Hamarivani.com

कुछ पन्ने..

ब्रेन्डा बेहर की द ब्रिज टु एवरीव्हेयर   वह बिना पटरियों का पुल है, जिस पर धडधडाते हुए स्टीम इंजन वाली एक  ट्रेन गुज़रती है. जलते हुए कोयले की गंध वातावरण में चिपकी रह जाती है. कुछ चिपचिपाहटें पानी की रगड़ से भी नहीं धुलतीं.चौड़े कन्धों वाला वो लड़का  अक्सर पुल पर आत...
कुछ पन्ने.....
Tag :तुम
  May 24, 2012, 12:00 pm
देबरा सिज़ोन की  पेंटिंग वह नींद में बनी हुयी जगह है, जहां से मैंने चलना शुरू किया था.मैं नींद की यात्री हूँ. मेरी नाभि के चारों ओर एक केंचुआ रेंगता रहता है. नींद मेरे जीवन का ठेठ अनुवाद करती है.मेरे भीतर फैला हुआ यह लिसलिसापन तुम्हें खो देने का भय है.  मैं नींद में ही कें...
कुछ पन्ने.....
Tag :तुम
  May 17, 2012, 2:36 pm
सुबह सबसे पहले आकाश के कोरे पन्ने पर  ईश्वर ने 'दिन'  लिखा.लाल रंग में कलम डुबो कर उसने सूरज की हिज्जे लिखी. सूरज का एक - एक रेशा पन्ने पर खींचकर उजास भरी इबारतें उकेरीं.  सात घोड़ों के भव्य रथ पर सवार देवता ने जैसे ही धूप की हल्दी से पन्ने पर तिलक लगा कर शुभारम्भ का नेग कि...
कुछ पन्ने.....
Tag :तुम
  May 10, 2012, 4:18 pm
जुस्याना  कोपानिया  की लवर्स इन द रेन  सीमाएं मानचित्र  पर खिंची आड़ी-टेढ़ी रेखाओं के सिवा कुछ भी नहीं .  हवा की चादर के दो अलग-अलग पल्ले थामे हम दोनों जब इसे आसमान की ओर झटकते हैं, तब किस देश की सीमा बाधा डालती है ? पता है , एक बार अपनी प्यास दिखाने के लिए मैंने रेगिस्तान ...
कुछ पन्ने.....
Tag :जुस्याना कोपानिया
  May 8, 2012, 8:26 pm
एम एफ हुसैन  की पेंटिंग प्रतिभा के लिए एक  नोट डियर प्रतिभा ,तुमसे फोन पे कहा था न कि इस कहानी पर तुम्हारे लिखने  के  स्टाइल का इतना ज्यादा असर है कि इस का डी एन ए निकाला जाए तो तुम ही इसकी माँ निकलोगी . इसलिए अपनी पहली कहानी तुमको डेडिकेट करती हूँ.  देखो,  इसमें तुम्हारे जै...
कुछ पन्ने.....
Tag :एम एफ हुसैन
  March 23, 2012, 11:02 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163594)