Hamarivani.com

कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |

जबजब भारत देश में हिंदी दिवस आता है तब एक दिन के लिए कलाकार (अभिनेता / अभिनेत्री), पत्रकार, कवि और साहित्यकार हिंदी का गुणगान करते नजर आते हैं और अपनी टिप्पणी/विचारों को ऐसे व्यक्त करते हैं. जैसे उन से ज्यादा बड़ा तो कोई हिंदी प्रेमी इस भारत वर्ष में कोई हैं ही नहीं. उसके ...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :सिरफिरा
  September 1, 2012, 2:26 pm
इस साल हज पर जाने वाले भारतीय नागरिकों को पहली बार सउदी टेलीकॉम की ओर से सिमकार्ड बेहद किफायती  दर पर मुहैया कराया जाएगा। जेददा में भारतीय महावाणिज्य दूतावास ने एक बयान में कहा कि इस सिमकार्ड के जरिए कॉल करने की दर पांच रियाल होगी, जबकि इनकमिंग मुफ्त होगी। इस सिमकार्...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :'Dr. ANWER JAMAL'
  August 29, 2012, 7:23 am
आज हाई प्रोफाइल मामलों को छोड़ दें तो किसी अपराध की प्रथम सूचना रिपोर्ट (FIR) दर्ज करा लेना ही एक "जंग" जीत लेने के बराबर है. आज के सम.......पूरा लेख यहाँ रमेश कुमार सिरफिरा: जब प्रथम सूचना रिपोर्ट (FIR) दर्ज न होपर क्लिक करके पढ़ें....
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :सांसद
  August 4, 2012, 8:51 pm
करके वादा कोई सो गया चैन से करवटें बदलते रहे हम रात भर !!१!!हसरतें दिल में घुट-घुट के मरती रही और जनाज़े निकलते रहे रात भर !!२!!रात भर चांदनी से लिपटे रहे वो हम अपने हाथ मलते रहे रात भर !!३!!आबरू क्या बचाते वह गुलशन कि खुद कलियाँ मसलते रहे रात भर !!४!!हमको पीने को एक कतरा भी न मिला ...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :नीलकमल वैष्णव"अनिश"
  July 29, 2012, 10:06 am
दोस्तों, काफी समय पहले मेरा लिखा एक लेख " हमें अपने चरित्र का निर्माण करना चाहिए" जो कई पत्रिकाओं में प्रकाशित हुआ था. यह लेख ही नहीं मेरे ...पूरा लेख यहाँ सच्चा दोस्त: हमें अपने चरित्र का निर्माण करना चाहिए: पर क्लिक करके पढ़ें....
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :
  July 20, 2012, 9:52 pm
सच का सामना: क्या आज महिलाएं खुद मार खाना चाहती हैं ?:  भारत देश में ऐसा राष्टपति होना चाहिए जो देश के आम आदमी की बात सुने और भोग-विलास की वस्तुओं का त्याग करने की क्षमता रखता हो. ऐसा ना हो ......
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :
  July 16, 2012, 10:00 pm
सच का सामना: क्या महिलाओं को पीटना मर्दानगी की निशानी है ?: आज वैसे तो 99.98% लोगों का मीडिया और ऑफ कैमरा के सामने कहना है कि अपनी पत्नी को पीटते रहना चाहिए नहीं तो सिर पर सवार हो जाती है. उन्हें......
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :
  July 16, 2012, 9:53 pm
मत रोको माँ! मुझे मिट जाने दो ताकि इस अग्निपरीक्षा से गुजरना न पड़े मुझको,मिट ही जाने दो इस अबोली/ अदेखी को ताकि बार बार मिटने का दुःखबाकी न रह जाए तुम्हारी तरह! मत रोको माँ! अपनी कोख की तरफ बढ़ते इन हत्यारे हाथों को, अलबत्ता रोक लो ये आंसू...ये छटपटाहट क्योकि- इनमे तुम मुझे ...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :कन्या-भ्रूण
  April 22, 2012, 9:16 am
ख़ुशदीप सहगल किसी ब्लॉग पर अपनी मां का काल्पनिक नंगा फ़ोटो देखें तो उन्हें दुख होगा इसमें ज़रा भी शक नहीं है लेकिन उनकी मां का नंगा फ़ोटो ब्लॉग पर लगा हुआ है और उन्हें दुख का कोई अहसास ही नहीं है।...और यह फ़ोटो उनके ही ब्लॉग पर है और ख़ुद उन्होंने ही लगाया है।उन्होंने चुटकुल...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :'Dr. ANWER JAMAL'
  April 5, 2012, 8:41 am
सच्चे बादशाह से बातें कीजिए God hears.रूह में रब का नाम नक्श है।रूह सबकी एक ही है। जो भी पैदा होता है, उसी एक रूह का नूर लेकर पैदा होता है।रूह क्या है ?रब की सिफ़ाते कामिला का अक्स (सुंदर गुणों का प्रतिबिंब) है।सिफ़ाते कामिला को ज़ाहिर करने वाले बहुत से नाम हैं।रब का हरेक नाम रूह को...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :'Dr. ANWER JAMAL'
  March 30, 2012, 7:55 pm
भारत की स्वतंत्रता के बाद राजस्थान का एकीकरणराजस्थान भारत का एक महत्वपूर्ण प्रांत है। यह 30 मार्च 1949 को भारत का एक ऐसा प्रांत बना, जिसमें तत्कालीन राजपूताना की ताकतवर रियासतें विलीन हुईं । भरतपुर के जाट शासक ने भी अपनी रियासत के विलय राजस्थान में किया था। राजस्थान शब्...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :राजस्थान का इतिहास
  March 28, 2012, 10:11 am
टू जी के झमेले में बड़ी बड़ी तोपें फंसती लग रही है। कुछ नेता, अफसर, व्यवयायी, तो अंदर हो चुके हैं। कुछ के गिरेबां के अन्दर झांका जा रहा हैं। टू जी के खातों में रोज नये नये नामों का जमाखर्च हो रहा है। सूची, सुरसा के मुंह की तरह नहीं बल्कि महंगाई की तरह बढ़ रही है। शुक्र है इसम...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :'ईनाम घोटाला'
  March 11, 2012, 11:35 am
         आज  भारत  में  चारों ओर हॉकी  टीम ने  अपने प्रदर्शन से धूम मचा रखी है .८ वर्ष बाद ओलम्पिक में भाग लेने का ये जो सुनहरा अवसर भारतीय हॉकी   टीम ने हासिल किया है उसे लेकर  सारे भारत को उनसे बहुत आशाएं हैं और आज सारा भारत उनके लिए यही दुआ मांग रहा है कि २०१२ का हॉकी गोल्ड भा...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :aalekh shalini kaushik
  March 5, 2012, 2:37 pm
कोई रूठे यहाँ तो कौन मनाने आता है रूठने वाला खुद ही मान जाता है, ऐ अनिश दुनियां भूल जाये कोई गम नहीं जब कोई अपना भूल जाये तो रोना आता है...जब महफ़िल में भी तन्हाई पास हो रौशनी में भी अँधेरे का अहसास हो, तब किसी कि याद में मुस्कुरा दो शायद वो भी आपके इंतजार में उदास हो...फर्क...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :नीलकमल वैष्णव"अनीश"
  March 3, 2012, 2:23 pm
कुछ अनकही बाते ? , व्यंग्य: जब इस्लाम मूर्ति पूजा के विरुद्ध है तो मुसलमान काब...: काबा मतलब किबला होता है जिसका मतलब है- वह दिशा जिधर मुखातिब होकर मुसलमान नमाज़ पढने के लिए खडे होते है, वह काबा की पूजा नही करते. मुसलमान कि......
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :
  February 28, 2012, 10:29 am
आप सभी मित्रों के लिए पेश है नए साल(2012) का मेरा पहला पोस्टजिसमें तो दो अलग-अलग लाइने हैं पर दोनों कविता का अर्थ और दर्द एक ही है,(१)मुझे उदास देख कर उसने कहा ;मेरे होते हुए तुम्हें कोई दुःख नहीं दे सकता,"फिर ऐसा ही हुआ"ज़िन्दगी में जितने भी दुःख मिले, सब उसी ने दिए.....(२)वो अक्सर ...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :नीलकमल वैष्णव"अनीश"
  January 23, 2012, 1:01 pm
कुछ अनकही बाते ? , व्यंग्य: एक छलावा-सा: एक छलावा-सा 4 जुलाई 1942 को जन्मे कन्हैयालाल भाटी की अनुवादक के रूप में विशेष ख्याति रही है, मगर उनकी कहानियां भी कथ्य व शिल्प की दृष्टि से......
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :
  January 8, 2012, 9:24 am
देखना, कोई औरत भगवान को छू न देमार्केट से लौटते वक्त उस मंदिर के आगे रोज मेरे पांव ठिठक जाते हैं। औरतें दीवानों की तरह भीड़ लगाकर वहां खड़ी होती हैं। सूट वालियां भी, साड़ी वालियां भी और जींस वालियां भी। सब के सब एकता कपूर के सीरियल से सीधे भागकर आए हुए से। इतने रिलीजस लो...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :हाय री नारी तेरी
  December 30, 2011, 7:21 pm
एक वर्ष ने और विदा लीएक वर्ष आया फिर द्वार।गए वर्ष को अंक लगाकरनए वर्ष की कर मनुहार।आता है कुछ लेकर प्रतिदिनजाता है कुछ देकर बोध।मैं बैठा चुपचाप देखतापनप रही पल-पल की पौध।जाने क्या पाया जीवन नेक्या खोया कर ले तू याद।सोचा जितनी बार हुआ हैभीतर ही भीतर अवसाद।जीत रहा हूँ ...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :स्नेह new year
  December 30, 2011, 9:56 am
दोस्तों, आप दोस्तों की संख्या में विश्वास करते हो या उनकी गुणवत्ता पर ? दोस्तों, पिछले दिनों फेसबुक के मेरे एक मित्र ने एक अपने मित्र की दोस्ती का निवेदन स्वीकार करने के लिए कहा. तब मैंने कहा उनकी प्रोफाइल का अवलोकन करने के लिए कहा. तब उस मित्र का कहना था कि-इतना घंमड ठीक न...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :प्रोफाइल
  December 19, 2011, 11:04 am
ई बुक के रूप में प्रो सी बी श्रीवास्तव विदग्ध द्वारा किया गया श्रीमद्भगवत गीता का हिन्दी पद्यानुवाद उपहार स्वरूप आपको और पाठको को समर्पित है !!...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :
  December 19, 2011, 9:46 am
इन दिनों सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर लगाम कसे जाने की खबर पर हंगामा मचा हुआ है। खासकर बुद्धिजीवियों में अंतहीन बहस छिड़ी हुई है। लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की दुहाई देते हुए जहां कई लोग इसे संविधान की मूल भावना के विपरीत और तानाशाही की संज्ञा दे रहे हैं, वहीं कुछ लोग अभिव्...
कुछ तुम कहो कुछ मैं कहु |...
Tag :
  December 17, 2011, 3:50 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163851)