Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
किताबों का कोना : View Blog Posts
Hamarivani.com

किताबों का कोना

कांच के शामियाने किताबें पढना और बात और उन किताबों पर कुछ कहना या लिखना जुदा बात और ज्यादा कठिन इसलिए भी क्योंकि लेखनी से आप पहले से ही परिचित हों तो जी हाँ यह मैं, बात कर रहा हूं रश्मि रविजा के उपन्यास कांच  के शामियाने की। उपन्यास हाथ में आते हुई एक सांस में पढता चला ...
किताबों का कोना...
Tag :कांच के शामियाने
  September 19, 2016, 9:08 pm
सबसे कम खर्चीला मनोरंजन होता  है किताबों से और ये स्थाई होता है : जार्ज बर्नार्ड शॉ यही नहीं किसी और ने भी कहा है कि किताबें जिन्दगी के सबसे अच्छी दोस्त , सबसे करीब की रिश्तेदार और सबसे काबिल गुरु होती हैं | ये सच भी है वे यह बातें बखूबी जानते हैं जिनकी सच में ही पढने में र...
किताबों का कोना...
Tag :किताबें
  October 2, 2015, 8:39 pm
किसी के रूठने ,मनाने किसी के उतरने चढने का ये मौसम है ,हमसे खुशबू आने लगी है कागज़ों की , पढने का ये मौसम है ....ठीक ठीक तो नहीं जानता कि मुझे किताबों से कब इतना इश्क हो गया मगर जुनूनी तो यकीनन ही मैं शायद अपनी मैट्रिक परीक्षा के बाद से हो गया था पढाई के प्रति । सबसे पहले जो दो कि...
किताबों का कोना...
Tag :किताबें
  January 30, 2014, 9:48 pm
इन दिनों आधुनिक काल में ईराकी समाज से से निकली प्रथा ..पदम पादुका पदे पदे ..यानि कि जूता चलाइए ..अभियान ने धीरे धीरे भारत में भी दोबारा से अपना महत्व स्थापित किया है । दोबारा से इसलिए कहे हैं काहे से कि ..श्री लाल शुक्ल  जी के इस ....राग दरबारी ..के एक अनमोल पन्ने पर , हमें इस प्रथ...
किताबों का कोना...
Tag :जूता चलाने की कला
  February 29, 2012, 8:04 am
इन दिनों राग दरबारी सुन रहे हैं , श्री लाल शुक्ल जी को पढते हुए गजब अनुभव हो रहा है , न सिर्फ़ ग्राम जीवन से परिचय हो रहा है बल्कि हर दो पन्ने के बाद एक नए किरदार से मुलाकात हो जाती है । अभी तो चंद पन्नों को ही पलटा है....................."खन्ना मास्टर का असली नाम खन्ना था । वैसे ही जैसे तिल...
किताबों का कोना...
Tag :किताबों का कोना
  February 26, 2012, 8:00 pm
गुनाहों का देवता ..इस किताब को जाने कितनी ही बार पढ गया हूं ..कई बार एक ही सिटिंग में तो कई बार चुनिंदा चुनिंदा पन्नों को ..और बहुत बार कोई भी पन्ना खोल कर । इसका आकर्षण मुझे हर बार बांध के रख देता है । और इसके आकर्षण में बंध जाने या कहूं कि बंध कर रह जाने वाला शायद मैं अकेला नह...
किताबों का कोना...
Tag :गुनाहों का देवता
  May 19, 2011, 11:10 pm
गुनाहों का देवता के हर पन्ने को पर धर्मवीर भारती द्वारा शब्दों का बुना हुआ एक ऐसा संसार मिलेगा जिसमें आपको न सिर्फ़ उस खास पन्ने पर रची गई दुनिया एक एक झलक ..बल्कि वहां उड रही धूल और बह रही ठंडी हवा , पेडों की छाया , धूप की ठसक और घास पत्तों की खुशबू तक का एहसास होगा । शब्दों क...
किताबों का कोना...
Tag :गुनाहों का देवता
  April 1, 2011, 8:04 pm
ये महज़ एक किताब नहीं , एक पूरा युग है जिसे मैंने जियो है और अब भी जी रहा हूं ये इस ब्लॉग की पहली पोस्ट है । इस ब्लॉग के यहां होने की भी एक दिलचस्प वजह है । किताबें शुरू से ही बहुत लोगों की तरह में मेरे वही प्रिय दोस्त रहे हैं । ये अलग बात है कि इन किताबों के दायरे में पहले कॉमि...
किताबों का कोना...
Tag :गुनाहों का देवता
  March 26, 2011, 8:07 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3709) कुल पोस्ट (171408)