Hamarivani.com

प्यार

जाने क्योंकभी-कभी ये मन बावरा बन उड़ने लगता है न जाने उसमेइतना हौसला कहाँ से आता है कि अपनी सारी हदें तोड़हवा से बातें करने लगता है,जाने कैसेकभी-कभीसमुन्दर की लहरों पर बना बाँध टूटने लगता हैऔर लहरें साहिल की हदें भूलकरअविरल बहने लगती हैं ,जाने क्यों कभी-कभी मेरा मन खुद से...
प्यार ...
Tag :
  August 18, 2017, 1:35 pm
चलो न आजमुहब्बत बाँट लेहम दोनों .....प्यार तेरे नामऔर तन्हाई मेरे नाम कर दें ....जानती हूँनहीं सह सकते तुमबेरुखी ....नहीं बहासकते आँसू ....रत जगेनही होते तुमसे .....     बिस्तर की सलवटोंमे नहीं ढूंढ पाते मेरा अक्सइसलिएप्यार तेरे नामतन्हाई मेरे नाम ......रेवा...
प्यार ...
Tag :
  August 11, 2017, 9:41 pm
हम सब के लिए चाय एक मामूली सी चीज है। जब मन किया पी लिया, नही पसंद आई तो फेंक भी दिया बिना एक पल सोचे। पर चाय एक गरीब के लिए क्या है? ये उससे बेहतर कोई बयां नही कर सकता।अभी कुछ दिनों पहले शाम को सियालदाह स्टेशन गयी थी बेटे को ट्रेन में बिठाने, ट्रैन आने में अभी कुछ समय था तो हम...
प्यार ...
Tag :
  August 7, 2017, 9:48 pm
ऐसा सुना है मैंने कमियां ही इन्सान को इन्सान बनाती हैं अगर कमी न हो तो इंसान भी भगवान जैसा ही हो जाता है ,तो क्या "वो मेरी सारी कमियां नजरअंदाज करता हैमुझे ख़ुदा होने का एहसास दिलाने के लिए "??रेवा...
प्यार ...
Tag :
  August 4, 2017, 2:38 pm
रविवार को मैंने MOM मूवी देखी ,मूवी देखते समय काफी रोई मैं ,देख के घर तो आ गयी पर आज दिन तक दिमाग वही घूम रहा है।मैंने तो सिर्फ एक नाट्य रूपांतर देखा है तब ये हाल है , पर जिन बच्चियों और औरतों के साथ ऐसा होता है उनके मन की स्थिती को समझना या बयां करना बहुत मुश्किल है।लेकिन न चा...
प्यार ...
Tag :
  July 27, 2017, 12:56 pm
आँखों से अबआँसू नहीं बहतेजज़्ब हो गए हैंकोरों मे ........दिल भी अबदुखता नहींबांध दिया हैसिक्कड़ों से ........एहसास अबपहले से नहींउठते मन मेउन्हें बाहरका रास्ता दिखादिया है ........उम्मीदें भीनहीं जगती अबउन्हें गहरी नींदसुला दिया है .......एक शून्य कीचादर ओढ़उस परमुस्कान काइत्र लगा ...
प्यार ...
Tag :
  July 15, 2017, 12:09 pm
अभी कुछ दिनों पहले मैं केरेला के एक टूरिस्ट प्लेस वायनाड गयी थी ,हम जब वहां पहुंचे तो वहां बरसात का मौसम शुरू हो चूका था। वो जगह इतनी सुन्दर है की उसे शब्दों मे वर्णन करना बहुत मुश्किल है। प्रकृति की छटा अपने पुरे यौवन मे ,हर तरफ बिखरी हुई थी ,बरसात मे ऐसा लग रहा था मानो कै...
प्यार ...
Tag :
  July 10, 2017, 9:24 pm
अलसाई सी शाम कॉफ़ी की कप से उठता धुआं   उसकी ख़ुश्बूमन को संतुष्टि से भर देती है .....लगता है ऐसे लम्हे मे वही एक कप सबसे जरूरी है ......पर जब मन ऐसा हो तो अनायास ही तुम्हारी याद आ जाती हैतुम्हारी बातें कॉफ़ीकि तरह घुलती जाती है धीरे धीरे मेरे ज़ेहन मे उसकी ख़ुश्बू की तरह भर लेती है ...
प्यार ...
Tag :
  July 4, 2017, 2:31 pm
मायका मतलबमाँ बाबा का लाड़ ,मायका मतलबभाई का प्यार ,मायका मतलबभाभी की मनुहार ,मायका मतलबभतीजा , भतीजीऔर मस्ती ,पर मायका मतलबसम्मान और आश्वासन भीकि सुरक्षित है मेरा बचपन ,चाहे न रहे माँ बापतो भी बनारहेगा भाई बहनो का प्यार !!रेवा...
प्यार ...
Tag :
  June 21, 2017, 12:27 pm
पैंतालीस की होने को आई पर आज भी मैं अपने मन का नही कर पाती हूँ ,चाहती हूं अलसाई सी सुबह अख़बार और चाय के साथ बितानापर हर सुबह भाग दौड़ में बीत जाती है ,दोपहर होते ही मन अमृता प्रीतम की नज़्में पढ़ने को करता है ,पर कभी काम तो कभी पारिवारिक जिम्मेदारी हाथ पकड़ लेती है ,शाम ढले कॉफी ...
प्यार ...
Tag :
  June 14, 2017, 5:20 pm
ज़िन्दगी मे पहली बार ऐसा हुआ की मुझे खुद से प्यार हो गया ....... सच मानोये एहसासपहले कभी नहीं हुआ !!!आह ! पहले मैं कहाँ थी ?पहले क्यूँ नहीं देखाइस लड़की कोअपने अंदर ....... हमेशा थी वो मेरेआस पास फिर भीढूंढती रहीकिसी और मे ,अब जो मिल गयी हैतो जाने न दूँगी ,प्यार से इसे प्यार करुँ...
प्यार ...
Tag :
  June 5, 2017, 1:52 pm
रोज़ की तरहआज फिर चाँद नेखिड़की पर आ करआवाज़ लगायी ,पर आज मुझेवहाँ न पाकरआश्चर्यचकित था ,रोज़ टकटकी लगा करइंतज़ार करने वालीढेरों बातें करने वालीआज कहाँ गायब हो गयी ?उसे क्या पता थाआज वो अपनेचाँद को छोड़अपने प्रियतम की बाँहोंमे झूल रही है ,आज चाँद नेऔरों की तरहउसे भी बेवफाकर...
प्यार ...
Tag :
  June 2, 2017, 12:26 pm
पापा मुझे दर्द बहुत होता है जब आपकी तस्वीरों पर माला देखती हूँ मुझे दर्द बहुत होता है जब माँ को तन्हाइयों सेलड़ते देखती हूँ  मुझे दर्द बहुत होता है जब  गर्मियों मेंबच्चों की छुट्टियां होती हैंऔर आपकी आवाज नहीं आती,मुझे दर्द बहुत होता है जब भईया को इस उम्र में इत...
प्यार ...
Tag :
  May 25, 2017, 12:22 pm
एक लड़की है अनजानी सी ,थोड़ी पगली थोड़ी दीवानी सी ,जीवन उसकी है एक कहानी सी ,कहती है झल्ली खुद को पर वो न जाने वो हैसयानी सी ,हर बात मे कहती "एक बात बताओ "और फिर खुद ही पिरोती जाती अनगिनत बातें ,पर बातें उसकी नही होती बेगानी सी ,ऐसे अपना लेती जैसेजन्मों से हो पहचानी सी ,गर जीवन मेम...
प्यार ...
Tag :
  May 18, 2017, 5:09 pm
बड़ी शिद्दत से आजकलमहसूस होता है की मुझे दुबारा प्यार हो गया हैतुमसे ,फिर से हवाओं मेउड़ने लगी हूँ ,सर्दी कि खिली धुप सीखिलने लगी हूँ ,हर पल मन मेहलकी गुद- गुदीमहसूस होती है ,छोटी-छोटी बातों मेंआँखें प्यार सेडबडबाने लगतीं हैं ,पर इस बार पहले की तरह ये नमकीनआँसू नहीं है ,...
प्यार ...
Tag :
  May 14, 2017, 5:08 pm
जब से तुझसेब्याह हुआइस सिन्दूर से भीरिश्ता जुड़ गया  ,रोज़ सुबह इसेअपनी मांग मे भरनाहमारे ब्याह की निशानीमात्र नहीये तो तुम्हारा प्यार हैजिसे रोज़ सुबहमैख़ुद मे भर लेती हूँ ,इसका लाल रंगमुझे तुम्हारे साथबितायेहर सिन्दूरी लम्हे कीयाद दिलाता है ,हर उस वादे कीजो हमने एक ...
प्यार ...
Tag :
  May 8, 2017, 1:32 pm
टूट कर बिखरे सपनेपड़े हैं एक कोने मे ,                 आज उन्हेंसिसकने की भीइज़ाज़त नहीं ,क्यूंकि गलती तोइनकी ही है ,क्यों बस गए इन आँखों मेसतरंगी पंख लगा कर ,अब तो पंख काबस एक ही रंगबचा है स्याह सा ,उसे भी आज नोच करपरे कर दिया गया हैऔर बच गयी हैये सुनी बेजान आँखें .......
प्यार ...
Tag :
  May 3, 2017, 10:05 am
अजीब दस्तूर है तुम्हाराऐ सनमदिल में एहसासऔर होठों परचुप्पी रखते हो .....बड़े मगरूर होप्यार भी करते होऔर दुरी भीकमाल की रखते हो......इतने मौका परस्त होजब हालातनागवार हो जाते हैंतब ही याद करते हो .....बड़े ज़ालिम होन खुद जीते होन हमे जीने देते हो .....अजीब दस्तूर है तुम्हारा ए सनम ...
प्यार ...
Tag :
  April 27, 2017, 3:31 pm
सात फेरों से शुरू हुआ जीवन का ये सफर ,सात फेरे सात जनम के लिएसात वचनों से गढ़ेसात गांठों मे बंधे ,हम दोनों ने पूरी कीये सारी रस्में ,निभाते रहे हमहर एक वचन मे अनगिनत वचनता उम्र नही खोली कोईभी गाँठ ,पर जब अंतिम वचनकि बात आईतो तुमने खोल लीअपनी गांठचले गए अकेलेछोड़ म...
प्यार ...
Tag :
  April 22, 2017, 12:48 pm
वो देखो मदारी आयाबच्चों को बहुत भायातरह तरह के खेल दिखाताकभी बन्दर को दुल्हन बनाताकभी खुद बन्दर बन हँसताबच्चों को बहुत भाता खेल खेल मे सिख सिखाई कभी न करना तुम सब लड़ाई मिल जुल कर सदा रहना जैसे एक माचिस मे रहती अनेक सलाई  !!रेवा ...
प्यार ...
Tag :
  April 17, 2017, 8:17 pm
अपने शरीर से आजझाड़ ली है मैंनेवो सारी कही अनकहीबातों की धूल  ,अब मुझे साफ़दिख रहा हैअपना  वजुद ,पर घर की तरहइस धूल को भीमुझे रोज़ झड़ना होगा ,वार्ना ये फिरमेरे शरीर को अपनाबना लेंगेऔर धुँधला जायेगामेरा वज़ूदरेवा...
प्यार ...
Tag :
  April 12, 2017, 11:59 am
सीपों मे बंदमोतीजैसे आँसूआज ढुलक करबिखर गए हैंहमारे चारों तरफ ,उन्हें जमा करएक माला बनाई है मैंने ,जिसमे कुछमेरे मोती हैं औरकुछ तुम्हारे ,क्या तुम बता सकते होकौन सा मोती बेहतरीन है ?       किस मोती का क्या मोल है ?          ठीक वैसे हीतुम नहीं अंतर कर सकतेहमारे प्...
प्यार ...
Tag :
  April 6, 2017, 1:06 pm
आज खुद को गलेलगा कर सोने कोजी करता है ,अपने कंधे परसर रख कररोने कोजी करता  है ,अपने आंसुओं सेशिवालय धोने कोजी करता  है ,समुन्द्र के रेत सेबनाया था जो आशियानाउसे समुन्द्र कोसौंपने काजी करता है ,बिन पहचान जीतेरहे आज तकअब अपनी पहचानके साथ मरने कोजी करता है ,आज खुद क...
प्यार ...
Tag :
  March 27, 2017, 11:57 am
वो देखो फ़ाग आया संग अपने अनेकों रंग लाया पेड़ों को फूलों से नहलाया वो देखो फ़ाग आया गोरी के गालों को रंगों से सहलाया आँखों को हया का कजरा लगाया वो देखो फ़ाग आया सूनी धरती को वृंदावन बनाया राधा और कान्हा के प्यार से सजाया वो देखो फ़ाग आया !!!!! रेवा ...
प्यार ...
Tag :
  March 22, 2017, 2:57 pm
याद है नवो पहली होलीजब तुमनेअपनी अंजुरी भरी थीपलाश से और रख दिया थामेरी हथेली परकहा थाआज तुम्हे इनफूलों जैसा चटकरंग दे रहा हूँऐसा रंग जोहमारे अस्तित्वको प्रेम मेरंग देगा ,जब भी हमएक दूजे सेदूर होंगेये रंग हमे सदाकरीबी का एहसासदिलाएगा .......आज इतने सालों बादतुमसे एक ...
प्यार ...
Tag :
  March 20, 2017, 11:01 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3685) कुल पोस्ट (167971)