POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: कुछ अलग सा

Blogger: Gagan Sharma
समय बदलेगा तो हर जगह शुचिता आएगी ! तब शायद शासक को सही दिशा दिखाने के लिए ही विरोध हो ! देश के अवरोध के लिए नहीं ! विरोध हो गलत नीतियों का ! गलत फैसलों का ! गलत व्यक्ति का ! तब शायद सम्मानीय पद की प्रतिष्ठा बनी रहे ! देश की मर्यादा, उसकी गरिमा, उसकी अखंडता अक्षुण... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   1:44am 1 Jul 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
समय बदलेगा तो हर जगह शुचिता आएगी ! तब शायद शासक को सही दिशा दिखाने के लिए ही विरोध हो ! देश के अवरोध के लिए नहीं ! विरोध हो गलत नीतियों का ! गलत फैसलों का ! गलत व्यक्ति का ! तब शायद सम्मानीय पद की प्रतिष्ठा बनी रहे ! देश की मर्यादा, उसकी गरिमा, उसकी अखंडता अक्षुण... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   1:44am 1 Jul 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
अभी पृथ्वी का विकास और निर्माण पूरा नहीं हुआ था। उसको रहने लायक और मानव योग्य बनाने का उपक्रम चल रहा था। इसलिए अभी देवता, अपने दायाद बंधु, असुरों के साथ ही धरती पर रहते थे। परन्तु यह काम उनके अकेले के वश का नहीं था। इस विशाल, महान, श्रमसाध्य कार्य के लिए कई दैवीय शक्तियो... Read more
clicks 2 View   Vote 0 Like   2:48am 22 Jun 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
अपनी समझ से तो ये सरकार की नाकामी को उजागर कर अपनी उपयोगिता और प्रसांगिकता सिद्ध करना चाहते थे, पर इनको और इनके मूढ़मति सलाहकारों को इस बात का कतई इल्म नहीं रहा कि युद्ध के मंडराते खतरे में अवाम सदा सरकार का साथ देता है, फिर चाहे उसकी आस्था किसी भी पार्टी या नेता में भ... Read more
clicks 4 View   Vote 0 Like   8:48am 19 Jun 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
रही बात नेपोटिस्म की ! तो यह बुराई है तो जरूर, पर किसी के संरक्षण से कोई बुलंदियां नहीं छू पाता ! फिल्म हो, खेल हो, व्यवसाय हो या राजनीति ! इनमें किसी की सहायता से ''इंट्री''भले ही मिल जाए, टिकाव और सफलता तो अपनी लियाकत से ही मिल पाती है। यदि ऐसा ना होता तो एकता कपूर के भाई तु... Read more
clicks 9 View   Vote 0 Like   7:09am 18 Jun 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
किसी समय घुमंतू जातियों के लोगों के उपार्जन के विभिन्न जरियों में कठपुतली का तमाशा भी एक करतब हुआ करता था। इसमें ज्यादातर दो महिला किरदारों के आपसी पारिवारिक झगड़ों के काल्पनिक रोचक किस्से बना अवाम का मनोरंजन किया जाता था। किरदारों को कभी सास-बहू, कभी न... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   3:00am 15 Jun 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
अगली बॉल को बॉलर ने अपनी तर्जनी और मध्यमा में फंसा कर जबरदस्त फिरकी डाली ! बॉल ने तेज घूर्णित अवस्था में जा बैट के बाहरी किनारे को छूआ और उछाल खा हवा में जा टंगी ! दोनों तरफ की सांसें थमी और निगाहें बॉल पर जमी हुईं ! सामने वाला खिलाड़ी फर्श को भूल अर्श को ताकता ह... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   3:00am 9 Jun 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
किसी भी ब्लॉग में किसी की बेवजह आलोचना या निंदा नहीं की जानी चाहिए, ऐसा मेरा मानना है ! पर कभी-कभी कुछ ख़ास लोगों द्वारा अपनाई गई तिकड़म, हथकंडा या कूटनीतिक चाल का, जो भविष्य में देश व समाज को प्रभावित कर सकती हो, जिक्र भी इस व्यक्तिगत डायरी में होना लाजिमी है, ... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   8:01am 31 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
आजकललॉकडाउन में बिटिया ऋद्धिमा, पुत्रवधु,जिसे घर में रिद्धि या रिद्दु कह कर ही बुलाते हैं, अक्सर कुछ नया व्यंजन बना उसे ''लॉक''कर, मेरी राय जानना चाहती है ! उस पदार्थ का उसके हाथों पहली बार धरा पर अवतरण होने के कारण उसकी ऐसी जिज्ञासा का होना स्वाभाविक भी है ! जब उसे सक... Read more
clicks 14 View   Vote 0 Like   7:46am 29 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
प्राणप्रतिष्ठा के दिन महाराज गणपति देव ने जैसे ही मंदिर को देखा, वे अचंभित, ठगे से खड़े रह गए ! उन्हें विश्वास ही नहीं हो रहा था कि ऐसा भव्य, खूबसूरत, विशाल और अद्भुत निर्माण उन्हीं के राज्य में हुआ है ! उनकी आँखों से अश्रुधारा बह निकली ! उन्होंने आगे बढ़ कर रामप्पा ... Read more
clicks 7 View   Vote 0 Like   3:00am 26 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
हम सब ने हॉलीवुड मूवीज, बॉलीवुड मूवीज, टॉलीवुड मूवीज के साथ-साथ छोटे परदे यहां तक की मोबाइल के लिए बनने वाली वेब सीरीज जैसी मूवीज का नाम भी सुन रखा है। जिनमें रहस्य, रोमांच, विज्ञान, एक्शन, फिक्शन पर आधारित फ़िल्में बनती आ रही हैं। पर बॉटल मूवीज ! यह कौन सी बला है, जिसक... Read more
clicks 13 View   Vote 0 Like   11:17am 21 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
हम सब ने हॉलीवुड मूवीज, बॉलीवुड मूवीज, टॉलीवुड मूवीज के साथ-साथ छोटे परदे यहां तक की मोबाइल के लिए बनने वाली वेब सीरीज जैसी मूवीज का नाम भी सुन रखा है। जिनमें रहस्य, रोमांच, विज्ञान, एक्शन, फिक्शन पर आधारित फ़िल्में बनती आ रही हैं। पर बॉटल मूवीज ! यह कौन सी बला है, जिसक... Read more
clicks 12 View   Vote 0 Like   11:17am 21 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
लोग "कैमरा कॉन्शस"होते हैं पर मैं तो "माइक कॉन्शस"हूँ। होता क्या है कि जब किसी जुगाड़ु मौके पर कुछ बोलने के लिए खड़ा होता हूँ, तो अपने दाएं-बाएं-पीछे भी नजर  डालनी पड़ती है कि  सब सुन भी रहे हैं या मुझे हल्के में ले अपने मोबाईल में घुसे  बैठे हैं और इस कसरत में ... Read more
clicks 12 View   Vote 0 Like   7:30am 18 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
एक ही कलाकार द्वारा किसी अति लोकप्रिय कथा के अहम् पात्र का किरदार, उस कथानक पर बनने वाली दो विभिन्न फिल्मों या टी.वी. सीरियलों में, चाहे संयोगवश या किसी और कारण के तहत, निभाया हो ऐसे उदाहरण बहुत कम या ना के बराबर ही हैं। पर दारा सिंह जी और पुनीत इस्सर को&n... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   8:39am 15 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
एक लंबे समय के बाद इस दुर्घटना की खबर हस्तिनापुर पहुंची। भाइयों समेत युधिष्ठिर वन में जा जिस जगह अग्निकांड हुआ था, अन्दाजतन वहां से अपने परिजनों की अस्थियां ला, सारे संस्कार, दान-पुण्य, श्राद्ध कर्म पूरे कर उन्हें गंगा में प्रवाहित कर देते हैं। परंतु धृतराष्ट्र ... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   5:08am 14 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
वैसे माँ को कोई फर्क नहीं पड़ता कि उसके लिए कोई ख़ास दिन बनाया गया है कि नहीं। उसे न तोहफों की लालसा होती है नाहीं उपहारों की ख्वाहिश। मिल जाएं तो ठीक, ना मिलें तो और भी ठीक। भगवान से भले ही वह नाखुश हो जाए पर अपने बच्चों के लिए उसके मुख पर सदा आशीष ही रहती है। इसीलिए  ऊपर ... Read more
clicks 14 View   Vote 0 Like   11:03am 10 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
तेज प्रवाह वाली नदियों, उबड़ खाबड़ पहाड़ियों, दूर तक फैले घने जंगलों, दलदली इलाकों के बीहड़ के बीच  अज्ञात सा, अद्भुत रहस्यमय स्थान, उनाकोटी ! जहां जंगल की क्षीणकाय, नामालूम सी पगडंडियों पर चल कर ही पहुंचा जा सकता है। अभी भी इसके और इसके जंगलों के बीच अफरात में फैले शैल... Read more
clicks 14 View   Vote 0 Like   3:56am 5 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
आज के वेदव्यास अपने से ज्यादा दूसरे को विद्वान समझने की गलतफहमी नहीं पालते ! इसलिए सिर्फ अपना पढवाने की होड़ है ! इक्के-दुक्के अपवादों को छोड़, पढ़ता भी कौन है ! बस सब लिखे जा रहे हैं ! लिख्खाड़ों की भरमार हो गई है ! विश्वास ना हो तो कोई भी पत्रिका उठा उसमें पैवस्त रचनाओ... Read more
clicks 24 View   Vote 0 Like   10:59am 2 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
अब सत्यजीत रे साहब तो इतने बड़े, महान, विश्वविख्यात कलाकार थे; जब उनकी कलाकृति की दस तरह की व्याख्याएं कर दी गयीं तो हमारे जैसे लोगों की क्या हैसियत, जो अपनी आधे से ज्यादा रचनाओं को दूसरों की प्रेणना से प्रेरित हो, क्लेवर बदल अपने नाम से धकेल देते हैं ! दीपावली की मिठ... Read more
clicks 39 View   Vote 0 Like   11:37am 1 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
अब सत्यजीत रे साहब तो इतने बड़े, महान, विश्वविख्यात कलाकार थे; जब उनकी कलाकृति की दस तरह की व्याख्याएं कर दी गयीं तो हमारे जैसे लोगों की क्या हैसियत, जो अपनी आधे से ज्यादा रचनाओं को दूसरों की प्रेणना से प्रेरित हो, क्लेवर बदल अपने नाम से धकेल देते हैं ! दीपावली की मिठ... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   11:37am 1 May 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
चौथा वर्ग समाज और देश के दुश्मनों का है ! ये जान-बूझ कर अवाम को खतरे में धकेलने का उपक्रम करता है। बेवजह घर के बाहर निकलना, रक्षा कर्मियों के साथ बदसलूकी, अक्खड़पन, उद्दंडता से भरपूर ये लोग बार-बार समझाने को अपनी जीत और व्यवस्था की कमजोरी समझने की भूल करने लगते हैं। ऐ... Read more
clicks 28 View   Vote 0 Like   9:26am 29 Apr 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
कोलकाता के श्याम बाजार इलाके से बी. टी. रोड पकड दक्खिनेश्वर पहुंच, डनलप ब्रिज पार करने के उपरांत आता है चिड़िया मोड़ का चौराहा। जहां से एक सड़क दायीं ओर निकल जाती है दमदम एयर पोर्ट की तरफ। यहीं से बाएं मुड़ने पर करीब साढ़े तीन सौ मीटर दूर भीम चंद्र नाग की मिठाई की दूकान से ल... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   8:29am 27 Apr 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
भानुमति का पिटारा, छज्जू का चौबारा जैसी अपनी विशेषताओं के लिए मुहावरों और लोकोक्तियों के अति प्रसिद्ध पात्रों की श्रृंखला की तीसरी कड़ी कारूं का  खजाना ! कौन था यह कारूं ? जो कहीं भी बेहिसाब दौलत का जिक्र आते ही सामने आ खड़ा होता है ! जिसके बारे में यह प्रचलित था क... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   8:00am 19 Feb 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
स्पर्द्धा में टिके रहने के लिए अपने ''पारले ग्लूको''के नाम और उस समय के कवर पर की ''गाय और ग्वालन''की तस्वीर को बदल एक विशेष पीले रंग के कवर. लाल रंग के लोगो व एक लड़की की फोटो के साथ एक नए पैकिंग को पेटेंट करवा उसे 1982 में बाजार में उतारा।  इतना सम्मान ... Read more
clicks 18 View   Vote 0 Like   4:29am 8 Feb 2020 #
Blogger: Gagan Sharma
भयंकर और डरावना दृश्य था !आगे-आगे एक इंसान को घसीटते ले जाती गाडी और पीछे कुछ भी कर गुजरने पर उतारू, डंडे-लाठी उठाए चीखते-चिल्लाते-आक्रोषित लोगों का सागर ! लगातार बजते हार्न को सुन दरबान के साथ जैसे ही उन्होंने गेट से बाहर देखा, पलक झपकते ही उन्हें सारा माजरा समझ में आ ... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   10:27am 3 Feb 2020 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3965) कुल पोस्ट (190497)