Hamarivani.com

anjana

मंजिल की तलाश करते करते,दिशाहीन हो के रह गयेहै यही नसीब का खेल शायद,हो गई दफन वो मंजिले-आरजू पडते है पग बस उस राह पर ,जो न पहूँचे किसी मंजिल पर रास्ता जो है दिखता,उस पर चलते गये ।दिन हो या रातइक लाश सा बोझिल शरीर लिएयूँ ही चलते चले गये । अंजना..चित्र गूगल साभार ...
anjana...
anjana
Tag :
  April 12, 2014, 3:47 pm
दुख भी है गम भी हैदुख गमगीन दुनिया मेंगुजर रहे है यूहीं तन्हारिश्ते है जिस्म के बसदूर है शायद रुह की मंजिल पल -पल हो रहा है एहसास आ गई है मंजिल करीब धोखा है महज सिर्फमोड है केवल येन जाने कितने मोड है अब बाकि.....Anjannaचित्र गूगल साभार्...
anjana...
anjana
Tag :सर्वाधिकार सुरक्षित
  June 9, 2013, 12:24 pm
दुख रुपी परतो के अवरण मेंफँसी ये हँसी …चीखती है, चिल्लाती है...कर दो आजाद मुझेदुख व डर की..सलाखो को निहारती ये हँसी...मौन हो मन ही मन बुदबुदातीकर दो आजाद अब तो मुझेतभी दुखी परते सुन ये बुदबुदाहटफैलाती है अपने पँख ओर ले लेती है फिर अपनी ओट मे..मौन के सन्नाटे मे फिर..खत्म हुआ अस...
anjana...
anjana
Tag :सर्वाधिकार सुरक्षित
  June 28, 2012, 4:55 pm
हर पल हर लम्हा जाता है गुजररह जाती है बस यादें शेष भविष्य के दर्पण मे जब भी खुलता है भूतकाल का वो अक्स होता है इक सुखद अहसास फिर मन को …उम्र के उस दराज मेंये स्मृतियाँ ही रह जाती है शेष ..दे जाती है जोइक मीठी सी..चुभन दिल को..उमंग और उत्साह कोचित्रित करते ये चित्रबोझिल होते उ...
anjana...
anjana
Tag :
  May 6, 2012, 1:48 pm
अपने ही जब देने लगे दर्द तो...क्या है जीने में मजाविश्वास का नीव ही हिल जाएँ तो ...क्या है जीने मे मजाअश्क जब बन जाएँ खून तो ...क्या है जीने में मजा नैया रहे जब बिन मांजी तो.... क्या है जीने मे मजा अंजना ...
anjana...
anjana
Tag :सर्वाधिकार सुरक्षित
  April 13, 2012, 9:11 pm
हर टूटे रिश्ते की नींव होती है शुरुशव्द रुपी प्रहार सेलाठी हो या पत्थर होता है बस जिस्म ही घायल जिस्म की हड्डियो की टूटन कुछ दवा व प्रेम की महलम से     हो जाते है खत्म, लेकिन..शब्दों के प्रहार का दर्द्कर् जाता है हर रिश्ते को  घायल ।(अंजना )चित्र गूगल सर्च से साभार   ...
anjana...
anjana
Tag :
  April 13, 2012, 11:42 am
खुशी हो कर भी खुशी का एहसास नहीं  ।दर्द ए चुभन हो कर भी चुभन का एहसास नही ।ऎसा हुआ है क्या ?कि इस गहराई में डूब कर भीडूबने का एहसास नही ।(अंजना )चित्र गूगल साभार ...
anjana...
anjana
Tag :
  April 7, 2012, 6:54 pm
तेरी जुदाई के डर सेकाँप जाता है दिल मेरा तेरे बिन जीने के खयाल सेसहर जाता है बदन मेरातेरे दिल की धड़कन से ही धडकता है दिल मेरा आज तू है तो है वजूद तेरे बिन न कोई वजूद मेरा ...
anjana...
anjana
Tag :सर्वाधिकार सुरक्षित
  February 15, 2011, 10:54 am
 तूफान आया , जब  शांत  हुआ दरियासोचा  चलो  निकाल लो कश्तीचल पडे राह पर फिर अपनेदिल मे थे अरमानआँखो मे थी कुछ नमीपहुँचे जब किनारे के करीबपाने को थे अभी मंजिल कोआया जोश लहरो कोपहुँचा दिया भँवर में हमें फिरउठी आँधी, फिर जलते अरमानो कीजिसे फिर दिया नाम लोगो नेअलग अलग फरमानो...
anjana...
anjana
Tag :सर्वाधिकार सुरक्षित
  December 2, 2010, 12:02 pm
जख्म से रिसते लहू का गिरना न देख पाये हम अब ।मौत की वादी में खुशी का अहसासन कर पाये हम अब ।हर चेहरे के पीछे इक नया चेहरान सह पाये हम अब ।समुद्र की तूफानी लहरों में जीने की आशा..न धोखा दे पाये मन को हम अब ।झोली में हो कांटे और करुं फूल का अहसासन ये कर पाये हम अब ।गम में हर्ष की ...
anjana...
anjana
Tag :सर्वाधिकार सुरक्षित
  July 28, 2010, 12:01 pm
दुनिया है गोल रंगबिरंगे रंगो की तरह है सब लोग...
anjana...
anjana
Tag :
  May 26, 2010, 4:27 pm
 लडकी अपने मायके मे अपने आप का रिश्ता छोड़ आती है। यानि  वह एक लड़की का रिश्ता छोड एक नया औरत का रिश्ता सुसराल मे निभाती है।जहाँ बहू,पत्नी, का रिश्ता जोड पति को पाती है।...
anjana...
anjana
Tag :
  April 21, 2010, 9:28 pm
मुझे से किसी ने प्रश्न किया कि लड़की की जब शादी होती है तो जो रिश्ते उस के मायके मे छुट जाते है उस के बदले उसे सुसराल मे वही रिश्ते मिल जाते है।जैसे माँ के रुप मे सास ,पिता के रुप मे ससुर ,भाई के रुप मे देवर , बहन के रुप मे ननंद ,लेकिन ऎसा कौन सा रिश्ता छोड़ती है कि उसे पति मिलत...
anjana...
anjana
Tag :
  April 18, 2010, 4:51 pm
स्वार्थ का आंचल थामे ये दुनिया व्यर्थ का ढोग रचाती येदुनिया जाने किस ओर जायेगी ये दुनिया पीडित हो उठा है मन देख ये दुनिया जीवन का अंत मात्र शून्य ही तो है फिर भी कपट का दामन न छोडेये दुनिया...
anjana...
anjana
Tag :सर्वाधिकार सुरक्षित
  April 13, 2010, 4:03 pm
ये गिलहरी जब मेरे घर आई तो उसे भूखा देख झट से मैने उसे रोटी डालदी और भूखी होने के कारण झटपट रोटी को कुतर कुतर कर खाने लगी । मैभी उसे खाती देखती रही ।सोचा चलो इन लम्हो को कैद कर ले ,झट से कैमरा ले कर आ गये । पास जाकर तस्वीर खीची वो तस्वीर आप भी देखे।कितनी प्यारी लग रही है न ... ...
anjana...
anjana
Tag :
  April 6, 2010, 2:12 pm

...
anjana...
anjana
Tag :
  January 1, 1970, 5:30 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3666) कुल पोस्ट (165838)