Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
"कुछ कहना है" : View Blog Posts
Hamarivani.com

"कुछ कहना है"

दरमाह दे दरबान को जितनी रकम होटल बड़ा।परिवार सह इक लंच में उतनी रकम दूँ मैं उड़ा।हाहा हहा क्या बात है। उत्पात है।तौले करेला सेब आलू शॉप पर छोटू खड़ा।वह जोड़ना जाने नहीं, यह जानकर मैं हँस पड़ा।हाहा हहा क्या बात है। औकात है।।जब शार्ट्स ब्रांडेड फाड़कर घूमे फिरे हीरोइने।तो क...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  December 4, 2017, 2:47 pm
अपेक्षा मत किसी से रख, किसी की मत उपेक्षा कर ।सरलतम मंत्र खुशियों का, खुशी से नित्य झोली भर।समय अहसास बदले ना, बदलना मत नजरिया तुमवही रिश्ते वही रास्ता वही हम सत्य शिव सुंदर।।आलेख हित पड़ने लगे दुर्भाग्य से जब शब्द कम।श्रुतिलेख हम लिखने लगे, नि:शब्द होकर के सनम। तुम सा...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  November 30, 2017, 2:40 pm
चले जब तीर्थ यात्रा पर मुझे तुम साथ लोगे क्या।सदा तुम धर्म व्रत उपक्रम मुझे लेकर करोगे क्या।वचन पहला करो यदि पूर्ण वामांगी बनूँगी मैंबताओ अग्नि के सम्मुख, हमेशा साथ दोगे क्या।।सात वचन/2कई रिश्ते नए बनते, मिले परिवार जब अपने।पिता माता हुवे दो दो, बढ़े परिवार अब अपने।करो...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  November 9, 2017, 1:51 pm
है भविष्य कपटी बड़ा, दे आश्वासन मात्र।वर्तमान से सुख तभी, करते प्राप्त सुपात्र।।मक्खन या चूना लगा, बोलो झूठ सफेद।यही सफलता मंत्र है, हर सफेद में भेद।चढ़े बदन पर जब मदन, बुद्धि भ्रष्ट हो जाय।खजुराहो को देखते, चित्रकूट पगलाय।।समय सुनाता फैसला, हर गवाह जब मौन।सजा मिली थी द...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  November 7, 2017, 8:12 am
अमीरी में गरीबी में बराबर ही पली खिचड़ी।तभी तो देश को लगती हमेशा ही भली खिचड़ी।लिया जब पूर्व से चावल, नमक घी तेल पश्चिम से।मिलाया दाल उत्तर की, मसाला मिर्च दक्षिण से।उड़ीसा ने दिया हल्दी, करी पत्ता दिया केरल।लिया पंजाब का पानी, पतीले में पके पल पल।।समन्दर पार भारत से निकल...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  November 6, 2017, 2:11 pm
प्रश्न कभी गुत्थी कभी, कभी जिन्दगी ख्वाब।सुलझा के साकार कर, रविकर खोज जवाब।।फूले-फूले वे फिरें, खुद में रहे भुलाय |उसको फिर भी दूँ दुआ, फूले-फले अघाय ||दीदा पर परदा पड़ा, बहू न आये बाज।परदा फटते फट गया, परदादी नाराज।।दो मन का तन तनतना, लगा जमाने धाक।उड़ा जमाने ने दिया, बचा न एक...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  October 30, 2017, 6:57 pm
समस्यायें समाधानों बिना प्राय: नहीं होती।नजर आता नहीं हल तो, बढ़ा है आँख का मोती।करो कोशिश मिलेगा हल, समस्या पर न पटको सिर।नही हल है अगर उसका, उसे प्रभु-कोप समझो फिर।।परिस्थितियाँ अगर विपरीत, यदि व्यवहार बेगाना।सुनो कटु शब्द मत उनके, कभी उस ओर मत जाना।नहीं हर बात पर उनकी...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  October 30, 2017, 2:39 pm
जो पुस्तकें पढ़ता नहीं, जो पर्यटन करता नहीं, अपमान जो प्रतिदिन सहा, जो स्वाभिमानी ना रहा,जो भी अनिश्चय से डरे।तिल तिल मरे, आहें भरे।।जो जन नहीं देते मदद , जो जन नहीं लेते मदद,संगीत जो सुनता नहीं, रिश्ते कभी बुनता नहीं, जो पर-प्रशंसा न करे।तिल तिल मरे, आहें भरे।।र...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  October 16, 2017, 11:22 am
अभिमुख ध्रुव-तारा लखे, पाणिग्रहण संस्कार | हुई प्रज्ज्वलित अग्नि-शुभ, होता मंत्रोच्चार | होता मंत्रोच्चार, सात फेरे लगवाते | सात वचन के साथ, एक दोनों हो जाते | ले उत्तरदायित्व, परस्पर बाँटें सुख-दुख | होय अटल अहिवात, कहे ध्रुव-तारा अभिमुख |सात वचन/1चले जब तीर्थ यात...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  October 10, 2017, 2:13 pm
कूड़ा यहाँ कचड़ा वहाँ मत फेंकिए यूँ मार्ग पर।उपयोग कूड़ेदान का नियमित करें हे मित्रवर।दीवाल पथ पर पार्क में यूँ थूकना अच्छा नहींलघु-दीर्घ-शंका के लिए संडास हैं उपयोग कर।।अब नोट पर दीवार पर ड्राइंग बनाना छोड़िए।अपशब्द बकना छोड़िये, मत क्रोध में सिर फोड़िए।बिजली बचे पानी...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  October 9, 2017, 2:11 pm
विधाता छंदनिमंत्रण बिन गई मैके, करें मां बाप अन्देखी।गई जब यज्ञशाला में, बघारे तब बहन शेखी।कहीं भी भाग शिव का जब नहीं देखी उमा जाकर।किया तब दक्ष पुत्री ने कठिन निर्णय कुपित होकर।स्वयं समिधा सती बनती, हुआ विध्वंस तब रविकर।उठाकर फिर सती काया, वहां ताँडव करें शंकर।।प्र...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  September 26, 2017, 1:02 pm
 खलिश बढ़ती रही घर में, मगर कुछ बोल ना पाता।फजीहत जब हुई ज्यादा, शहर को रंग दिखलाता।रजाई ओढ़कर सोता, मगर ए सी चलाता है।नहाकर पूत गीजर को, खुला ही छोड़ जाता है।सतत् चलता रहे टी वी, जले दिन रात बिजली भीनहीं कोई सुने घर में, बढ़ा बिल जान खाता है।बढ़ा जो रेट बिजली का, मियां तब खूब झल...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  September 25, 2017, 11:28 am
बहस माता-पिता गुरु से, नहीं करता कभी रविकर ।अवज्ञा भी नहीं करता, सुने फटकार भी हँसकर।कभी भी मूर्ख पागल से नहीं तकरार करता पर-सुनो हक छीनने वालों, करे संघर्ष बढ़-चढ़ कर।।~ dhanyavaad ~...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  September 19, 2017, 10:10 am
मिली मदमस्त महबूबा मुझे मंजिल मिली मेरी।दगा फिर जिन्दगी देती, खुदारा आज मुँहफेरी।कभी भी दो घरी कोई नहीं यूँ पास में बैठासुबह से ही मगर घरपर, बड़ी सी भीड़ है घेरी।अभी तक तो किसी ने भी नहीं कोई दिया तोह्फा।मगर अब फूल माला की लगाई पास में ढेरी।तरसते हाथ थे मेरे किसी ने भी नह...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  September 18, 2017, 10:28 am
पिलाकर दूध झट शिशु को, फटाफट हो गई रेडी। उठाई पर्स मोबाइल घड़ी चाभी चतुर लेडी। इधर ताके उधर ताके नहीं जब ध्यान कुछ आया। लगा आवाज आया को, वही फिर प्रश्न दुहराया। कहीं कुछ रह तो नहीं गया। हाय री ममता मुई मया।। बिदा बिटिया हुई जैसे, हुई बारात भी ओझल। अटैची बैग लेकर के हुए तैया...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  September 12, 2017, 1:56 pm
रस्सी जैसी जिंदगी, तने तने हालात |एक सिरे पे ख्वाहिशें, दूजे पे औकात ||है पहाड़ सी जिन्दगी, चोटी पर अरमान।रविकर झुक के यदि चढ़ो, हो चढ़ना आसान।।खले मूढ़ की वाह तब, समझदार जब मौन।काव्य शक्ति-सम्पन्न तो, कवि को भूले कौन।।दल के दलदल में फँसी, मुफ्तखोर जब भेड़ ।सत्ता कम्बल बाँट दे, उ...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  September 11, 2017, 11:59 am
दोहेतरु-शाखा कमजोर, पर, गुरु-पर, पर है नाज ।कभी नहीं नीचे गिरे, ऊँचे उड़ता बाज।।सत्य बसे मस्तिष्क में, होंठों पर मुस्कान।दिल में बसे पवित्रता, तो जीवन आसान।।कुंडलियाँ गुरुवर करूँ प्रणाम मैं, रविकर मेरो नाम |पाया अक्षर ज्ञान है, पाया ज्ञान तमाम |पाया ज्ञान तमाम, निपट अज्...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  September 5, 2017, 1:55 pm
(1)विजयदशमी मना मानव, जलाता जो बड़ा रावण।वही तो वर्ष भर हरदिन जलाता भूमि बिन कारण।सिया सी देवि को हर के, सियासी दांव चलता हैसदा सच्चा करे सौदा, मगर आफ़त असाधारण।।(2)दिया हनुमान को दानव, नहीं संजीवनी लाने।तभी तो खा रहे शिशु को, सुषेणों के दवाखाने।कहीं पर बाढ़ का रावण, हजारों ...
"कुछ कहना है"...
Tag :विजयदशमी
  September 1, 2017, 5:06 pm
जब छोड़ कर जाते बड़े तो भाग्य छोटों का संवारे।भाई-बहन को कर प्रतिष्ठित स्वयं की वह चाह मारे।बच्चे मनाकर पर्व नौ नौ, बाप की बखिया उघारे।जब नारि रो के कम करे गम मर्द रोके अश्रु सारे।~ dhanyavaad ~...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  January 19, 2017, 2:05 pm
रविकर यदि राशन दिया, दे वह भूख मिटाय।यदि मकान देते बना, घर बनाय वह भाय।घर बनाय वह भाय, भाय वह चौबिस घंटा।किन्तु करो यदि रार, करेगी वह भी टंटा।लल्लो चप्पो ढेर, करे हैं मर्द अधिकतर।हे बच्चों की माय, दंडवत करता रविकर।।😂😂~ dhanyavaad ~...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  January 18, 2017, 10:31 am
हरिगीतिका छंदनौ माह तक माँ राह ताकी आह होंठो में दफन।दो साल तक दुद्धू पिला शिशु-लात खाई आदतन।माँ बुद्धि विद्या पुष्टता हित नित्य नव करती जतन ।फिर राह ताके प्रौढ़ माँ पर द्वार पर ओढ़े कफन।। ~ dhanyavaad ~...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  January 16, 2017, 1:36 pm
तुम गुरूर में रह रही, सजा सजाया फ्लैट।रहता मैं औकात में, बिछा फर्श पर मैट। बिछा फर्श पर मैट, बसा था तेरे दिल में।रविकर आठों याम, जमाया रँग महफिल में।रहो होश में बोल, निकाली तुम सुरूर में।इधर होश औकात, उधर हो तुम गुरूर में।~ dhanyavaad ~...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  January 12, 2017, 3:48 pm
देना हठ दरबान को, अहंकार कर पार्क |छोड़ व्यस्तता कार में, फुरसत पे टिक-मार्क |फुरसत पर टिक-मार्क, उलझने छोड़ो नीचे |लिफ्ट करो उत्साह, भरोसा रिश्ते सींचे |करो गैलरी पार, साँस लंबी भर लेना |प्रिया खौलती द्वार, प्यार से झप्पी देना ||~ dhanyavaad ~...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  January 9, 2017, 3:15 pm
कुंडलियाँबेटी ठिठकी द्वार पर, बैठक में रुक जाय।लगा पराई हो गयी, पिये चाय सकुचाय। पिये चाय सकुचाय, आज वापस जायेगी।रविकर बैठा पूछ, दुबारा कब आयेगी।देखी पति की ओर , दुशाला पुन: लपेटी।लगा पराई आज, हुई है अपनी बेटी।।दोहाबेटी हो जाती विदा, लेकिन सतत निहार।नही पराई हूँ कहे, ज...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  December 28, 2016, 11:17 am
तन्हाई में कर रही, यादें रविकर छेद।रिसे उदासी छेद से, टहले प्रेम सखेद।।मनमुटाव झूठे सपन, जोश भरें भरपूर।टेढ़ी मेढ़ी जिन्दगी, चलती तभी हुजूर।।बाज बाज आये नहीं, रहा अभी भी कूद।।यद्यपि बाजीगर करे, उन्हे नेस्तनाबूद।भजन सरिस रविकर हँसी, प्रभु को है स्वीकार।हँसा सके यदि अन्...
"कुछ कहना है"...
Tag :
  December 26, 2016, 11:15 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3712) कुल पोस्ट (171555)