POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: सिनेमा की बात

Blogger: saurabh arya
जिंदगी को एक उत्‍सव की तरह जीने और गीत की तरह गुनगुनाने के फ़लसफ़े पर हिन्‍दी सिनेमा ने पहले भी कई अध्‍याय लिखे हैं पर ‘बर्फी’ जिंदगी के हर एक पल को हर हालत में मुस्‍कुराहट और खुशमिज़ाजी के साथ जीने का नया सबक सिखाती है. प्‍यार अगर निश्‍छल हो तो जिंदगी कठोर होने के बावज... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   5:51am 16 Sep 2012
Blogger: saurabh arya
जिंदगी को एक उत्‍सव की तरह जीने और गीत की तरह गुनगुनाने के फ़लसफ़े पर हिन्‍दी सिनेमा ने पहले भी कई अध्‍याय लिखे हैं पर ‘बर्फी’ जिंदगी के हर एक पल को हर हालत में मुस्‍कुराहट और खुशमिज़ाजी के साथ जीने का नया सबक सिखाती है. प्‍यार अगर निश्‍छल हो तो जिंदगी कठोर होने के बावज... Read more
clicks 191 View   Vote 0 Like   5:51am 16 Sep 2012
Blogger: saurabh arya
पर्दे पर गैंग्‍स ऑफ वासेपुर पार्ट 2 एक बार फिर गोलीबारी, गालीबारी, डकैती, बकैती, हरामखोरी, दबंगई और बदले की आग के नरक से होकर गुजर रही है. फिल्‍म कहीं पहुंचने की जल्‍दी में नहीं है इसलिए लोकल के रफ्तार से हर अहम मोड़ पर रूक कर हमें उससे जोड़कर आगे बढ़ती है. किरदारों की भीड़ ... Read more
clicks 200 View   Vote 0 Like   11:43am 28 Aug 2012
Blogger: saurabh arya
The ten days long extravaganza of OSIAN's Cine-fan Film Festival was finally ended up this Sunday evening. The closing ceremony marked the presence of top film stars, national and international dignitaries and big names from world cinema at the Siri Fort auditorium. A larger part of this ceremony witnessed actors, directors receiving awards for their widely acclaimed and appreciated works, but this grand show was culminated into a graceful end with the screening of Rituparno Ghosh’s Chitrangada. Mr. Nevilly Tuli, the man behind this grand show simply mesmerized the audience through his address. While motivating people to harness their creative powers he underlined the t... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   8:54pm 6 Aug 2012
Blogger: saurabh arya
   ओसियान फिल्‍म समारोह में फिल्‍मों का कारवां धीरे-धीरे आगे बढ़ रहा है और फिल्‍म प्रेमी फिल्‍मों के इस कारवां का पूरा लुत्‍फ उठा रहे हैं. हर फिल्‍म एक दूसरे से शिल्‍प और कथ्‍य के धरातल पर अलग है पर सबका नशा दिल्‍ली वालों के सर चढ़ कर बोल रहा है. दीवानगी का आलम यह है कि ... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   6:46am 5 Aug 2012
Blogger: saurabh arya
Published in Pravakta.comand   http://www.pravasiduniya.com/delhi-ke-dil-mai-cinema ओसियान एक बार फिर दिल्‍ली की जमीन पर लौटा है और सिरी फोर्ट ऑडिटो‍रियम एक बार फिर गुलजार है देश दुनिया की नायाब फिल्‍मों से. फिल्‍मों का समंदर सिरी फोर्ट में लहरा रहा है और फिल्‍मों के दीवाने इसमें डूब डूब कर मोती चुन रहे हैं. लगभग 50 द... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   4:12am 4 Aug 2012
Blogger: saurabh arya
फिल्‍में हमेशा से मेरे दिल के करीब रही हैं. बचपन से ही खेलकूद से ज्‍यादा फिल्‍मों ने मुझे अपनी ओर खींचा है. पता नहीं क्‍या जादू सा होता था टीवी पर फिल्‍म देखते ही. फिर कुछ बड़ा होने पर किताबें पढ़ने का शौक लगा. पर फिल्‍में अभी भी दिमाग पर हावी रहती थीं. और कोई भी अच्‍छी चीज ... Read more
clicks 157 View   Vote 0 Like   4:10am 4 Aug 2012
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3911) कुल पोस्ट (191527)