Hamarivani.com

Virk's View

कविता-संग्रह -बस तुम्हारे लिए कवयित्री - मीनाक्षी सिंह प्रकाशक -अंजुमन प्रकाशन पृष्ठ - 120 कीमत - 120 /- ( पेपरबैक )मेरी चाहतों का आसमां, यथार्थ धरातल, सुकून-ए-दर्द, रीते-रीते से पल और सकारात्मक बढ़ते कदम नामक पाँच शीर्षकों में विभक्त 68 कविताओं का गुलदस्ता है मीनाक्षी सिं...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  April 8, 2018, 1:00 pm
कविता-संग्रह -सतरंगी आईना कवयित्री -मनजीतकौर 'मीत 'प्रकाशक -तस्वीर प्रकाशन, कालांवाली पृष्ठ - 112 कीमत - 150/- ( सजिल्द )44 छन्दमुक्त कविताओं, 28 ग़ज़लनुमा कविताओं और 5 गीतों से सजी कृति है "सतरंगी आईना " | छन्दमुक्त कविताओं में भी ग़ज़ल और गीत शैली की कविताओं का समावेश है | कवयित्री ...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  March 25, 2018, 8:42 pm
कविता-संग्रह - नदी को तलाश है कवि - डॉ. राजकुमार निजात प्रकाशक - एस.एन.पब्लिकेशन पृष्ठ - 128 कीमत - 300 / - ( सजिल्द )जीवन की विसंगतियों और प्रकृति के बदलते रूप पर चिन्तन करती हुई 42 मध्यम आकार की और 140 लघु आकार की कविताओं का संग्रह है 'नदी की तलाश है'| कवि को नदी का निरंतर बहना किस...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  March 21, 2018, 4:26 pm
कहानी-संग्रह - मुझे तुम्हारे जाने से नफ़रत है लेखिका -प्रियंका ओम प्रकाशक -रेडग्रेब बुक्स पृष्ठ - 184 कीमत - 175/- ( पेपर बैक )सिर्फ पाँच कहानियों का संग्रह है "मुझे तुम्हारे जाने से नफ़रत है " | पुस्तक में 184 पृष्ठ हैं और कहानियाँ पाँच तो स्पष्ट है कि कहानियाँ लम्बी हैं | अंति...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  March 16, 2018, 9:02 pm
उपन्यास -बोलो गंगापुत्र लेखक - डॉ. पवन विजय प्रकाशक -रेड्ग्रेब पृष्ठ - 112 कीमत - 99 /- ( पेपरबैक )इतिहास हमेशा विजेताओं द्वारा लिखित होता है, इसलिए इतिहास में विजेताओं का यशोगान होना स्वाभाविक है | इतिहासकार और साहित्यकार का प्रमुख अंतर यही है कि साहित्यकार इतिहासकार ...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  March 4, 2018, 3:34 pm
कहानी-संग्रह - ज़िन्दगी आइस-पाइसकहानीकार -निखिल सचानप्रकाशन -हिन्द युग्मपृष्ठ - 144कीमत - 100/ ( पेपरबैक )आस-पड़ौस में मौजूद पात्रों और घट रही घटनाओं पर आधारित 9 कहानियों का संग्रह है "जिंदगी आइस पाइस "। इन कहानियों को बयां करने में लेखक ने अपनी पढ़ाई, अपने फिल्मी ज्ञान, धारावाहिक...
Virk's View...
Tag :निखिल सचान
  February 20, 2018, 6:01 pm
पुस्तक -सकारात्मक अर्थपूर्ण सूक्तियाँलेखक - हीरो वाधवानी प्रकाशन - अयन प्रकाशनपृष्ठ- 168 कीमत - 300 /- ( सजिल्द ) ज़िन्दगी जीना एक कला है । रो-रो कर वक्त व्यतीत तो किया जा सकता है, ज़िन्दगी जी नहीं जा सकती । ज़िन्दगी को जीने के लिए सकारात्मक नजरिये का होना बेहद जरूरी है । सकारा...
Virk's View...
Tag :सूक्ति संग्रह
  February 14, 2018, 6:00 pm
पुस्तक – आज़ादी मेरा ब्रांड लेखिका -अनुराधा बेनीवाल प्रकाशन -सार्थक, राजकमल का उपक्रमपृष्ठ - 204मूल्य -  199 /-भाग - 1*****भाग - 2 *****यात्रा वृत्तांत मुख्य रूप से यात्रा के अनुभवों की अभिव्यक्ति ही होती है | अनुराधा यूरोप यात्रा के दौरान जिन देशों और शहरों में जाती हैं उनका न स...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  February 11, 2018, 6:48 pm
कविता-संग्रह -पाँच लघु काव्य-संग्रह एक साथ कवि - पाँच कविगण प्रकाशक -राज पब्लिशिंग हॉउस पृष्ठ - 118 कीमत - 175 /- ( सजिल्द )सांझे संकलन में एक संपादक होता है, जो अन्य रचनाकारों से रचनाएँ एकत्र कर प्रकाशन-संपादन का दायित्व निभाता है, लेकिन "पाँच लघु काव्य-संग्रह एक साथ "एक ऐ...
Virk's View...
Tag :डॉ. शील कौशिक
  January 31, 2018, 6:00 pm
लघुकविता-संग्रह -चाँदनी रात में उड़ते बगुले कवि -रूप देवगुण प्रकाशक -सुकीर्ति प्रकाशन, कैथल पृष्ठ - 80 मूल्य - 250 /- ( सजिल्द )आकार में क्षणिका से बड़ी और कविता से छोटी होती है लघुकविता  | लघुकविता साहित्य की नई विधा है और लघुकथा की तरह ही अपनी जगह बना रही है | प्रो. रूप देव...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  January 24, 2018, 6:52 pm
कविता-संग्रह - मेरे शब्द शिशु कवयित्री - ममता शर्मा 'मनस्वी 'प्रकाशक -तस्वीर प्रकाशन, मंडी कालांवाली पृष्ठ - 112 कीमत - 150 /- ( सजिल्द )भले ही पुरुष और स्त्री जीवन के दो पहिए हैं, लेकिन गृहस्थी का दायित्व स्त्री को ही अधिक निभाना होता है | उसे अपना जीवन भी जीना होता है और पति, ...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  January 17, 2018, 5:30 pm
पुस्तक -रूप देवगुण के कहानियों में नारी के विभिन्न रूप लेखक -ज्ञानप्रकाश 'पीयूष 'प्रकाशन -सुकीर्ति प्रकाशन, कैथल पृष्ठ - 180 कीमत - 450 /- ( सजिल्द )प्रो. रूप देवगुण की समस्त कहानियों का अध्ययन करते हुए उनमें प्रमुख नारी पात्रों पर आधारित कहानियों का विश्लेषण करती पुस्तक ...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  January 10, 2018, 6:02 pm
सूक्ति-संग्रह -सूक्तियाँ मेरा अनुभव संसार लेखक -निजात प्रकाशक -एस. एन. पब्लिकेशन, नई दिल्ली पृष्ठ - 168 कीमत - 450 ( सजिल्द )एक साहित्यकार अपने अनुभव के बल पर अपने साहित्य में अनेक ऐसी पंक्तियाँ लिखता है, जो अपने आप में पूरी रचना होती हैं और जीवन-दर्शन का निचोड़ होने के का...
Virk's View...
Tag :राजकुमार निजात
  January 3, 2018, 2:34 pm
बाल कविता-संग्रह -बाल मन की किलकारी कवि -डॉ. मेजर शक्तिराज प्रकाशन -अमृत बुक्स, कैथल पृष्ठ - 88 कीमत - 200 /- ( सजिल्द ) बच्चों के पसंदीदा विषयों को लेकर उन्हें सिखाने, अच्छा इंसान बनाने का प्रयास करता संग्रह है 'बाल मन की किलकारी ' | इस संग्रह में आठ-आठ पंक्तियों की 75 कवि...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  December 25, 2017, 7:52 pm
ग़ज़ल-संग्रह – ये कभी सोचा न था शायर – डॉ. रूप देवगुण प्रकाशक – पूनम प्रकाशन, दिल्लीपृष्ठ - 80 कीमत – 125 /- ( सजिल्द )रूप देवगुण कविता, लघुकथा, कहानी के प्रमुख हस्ताक्षर हैं, लेकिन ग़ज़ल वे सामान्यत: नहीं लिखते लेकिन “ ये कभी सोचा न था ” ग़ज़ल के क्षेत्र में उनका प्रथम प्रयास है | वे स्वय...
Virk's View...
Tag :रूप देवगुण
  November 1, 2017, 8:03 pm
ग़ज़ल-संग्रह –कहो बात दिल की शायर – रूप देवगुण प्रकाशक –सुकीर्ति प्रकाशन, कैथल पृष्ठ – 80 कीमत – 200 /- ( सजिल्द )ग़ज़ल का हर शे’र आजाद होने के कारण शायर के पास अपनी बात कहने के मौके ज्यादा होते हैं | वह एक ही ग़ज़ल में विभिन्न पहलुओं को उठा पाने में सफल रहता है | रूप देवगुण का गजल संग्र...
Virk's View...
Tag :रूप देवगुण
  October 11, 2017, 5:36 pm
कविता-संग्रह – सिर्फ तुम से ही कवयित्री –विम्मी मल्होत्रा प्रकाशन –समर पेपरबैक्स पृष्ठ – 102 कीमत – 110 /- ( पेपर बैक )प्यार और इन्तजार की बात करती कविताओं का गुलदस्ता है ‘ विम्मी मल्होत्रा’ का प्रथम कविता-संग्रह “सिर्फ तुम से ही ” | पुस्तक का शीर्षक ही विषय वस्तु को ब्यान कर...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  October 4, 2017, 5:52 pm
पुस्तक – मन दर्पण लेखक – माड़भूषि रंगराज अयंगर प्रकाशक – बुक बजूका कीमत – 175 /-पृष्ठ – 166 ( पेपरबैक )माड़भूषि रंगराज अयंगर कृत ‘ मन दर्पण’ 5 गद्य और 60 पद्य रचनाओं से सजा संग्रह है | इन 65 रचनाओं में लेखक ने निजी पीडाओं, निजी अनुभवों और सामाजिक मुद्दों पर अपनी लेखनी चलाई है |   &nbs...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  September 27, 2017, 7:55 pm
कविता-संग्रह –अर्चना के उजालेकवि – ज्ञानप्रकाश ‘ पीयूष ’प्रकाशक –सुकीर्ति प्रकाशन, कैथल पृष्ठ – 160 कीमत – 400 /- ( सजिल्द )जीवन कैसा है, कैसा होना चाहिए और आदर्श जीवन के लिए कैसी जीवन शैली अपनाई जाए, इसका चिन्तन बुद्धिजीवी वर्ग करता ही है | इसी प्रकार का चिन्तन झलकता है ‘ ज्ञा...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  September 20, 2017, 8:05 pm
बाल कहानी-संग्रह –बचपन के आईने सेकहानीकार – डॉ. शील कौशिक प्रकाशक – अमृत बुक्स, कैथल पृष्ठ – 88 कीमत – 250/- ( सजिल्द )बाल साहित्य लिखते समय लेखक के सामने सबसे बड़ी चुनौती होती है कि वह अपने स्तर को बच्चों के स्तर तक लेकर जाए, तभी वह बच्चों के प्रिय विषयों को चुन सकता है और विषयों...
Virk's View...
Tag :पुस्तक जो मैंने पढ़ी
  September 13, 2017, 7:43 pm
पुस्तक - आज के प्रसिद्ध शायर बशीर बद्र संपादक - कन्हैयालाल नन्दन प्रकाशक - राजपाल प्रकाशन कीमत - 150 / - ( पेपर बैक )ग़ज़ल की विशेषता यह है कि इसके अकेले-अकेले शे'र लोगों की जबान पर चढ़कर अमरता हासिल कर लेते हैं | शायरी में रुचि रखने वाला हर शख्स इन पंक्तियों से वाकिफ होगा ही -&nbs...
Virk's View...
Tag :
  June 14, 2016, 11:25 pm
शिक्षा का जीवन में स्थान अत्यंत महत्त्वपूर्ण है | दरअसल शिक्षा ही मानव को मानव बनाती है | प्रत्येक राष्ट्र का कर्त्तव्य बनता है कि वह अपने नागरिकों को शिक्षित करे | आजादी के बाद ही नहीं, अपितु आजादी के पूर्व भी भारत में निशुल्क शिक्षा का समर्थन किया गया | स्वर्गीय गोपाल क...
Virk's View...
Tag :
  June 1, 2016, 9:49 pm
कहानी संग्रह - वो अजीब लड़की लेखिका - प्रियंका ओम प्रकाशक - अंजुमन प्रकाशन कीमत - 140 /- ( पेपरबैक )पृष्ठ - 152विपरीत लिंगियों में आकर्षण का होना स्वाभाविक है | प्यार का संबंध भले आत्मा से है, लेकिन देह का अपना महत्त्व है | आकर्षण की यात्रा देह से आत्मा तक सफर करती ह...
Virk's View...
Tag :
  May 25, 2016, 6:33 pm
बाल कविता संग्रह - आसमान है नीला क्यों कवयित्री - डॉ. आरती बंसल प्रकाशक - प्रगतिशील प्रकाशन, नई दिल्ली पृष्ठ - 88 ( पेपरबैक )कीमत - 150 / - "प्रत्येक देश का साहित्य वहां की जनता की चित्तवृति का प्रतिबिम्ब होता है | "- आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का यह वेद वाक्य बाल साहित्य प...
Virk's View...
Tag :
  May 16, 2016, 7:27 pm
पुस्तक -प्रेम और सौन्दर्य के कवि कविवर सुधाकर संपादक द्वय -अनीता पंडित, युगल किशोर प्रसाद प्रकाशन -कविता कोसी पृष्ठ -248 ( पेपरबैक )कीमत - 350 / - किसी भी साहित्यकार के जीवन, व्यक्तित्व और कृतित्व का समग्र मूल्यांकन न सिर्फ साहित्यकार विशेष के लिए जरूरी होता है, अपितु ...
Virk's View...
Tag :
  May 11, 2016, 8:25 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3774) कुल पोस्ट (176968)