Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
हक बात : View Blog Posts
Hamarivani.com

हक बात

Saleem Akhter Siddiquiकेंद्र की सत्ता गंवाने के बाद राज्यों की सरकारों से हाथ धोती जा रही कांग्रेस को एक अद्द ऐसे चेहरे की दरकार है, जो डूबती कांग्रेस को साहिल पर दोबारा ला सके। चूंकि कांग्रेस नेहरू परिवार के सम्मोहन से निकलना नहीं चाहती, इसलिए कांग्रेस के बीच से प्रियंका गांधी को...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  November 9, 2014, 3:03 pm
दिल्ली में होने वाले चुनाव भाजपा के लिए आसान नहीं होंगे। महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनाव से पहले कालेधन पर मोदी सरकार का झूठ सामने नहीं आया था। प्राकृतिक गैस 33 प्रतिशत महंगी नहीं हुई थी। केजरीवाल के पास कालेधन पर मोदी सरकार के यू टर्न और प्राकृतिक गैस की बढ़ी कीमतों का...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  November 9, 2014, 2:59 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकी  Font size: जब से नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया गया था, तभी से मीडिया के एक बड़े वर्ग ने उनकी ‘पॉवरफुल मैन’ की इमेज बिल्डिंग का काम शुरू किया था, जो चुनाव प्रचार के दौरान अपने चरम पर था। उनके प्रधानमंत्री बनने के बाद अब मोदी की ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  September 15, 2014, 4:38 pm
फ़िरदौस ख़ान सर्वश्रेष्ठ ब्लॊगर पुरस्कार से सम्मानितनई दिल्ली. पत्रकार फ़िरदौस ख़ान को साहित्यिक विषयों पर लेखन के लिए सर्वश्रेष्ठ ब्लॊगर पुरस्कार से सम्मानित गया है. यह पुरस्कार उन्हें हिन्दी दिवस के मौक़े पर ख़बरिया चैनल एबीपी न्यूज़ द्वारा रविवार को नई दिल्ली के पार...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  September 15, 2014, 4:36 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीएडोल्फ हिटलर 1933 में र्जमनी की सत्ता में आया था। उसने यहूदियों को इंसानी नस्ल का हिस्सा नहीं माना। 1939 में र्जमनी द्वारा दूसरा विश्व युद्ध भड़काने के बाद हिटलर ने यहूदियों को जड़ से मिटाने के लिए अंतिम हल यानी ह्यफाइनल सोल्यूशनह्ण के तहत एक-एक यहूदी को ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  July 27, 2014, 4:19 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीबहुत दिनों बाद बाजार गया था। बाजार में महंगाई इठलाती इतराती घूम रही थी। वह पहले से ज्यादा मोटी हो गई थी। चेहरे पर पहले से ज्यादा चमक थी। गरूर तो जैसे उसमें कूट-कूट कर भरा पड़ा था। उसने मुझ पर तंज भरी नजरें डालीं। मैंने उससे कहा, तुम तीन महीने तक चिल्ल...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  July 14, 2014, 4:54 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकी23 मई 1987 को मेरठ के मलियाना कांड हुए 27 साल हो गए हैं। एक पीढ़ी बुढ़ापे में कदम रख चुकी है तो एक पीढ़ी जवान हो गयी है। लेकिन मलियाना के लोग आज भी उस दिन का टेरर भूले नहीं है। और न ही पीड़ितों को अब तक न्याय और उचित मुआवजा मिल सका है। 23 मई 1987 की सुबह बहुत अजीब और बैच...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  May 23, 2014, 2:31 pm
जब 16 मई को पूरा देश मोदीमय हो रहा था, तब देश का सुप्रीम कोर्ट 2002 में अहमदाबाद के अक्षरधाम मंदिर पर हुए आतंकी हमलों के आरोपियों को गुजरात सरकार को फटकार लगाते हुए बाइज्जत बरी कर रहा था। मोदीमय माहौल में यह खबर कहीं नजर नहीं आई। सुभाष गाताडे ने अपने लेख ‘ऐतिहासिक जीत के बी...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  May 21, 2014, 2:19 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीआखिरकार मीडिया ने आखिरी वक्त तक ‘नमक का हक’ अदा किया। एग्जिट पोल में अबकी बार मोदी सरकार बनवा ही डाली। हद यह है कि एक चैनल ने तो एनडीए को 340 सीटें तक दे डाली हैं। कोई अक्ल का अंधा भी कयास लगा सकता है कि ऐसा मुमकिन नहीं है। लेकिन वह भी बेचारा क्या कर सकता ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  May 13, 2014, 2:22 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीचुनाव प्रचार में भले ही मोदी आगे नजर आ रहे हों, लेकिन दरहकीकत मोदी का चुनावी रथ रोकने के लिए दूसरे राजनीतिक दलों से ज्यादा भाजपा के नेता ही ज्यादा सक्रिय हैं। मोदी को भीतर घात का खतरा दरपेश है। भाजपा में मीर जाफर और जयचंदों की बड़ी फौज मोदी को पटकनी दे...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  May 9, 2014, 12:35 pm
हैरत की बात है कि नरेंद्र मोदी के समर्थकों में वे लोग शामिल हैं, जिन पर यौन उत्पीड़न के आरोप लग चुके हैं। आजकल वे लोग फेसबुक पर मोदी विरोधियों का चरित्र हनन करने पर उतर आए हैं। फेसबुक पर मोदी विरोधी स्टेट्स से बौखलाकर एक ऐसा आदमी जिस पर एक साध्वी को मारने-पीटने और उसका पैस...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  May 8, 2014, 12:25 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीजब से यह प्रचारित हुआ है कि अच्छे दिन आने वाले हैं, मेरी तो मुसीबत ही आ गई है। पत्नी की जिद कि एक अलग घर बने न्यारा, मेरा कहना कि अभी ऐसे ही करो गुजारा। बीच में छोटी बेटी कह उठी, अब्बू फिक्र क्यों करते हैं, मम्मी की ख्वाहिश जल्दी पूरी हो जाएगी। मैंने चौ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  April 28, 2014, 7:07 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीआपने ऐसे विज्ञापन देखें होंगे, जिनमें अविश्वसनीय दावे किया जाते हैं। एक हफ्ते में सांवला रंग गोरे में तब्दील किए जाने का दावा किया जाता है। खास परफ्यूम लगाने के बाद लड़कियां आप मर मिटती हैं। कई लोग लाइलाज बीमारी ठीक करने का दावा करते हैं। कुछ ठग एक...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  April 16, 2014, 12:48 pm
सलीम अख़्तर सिद्दीकी जैसे-जैसे चुनाव बीतता जा रहा है, वैसे-वैसे चुनाव नरेंद्र मोदी बनाम मुसलमान में बदल रहा है। कथित धर्मनिरपेक्ष राजनीतिक दलों की कोशिश है कि मोदी का भय दिखाकर उनके वोटों का ध्रुवीकरण अपने पक्ष में किया जाए। लेकिन ज...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  April 16, 2014, 12:45 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीऐसा पहली बार नहीं हुआ है, जब सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने अपने बेटे अखिलेश यादव की सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। इससे पहले कई बार वह सरकार को नसीहतें दे चुके हैं। यह कहना मुश्किल है कि क्या वास्तव में मुलायम सिंह यादव सरकार से नाराज हैं या लोकसभ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  March 6, 2014, 12:08 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीमेरे शहर में एक राजनीतिक दल की रैली थी। पूरा शहर रैली के होडिंर्गों से पटा हुआ था। रैली में जो गाड़ियां आ रही थीं, उनकी वजह से जगह-जगह भयंकर जाम लगा हुआ था। घंटों जाम में फंसे लोग रैली आयोजकों को कोस रहे थे। किसी को डॉक्टर के पास जाना था, तो किसी का एग्जा...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  March 2, 2014, 2:03 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीभारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने मुसलमानों से भाजपा से हुई जानी-अनजानी गलतियों के लिए सिर झुकाकर माफी मांगने की बात कहकर चुनावी बेला में माफी की राजनीति को आगे बढ़ाया है। पूर्व में सोनिया गांधी 84 के सिख विरोधी दंगों के लिए माफी मांग चुकी...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  February 28, 2014, 9:19 pm
तेलंगाना मुद्दे पर लोकसभा में हुई बहस को देखने सुनने का जनता को पूरा अधिकार था। ये भारतीय लोकतंत्र का दुर्भाग्य है कि जिस उद्देश्य से लोकसभा का चैनल शुरू किया गया था, उसका एक अहम दिन भारतीय जनता ने गंवा दिया। इसमें कोई दो राय नहीं है कि चैनल पर लोकसभा की कार्यवाही के प्...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  February 23, 2014, 4:15 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीयह इसी देश में संभव हो सकता है कि एक पूर्व प्रधानमंत्री के कातिलों की पहले फांसी की सजा माफ की जाए और उसके बाद उन्हें रिहा भी कर दिया जाए। एक तरफ यह ऐसा हो रहा है, तो दूसरी ओर अफजल गुरु को फांसी दिए जाने का शोर हर ओर से उठता है और आखिरकार उसके घर वालों के ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  February 20, 2014, 12:13 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकी2014 के लोकसभा चुनाव बहुत अहम हो गए हैं। यदि गौर से देखा जाए, तो एक मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी की कोशिश है कि ये चुनाव सांप्रदायिक आधार पर लड़े जाएं। यही वजह है कि अपने कई सीनियर लीडर की अनदेखी करते हुए भाजपा ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री का उ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  February 19, 2014, 1:38 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीअपने एक पुराने दोस्त के गांव में उसके घर पर बैठा हुआ था। शाम ढल चल चुकी थी। अंधेरा बढ़ने लगा था। घर क्या, वह पूरा महल सरीखा था, लेकिन उसमें गांव की महक समाईहुईथी। परंपरागत मूढ़े पड़े थे, जिन पर बैठकर लोग रात गए तक किन्हीं मुद्दों पर चर्चाकरते थे। मेरा ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  February 17, 2014, 2:46 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीवह शहर का एक नामचीन अस्पताल था, जिसमें मैं अपने एक दोस्त के बेटे को देखने गया था, जो वहां जेरे इलाज था। रात के यही कोई साढ़े नौ बजे थे। बारिश थोड़ी देर पहले ही रुकी थी, जिससे सर्दी में इजाफा हो गया था। अस्पताल के बाहर कई लग्जरी गाड़ियां खड़ी हुई थीं, जिनके आ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  February 11, 2014, 3:15 pm
सलीम अख्तर सिद्दीकीदंगा हुए चार महीने बीत चुके थे। दंगों से प्रभावित जिन लोगों ने अपने गांवों से भागकर राहत शिविरों में पनाह ले थी, उनमें से बहुत लोग अभी राहत शिविरों में ही पनाह लिए हुए थे। राहत शिविरों पर तेज होती राजनीति के बीच मुझे आदेश हुआ था कि राहत शिविरों में जा...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  January 19, 2014, 12:37 pm
रात के किसी पहर एक दोस्त का एसएमएस आया था कि दादी जी का स्वर्गवास हो गया है। मैं सोचने लगा कि मैंने तो कभी उस घर में दादी का अस्तित्व नहीं देखा, अचानक दादी कहां से आ गई। फिर सोचा कि हो सकता है, वह अपने किसी दूसरे बेटे के पास रहती हों। यही सोचते-सोचते दोस्त को फोन किया। पता ...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  January 12, 2014, 12:18 pm
वे चार थे। शहर के एक बार में बैठे हुए थे। बदन पर ब्रांडेड कपड़े, हाथों में महंगे मोबाइल और मुंह में लगी महंगी सिगरेट। उनकी बातों से लग रहा था कि वे किसी मल्टीनेशनल कंपनी में ऊंचे पदों पर थे। देखने में सभी सभ्य लग रहे थे। सभ्यता से बातें कर रहे थे। चारों के फोन बारी-बारी से...
हक बात...
SALEEM AKHTER SIDDIQUI
Tag :
  January 5, 2014, 2:30 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3710) कुल पोस्ट (171496)