साहित्य शिल्पी

"दिख रहीं हैं न चाँद सितारों की खूबसरत दुनिया|"आकाश में अदिति को टेलेस्कोप पर उसके शिक्षक दिखातें हुये बोलें | "देखो जो ये सात ग्रह पास पास हैं , वो 'सप्त ऋषि'हैं और जो सबसे चमक दार तारा उत्तर में हैं , वह 'ध्रुव तारा' | जिसने अपने निरादर का बदला, तप करके सर्वोच्च स्थान को पा कर ...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  May 7, 2015, 12:00 am
आप यहाँ , आज से पच्चास साल बाद, थियेटरों में रिलीज हो के तहलका मचा देने वाली फ़िल्म, ‘सिंघम रिटर्न ५३ ‘की समीक्षा पढ़ने जा रहे हैं। वैसे हमारे देश में किसान समस्या पर गिनी चुनी फिल्में ही बनी हैं। आज के जमाने में ,‘सुक्खी-लाला’ वाला पंच,बिरजू डाकू..... और बेटे को बन्दूक से ...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  May 6, 2015, 12:00 am
टायरों की जली काली मिट्टी से सनामोबिल में लिपटा काला लड़का जब हँसता है तो पूरी दुनिया उसकी सफेद दूधिया दाँतों में फँस जाती है l रात है गहरी -छोटी सी दुनिया में मस्त ये छौरेगैराज में छितरा रहे इधर-उधर -पसर रहे गमछे बिछाअपने बटुए टटोलतेपेट में पैर डालआधी नींद मेंअगले बस ...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  May 5, 2015, 12:00 am
वह युग के मूल्यों को निश्चित करता है। वह युग में क्या अच्छा है निश्चित करता है। वह युग में क्या सत्य है निश्चित करता है। यही है जो बताता है; बुद्ध क्या है? ‘बुद्ध का पुनर्जन्म’ जापानी धर्मगुरु रहुयो ओकावा की चर्चित पुस्तक है जिससे उद्धरित ये पंक्तियाँ बुद्ध की खोज में ...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  May 4, 2015, 9:02 am
"सर जी ................!""सर जी ................!""सर जी ! मेरी बात सुनो|""अरे देख नहीं रहा, जरूरी बात हो रही है, थोड़ी देर रुक नहीं सकता? "सर जी, जरूरी क्या! आधे घंटे से आप तो प्रॉपर्टी की बात कर हैं| जबकि मैं अपना काम छोड़कर आपसे अपने बच्चे की पढ़ाई के बारे में पता करने आया हुँ|""बात क्या करनी है, तेरा बच्चा...
साहित्य शिल्पी...
Tag :सुरेन्द्र कुमार अरोड़ा
  May 3, 2015, 12:00 am
2014 का पद्मभूषण डॉ. मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार डॉ. सुधा ओम ढींगरा को दिया जाएगा, इसकी घोषणा दिनांक 24 अप्रैल, 2015 (शुक्रवार) को भारतीय प्रेस क्लब, नई दिल्ली में केंद्रीय हिंदी शिक्षण मंडल के माननीय उपाध्यक्ष डॉ.कमल किशोर गोयनका की अध्यक्षता में आयोजित प्रेस कॉन्फ़्रेंस म...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  April 30, 2015, 12:00 am
जापान के एक लोकप्रिय कथा संग्रह 'होबुत्सुशू'में संक्षिप्त राम कथा संकलित है। इसकी रचना तैरानो यसुयोरी ने बारहवीं शताब्दी में की थी।१ रचनाकार ने कथा के अंत में घोषणा की है कि इस कथा का स्रोत चीनी भाषा का ग्रंथ 'छह परिमिता सूत्र'है।२ यह कथा वस्तुत: चीनी भाषा के 'अनामकंजात...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  April 29, 2015, 12:00 am
हे स्वामी ! तुम्हें आह लगेगी उन कन्याओं की जिनके साथ आस्था के नाम पर छल करते हुये यौन दुष्कर्म करने का अभ्यस्त रहा है एक ढोंगी संत । ढोंगी संत के संकेत पर उसके पाखण्डी शिष्य हत्या कर देते हैं साक्षियों की .... उन साक्षियों की हत्या जो कूद पड़ते हैं मैदान में अपनी अंतरात्मा क...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  April 28, 2015, 12:00 am
लड़की ने काफी कोशिश की लड़के की नज़रों को नज़रअंदाज़ करने की। कभी वह दाएँ देखने लगती, कभी बाएँ। लेकिन जैसे ही उसकी नज़र सामने पड़ती, लड़के को अपनी ओर घूरता पाती। उसे गुस्सा आने लगा। पार्क में और भी स्टूडैंट्स थे। कुछ ग्रुप में तो कुछ अकेले। सब के सब आपस की बातों में मशगू...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  April 27, 2015, 12:00 am
   मुंबई : आफताब आलम द्वारा संपादित भारत की प्रथम मीडिया डायरेक्टरी "पत्रकारिता कोश"के 15वें अंक का विमोचन आशीर्वाद संस्था द्वारा अजंता पार्टी हॉल, गोरेगांव (पश्चिम) में सोमवार, दिनांक 4 मई, 2015 को सायं 6 बजे होगा। संस्था के चेअरमैन बृजमोहन अग्रवाल के अनुसार लिम्का बुक ऑफ र...
साहित्य शिल्पी...
Tag :
  April 26, 2015, 12:00 am
बहुत दिन हो गए मान थाने नहीं गया। पत्नी रोज कहती जाओ आज शिकायत कर आओ पर उसका विश्वास टूट चुका था। वह बहुत अधिक भयभीत था। पुलिस के नाम से थर थर कापता था। एक बार वह थाने गया था तो कोतवाल ने उसे ही मारा पीटा और तो और दुबारा न आने की बात भी तो कही थी। पड़ोस के दबंग लोग उसका निकास ब...
साहित्य शिल्पी...
Tag :लघु कथा
  April 25, 2015, 12:00 am
आखिर हम कैसे भूल गये, मेहनत किसान की, दिन हो या रात उसने, परिश्रम तमाम की। रचनाकार परिचय:- लेखक, कवि, व्यंगकार, कहानीकार, फिलहाल एक टीवी न्यूज ऐजेंसी से जुड़े हुए है। जाड़े की मौसम वो, ठंड से लड़े, तब जाके भरते, देश में फसल के घड़े। गर्मी की तेज धूप से, पैर उसका जले, मेहन...
साहित्य शिल्पी...
Tag :रवि श्रीवास्तव
  April 24, 2015, 12:00 am
रचनाकार परिचय:- श्रीमती सुधा भार्गव का जन्म ८ मार्च, १९४२ को अनूपशहर (उत्तर प्रदेश) में हुआ। बी.ए., बी.टी., विद्याविनोदिनी, विशारद आदि उपाधियाँ प्राप्त सुधा जी का हिन्दी भाषा के अतिरिक्त अंग्रेजी, संस्कृत और बांग्ला पर भी अच्छा अधिकार है। बिरला हाईस्कूल, कोलकाता में २२ ...
साहित्य शिल्पी...
Tag :सुधा भार्गव
  April 23, 2015, 12:00 am
सीख रहा हूँ, कलम पकडना सीख रहा हूँ, आडी- तिरछी रेखाओं से, तस्वीर बनाना सीख रहा हूँ, रचनाकार परिचय:- नाम:- मनोरंजन कुमार तिवारी जन्म तिथि:- 06/01/1980 जन्म स्थान:- भदवर, जिला- बक्सर, बिहार पिता का नाम:- श्री कामेश्वर नाथ तिवारी गाँव:- भद्वर, जिला- बक्सर, बिहार वर्तमान पत्ता:- C/o- कर्ण स...
साहित्य शिल्पी...
Tag :मनोरंजन कुमार तिवारी
  April 22, 2015, 12:00 am
जिस गोदी में हरकोई, प्रथम नींद से जगता है ! जिस पयधारा को पीकर, हष्ट-पुष्ट सा लगता है ! उस गोदी, उस धारा की, स्वामिन तुम कब जागोगी ? कब अपने अधिकारों को, अधिकारी-सा मांगोगी ? रचनाकार परिचय:- वर्त्तमान में कक्षा बारहवीं के छात्र पियुष द्विवेदी ‘भारत’ उत्तर प्रदेश ...
साहित्य शिल्पी...
Tag :पीयूष द्विवेदी
  April 21, 2015, 12:00 am
मकसद हो तो आना जाना अच्छा लगता है निभ जाए तो वफा ,निभाना अच्छा लगता है रचनाकार परिचय:- यत्रतत्र रचनाएं ,कविता व्यंग गजल प्रकाशित | दिसंबर १४ में कादम्बिनी में व्यंग | संप्रति ,रिटायर्ड लाइफ ,Deputy Commissioner ,Customs & Central Excise ,के पद से सेवा निवृत, वडोदरा गुजरात २०१२ में सुशील यादव New Adarsh N...
साहित्य शिल्पी...
Tag :सुशील यादव
  April 20, 2015, 12:00 am
अहद एक मुसलमान है. मुसलमान इसलिए क्योंकि वह एक मुस्लिम परिवार में पैदा हुआ है। हां ये बात अलग है कि वह कभी इस बात पर जोर नहीं देता है कि वह मुसलमान है। वह मुसलमान है तो है। क्या फर्क पड़ता है? और क्या जरुरत है ढि़ंढोरा पीटने की? वह कभी इन बातों पर गौर नहीं करता है। लेकिन उस...
साहित्य शिल्पी...
Tag :क़ैस जौनपुरी
  April 19, 2015, 12:00 am
नौटंकी लाल को लेंस वाले चश्में पहनकर सोते हुये देखकर मेरा दिमाग घूम गया। चश्में के प्रति इतनी आसक्ति समझ मे नही आ रही थी। आँखे कमजोर हो जाने पर लोग दिनभर चश्मा लगाते हैं, ये अलग बात है पर नींद मे चश्मा लगाकर सोना घोर आश्चर्य का विषय था। रचनाकार परिचय:- नामः-वीरेन्द्र ‘...
साहित्य शिल्पी...
Tag :व्यंग्य
  April 18, 2015, 12:00 am
उसके बीवी बच्चे नहीं थे | इसलिए सब उसके अपने थे | जब जिसने काम बताया निस्वार्थ भाव से कर दिया | रचनाकार परिचय:- रचना व्यास मूलत: राजस्थान की निवासी हैं। आपने साहित्य और दर्शनशास्त्र में परास्नातक करने के साथ साथ कानून से स्नातक और व्यासायिक प्रबंधन में परास्न...
साहित्य शिल्पी...
Tag :लघुकथा
  April 17, 2015, 12:00 am
मिर्ची बहुत तेज सब्जी में. कैसे खाऊँ खाना| रचनाकार परिचय:- श्री प्रभुदयाल श्रीवास्तव का जन्म- 4 अगस्त 1944 को धरमपुरा दमोह (म.प्र.) में हुआ। वैद्युत यांत्रिकी में पत्रोपाधि प्राप्त प्रभुदयाल जी विगत दो दशकों से अधिक समय से कहानी, कवितायें, व्यंग्य, लघु कथाएं, लेख, बुंदेल...
साहित्य शिल्पी...
Tag :बाल कविता
  April 16, 2015, 12:00 am
अब खेल इस जहाँ के सभी जान तो गया पर पेट की ही आग में ईमान तो गया रचनाकार परिचय:- नाम- बृजेश नीरज पिता- स्व0 जगदीश नारायण सिंह गौतम माता- स्व0 अवध राजी जन्मतिथि- 19-08-1966 जन्म स्थान- लखनऊ, उत्तर प्रदेश भाषा ज्ञान- हिंदी, अंग्रेजी शिक्षा- एम0एड0, एलएल0बी0 लेखन विधाएँ- छंद, छंदमुक्त, ...
साहित्य शिल्पी...
Tag :बृजेश नीरज
  April 15, 2015, 12:00 am
कुछ दिन पहले की बात है। यहीं कोई दो माह पहले की। मुझे अपने कार्यक्षेत्र, अपने विद्यालय से एक परियोजना पर काम करने का अवसर मिला था। पर्यावरणीय चिंतन। र्पावरणीय चिंतन पर कुछ काम करते हुए मुझे जलवायु परिर्वतन पर कुछ तथ्य प्रस्तुत करना था। चिंता में सराबोर करने वाले तथ्य...
साहित्य शिल्पी...
Tag :केशव मोहन पाण्डेय
  April 14, 2015, 12:00 am
सुधीर की पत्नी मालती की डिलीवरी हुए आज पांच दिन हो गए थे| उसने एक बच्ची को जन्म दिया था और वह शहर के सिविल हॉस्पिटल में एडमिट थी| सुधीर और उसके घर वालों ने बहुत आस लगा रखी थी की उनके यहाँ लड़का ही पैदा होगा| सुधीर की माँ मालती का गर्भ ठहरने के बाद अब तक कितनी सेवा और देखभाल कर...
साहित्य शिल्पी...
Tag :लघु कथा
  April 13, 2015, 12:00 am
बचा है अब यही इक रास्ता क्या मुझे भी भेज दोगे करबला क्या तराजू ले के कल आया था बन्दर तुम्हारा मस्अला हल हो गया क्या रचनाकार परिचय:- पेशे से पुस्तक व्यवसायी तथा इलाहाबाद से प्रकाशित त्रैमासिक ’गुफ़्तगू’ के उप-संपादक वीनस केसरी की कई रचनाएं विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में...
साहित्य शिल्पी...
Tag :वीनस केसरी
  April 12, 2015, 12:00 am
कोख में आने से अब तक तुम्हारा स्पर्श, अहसास चहुँ ओर बिखरी तुम्हारी यादें, तुम्हारी खनकती हँसी, तुम्हारी शरारतें, रचनाकार परिचय:- शबनम शर्मा, अनमोल कुंज, पुलिस चौकी के पीछे, मेन बाजार, माजरा, तह. पांवटा साहिब, जिला सिरमौर, हि.प्र. – 173021 मोब. - 09816838909, 09638569237 फिर कई तरह की मनुहा...
साहित्य शिल्पी...
Tag :शबनम शर्मा
  April 11, 2015, 12:00 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]
Share:
  गूगल के द्वारा अपनी रीडर सेवा बंद करने के कारण हमारीवाणी की सभी कोडिंग दुबारा की गई है। हमारीवाणी "क्...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3341) कुल पोस्ट (132128)