Hamarivani.com

SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan

बसाकर दिल में मस्ती का, घराना हम भी रखते हैं।जो दिल में सबके गूँजे वो, तराना हम भी रखते हैं। हम अपने पास में केवल गम ही गम नहीं रखते,लौटाने को तो खुशियों का, खजाना हम भी रखते हैं॥                                         ---अनीता  ...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  February 25, 2018, 6:41 pm
वर्ष नूतन आ गया है, प्यार और उल्लास लेकर।आ गया लेकर उमंगें, एक नया अहसास लेकर॥वर्ष नूतन..क्या खो दिया क्या पा लिया , तुम जरा ये सोच लो।वर्ष  आगत  के लिए नव, लक्ष्य  बिन्दु  खोज लो।।बढ़ चलो प्रगति के पाठ पर, जीत का विश्वास लेकर।वर्ष नूतन...खिल उठें फूलों की कलियाँ, उतारें...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  January 5, 2018, 3:03 pm
न मैं हिन्दू होता ,न तू मुसलमाँ होता ।दरम्यां न फिर हमारे,फिर फासला होता।।न कहीं मंदिर गिरता,न मस्जिद कोई ढहती।न कहीं दंगे ही  होते, न जलजला होता॥न होती नफरत दिलों में,मेरे और तुम्हारे।दोस्ती और अमन का बस सिलसिला होता॥बंधी होती एक जिल्द में,गीता औ’कुरान भी।सिमटा ह...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  November 12, 2017, 6:49 pm
नव निशा की बेला लेकर,साँझ सलोनी जब घर आयी।पूछा मैंने उससे क्यों तू ,यह अँधियारा संग है लायी॥सुंदर प्रकाश था धरा पर,आलोकित थे सब दिग-दिगंत।है प्रकाश विकास का वाहक,क्यों करती तू इसका अंत॥जीवन का नियम यही है,उसने हँसकर मुझे बताया।यदि प्रकाश के बाद न आए,गहन तम की काली छाया॥...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  November 8, 2017, 9:32 pm
“भारत गांवों का देश है,भारत गाँव में बसता है। - आज से सात दशक पूर्व देश की आजादी के समय यह बात अक्षरश: सत्य थी। इसी आधार पर महात्मा गांधी,बिनोबा भावे,पंडित दीनदयाल उपाध्याय जैसे महापुरुषों ने ग्राम स्वराज की कल्पना की थी। आत्मनिर्भर व समृद्ध गाँव भारत की पहचान हुआ करते ...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  November 4, 2017, 12:19 pm
      आज अपने काव्य में,विज्ञान की जय बोलता हूँ,चिर पुरातन नित्य नूतन ज्ञान की जय बोलता हूँ।।     हैं कहाँ से प्राणी आये,और मनुज आया कहाँ से।मूल सबका एक समझो, जन्मे हैं सब कोशिका से।।कोई जल में तैरता है, कोई दौड़े इस धरा पर।कोई पंख अपने फैलाये, है विचरता आसमा...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  August 25, 2017, 8:19 pm
जन्मदिवस पर आज तुम्हारे,सुने मेरी विनती भगवान । हर इच्छा हो पूर्ण तुम्हारी,सुख के नभ में भरो उड़ान।।बुरे-बुरे जो पल बीते हैं,उनकी याद कभी न आये।सुखद स्मृतियां मधुर क्षणों की,बहुगुणित हों तुम्हें  हंसायें।।इतनी खुशियां मिलें तुम्हें कि,रहे सदा मुख पर मुस्कान।जन्मद...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  March 21, 2017, 8:47 pm
दुख से अपना गहरा नाता, सुख तो आता है, और जाता. दुख ही अपना सच्चा साथी, हरदम ही जो साथ निभाता. जब से जग में आंखें खोली, सुनी नहीं कभी मीठी बोली. दिल को तोड़ा सदा उसी ने, जिसको भी समझा हमजोली. जिम्मेदारी का बहुत सा, बोझ उठाया कांधे पर. जिसको भी दिया सहारा. मार च...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  March 9, 2017, 12:39 pm
विद्यालय और बच्चेआज के शैक्षिक ढांचे का सबसे बड़ा विद्रूप यह है कि इतन बड़ा ताम झाम जिन बच्चों के लिए खडा किया गया है, वही बच्चे विद्यालय की ओर आकर्षित नहीं हो पा रहे हैं. तरह तरह के अभियान और योजनाएं चलाने के बावजूद भी अपेक्षित परिणाम सामने नहीं आ रहे हैं. इसके कारणों पर व...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  June 16, 2016, 6:46 pm
आम पपीता केला लीची आडू हिसार और काफल अमरूद चुल्लू और खुबानी तरह तरह के खाए फल .इतना खाकर गोपी बोला पेट अभी भी भरा न भाई.टिहरी से सिंगौरी मंगा दो अल्मोड़ा से बालामिठाई....
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  May 13, 2016, 9:14 pm

रोटी सूरज भी लगता है फीका चाँद सी दिखती है रोटी।  धन्य हो  उठता है चूल्हा ,जब तवे पर सिकती है रोटी। । जिंदगी मिल जाती है जब भूख में मिलती है रोटी। पेट के उजड़े चमन में ,फूल सी खिलती है रोटी।।जान की कीमत पे देखो ,दुनिया में बिकती है रोटी। चीन लेती ताज भी तो,इति...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  November 7, 2015, 12:30 pm
( हमारे विवाह की वर्षगांठ पर सिर्फ तुम्हारे लिए )तेरे अधरों की मुस्कान,भरती मेरे तन में प्राण. जीवन की ऊर्जा हो तुम,साँसों की सरगम की तान. मैं सीप तुम मेरा मोती ,मैं दीपक तुम मेरी ज्योति. कभी पूर्ण न मैं हो पाता ,संग मेरे जो तुम न होती. किन्तु दुख है कि मैं तुमको,कभी नहीं खुश र...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  July 27, 2013, 7:15 pm
जिन्दगी  को तेरी आदत यूं हो गयी ,कि तेरे बिना हर  पल दुश्वार हो गया .कुछ  न रहा बाकी अब मेरे हाथ में , हर सांस पर भी तेरा अधिकार हो गया .     ...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Kavita
  June 6, 2013, 4:10 pm
         ........1......तुम्हे जब देखते हैं हम , हमारा दिल  मचलता है .तुम्हारे दिल में भी शायद हमारा ख्वाब पलता है.समझते तुम भी सब कुछ हो, समझते हम भी हैं सब कुछ ,मगर मुंह से न कुछ मेरे न तेरे से निकलता है.                      ..... 2....एहसासों की बस्ती में इशारे तो  बेमानी हैं .जो बातें कह नहीं पाया वह...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Kavita
  June 15, 2012, 6:54 pm
जीवन   में कुछ  पल आते हैं ,रह  जाते जो    यादें   बनकर.पर  कुछ  पल  ऐसे हैं  होते  , संग चलते  हैं  जो जीवन  भर .जीवन  की  भूलभुलैय्या  में ,विस्मृत हो  जाता  हर  चेहरा .लेकिन कुछ  चेहरों का   होता ,प्रभाव  आकुल मन पर गहरा .श्रद्धा की मूरत बनकर जो , अंकित होते ह्रदय पटल प...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Kavita
  May 12, 2012, 11:14 am
जिन्दगी को  कुछ  लोग  इतना सस्ता समझ  लेते हैं कि खुदकुशी जैसा कायरतापूर्ण  कदम  उठाने  में भी गुरेज नहीं करते .   कल ही देहरादून  में एक   बी0 एस 0सी0 बायोटेक्नोलोजी  के  छात्र ने केवल  इस  कारण  मौत  को गले लगा लिया कि उसके परिवार वाले उसकी शादी उसकी प्रेमिका से ...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :articls
  May 6, 2012, 5:04 pm
प्रेम तो है परमात्मा, पावन अमर विचार.इसको तुम समझो नहीं , महज देह व्यापार.प्रेम गली कंटक भरी, रखो संभलकर पांव.जीवन भर भरते नहीं, मिलते ऐसे घाव.'दर्पण' हमसे लीजिए, बड़े काम की सीख.दे दो, पर मांगो नहीं, कभी प्यार की भीख.मन से मन का हो मिलन, तो ही सच्चा प्यार.मन के बिना जो तन मिले, बड़...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Kavita
  February 22, 2012, 8:56 pm
प्रेम तो है परमात्मा, पावन अमर विचार.इसको तुम समझो नहीं , महज देह व्यापार.प्रेम गली कंटक भरी, रखो संभलकर पांव.जीवन भर भरते नहीं, मिलते ऐसे घाव.'दर्पण' हमसे लीजिए, बड़े काम की सीख.दे दो, पर मांगो नहीं, कभी प्यार की भीख.मन से मन का हो मिलन, तो ही सच्चा प्यार.मन के बिना जो तन मिले, बड़...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :
  February 22, 2012, 8:56 pm
जमाने में हम भी कुछ, अपना असर रखते हैं .नजर पहचान लें सबकी, हम वो नजर रखते हैं.जिसे एक बार अपनाया, भूले से भी हमने तो,वो रक्खे या न रक्खे, हम उसकी ख़बर रखते हैं....
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Kavita
  December 27, 2011, 7:38 pm
एहसासों की बस्ती में , इशारे तो बेमानी हैं .जो बातें कह नहीं पाया , वही तुमको बतानी हैं.समझना मत इसे केवल, मेरी कोई नई कविता,ये दिल का दर्द है मेरे, ये तेरी ही निशानी है. ..... दर्पण...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Kavita
  December 16, 2011, 7:21 pm
इन आंखों की गहराई में,डूबा दिल दीवाना है.मस्ती को छलकाती आंखें,मय से भरा पैमाना हैं. ये आंखें केवल आंख नहीं हैं ,ये तो मन का दर्पण हैं .दिल में उमड़ी भावनाओं का,करती हर पल वर्णन हैं.ये आंखे जगमग दीपशिखा सी ,जीवन में ज्योति भरती हैं.भटके मन को राह दिखाती, पथ आलोकित करती हैं.इन ...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Kavita
  December 12, 2011, 12:00 pm
तुझे कितना सताया है, तुझे कितना रुलाया है. मेरी सबसे बड़ी गलती कि दिल तेरा दुखाया है. ये आंसू तेरी आंखों के बने मेरे लहू से हैं, तू अब तक जितना रोया है, लहू मेरा बहाया है.. दर्पण...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Geet
  December 5, 2011, 2:49 pm
उसकी हर एक सांस में, बस मेरे लिये दुआ है.तन-मन-धन-जीवन जिसका, अर्पण मुझे हुआ है.जीवन के हर कठिन मोड़ पर देती मुझे सहारा है उसको वो प्यारा लगता है,जो कुछ मुझको प्यारा है.ऐसी जीवनसंगिनी मेरी, जिसका प्यार अमर है.उसे समर्पित जीवन मेरा, सब उस पर न्योछावर है.मेरी एक छींक पर जिसको, भ...
SHABD MANCH :Pradeep Bahuguna Darpan...
Tag :Geet
  November 2, 2011, 11:53 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3766) कुल पोस्ट (178107)