Hamarivani.com

संदेशा

बार बार संदेश आ रहे हैं कि  022-61550789 पर मिस्ड काल करें और भ्रष्ट्राचार के खिलाफ अन्ना हजारे की इस मुहिम में अपना समर्थन प्रदर्शित करें.भ्रष्ट्राचार क्या है?किसी भी संसाधन का अपने हक में दुरुपयोग. अर्थात जिस संसाधन के हम हकदार नहीं है, उसे अपनी पहुँच (चाहें व्यक्तिगत या खर...
संदेशा...
Tag :सूचना
  April 7, 2011, 9:11 am
संस्मरण:’ देख लूँ तो चलूँ ’लेखक :समीर लालमूल्य :100 रू.पृष्ठ: 88प्रकाशक: शिवना प्रकाशन, पी. सी. लैब, सम्राट काम्पलेक्स बेसमेंट, बस स्टेंड, सीहोर (म.प्र.) ४६६००१समीक्षक:विवेक रंजन श्रीवास्तव, ओ.बी. 11, विद्युत मंडल कालोनी, जबलपुर एक ऐसा संस्मरण जो कहीं कहीं ट्रेवेलाग है, कहीं ड...
संदेशा...
Tag :देख लूँ तो चलूँ
  February 12, 2011, 7:33 am
चार मित्रों  राजेश पाठक,गिरीश बिल्लोरे,बसंत मिश्रा,डा०विजय तिवारी किसलय, ने  विगत तेरह  वर्ष पूर्व एक कल्पना की थी. वो यह कि हम स्वर्गीय हीरा लाल गुप्त मधुकर जी स्मृति  में उनके समकालीन व्यक्तित्वों को सादर आमंत्रित कर उनसे सीमित-साधनों के दौर में होने वाली सफ़ल...
संदेशा...
Tag :
  December 23, 2010, 9:03 pm
श्री ललित शर्माऔर श्री जी के अवधियाजी जबलपुर पधार चुके हैं. श्री विजय सप्पति जी भोपाल से ट्रेन पकड़ चुके हैं और दोपहर ३ बजे तक उनके जबलपुर आगमन की संभावना है.सभी मित्रों से अनुरोध है किशाम ६ बजे दिनांक १ दिसम्बर, २०१०होटल सूर्या, प्रथम तल, बस स्टैंड के पीछे, राईट टा...
संदेशा...
Tag :
  December 1, 2010, 11:46 am
बतौर पांचवा खम्भा ’ब्लॉग विधा’ के तेजी से हो रहे प्रसार एवं विस्तार से सभी परिचित हैं.दिनांक 01/12/2010 को जबलपुर हिन्दी ब्लागर्स कार्यशाला का आयोजन होटल सूर्या के कांफ़्रेंस हाल में सायं ६ बजे से किया गया है. कार्यशाला के मुख्य अतिथि श्री विजय सत्पथी, हैदराबादएवं विशिष्ठ ...
संदेशा...
Tag :सूचना
  November 29, 2010, 1:01 pm
जानते है सब ,फिर भी अंजान बनते है ।इसी  तरह  वो , हमें परेशान  करते  है  ।पूछ्ते है हमसे  कि , आपको क्या पसन्द है । औरखुद जबाब होकर ये सवालकरते है । ...
संदेशा...
Tag :
  September 30, 2010, 11:39 am
घर मे हाथी पूजा जावेगा आप भे दर्शन कर ले...
संदेशा...
Tag :
  September 29, 2010, 2:14 pm
लोग अपनो को भुला देते है ,वेबजह अपनो को रुला देते है ,जो दिया रात भर रोशनी देता है,सुबह होते ही लोग उसे बुझा देते है॥...
संदेशा...
Tag :
  September 25, 2010, 10:36 am
आज मोहब्बत से मुलाकात हो गई,मेरी दिल की बातो मे वो कुछ ऎसी खो गई , जब पूछा मेने कि आती है याद मेरी ,तो खामोश हो कर मेरी बाहो मे सो गई ॥...
संदेशा...
Tag :
  September 20, 2010, 5:20 pm
गम नही वहाँ जहाँ हो अफसाना आपकाखुशियाँ वहाँ ढूंढती है हर पल आशियाना आपकाआप उदास न होना कभी क्योकि ,बहुत अच्छा लगता है हमें मुस्कराना आपकाएक लहर को प्यार था किनारे से ,पर उसकी शादी हो गयी सागर सेकिनारे की प्रीत लहर को खिंच लाती है ,पर बदनाम न हो मोहब्बत इसलिये वो लौट आती ह...
संदेशा...
Tag :poem
  February 19, 2010, 6:44 pm
-१-अश्क उनकी आखों के करीब होते है ,रिश्ते र्दद के जिनको नसीब होते है!दौलत दिल की जिसने लुटाई हो ,कोन कहता है वो गरीब होता है॥-२-अपने दामन मे भी कुछ अश्क बचा कर रखोजाने कोन कब मोहब्बत की निशानी मागें।-३- जिन्दगी से यूँ चले है इल्जाम लेकरबहुत जी चुके हम तेरा नाम लेकर।अकेली बा...
संदेशा...
Tag :
  February 11, 2010, 6:08 pm
कुछ इस तरह सेखुद मेंखो गया हूँ मैं...किमैंआज अपने आप सेपूछता हूँ...बतामेरा पता क्या है??-संजू...
संदेशा...
Tag :poem
  January 14, 2010, 8:19 am
मोह्ब्बत को मजबूरी का नाम मत देना ।हकीकत कॊ हाद्सॊ का नाम मत देना ।अगर दिल मे प्यार हॊ किसी के लिये ,तो उसे दोस्ती का नाम मत देना ।...
संदेशा...
Tag :
  November 30, 2009, 7:06 pm
समीर लाल जी, आप सब के उड़न तश्तरी और हमारे जबलपुरियों के चाचा. आज बहुत बार खत लिखने के बाद बस एक कविता से जबाब दे गये. मैं तो समीर चाचा के साथ बचपन से रहा हूँ हमेशा. फिर चाहे वो उनका दफ्तर रहा हो, राजनितिक मंच या पारिवारिक काम, मैं हमेशा साथ रहा. उनका खास स्नेह मुझ पर हमेशा रहा. ...
संदेशा...
Tag :kavita
  November 18, 2009, 8:02 am
हकीकत मे जीना आदत बन जाती है .खवाब कि दुनिया बेरंग नजर आती है ।कोई इंतजार करता है जिन्दगी के लिये,और किसी की जिन्दगी इंतजार मे गुजर जाती है ।...
संदेशा...
Tag :
  October 23, 2009, 10:13 am
लम्बी उडान से अपने घोसले मे लौटी'चिडिया से उसके बच्चो ने पूछा मां ’आस्मान कितना बडा है ? चिडिया ने बच्चो को पंखों मे समेटे’हुए कहा सो जाओ मेरे बच्चो वो,मेरे पंखॊ से छॊटा है । IT IS REALITY NOTHING INUNIVERSE IS BIGGER THAN d SHELTER OF A MOTHER`S LEP........ ...
संदेशा...
Tag :
  September 22, 2009, 10:55 am
जिदंगी को ऎसी कलपना समझॊ ,रात कॊ सच सुबह कॊ सपना समझो ।भुलाना चाह्ते हो अगर सभी जख्मो को,तो जिंदगी मे किसी को अपना समझॊ । ...
संदेशा...
Tag :
  September 16, 2009, 10:41 am
दिल के र्दर्द को छुपाना कितना मुश्किल है,टूट कर फिर मुस्कराना कितना मुश्किल है ।किसी के साथ दूर तक जाओ ,फिर अकेले आना कितना मुश्किल है ...
संदेशा...
Tag :
  September 15, 2009, 12:29 pm
उस अजनबी क यू ना इंतजार करो,इस आशिक दिल का ना एतबार करॊ ।रोज निकला करे किसी की याद में आसूं ,इतना कभी किसी से प्यार ना करॊ ।...
संदेशा...
Tag :
  September 14, 2009, 11:57 am
ये हकीकत है कही खवाब तो नही,हमे कोई याद करे ऎसी कोई बात नही ।फिर भी ना जाने क्यू एह्सास हुआ,जैसे किसी ने याद किया वो आप तॊ नही ।...
संदेशा...
Tag :
  September 14, 2009, 11:18 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3685) कुल पोस्ट (167830)