीं सदी आते-आते इस क्षेत्र में पुनः संस्कृत विद्या की स्थापना होने लगी। कारण यह कि 19 वीं तथा 20 वीं ...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  February 18, 2017, 11:00 pm
 संस्कृत पुस्तकालय में पुस्तकों के साथ रहते हुए मेरा 19 वर्ष बीत चुका है। आज से कुछ वर्ष पूर्व आधुनिक संस्कृत साहित्य के वर्गीकरण के समय मेरी दृष्टि वार्णिक छन्दों में विपुल मात्रा में विरचित संस्कृत गीत की ओर आकृष्ट हुआ। गान शैली पर आश्रित इन पुस्तकों का एक अलग वर्गा...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :गीतकार
  February 4, 2017, 5:07 pm
अंग देश से पश्चिम के भूभाग का प्राचीन नाम मगध जनपद था। यहाँ चन्द्रवंश के राजा राज्य करते थे।महाभारत के भीष्म पर्व में 240 जनपदों का नामोल्लेख किया गया है,जिसमे मगध भी एक है। विष्णुपुराण, श्रीमद्भागवत् आदि प्राचीन ग्रन्थों में इसका उल्लेख मिलता है। वाल्मीकि रामायण में...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  January 31, 2017, 1:31 pm
असम्पादित मगध में पाटलीपुत्र और नालंदा ये दोनों विद्या के केंद्र थे। पाटलिपुत्र पुराना केंद्र था। इसकी ख्याति का अनुमान इससे लगाया जा सकता है कि पटना की परीक्षा में उत्तीर्ण करने पर ही संस्कृत विद्या के आचार्यों को आचार्य की पदवी प्राप्त होती थी। भट्ट सोमेश्वर एवं...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  January 31, 2017, 1:31 pm
स्वामी पराङ्कुशाचार्य सरौती,गया,बिहार स्थानाधीश द्वारा मगही बोली में अर्चा गुणगान रचित है। मगही बिहार राज्य के मगध क्षेत्र में बोली जाने वाली एक बोली है। पराङ्कुशाचार्य दक्षिण भारत में उद्भूत रामानुजीय वैष्णव परम्परा के सन्त थे। अर्चा गुणगान में विष्णु के स्वरुप...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  January 30, 2017, 12:55 pm
...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  January 29, 2017, 10:58 am
लिखना मेरा स्वभाव रहा है। बचपन से ही हर बात पर लेखनी चलाने का शौक। श्री स्वामी पराङ्कुशाचार्य आदर्श संस्कृत महाविद्यालय में 26-27 फरवरी 2017 को महाविद्यालय के रजत जयन्ती समारोह के अवसर पर मगध क्षेत्र में स्वामी पराङ्कुशाचार्य जी के अवदान को लेकर शोध संगोष्ठी के आयोजन क...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :हुलासगंज
  January 28, 2017, 3:33 pm
                                                                         लक्ष्मीनाथ समारम्भं नाथयामुनमध्यमाम्।                                                                          अस्मदाचार्यपर्यन्तां वन्दे गुरुपरम्पराम्।। बिहारप्रान्तस्य दक्षिणदिग्भागे संस्कृतभाषायाः प्रचारकस्य श्रीस्वामिरङ्गरामानुजाचार्...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  January 27, 2017, 2:38 pm
गुरुदेव नहीं रहे। सुबह उठते ही फेसबुक पर पढ़ने को मिला। विश्वास ही नहीं हो रहा था। मित्र सुब्रह्मण्यम् को फोन किया। दुखद समाचार की पुष्टि हो गयी। फेसबुक पर जब-जब शोक समाचार पढ़ रहा हूं, असहज हो उठता हूं । गुरुदेव के जाने से पूरा सेशलमीडिया रो रहा है। जब भी कोई लिखते हैं ...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  January 7, 2017, 12:18 pm
   मैं सोचता हूं भारत की धरा पर प्रकृति में आज किसी प्रकार का बदलाव नहीं आया है। ठीक कल जैसा ही आज भी है। कुछ लोगों का कहना है कि आज नया साल आ गया है। हाँ सरकारी व्यवहार में दिखने वाला तथा धार्मिक कारणों से यह नववर्ष है। व्यवहार में इसी लिए आया क्योंकि हम गुलाम हो गये थे। अ...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :year
  January 1, 2017, 6:59 pm
पुस्तक संदर्शिका Android App में उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान, लखनऊ के पुस्तकालय में उपलब्ध पुस्तकों तथा पाण्डुलिपियों की सूची दी गई है। यह App संस्कृत जिज्ञासुओं तथा शोधार्थियों के लिए अत्यन्त ही उपयोगी है। मैंने विगत 10 वर्षों तक अनवरत श्रम कर पुस्तकों तथा पांडुलिपियों...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :Pustak Sangdarshika
  December 30, 2016, 2:53 pm
पुस्तक संदर्शिका Android App में उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान, लखनऊ के पुस्तकालय में उपलब्ध पुस्तकों तथा पाण्डुलिपियों की सूची दी गई है। यह App संस्कृत जिज्ञासुओं तथा शोधार्थियों के लिए अत्यन्त ही उपयोगी है। मैंने विगत 10 वर्षों तक अनवरत श्रम कर पुस्तकों तथा पांडुलिपियों ...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :पुस्तकालय
  December 30, 2016, 2:53 pm
       आश्विन शुक्ल पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है। इसी दिन कोजागर व्रत भी धूमधाम से मनाया जाता है। कोजागर का ही अपभ्रंश नाम कोजगरा है।  आश्विन मास की पूर्णिमा को कौमुदी भी कहा जाता है।         यह पूर्णिमा पहले दिन आधी रात तक हो तो पहले ही दिन व्रत करें। यद...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :व्रत
  October 20, 2016, 4:55 pm
कार्तिककृष्णचतुर्थी करकचतुर्थी । सा चन्द्रोदय व्यापिनी ग्राह्या। दिनद्वये तद्व्याप्त्यादौ संकष्टचतुर्थीवन्निर्णयः।                         --निर्णयसिन्धुः ( कार्तिककृष्णचतुर्थी विचारः)      हिन्दू काल गणना में 8 प्रकार के वर्ष होते हैं, जिनमें सौर वर्ष और चंद्र वर्ष प्...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :करवा चौथ
  October 19, 2016, 4:49 pm
 विशिष्टाद्वैत की आलवार परंपरा          आलवार भक्ति परंपरा के संस्थापक आचार्य थे। आलवार शब्द तमिल भाषा का शब्द है, जिसका अर्थ होता है ईश्वर की भक्ति में लीन रहने वाला। ये विशिष्टाद्वैत के आदि आचार्य तथा दक्षिण भारत के प्राचीन वैष्णव संत थे। इनकी भाषा तमिल थी।  इनके द्व...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  October 7, 2016, 4:53 pm
श्रीकूरनारायणमुनिविरचितम् ।। श्रीसुदर्शनशतकम् ।। रङ्गेशविज्ञप्तिकरामयस्य चकार चक्रेशनुतिं निवृत्तये । समाश्रयेऽहं वरपूरणीं यः तं कूरनारायणनामकं मुनिम् ।। सौदर्शन्युज्जिहाना दिशि विदिशि तिरस्कृत्य सावित्रमर्चिः       बाह्याबाह्यान्धकारक्षतजगदगदङ्का...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :रामानुजाचार्य
  October 1, 2016, 11:58 am
    आज मैं अपने facebook पर यह देख रहा था कि मुझे कितने ग्रुप में सम्मिलित कर लिया गया है। 150 से अधिक ग्रुप में मेरी उपस्थिति दिखी। इनमें से मैं लगभग 30 ग्रुप से परिचित था। कुछ ग्रुप 2013 से कोई भी Post नहीं किया गया था। कई ग्रुप जिस उद्देश्य के लिए निर्मित किया गया, आज वह अपने उद्येश्य स...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :
  July 28, 2016, 5:06 pm
मित्राणि              Me on facebook      भवन्तः संस्कृतसर्जना ई-पत्रिकायाः सदस्यता स्वीकृतवन्तः इति प्रमोदावहम्। अत्र भवन्तोपि स्व-स्वलेखं प्रदाय पुष्कलविचारेण पत्रिकामिमां पूरयन्तु। मित्राणि अनेकाः पत्रिकाः धनेनैव क्रेतुं शक्यन्ते परन्तु संस्कृतस्य सम्वर्धनं भवतु इत...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :संस्कृत
  July 26, 2016, 4:19 pm
    संस्कृतसर्जना । संस्कृत जगत का बहुचर्चित नाम । मित्रों यह पत्रिका नही संस्कृत प्रचार प्रसार का, संस्कृत के संरक्षण का, संस्कृत के शास्त्रों के संरक्षण का, संस्कृत मे नवीन प्रतिभाओं को उभारने का एक संसाधनों हॆ । एक बार अवश्य पढें । अगर आपको अच्छा लगे तो सदस्यता अवश्...
Sanskritbhashi संस्कृतभाषी...
Tag :पत्रिका
  July 26, 2016, 3:16 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163691)