Hamarivani.com

सद् वचन

जो हम से धन, संपत्ति, सुख-सुविधा, मान-सम्मान, पूजा-सत्कार आदि कुछ भी चाहता है, वह हमारा कल्याण नहीं कर सकता.   (संकलित)...
सद् वचन...
Tag :
  December 14, 2011, 12:41 pm
शोक करने वाला मनुष्य न तो मरे हुए के साथ जाता है और न स्वयं ही मरता है. जब दुनियां की यही स्वाभाविक रीति है, तो आप किसके लिए बार बार शोक करते हो.  (संकलित) ...
सद् वचन...
Tag :
  December 13, 2011, 12:47 pm
सेवा करने वाला हाथ स्तुति करने वाले होठों की अपेक्षा अधिक पवित्र है.  (संकलित)...
सद् वचन...
Tag :
  December 12, 2011, 1:54 pm
इन मकानों, हवेलियों और ऊंचे ऊंचे महलों में अपने मन को मत लगा।  तेरे ऊपर बिन तोल मिट्टी पड़ेगी, तब वहाँ तेरा कोई मित्र नहीं होगा।    (संकलित)...
सद् वचन...
Tag :
  December 10, 2011, 2:31 pm
जब तक तुम्हें अपना सम्मान और दूसरे का अपमान सुख देता है, तब तक तुम अपमानित ही होते रहोगे। ......... हनुमान प्रसाद पोद्दार ...
सद् वचन...
Tag :
  December 9, 2011, 2:06 pm
आप दूसरों को तभी ऊपर उठा सकते हैं, जब आप स्वयं ऊपर उठ चुके हों..........शिवानन्द ...
सद् वचन...
Tag :
  December 8, 2011, 12:17 pm
दरिद्रता प्रकट करना दरिद्र होने से अधिक दुखदायी है.........प्रेम चंद...
सद् वचन...
Tag :
  December 7, 2011, 1:03 pm
दुःख आने पर मुस्कराओ. उसका सामना कर के विजयी होने का साधन इसके समान कोई नहीं है........तिरुवल्लुवर ...
सद् वचन...
Tag :
  December 6, 2011, 6:59 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163691)