Hamarivani.com

OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्यटन स्थल

परंपरागत रास्ते को 16 किमी तक शेड से ढंका जा चुका है। किनारे पर फेंसिंग भी की गई है, ताकि नीचे कोई गिरे नहीं और कचरा न फैलाए।कटरा. जम्मू से कटरा का रास्ता पहले दो घंटे का होता था। तीन टनल की बदौलत अब यह बमुश्किल 40 मिनट का रह गया है। अभी लोग कम आ रहे हैं। पर महज डेढ़ महीने बाद नव...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  August 22, 2016, 11:47 am
वृहत संहिता में तीर्थ का बड़े ही सुंदर शब्‍दों में वर्णन किया गया है। इसके अनुसार, ईश्‍वर वहीं क्रीड़ा करते हैं जहां झीलों की गोद में कमल खिलते हों और सूर्य की किरणें उसके पत्‍तों के बीच से झांकती हो, जहां हंस कमल के फूलों के बीच क्रीड़ा करते हों...जहां प्राकृ‍तिक सौंदर...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  July 31, 2016, 1:39 pm
''ह्मीं बगलामुखी सर्व दुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तम्भय जिह्वां कीलम बुद्धिं विनाशय ह्मीं ॐ स्वाहा।''प्राचीन तंत्र ग्रंथों में दस महाविद्याओं का उल्लेख मिलता है। उनमें से एक है बगलामुखी। माँ भगवती बगलामुखी का महत्व समस्त देवियों में सबसे विशिष्ट है। विश्व में इनके स...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  July 31, 2016, 1:17 pm
हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में स्थित खजियार को भारत का मिनी स्विट्जरलैंड कहा जाता है। खजियार के अलावा, यहां के आस-पास का प्राकृतिक सौंदर्य पर्यटकों को खूब आकर्षित करता है...हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में बेहद खूबसूरत स्थल है खजियार। समुद्र तल से करीब २००० मीटर की ऊंचा...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  July 31, 2016, 1:10 pm
मध्य प्रदेश में बसा है एक और कश्मीरमध्य प्रदेश में स्थित माण्डू का दर्शन वादिये कश्मीर का आभास देता है। यहां हरी-भरी वादियां, नर्मदा का सुरम्य तट ये सब मिलकर माण्डू को मालवा का स्वर्ग बनाते हैं। यहां की माटी के बारे में कहा जाता है कि ‘मालवा माटी गहर-गंभीर। पग-पग रोटी ड...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  July 31, 2016, 12:52 pm
 अर्धनारेश्वर मंदिर - मोह्गाव ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  July 31, 2016, 12:40 pm
देवीपाटन मंदिर - हिन्दुत्व की सतत् जलती मशाल उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में स्थित देवीपाटन मंदिर राज्य ही नहीं, पूरे भारत में हिन्दुत्व की सतत जलती मशाल का एक अनोखा उदाहरण है।पौराणिक मान्यता के अनुसार देवीपाटन मंदिर ही वह स्थल है, जहां देवी सती का वाम स्कंध वस्त्र ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  July 31, 2016, 12:30 pm
मोढ़ेरा के विश्व प्रसिद्ध सूर्य मंदिर, जो अहमदाबाद से तकरीबन सौ किलोमीटर की दूरी पर पुष्पावती नदी के तट पर स्थित है।माना जाता है कि इस मंदिर का निर्माण सम्राट भीमदेव सोलंकी प्रथम (ईसा पूर्व 1022-1063 में) ने करवाया था। इस आशय की पुष्टि एक शिलालेख करता है जो मंदिर के गर्भगृह क...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  November 18, 2015, 5:37 pm
चंबा भारत के हिमाचल प्रदेश प्रान्तका एक नगर है। हिमाचल प्रदेश का चंबा अपने रमणीय मंदिरों और हैंडीक्राफ्ट के लिए सर्वविख्यात है। रवि नदी के किनारे 996 मीटर की ऊंचाई पर स्थित चंबा पहाड़ी राजाओं की प्राचीन राजधानी थी। चंबा को राजा साहिल वर्मन ने 920 ई. में स्थापित किया था। इ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  November 3, 2015, 9:11 pm
हर डेस्टिनेशन की अपनी एक खास पहचान होती है। वहां से की गई खरीदारी आपको हमेशा उन खूबसूरत पलों की याद दिलाती रहती है, जो आपने वहां बिताए हैं। जानिए यात्रा के दौरान किन यादगार चीजों की खरीदारी सूवनिर यानी निशानी के तौर पर कर सकते हैं...मनुष्य स्वभाव से ही अपने परिवेश में बद...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  October 31, 2015, 8:54 pm
स्कन्दपुराण के अनुसार राजा दक्ष की पुत्री, सती का विवाह भगवान शिव से हुआ था। त्रेता युग में असुरों के परास्त होने के बाद दक्ष को सभी देवताओं का प्रजापति चुना गया। उन्होंने इसके उपलक्ष में कनखल में यज्ञ का आयोजन किया। उन्होंने, हालांकि, भगवान शिव को आमंत्रित नहीं किया ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  May 8, 2015, 9:37 pm
हिमाचल के मंडी जिला की लड़भडोल तहसील के सिमस गांव में एक देवी का मंदिर ऐसा है जहां पर निसंतान महिलाओं के फर्श पर सोने से संतान की प्राप्ति होती है। नवरात्रों में हिमाचल के पड़ोसी राज्यों पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ से ऐसी सैकड़ों महिलाएं इस मंदिर की ओर रूख करती हैं जिनक...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  March 21, 2015, 4:34 pm
.मालवांचल में कौरवों ने अनेक मंदिर बनाएँ थे जिनमें से एक है सेंधल नदी के किनारे बसा यह कर्णेश्वर महादेव का मंदिर। करनावद (कर्णावत) नगर के राजा कर्ण यहाँ बैठकर ग्रामवासियों को दान दिया करते थे इस कारण इस मंदिर का नाम कर्णेश्वर मंदिर पड़ा।ऐसी मान्यता है कि कर्ण यहाँ के भ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  March 2, 2015, 5:07 pm
.शीतला का मन्दिर गुड़गाँव, हरियाणा में स्थित है। 'नवरात्रि'के पावन दिनों में शीतला माता के मन्दिर में भक्तों की भीड़ काफ़ी बढ़ जाती है। देश के सभी प्रदेशों से श्रद्धालु यहाँ मन्नत माँगने आते हैं। मन्दिर देश भर के श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। यहाँ वर्ष में दो बार ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  March 2, 2015, 5:00 pm
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में काठगढ़ महादेव का मंदिर स्थित है। इस धार्मिक स्थल पर दो नदियों का संगम होता है।यह विश्व का एकमात्र मंदिर है जहां शिवलिंग ऐसे स्वरुप में विद्यमान हैं जो दो भागों में बंटे हुए हैं! अर्थात मां पार्वती और भगवान शिव के दो विभिन्न रूपों को ग...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  February 17, 2015, 3:09 pm
देवप्रयाग। टिहरी मार्ग पर चन्द्रकूट पर्वत पर स्थित लगभग आठ हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित है सिद्धपीठ मां चन्द्रबदनी मंदिर। देवप्रयाग से 33 किमी की दूरी पर यह सिद्धपीठ स्थित है। धार्मिक ऐतिहासिक व सांस्कृतिक दृष्टि में चन्द्रबदनी उत्तराखंड की शक्तिपीठों में महत्वपूर्...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  November 21, 2014, 7:14 am
प्रकृति के वरदान से विभूषित देवभूमि उत्तराखंड की हृदयस्थली है नैनीताल शहर और नैनीताल की हृदयस्थली है नैनी झील। इसी नैनी झील के उत्तरी सिरे पर स्थित है मां नैना देवी का मंदिर। स्थानीय विश्वास के अनुसार यह मंदिर शक्तिपीठ है। मान्यता है कि यहां सती के नेत्र गिरे थे, इसल...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  November 19, 2014, 7:46 am
धर्मयात्रा की इस कड़ी में हम आपको ले चलते हैं पुण्य सलिला नर्मदा के किनारे बसे नगर नेमावर के प्राचीन सिद्धनाथ महादेव के मंदिर। महाभारतकाल में नाभिपुर के नाम से प्रसिद्ध यह नगर व्यापारिक केंद्र हुआ करता था मगर अब यह पर्यटन स्थल का रूप ले रहा है। राज्य शासन के रिकॉर्ड म...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  September 24, 2014, 9:24 pm
धर्मयात्रा की इस बार की कड़ी में हम आपको लेकर चलते हैं उज्जैन के सिद्धवट स्थान पर। उज्जैन के भैरवगढ़ के पूर्व में शिप्रा के तट पर प्रचीन सिद्धवट का स्थान है। इसे शक्तिभेद तीर्थ के नाम से जाना जाता है। हिंदू पुराणों में इस स्थान की महिमा का वर्णन किया गया है। हिंदू मान्...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  September 22, 2014, 9:57 pm
 माँ सैव्यम पराजित:। अर्थात जो हारे हुए और निराश लोगों को संबल प्रदान करता है।वीर प्रसूता राजस्थान की धरा यूं तो अपने आंचल में अनेक गौरव गाथाओं को समेटे हुए है, लेकिन आस्था के प्रमुख केन्द्र खाटू की बात अपने आप में निराली है। शेखावाटी के सीकर जिले में स्थित है परमधाम ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  September 19, 2014, 9:19 pm
धर्मयात्रा की इस बार की कड़ी में हम आपको ले चलते हैं उज्जैन के कालीघाट स्थित कालिका माता के प्राचीन मंदिर में, जिसे गढ़ कालिका के नाम से जाना जाता है। देवियों में कालिका को सबसे महत्वपूर्ण माना गया है।गढ़ कालिका के मंदिर में माँ कालिका के दर्शन के लिए रोज हजारों भक्तो...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  September 5, 2014, 6:03 pm
जैसलमेर से करीब 130 किमी दूर स्थि‍त माता तनोट राय (आवड़ माता) का मंदिर है। तनोट माता को देवी हिंगलाज माता का एक रूप माना जाता है। हिंगलाज माता शक्तिपीठ वर्तमान में पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के लासवेला जिले में स्थित है।भाटी राजपूत नरेश तणुराव ने तनोट को अपनी राजधा...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  September 3, 2014, 6:14 pm
धर्मयात्रा की इस बार की कड़ी में हम आपको लेकर चलते हैं उज्जैन के प्रसिद्ध द्वारकाधीश गोपाल मंदिर। गोपाल मंदिर उज्जैन नगर का दूसरा सबसे बड़ा मंदिर है। शहर के मध्य व्यस्ततम क्षेत्र में स्थित इस मंदिर की भव्यता आस-पास बेतरतीब तरीके से बने मकान और दुकानों के कारण दब-सी गई...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  August 24, 2014, 11:55 am
धर्मयात्रा की इस बार की कड़ी में हम आपको लेकर चलते हैं मोढ़ेरा के विश्व प्रसिद्ध सूर्य मंदिर, जो अहमदाबाद से तकरीबन सौ किलोमीटर की दूरी पर पुष्पावती नदी के तट पर स्थित है। माना जाता है कि इस मंदिर का निर्माण सम्राट भीमदेव सोलंकी प्रथम (ईसा पूर्व 1022-1063 में) ने करवाया था। ...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  July 28, 2014, 6:15 pm
पांच तत्वों के शिव मंदिरशिव पुराण की कैलाश संहिता के अनुसार शिव से ईशान उत्पन्न हुए और ईशान से पांच मिथुन की उत्पत्ति हुई। पहला मिथुन आकाश, दूसरा वायु, तीसरा अग्नि, चौथा जल और पांचवां मिथुन पृथ्वी है। इन पांचों का स्वरूप इस प्रकार बताया गया है। आकाश में एक शब्द ही गुण ह...
OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्य...
Tag :
  June 22, 2014, 9:25 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163590)