Hamarivani.com

सद़विचार

महान उपलब्धियों के लिये ...हमें कर्म ही नहीं करना चाहिये, स्‍वपन भी देखना चाहियेयोजना ही नहीं बनानी चाहिये, विश्‍वास भी करना चाहिये ...- अनातोले फ्रांस...
सद़विचार...
sada
Tag :
  August 27, 2013, 11:57 am
कोई भी व्‍यक्ति जिसमें न तो थोपा गया अनुशासन हैना ही आत्मा का अनुशासन, वह विकास की राह से विमुख हो जाएगा ...  - सीमा 'सदा'...
सद़विचार...
sada
Tag :
  August 2, 2013, 7:17 am
मेरे लिये वर्तमान ही सब कुछ है... भविष्‍य की चिंता ह‍में कायर बना देती है, भूत का भार हमारी कमर तोड़ देता है!- प्रेमचंद...
सद़विचार...
sada
Tag :
  July 27, 2013, 7:00 am
मेरी दृढ़ धारणा है कि तुममें अंधविश्‍वास नहीं है, तुममें वह शक्ति विद्ममान है, जो संसार को हिला सकती है .. - स्‍वामी विवेकानंद ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  July 17, 2013, 3:32 pm
जिसे अपने में विश्‍वास नहीं, उसे अपने भगवान में कभी भी विश्‍वास नहीं हो सकता !!- स्‍वामी विवेकानंद ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  June 26, 2013, 10:17 am
संस्‍कारों की भाषा सभ्‍यता की दहलीज़ लांघने से पहले हर शब्‍द के आगे एक लक्ष्‍मण रेखा खींच देती है !... सीमा 'सदा'...
सद़विचार...
sada
Tag :
  June 15, 2013, 10:01 am
जिसने स्‍वयं को वश में कर लिया है संसार की कोई  शक्ति उसकी विजय को पराजय में नहीं बदल सकती ... - महात्‍मा बुद्ध...
सद़विचार...
sada
Tag :
  May 21, 2013, 10:23 am
अपनी योग्‍यता पर सन्‍देह करने वाला व्‍यक्ति अपनी शक्तियो को घटाता है और इस प्रकार असफलता के साथ गठबंधन करता जाता है। - स्‍वेट मार्डन ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  May 10, 2013, 10:37 am
गुनाह तो जनसंख्या की तरह बढ़ते हैं और सुकर्म बेटियों की तरह कभी भी कहीं भी ख़त्म कर दिए जाते हैं .... क्या हिसाब ! और क्या किताब !- रश्मि प्रभा  ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  May 4, 2013, 11:32 am
हम मौत को बुरा नहीं कहते, यदि हम जानते कि वास्‍तव में मरा कैसे जाता है ?- गुरू नानक देव ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  April 27, 2013, 11:23 am
पुस्‍तकें बहुत खतरनाक होती हैं, क्‍योंकि ये आपका जीवन बदल सकती हैं  !!!- हेलेन एक्‍सली...
सद़विचार...
sada
Tag :
  April 23, 2013, 10:15 am
जिन्‍दगी तो अपने दम़ पर ही जी जाती है, दूसरों के कँधे पर तो सिर्फ़ ज़नाजे़ उठाये जाते हैं !- भगत सिंह ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  April 18, 2013, 12:28 pm
जिन्‍दगी छल है प्रकृति निश्‍छल है हम छल से भी लेते हैं और सीखते हैं निश्‍छल से भी लेते हैं और सीखते हैं ... फिर हम प्रयोगवादी आदर्शवादी बन जाते हैं !हम लेते हुए काट-छांट करने लगते हैं छल से देना स्‍वीकार नहीं होता कृत्रिम निश्‍छलता से बस अपने फायदे का लेखा-जोखा ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  April 16, 2013, 1:05 pm
वाचालों को वाचाल होने दो !वे इससे अधिक और कुछ नहीं जानते  !उन्‍हें नाम, यश,धन, स्‍त्री से संतोष प्राप्‍त करने दो।- स्‍वामी विवेकानंद ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  April 5, 2013, 1:02 pm
कभी कभी कड़े निर्णय भी लेने पड़ते हैंविरोध के स्वर भी सहने होते हैंनिस्वार्थ और विवेक से लिए निर्णय भी कुछ लोगों को आहत कर सकते हैंनिर्णय का उचित अनुचित होना समय ही सिद्ध करतातब तक धैर्य रखना पड़ता है - राजेन्‍द्र तेला ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  March 21, 2013, 11:07 am
सर्वश्रेष्ठबननेकीआशामेंजीनेवालेइर्ष्याऔरहोड़कोधर्ममाननेवालेसमुद्रमेंपथसेभटकेहुएज़हाजजैसेहोतेकिनारेकीतलाशमेंनिरंतरभटकतेरहतेकिनारातोमिलतानहींथकहारकरचुकजातेअंतमेंडूबजाते डा.राजेंद्रतेला,निरंतर=...
सद़विचार...
sada
Tag :
  March 15, 2013, 11:16 am
धन तो काल के साथ ही क्षय हो जाता है, लेकिन यशरूपी धन अक्षय है, इसे काल भी नष्‍ट नहीं कर सकता - अज्ञात...
सद़विचार...
sada
Tag :
  March 5, 2013, 10:20 am
विश्‍वास और प्रेम में एक समानता है, दोनों में से कोई भी जबरदस्‍ती पैदा नहीं किया जा सकता !!!- अज्ञात ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  March 1, 2013, 3:04 pm
धैर्य की परिभाषा यदि खामोशी अख्तियार करना है तो इस परिभाषा को बदला जाना चाहिये! !- सीमा 'सदा'...
सद़विचार...
sada
Tag :
  February 18, 2013, 10:23 am
थोड़े दिन रहने वाली विपत्ति अच्‍छी है क्‍योंकि उसी से शत्रु और मित्र की पहचान होती है ...  - रहीम ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  July 13, 2012, 10:30 am
जो बिना ठोकर खाए मंजिल तक पहुंच जाते हैं, उनके हाथ अनुभव से खाली रह जाते हैं ... - अज्ञात ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  July 7, 2012, 10:22 am
यदि तुम जीवन से सूर्य के जाने पर रो पड़ोगे तो आँसू भरी आंखे सितारे कैसे देख सकेंगी - रवीन्‍द्रनाथ ठाकुर ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  June 30, 2012, 10:59 am
नाव जल में रहे लेकिन जल नाव में नहीं रहना चाहिए, इसी प्रकार साधक जग में रहे लेकिन जग साधक के मन में न‍हीं रहना चाहिए ... - रामकृष्‍ण परमहंस ...
सद़विचार...
sada
Tag :
  June 27, 2012, 10:41 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163788)