Hamarivani.com

सत्यार्थमित्र

पाकिस्तान के सबसे प्रतिष्ठित अखबार डॉन में छपे एक आलेखको पढ़कर मेरा मन दुखी हो गया। इस अभागे देश के नागरिक किस दुर्दशा के शिकार हैं यह जानकर मन काँप उठता है। भारत में रहते हुए हमने सरकार के तीन अंगो कार्यपालिका, विधायिका और न्यायपालिका के बीच जो शक्ति-सन्तुलन देखा है उ...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :न्यायपालिका
  December 26, 2017, 10:47 pm
पाकिस्तान के सबसे प्रतिष्ठित अखबार डॉन में छपे एक आलेखको पढ़कर मेरा मन दुखी हो गया। इस अभागे देश के नागरिक किस दुर्दशा के शिकार हैं यह जानकर मन काँप उठता है। भारत में रहते हुए हमने सरकार के तीन अंगो कार्यपालिका, विधायिका और न्यायपालिका के बीच जो शक्ति-सन्तुलन देखा है उ...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :न्यायपालिका
  December 26, 2017, 10:47 pm
“साहब, यह काम हो ही नहीं पाएगा।” एक सप्ताह की प्रतीक्षा के बाद पधारे ठेकेदार ने कार्यालय में घुसते ही अपनी असमर्थता जाहिर कर दी।अरे, आप जैसा होशियार और सक्षम ठेकेदार ऐसी बात कैसे कह सकता है? मैंने तो सुना है आप बहुत बड़े-बड़े ठेके लेकर सरकारी काम कराते रहते हैं। तमाम सरका...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :society against corruption
  October 8, 2017, 9:14 am
“साहब, यह काम हो ही नहीं पाएगा।” एक सप्ताह की प्रतीक्षा के बाद पधारे ठेकेदार ने कार्यालय में घुसते ही अपनी असमर्थता जाहिर कर दी।अरे, आप जैसा होशियार और सक्षम ठेकेदार ऐसी बात कैसे कह सकता है? मैंने तो सुना है आप बहुत बड़े-बड़े ठेके लेकर सरकारी काम कराते रहते हैं। तमाम सरका...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :society against corruption
  October 8, 2017, 9:14 am
ऑफिस से पाँच बजे फुर्सत मिल गयी तो मन हुआ कि शहर में घूमा जाये। सुबह दैनिक जागरण के स्थानीय पृष्ठ पर खबर थी कि पूरा शहर दुर्गामय हो गया है। श्रद्धालु मंदिरों में उमड़ रहे हैं। चौक स्थित प्राचीन दक्षिणमुखी दुर्गा मंदिर में सबसे ज्यादा भक्त दर्शन के लिए आ रहे हैं। आजमगढ़ क...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :धर्म-अधर्म
  September 30, 2017, 9:00 am
ऑफिस से पाँच बजे फुर्सत मिल गयी तो मन हुआ कि शहर में घूमा जाये। सुबह दैनिक जागरण के स्थानीय पृष्ठ पर खबर थी कि पूरा शहर दुर्गामय हो गया है। श्रद्धालु मंदिरों में उमड़ रहे हैं। चौक स्थित प्राचीन दक्षिणमुखी दुर्गा मंदिर में सबसे ज्यादा भक्त दर्शन के लिए आ रहे हैं। आजमगढ़ क...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :धर्म-अधर्म
  September 30, 2017, 9:00 am
शहरीकरण की प्रक्रिया तेज होने का मुख्य कारण विकसित शहरों में उपलब्ध वे अवसर और सुविधाएं हैं जो जीवन की गुणवत्ता बढ़ाने और उन्हें बनाये रखने के लिए आवश्यक हैं। जीविकोपार्जन के लिएजरूरीरोजगार मिलने के अतिरिक्त बच्‍चोंके लिए अच्छे शिक्षण व प्रशिक्षण संस्थान, बड़े-बुजु...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :cow-belt
  August 29, 2017, 9:06 am
शहरीकरण की प्रक्रिया तेज होने का मुख्य कारण विकसित शहरों में उपलब्ध वे अवसर और सुविधाएं हैं जो जीवन की गुणवत्ता बढ़ाने और उन्हें बनाये रखने के लिए आवश्यक हैं। जीविकोपार्जन के लिएजरूरीरोजगार मिलने के अतिरिक्त बच्‍चोंके लिए अच्छे शिक्षण व प्रशिक्षण संस्थान, बड़े-बुजु...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :cow-belt
  August 29, 2017, 9:06 am
सीबीआई अदालत द्वारा आज  बाबा #रामरहीम को बलात्कार का दोषी पाया गया है - दो साध्वी स्त्रियों के साथ बलात्कार का दोषी। लेकिन इनके भक्तों को लग रहा है कि उनके महान ‘पिताजी’ के साथ अदालत ने अन्याय कर दिया है। आगजनी, तोड़-फोड़ और लोगों की हत्या का क्रम शुरू हो गया है। राज्य सरक...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :अपनी बात
  August 25, 2017, 8:41 pm
सीबीआई अदालत द्वारा आज  बाबा #रामरहीम को बलात्कार का दोषी पाया गया है - दो साध्वी स्त्रियों के साथ बलात्कार का दोषी। लेकिन इनके भक्तों को लग रहा है कि उनके महान ‘पिताजी’ के साथ अदालत ने अन्याय कर दिया है। आगजनी, तोड़-फोड़ और लोगों की हत्या का क्रम शुरू हो गया है। राज्य सरक...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :अपनी बात
  August 25, 2017, 8:41 pm
आजकल सोशल मीडिया या अन्य माध्यमों पर इस आशय की टिप्पणियाँ देखने को मिल रही हैं कि एक बार विधायक या सांसद बन जाने और पाँच या उससे कम समय के कार्यकाल पर भी आजीवन पेंशन क्यों दी जाती है; जबकि सरकारी कर्मचारियों को पूरी पेंशन पाने के लिए कम से कम बीस साल की सेवा देनी पड़ती है। ...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :अफसर
  August 11, 2017, 6:00 am
डैडी - बेटा, कबतक सोते रहोगे? उठो, आठ बजने वाले हैं...बेटा - जगा तो हूँ डैडी...!डैडी - ऐसे जगने का क्या फ़ायदा? बिस्तर पर आँख मूँदे पड़े हुए हो।मम्मी - देखिए, साहबजादे एक आँख खोलकर मुस्कराये और फ़िर करवट बदलकर सो गये।डैडी - हाँ जी देखो न, इन दोनों की आदत बिगड़ गयी है। छुट्टी के दिन दोनो ...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :आप-बीती
  August 9, 2017, 6:00 am
सत्यार्थमित्रपर मौलिक रूप से ब्लॉग पोस्ट करने की आदत फ़ेसबुक ने छीन ली थी। जो मन में आया उसे तुरत-फुरत स्टेटस के रूप में फेसबुक पर डालकर छुट्टी ले लेने का आसान रास्ता पकड़ लिया था मैंने। अधिकतम चौबीस घंटे की सक्रिय आवाजाही पाने के बाद वह स्टेटस काल के गाल में समा जाया करत...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :ब्लॉगरी
  July 31, 2017, 6:00 am
#साइकिल_से_सैर #रायबरेलीरायबरेली से स्थानांतरण का आदेश मिला तो थोड़ी उलझन हुई। साढ़े चार साल तक की जीवन चर्या में बड़ा बदलाव आने वाला था। पदोन्नति के पद पर तैनाती हुई तो बधाइयाँ भी मिली लेकिन नये ठिकाने पर जाना कष्टप्रद भी महसूस हो रहा था। ऐसी मनःस्थिति में वहाँ की आखिरी स...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :जलसेतु
  July 30, 2017, 8:00 am
रायबरेली में #साइकिल_से_सैर करते हुए मुझे एक गाँव जगदीशपुर के बाहर एक छोटी सी चाय की दुकान के सामने एक विचित्र शक्ल -सूरत का पेड़ मिला। विचित्र इसलिए कि यह खूब घना और हरा था लेकिन इसमें एक भी पत्ती नहीं थी। यह बिजली के तारों के मकड़जाल जैसी आकृति लिए बहुत सी लताओं का पुंज था...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :औषधीय वृक्ष
  July 28, 2017, 2:34 pm
#साइकिल_से_सैर (29.06.2017) आज परसदेपुर मार्ग पर इंदिरानहर के पुल की चढ़ाई शुरू करने वाला था तभी दाहिनी ओर एक नयी-नवेली ग्रामीण सड़क दिखायी दे गयी। देखने से लग रहा था कि इसकी 'पेंटिंग'अभी एक-दो सप्ताह के भीतर ही हुई होगी। शायद योगी सरकार के गढ्ढा-मुक्ति अभियान के अंतर्गत। मैंन...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :बेहटा खुर्द
  June 29, 2017, 8:00 am
#साइकिल_से_सैर (22.06.217) गढ्ढा मुक्त टूटी सड़केंकल मानसून की दस्तक देती बरसात के बीच योग कार्यक्रम के बाद आज साइकिल ने रायबरेली शहर के भीतर ही घूमने का मन बनाया। मामा चौराहे की रेलवे क्रॉसिंग पारकर जेल रोड के अंत तक पहुँचा और वहाँ से दाहिनी ओर मुड़कर जिलाधिकारी आवास की चा...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :
  June 22, 2017, 8:00 am
#साइकिल_से_सैर #झाड़_फूँकरायबरेली (20.06.2017)कई दिनों के व्यतिक्रम के बाद आज साइकिल से सैर करने निकला। हालाँकि सोकर उठने में थोड़ी देर हो गयी थी लेकिन मैंने मन को बहानेबाज़ी का कोई मौका देना उचित नहीं समझा। बाहर का मौसम बहुत ख़ुशगवार नहीं था। सूरज निकल चुका था और सुबह की हवा में ...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :झाड़-फूँक
  June 20, 2017, 8:00 am
#साइकिल_से_सैर [2 जून, 2017]आज साइकिल का मूड शहर की ओर जाने का हुआ तो मैं घर से निकल कर इलाहाबाद जाने वाले हाईवे को 'मामा चौराहे'पर पार करते हुए रेलवे क्रॉसिंग के उस पार जेलरोड पर चला गया। आजकल यहाँ ओवर-ब्रिज का निर्माण तेजी से हो रहा है। रास्ता बंद कर दिया गया है। लेकिन साइकि...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :
  June 3, 2017, 8:00 am
#बालमखीरा #साइकिल_से_सैरआज सुबह साइकिल की सैर से लौट रहा था तो रायबरेली के कानपुर बाईपास रोड पर जिसे जेलरोड भी कहते हैं, सड़क किनारे एक ऐसी चीज़ सुखाई जा रही थी जो मैंने पहले कभी नहीं देखा था। उत्सुकतावश मैंने साइकिल रोक दी। गोल-गोल टिकिया नुमा इस सूखी हुई मटमैली सामग्...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :बालमखीरा
  June 2, 2017, 7:29 pm
#साइकिल_से_सैर [27 मई 2017]आज सुबह की नींद टूटी बादलों के गर्जन से। उठकर बाहर देखा तो आसमान में उनकी आवाजाही हो रही थी। काले बादल कम थे, हवा में ठंडक भी कम थी। फिर भी माहौल बाहर की सैर के लिए आकर्षित कर रहा था। मैंने साइकिल चलाते हुए भींगने की तैयारी कर ली। जेब में एक पॉलीथिन क...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :बारिश
  May 27, 2017, 8:00 am
#ODFVillage #ग्रामीण_स्वच्छता_कार्यक्रम #साइकिल_से_सैरआजकल की भीषण गर्मी के मौसम में बाहर की ठंडी हवा खानी हो तो सबेरे अंधेरा छटते ही निकल लीजिए। जॉगिंग करनी हो, टहलना हो अथवा किसी उद्यान में बैठकर गप्पे लड़ाना हो या योगासन करना हो। प्रातःकाल के एक-दो घंटे ही राहत देने वाले ...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :ODF Village
  May 25, 2017, 8:00 am
#साइकिल_से_सैरकई दिनों बाद आज सुबह सैर को निकला। बरामदे में खड़ी साइकिल कई दिनों से शिकायत कर रही थी। इसे छोड़कर मैंने दुबारा बैडमिंटन खेलना शुरू कर दिया था। नये बॉस को कम्पनी देने के बहाने मैंने डॉक्टर की सलाह को मटिया दिया था। अपने मन की दबी इच्छा को यह बहाना मिलते ही मै...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :गाय-भैंस
  September 21, 2016, 8:00 am
एक अंग्रेजी व्हाट्सएप सन्देश से प्रेरित ताज़ी रचना यही समय है आँखें खोलोजब इस दुनिया से चल दूंगा, तुम रोओगे नहीं सुनूंगा व्यर्थ तुम्हारे आँसू होंगे, तब उनको ना पोछ सकूंगा बेहतर है तुम अभी यहीं पर मेरी खातिर जी भर रो लो यही समय है आँखें खोलोमेरे पी...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :सत्यार्थमित्र
  September 19, 2016, 10:00 am
#साइकिल_से_सैरभुएमऊ गांव में ही बात-चीत करते आठ बज गये। इसका भान मुझे तब हुआ जब सड़क किनारे की दो-तीन दुकानों को मिलाकर खोले गये सरस्वती ज्ञान मंदिर (अंग्रेजी माध्यम) नामक प्राइवेट स्कूल के बच्चे प्रार्थना के लिए खड़े मिले। उनके सर, मैडम और मिस लोग सामने खड़े होकर प्रेयर और ...
सत्यार्थमित्र...
सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
Tag :प्राथमिक शिक्षा
  September 2, 2016, 8:00 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3774) कुल पोस्ट (176979)