Hamarivani.com

live with fun

आत्म विशवास का मोटे तौर पे अर्थ है अपने ऊपर भरोसा होना.या हम अपने आप को कितना या किस तरह स्वीकार करते हैं हमारा अपने प्रति जो विशवास है,जो हमारा हमारे बारे में अनुभव है और जो हमारा अपने प्रति द्रष्टिकोण है वही आत्म विशवास है .आत्मविश्वासी होने का अर्थ ये कदापि नहीं है की ...
live with fun...
Tag :
  November 26, 2011, 6:47 pm
आम  तौर पर बच्चे स्कूल में या घर पर कॉपी में चित्र बनाते हैं.यदि बच्चा अपनी कल्पना शक्ति से अपनी मर्जी से चित्र बनाता है तो उसके द्वारा बनाई गयी आकृति कही न कही उसके व्यक्तित्व को या उसकी  इच्छाओ को दर्शाती है आयिए जाने की केसे ------१.फूल-कॉपी पर अक्सर फूल बनाने वाले बच्...
live with fun...
Tag :
  November 22, 2011, 9:30 pm
मेने एक गीत सुना था की 'गम की अँधेरी रात में ,दिल को न बेकरार कर ,सुबह जरूर आएगी,सुबह का  इन्तजार  करलाख  अँधेरा हो ,पर यदि ये आस हो की हर रात की सुबह होती है और हमारे  गम से  भरी रात भी  खुशनुमा        सुबह में बदले  गी  तो  जीवन  बहुत  आसान  लगने लग...
live with fun...
Tag :
  November 21, 2011, 11:05 pm
हर रिश्ता विशवास पर टिका होता है.तो फिर झूट की गुंजाइश ही कहाँ है.लेकिन कई बार हम सिर्फ अपने से जुड़े व्यक्ति को खुश करने के लिए भी बिना बात झूट भी बोलते है जिसे सफ़ेद झूट कहते है.इस से किसी का कोई नुक्सान नहीं होता बस इसके पीछे किसी को ठेस न पहुच जाये ये positive सोच होती है आय...
live with fun...
Tag :
  November 21, 2011, 12:19 am
जब  मेने  ये  पढ़ा   तो  बहुत  ही  अजीब  लगा, भला  dil  का  दांतों  से  क्या  लेना  देना  lekin ये सही है  असल में हमारे मसूडो में पायरिया नामक रोग एंट अमीबा जिन्जेवेलिस नाम के एक जीवाणु द्वारा फैलता  है ये जीवाणु मुह के द्वारा हिर्दय में पहुच कर वहा ...
live with fun...
Tag :
  November 19, 2011, 5:02 pm
यूं तो इस दुनिया में जितने लोग होते हैं उतने ही तरह के व्यक्तित्व भी होते है.लेकिन किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व को जाने बगैर उसके साथ किस तरह वर्ताव किया जाये ये बहुत ही सोच विचार का विषय है.अगर मोटे तौर पे देखा जाये तो हम व्यक्ति के व्यवहार से काफी कुछ सीख सकते है.इन्ही व्...
live with fun...
Tag :
  November 19, 2011, 4:46 pm
महिलाओं के दिल को जीतना या उन्हें इम्प्रेस करना बहुत मुश्किल है लेकिन कई ऐसी बाते है जो अगर प्रशंसा या जिन्हें हम कोम्प्लिमेंट्स कहते है   हर महिला शायद सुन ना    चाहती होगी आये देखे वो कौन कौन सी है.१.तुम intelligent हो......हर महिला अपने को beauty  विद  ब्रेन कहलाना पसंद कर...
live with fun...
Tag :
  November 18, 2011, 10:28 pm
ए खुदा तेरे करम की ,नजर किधर न हुईकौन एसा है की जिस पर तेरी नजर न हुईमाना किस्मत में अँधेरा है मगर ये तो बताक्या कोई शाम है जिसकी कोई सहर न हुईवो भी क्या दिल है जो रोया न दुःख में औरो केवो भी क्या आँख है जो आंसुओ से तर न हुईअब मसीहा ही बचाए गे मुझे आ कर केइस ज़माने की दवा कोई क...
live with fun...
Tag :
  November 18, 2011, 10:06 pm
यह बात उस समय की है जब में घिरोर नामक कस्बे में पोस्टेड थी .यह क़स्बा up के शिकोहाबाद के पास है .जहा से छोटी लाइन की ट्रेन चलती थीआस पास के गाँव के लिए ये ट्रेन यात्रा का सुखी साधन था तो मेरे लिए वह मनोरंजन का भी साधन थी.क्योकि कभी कभी मुझे आस पास के गाँव में भी जाना पड़ता था ...
live with fun...
Tag :
  November 16, 2011, 3:51 pm
में एक परमार्थ हॉस्पिटल में सेवार्थ जाती हूँ.ये हॉस्पिटल मुरेना शहर  के एक प्रतिष्ठित डा.साहब द्वारा संचालित है.वे शहर के प्रतिष्ठित डेंटिस्ट हैं .अतः कई मरीज निशुल्क दांत दिखने भी आते हैं.वही पर मेरा परिचय कई नियमित आने वाले मरीजो से हुआ.उनमे से एक है हीरा लाल जी.  &nb...
live with fun...
Tag :
  November 6, 2011, 12:33 pm
यह जो भोर की पहली किरणओस से भीगे पत्तो का संबोधनझील पर तैरती तुम्हारी कुछ यादेऔर धुआं धुआं फेली दूर तलक रौशनीसुर्ख फूलो से लदे गुलमोहोरसर्द गर्म अहसास से सराबोर फिजायेतुम्हारे बिना,केवल प्रतीकों से संवेदन हीनगुलाबो के  बिखरते मनमोहनी रंगजेसे रागिनी बनते प्रीत प...
live with fun...
Tag :
  November 5, 2011, 8:06 am
बिहार  की  राजधानी  पटना वहा हो गई एक घटनाएक बुड्डा एक बुढियाहोतो पे लाली आँखों पे चश्मा लगायेहाथो में हाथ डाले बड़ी शान से एक रेस्टोरेंट में आयेबुड्ढे ने बड़े रोब से वेटर को बुलाया औरएक शानदार सा लंच मंगवायापहले बुड्डे ने खाया बुढिया प्यार से देखती रहीफिर बुढ...
live with fun...
Tag :
  October 29, 2011, 2:39 pm
बेसाख्ता किसी को चाहते चले  जाने का मोसम हमने जिया है........मुहब्बत के एहसास में  भीगे हैं कई बार..........खामोश से उन लम्हों में कई ख्वाबो को खयालो से निकल कर आँखों में समाते हुए महसूस किया है हमने,जिन्हें अब तक पलकों में सहेज के रक्खा है मेने .......आओ प्यार की उन लम्हों  को दुब...
live with fun...
Tag :
  October 24, 2011, 4:29 pm
live with fun: ghoshnae: हो रही हैं घोषणाए बस सुनाने के लिए आ गए सब औपचारिकता निभाने के लिए आर्थिक अपराध पथ पर खोजता है जीविका विवशता है चाहिए पैसे जी जाने के लिए ......
live with fun...
Tag :
  October 23, 2011, 3:50 pm
हो रही हैं घोषणाए बस सुनाने के लिएआ गए सब  औपचारिकता निभाने के लिएआर्थिक अपराध पथ पर  खोजता है जीविकाविवशता है चाहिए पैसे जी जाने के लिएजान देने और लेने को हैं तैयार वोन जाने कौन सी जेब है खंजर छिपाने के लिएऔर कितने संस्कारों का दमन करेगा इंसान यहाँहै खुला आकाश अपनी...
live with fun...
Tag :
  October 23, 2011, 6:39 am
पत्नी गुस्से में आई और आ कर चिल्लाईअजी सुनते हो देखो ये क्या कह रहा हैपति हैरान ये कौन है जो पत्नी के सामने kuch कह पाने की हिम्मत रख  रहा हैपत्नी फिर से चिल्लाई सब तुम से सीख रहा है तुम जो पूरे दिन आँखे सेकते रहते हो सुपुत्र ये नहीं कहेगा तो और  क्या कहेगाअब पति मिमयाया अ...
live with fun...
Tag :
  October 20, 2011, 10:34 pm
मेरे बड़े भाई हैं जो एल आइ सी में उच्च पद पर कार्यरत हैं जाहिर  है की वे बाज़ार की अच्छी जानकारी रखते हैं.अरे में शेयर बाज़ार की बात कर रही हूँ.एक बार मुझे उनके ऑफिस में जाने का मौका मिला उस वक्त वे अपने किसी दोस्त से बात कर रहे थे .मैने उनकी बाते समझने की कोशिश की लेकिन सि...
live with fun...
Tag :
  October 18, 2011, 10:17 pm
"जिन" में बसे जानकी '"रम" में बसे रामव्हिस्की में बसे विष्णु,और शैम्पेन में बसे श्यामकिस किस का त्याग करू मैंhar बोतल में भगवान् किस किस को याद kijiye किस किस को रोइएआराम बड़ी चीज है मुह ढक कर सोइए...
live with fun...
Tag :
  October 17, 2011, 11:06 pm
संता कपडे की दुकान par काम करता थाग्राहक-जरा andervear तो दिखानासंता-सॉरी"आज पहना नहीं है"                                     २संता डॉक्टर से-डॉक्टर साहब मुझे एक के दो नजर आते हैंडॉक्टर-क्या तुम दोनों को एक सी बीमारी है                                &nb...
live with fun...
Tag :
  October 16, 2011, 6:48 pm

maa

माँ के लिए  स्वयं को खोजना,फिर से शिशु हो जाना है,मेने अपनी माँ की आँखों में ,अपने को इसी तरह देखा है                                               २सत्य का sparshबदलो के छटते ही दिशाएं एक दम पारदर्शी हो गयी हैं,हवा की तरह बहते,सत्य के शीतल स्पर्श से,कितने ...
live with fun...
Tag :
  October 14, 2011, 6:02 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163819)