Hamarivani.com

हक और बातिल

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); रिश्तेदारों से दूरी मौत को क़रीब लाती हैकुलैनी अपनी पुस्तक अलकाफ़ी में लिखते हैं कि एक व्यक्ति इमाम सादिक़ (अ) के पास आया और कहने लगा मौला मेरे चचा के बेटे ने मेरा जीना दूभर कर दिया है। और मुझे इतना विवश कर दिया है कि अब मेरा जीवन केवल एक कमरे में सिमट ...
हक और बातिल...
Tag :
  June 20, 2017, 1:13 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); बहाने बाज़ीजुनेद बग़दादी कहते हैं मुझे शैतान से मुलाक़ात का शौक़ था एक दिन मैं मस्जिद के द्वार पर खड़ा था कि अचानक एक बूढ़ा दूरे से आता हुआ दिखाई दिया, जब वह क़रीब आया तो उसे देख कर मुझे डर लगने लगा।मैने उससे पूछाः तुम कौन हो?उसने उत्तर दियाः मैं तुम्...
हक और बातिल...
Tag :
  June 20, 2017, 1:09 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मोमिन को प्रसन्न करना बेहतरीन इबादतइमाम हुसैन (अ) ने फ़रमाया मेरे नाना रसूले ख़ुदा (अ) का कहना है किः नमाज़ के बाद बेहतरीन कार्य यह है कि मोमिन को ऐसे कार्यों और माध्यमों से प्रसन्न किया जाए जो ख़ुदा के आदेशों की अवहेलना में उपयोग न किए जाते हों।मैं अ...
हक और बातिल...
Tag :
  June 20, 2017, 1:06 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इब्राहीम बिन हाशिम कहते हैं मैंने अरफ़ात में अब्दुल्लाह बिन जुनदब से अधिक दुआ मांगने वाला कोई व्यक्ति नहीं देखा। मैंने देखा कि हर समय उनके हाथ आसमान की तरफ़ उठे हुए हैं और उनकी आँखों से आँसुओं की बरसात हो रही है।मैंने उनसे कहा कि अरफ़ात के मैदान में...
हक और बातिल...
Tag :
  June 20, 2017, 1:04 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); माता-पिता की नारज़गी मौत को कठिन बना देती हैएक व्यक्ति की मौत का समय आ चुका था। उस व्यक्ति की मौत का समय तो आ चुका था लेकिन किसी प्रकार भी आत्मा उसके शरीर से निकल नही पा रही थी। रसूले इस्लाम (अ) उसके पास पहुँचे।आपने उसे आवाज़ दी और पूछा इस समय तुम्हें क्...
हक और बातिल...
Tag :
  June 19, 2017, 1:54 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); कभी किसी को बुराभला न कहोएक दिन पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मुहम्मद मुस्तफ़ा (स) के पौत्र इमाम जाफ़र सादिक़ अलैहिस्सलाम अपने एक साथी के साथ बाज़ार से गुज़र रहे थे।  इमाम के साथी के पीछे-पीछे उसका एक दास चल रहा था। एक बार इमाम सादिक़ के साथी ने पीछे मुड...
हक और बातिल...
Tag :
  June 19, 2017, 1:41 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); दुनिया का पहला क़त्लसकीना बानों अलवीहम आपके सामने आज दुनिया के पहले क़ल्त के बारे में बयान करने जा रहे हैं।ईश्वर ने सारे इन्सानों के पिता हज़रत आदम अलैहिस्सलाम को सम्बोधित किया और फ़रमायाः आप अपने छोटे बेटे हाबील को अपना उत्तराधिकारी घोषित करें ...
हक और बातिल...
Tag :
  June 19, 2017, 1:38 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इमाम ज़ैनुल आबेदीन (अ.) ने फ़रमाया: अल्लाह का तुम पर हक़ यह है कि उसकी आराधना करो और किसी चीज़ को उसका साथी न बनाओ, और अगर सच्चे दिल से यह किया तो अल्लाह ने वादा किया है कि वह तुम्हारे दुनिया और आख़ेरत के कार्यों को पूरा करे और जो तुम उसस चाहो वह तुम्हारेब...
हक और बातिल...
Tag :
  June 19, 2017, 12:49 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); Discover Jaunpur , Jaunpur Photo AlbumJaunpur Hindi Web , Jaunpur Azadari...
हक और बातिल...
Tag :
  June 18, 2017, 2:54 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); नज़्म "बाप "रज़ा सिरसवीDIN DHALE JAB KARKE MAZDOORI RAZA AATA HAI BAAP,DEKH KAR HASTE HUYE BACHCHO KO SUKH PATA HAI BAAP.SAMNE ANKHO KE JIS BETE KE MAR JATA HAI BAAP,LAMHA LAMHA ZINDAGI BHAR USKO YAAD AATA HAI BAAP.QADRO-KIMAT JAB PATA CHALTI HAI MAA AUR BAAP KI,JAB KHUDA KE FAZAL SE INSAAN BAN JATA HAI BAP.AIK BACHCHE KI TALAB MAIN CHORKAR ARAAM-O-CHAIN,JANE KIS KIS DAR PAA MANNAT MANGNE JATA HAI BAAP.MADIR-O-MASJID MAZAAR-O-GIRJA GURDUAWARE KABHI,PEERO-SUFI-SANT MULLAA-O KE GHAR JATA HAI BAAP.JAB TALAK BACHCHA NA HO KASA ZARORAT KE LIYE,BAS KHUDA JANE KI KITNI THOKRE KHATA HAI BAAP.AISA LAGTA HAI KE JESE CHAL ...
हक और बातिल...
Tag :
  June 18, 2017, 1:05 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); एक दिन हज़रत मूसा अलैहिस्लाम कोहे तूर पर तशरीफ ले जा रहे थे। रास्ते में उनकी मुलाकात एक इंसान से हुई जो अल्लाह की इबादत मैं लगा हुआ था ओर इतना कमज़ोर हो गया था की चल भी नहीं सकता था।हज़रत मूसा अलैहिस्लाम ने पूछा कि ऐ इंसान  तुझ को खाना पानी कौन देता ह...
हक और बातिल...
Tag :teachings
  June 18, 2017, 9:38 am
ईद मे गरीबो का ख्याल अवश्य रखे |  फ़ितरा उस धार्मिक कर को कहते हैं जो प्रत्येक मुस्लिम परिवार के मुखिया को अपने परिवार के प्रत्येक सदस्य की ओर से निर्धनों को देना होता है|  रमज़ान में चरित्र और शिष्टाचार का प्रशिक्षण लिए हुए लोग इस अवसर पर फ़ितरा देने और अपने दरिद्र भ...
हक और बातिल...
Tag :FEATURED
  June 17, 2017, 9:37 pm
ज़िआरत ए मासूमीन (अस) और ज़िआरत ए वारिसाइमाम अली (अस ) की वसीयत और हमजवानों को इमाम अली (अ) की वसीयतें...
हक और बातिल...
Tag :
  June 16, 2017, 5:23 pm
पैग़म्बरे इस्लाम सल्लल्लाहो अलैहे वआलेही वसल्लम ने कहा कि हे अली, जिब्राईल ने मुझे तुम्हारे बारे में एक एसी सूचना दी है जो मेरे नेत्रों के लिए प्रकाश और हृदय के लिए आनंद बन गई है। उन्होंने मुझसे कहाः हे मुहम्मद, ईश्वर ने कहा है कि मेरी ओर से मुहम्मद को सलाम कहों और उन्ह...
हक और बातिल...
Tag :
  June 16, 2017, 5:22 pm
जी हाँ आज भी हज़रत मुहम्मद (स.अ.व) की औलाद दुनिया भरके मुसलमानों से पूछती है हमारा कुसूर क्या था किबाद वफात ए रसूल ए खुदा हज़रत मुहम्मद(स.अव) हम पे इतने ज़ुल्म हुएकिजिनको सुन कर आम इंसान के भी रोंगटे खड़े हो जाते हैं.   जनाब ए फातिमा (स.अ) को कहना बड़ा बाबा के बाद हम पे इतने ज़ु...
हक और बातिल...
Tag :Current Issues
  June 16, 2017, 5:21 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); हजरत अली अलैहिस्सलाम की वसीयत की कुछ अहम् बातें |1. तक्वा अखियार करो और अल्लाह से डरते रहो |२. ज़िन्दगी में अनुशासन पे ध्यान दो और अपने कामो को आसान बनाओ |३. लोगो के बीच मतभेदों को दूर करो |४. लोगों की समस्याओं का संधान किया करो |५. पड़ोसियों से अच्छे ताल्लुक ...
हक और बातिल...
Tag :शब् ऐ कद्र
  June 14, 2017, 7:04 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस्लाम का एक कानून है कि नेकी जितना हो लोगों तक पहुँचाओ उसे जिंदा रखो और बुराई जितना संभव हो दबाव और उसे बढ़ने से रोकते रहो | इसी कानून को ध्यान में रखते हुयी आज जो इस्लाम की मशहूर हस्तियाँ है उनके रौज़े बनाया जाते हैं और जो इस्लाम के याद रखने वाले ,इबरत द...
हक और बातिल...
Tag :
  June 14, 2017, 11:09 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); हिजरत के पहले वर्ष बारह रमज़ान के दिन पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मुहम्मद सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम ने, मक्के से मदीने पलायन करने वालों, जिन्हें मुहाजिर कहा जाता था और मदीने में मुसलमानों की मदद करने वालों के बीच, जिन्हें अंसार कहा जाता था, भाईचार...
हक और बातिल...
Tag :
  June 9, 2017, 8:13 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); भारत देश हमेशा से मानवता से भरा  अमन पसंद देश कहलाता रहा है और इसी कारण से ना जाने कितने आतंकवादी हमले झेलने के बाद भी यह देश अमन पसंद ही रहा और यहाँ विदेशी ताक़तें आतंकवादी हमलों के बाद भी नाकामयाब ही रही है |इसी प्रकार शिया मुसलमानों की आतंकवाद से ल...
हक और बातिल...
Tag :NEWS
  June 8, 2017, 11:58 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस बात का ज़िक्र मुहर्रम में हर दिन होता है की कैसे मदीने से चला काफिला कर्बला में लुट के कैसे  मदीने वापस पहुंचा ? आखिर अपने वतन मदीने को हज़रत मुहम्मद (स.अ व ) के घराने को क्यू छोड़ना पड़ा ।कर्बला की कहानी ५ सफरों की  भरी कहानी है । ये बात २० रजब सन ६० ...
हक और बातिल...
Tag :rajab
  April 25, 2017, 10:58 pm
यह बड़ी मुताबर्रक रातों में से है क्योंकि यह रसूल अल्लाह (स:अ:व:व) के मोब'अस (तबलीग़ पर मामूर होने) की रात है और ईस रात के कुछ ख़ास अमाल हैं  1        मिस्बाह में शेख़ ने ईमाम अबू जाफ़र जवाद (अ:स) से नक़ल किया है की फ़रमाया : रजब महीने में एक रात हे की ईन सब चीज़ों से बेहतर...
हक और बातिल...
Tag :
  April 24, 2017, 5:32 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); दुआ # 1 – सुरः बक़रा (2/117) – आयात # 117.2.117: (वही) आसमान व ज़मीन का मोजिद है और जब किसी काम का करना ठान लेता है तो उसकी निसबत सिर्फ कह देता है कि ''हो जा''पस वह (खुद ब खुद) हो जाता है.दुआ # 2 – सुरः हूद (11/123) – आयात # 12311.123: और सारे आसमान व ज़मीन की पोशीदा बातों का इल्म ख़ास ख़ुदा ही को ...
हक और बातिल...
Tag :dua amaal
  April 24, 2017, 5:21 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});  सूरए निसा; आयतें 24-25 और विवाहित महिलाएं भी तुम पर हराम हैं सिवाए उनके जो दासी के रूप में तुम्हारे स्वामित्व में हों। ये ईश्वर के आदेश हैं जो तुम पर लागू किये गये हैं और जिन महिलाओं का उल्लेख हो चुका उनके अतिरिक्त अन्य महिलाओं से विवाह करना तुम्हार...
हक और बातिल...
Tag :मुताह और कुरान
  April 23, 2017, 10:59 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); सूरए मोमिनून, आयतें 25-30(विरोधियों ने कहाः) यह तो बस एक उन्माद ग्रस्त व्यक्ति है। तो कुछ समय तक इसकी प्रतीक्षा कर लो (कि यह मर जाए या उन्माद मुक्त हो जाए)। (23:25) नूह ने कहा हे मेरे पालनहार! इन्होंने जो मुझे झुठलाया है उस पर तू मेरी सहायता कर। (23:26)इससे पहले हज़र...
हक और बातिल...
Tag :आयतें 25-30
  April 23, 2017, 9:00 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); सूरए मोमिनून, आयतें 19-24,सूरए मोमिनून की 19वीं और 20वीं आयतफिर हमने उस (पानी) के द्वारा तुम्हारे लिए खजूरों और अंगूरों के बाग़ पैदा किए जिनमें तुम्हारे लिए बहुत अधिक फल हैं और उनमें से तुम खाते हो। (23:19) और वह वृक्ष भी जो सैना पर्वत से उगता है (और) तेल युक्त होत...
हक और बातिल...
Tag :आयतें 19-24
  April 23, 2017, 8:44 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3666) कुल पोस्ट (165829)