Hamarivani.com

हक और बातिल

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); अल्लामा ज़ीशान हैदर जव्वादी मरहूम के बेटे मौलाना एहसान हैदर का आज  मुंबई में हार्ट अटैक से इंतेक़ाल हो गया।  उनको कल उनके ाबाई वतन अल्लाहाबाद में सुपुर्दे ख़ाक किया जायेगा।मौलाना एहसान हैदर का भी इंतेक़ाल ठीक उसी तरह हुआ जैसे उनके वालिद का मजलिस ...
हक और बातिल...
Tag :
  May 30, 2018, 12:08 am
जब किसी का इंतेक़ाल हो जाता है तो उसकी कामयाबी की एक दलील यह भी हुआ करती है की हर शख्स उस से खुद का रिश्ता जोड़ने लगता है | दूरी रिश्तेदार जो उसकी ज़िन्दगी में कभी पूछने नहीं जाते थे वो भी दादा और परदादा , चाचा और मामू बताने लगते हैं कोई दोस्त तो कोई क़रीबी बताने लगता है |  यह ...
हक और बातिल...
Tag :
  May 25, 2018, 9:57 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); Discover Jaunpur , Jaunpur Photo AlbumJaunpur Hindi Web , Jaunpur Azadari...
हक और बातिल...
Tag :
  May 25, 2018, 5:22 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आल इंडिया मुस्लिम परसनल ला बॉर्ड के उपाध्यक्ष डॉ कल्बे सादिक़ ने रमज़ान और ईद के चाँद की तारीखों का एलान पहले से कर दिया है।आज डॉ कल्बे सादिक़ ने एलान किया कि 16 मई 2018 को रमज़ान का चाँद होगा और पहली रमज़ान 17 मई और ईद का चाँद 15 जून को नज़र आएगा इसलिए ईद 16 जून 2018 को ह...
हक और बातिल...
Tag :रमजान चाँद
  May 12, 2018, 6:00 pm
जैनब की आँखों में रास्ते की धूल थी, उसने अंगुलियों से आँखें मलीं ... हां, सामने मदीना ही था। नाना मुहम्मद का मदीना। जैनब की आँखें भर आयीं, लेकिन रोना किसलिए ?बग़ल वाले महमिल का पर्दा उठाये कुलसूम का मर्सिया झांक रहा था :ऐ नाना के मदीने,हमें स्वीकार न करहमें स्वीकार न कर क्...
हक और बातिल...
Tag :FEATURED
  April 3, 2018, 12:42 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); एक मरतबा पैगम्बर मोहम्मद(स.) अपने सहाबियों के साथ मस्जिद में बैठे हुए थे कि वहाँ एक अनजान शख्स आया और उन्हें अपशब्द कहने लगा। पैगम्बर(स.) ने अपने सहाबियों की तरफ देखा और कहने लगे तुममें से कौन है जो इसकी ज़बान काट सकता है? यह सुनकर दो तीन लोग तलवार व खंजर ...
हक और बातिल...
Tag :islam
  April 2, 2018, 9:43 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद की मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल और फाजिल की परीक्षाएं अगले महीने 16 अप्रैल से आरम्भ होगी। मदरसा परीक्षाएं प्रदेश के लगभग 700 परीक्षा केंद्रों पर होगी। परीक्षा केंद्रों के चयन की प्रक्रिया जारी है और इसी सप्ताह केंद्रों का ...
हक और बातिल...
Tag :
  March 30, 2018, 12:15 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इंसान क़त्ल किए गए बच्चों के शवों को देखने की हिम्मत नहीं जुटा पाता है। लेकिन आज ख़ुद मां बाप एक बड़ी संख्या में अपने ही बच्चों को पैदा होने से पहले ही ख़त्म कर देते हैं और उन्हें दुनिया में आकर ज़िंदगी गुज़ारने के अधिकार से वंचित कर देते हैं।क़ुरान...
हक और बातिल...
Tag :islamic teachings
  March 27, 2018, 1:33 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); लोगों के जीवन की सुरक्षा को विशेष महत्व प्राप्त है।  इस्लाम किसी भी स्थिति में हत्या को वैध नहीं ठहराता।  इस्लाम हत्या को बहुत ही बुरा काम समझता है और इसकी बहुत निंदा की गई है विशेषकर निर्दोषों की हत्या को पूरी मानवता की हत्या के समान बताया गया है...
हक और बातिल...
Tag :islamic history
  March 27, 2018, 10:06 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इंसान का सामना हमेशा, न्याय और अन्याय, समानता और पक्षपात, आज़ादी और अत्याचार, युद्ध और शांति जैसे विरोधाभासी विषयों से होता है। इस संदर्भ मे बड़ी से बड़ी चुनौतियों का सामना करने के बावजूद, वह अभी आदर्श स्थिति तक नहीं पहुंचा है।समस्त इंसानों में संयु...
हक और बातिल...
Tag :islamic teachings
  March 27, 2018, 10:04 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मसला अयातुल्लाह सीस्तानी1516। नमाज़े आयात की दो रकअतें हैं और हर रकअत में पाँच रुकूअ हैं। इस के पढ़ने का तरीक़ा यह है कि नियत करने के बाद इंसान तकबीर कहे और एक दफ़ा अलहम्द और एक पूरा सूरह पढ़े और रुकूअ में जाए और फिर रुकूअ से सर उठाए फिर दोबारा एक दफ़ा अलहम्द औ...
हक और बातिल...
Tag :dua
  January 31, 2018, 2:01 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); हज़रत फातिमा ज़हरा स.अ की तस्बीह की फ़ज़ीलत |तस्बीह के बारे मै अयातुल्लाह सय्यद अली नकी नकवी (नक्कन साहब)फरमाते है :कहीं से माले गनीमत में कुछ कनीज़े आई और वोह असहाब को तकसीम की जा रही थी -तो रिवायत बताती है के हज़रत अमीरुल मोमिनीन अली अ.स ने घर मै आकर फ़र...
हक और बातिल...
Tag :ahlubayt
  January 24, 2018, 1:21 pm
प्रिय पाठकों हम आपके सामने पैग़म्बर की इकलौती बेटी वह बेटी जिसे आपने अम्मे अबीहा कहा , वह बेटी जो सारे संसार की औरतों की सरदार हैं, वह बेटी जो सच्ची है, वह बेटी जो पवित्र है वह बेटी जिसका क्रोध पैग़म्बर का क्रोध हैं और जिसकी प्रसन्नता पैग़म्बर की प्रसन्नता है, के फ़िदक के...
हक और बातिल...
Tag :ख़ुतब ए फ़िदक
  December 9, 2017, 6:08 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); 1.    रसूले अकरम (स.अ.व.व)हमेशा मेरे उम्मती खैरो बरकत को देखेंगे जब तक की एक दूसरे से मौहब्बत करते रहे, नमाज पढ़ते रहे, जकात देते रहे और मेहमान की इज़्ज़त करते रहे।(अमाली शेख तूसी पेज न. 647 हदीस न. 1340)رسول اكرم صلى الله عليه و آله الدّعاء مفتاح الرّحمة و الوضوء مفتاح الصّلاة و ...
हक और बातिल...
Tag :Ahlebayt
  December 1, 2017, 9:42 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); 1. इमाम अली (अ.स.)जो शख्स भी कोई चीज़ अपने दिल मे छुपाने की कोशिश करता है तो उसके दिल की बात उसकी जबानी ग़लतीयो और चेहरे से मालूम हो जाती है।(नहजुल बलाग़ा, हदीस न. 25)    رسول اكرم صلى الله عليه و آله    مَنْ كانَ يُؤْمِنُ بِاللَّهِ وَ الْيَوْمِ الْآخِرِ فَلْيَقُلْ خَيْراً أَوْ لِ...
हक और बातिल...
Tag :Ahlebayt
  December 1, 2017, 9:37 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस्लाम  में शादी (निकाह) का तात्पर्य सेक्सी इच्छा की पूर्ति के साथ-साथ सदैव नेक व सहीह व पूर्ण संतान का द्रष्टिगत रखना भी है। इसी लिए आइम्मः-ए-मासूमिन (अ.) ने मैथुन के लिए महीना, तारीख, दिन, समय और जगह को द्रष्टिगत रखते हुवे अलग-अलग असरात (प्रभाव) बताये ह...
हक और बातिल...
Tag :sex in islam
  December 1, 2017, 11:05 am
विवाह मं लड़की की स्वीकृति इस्लाम की नज़र मंहज़रत अली अलैहिस्सलाम फ़र्माते हैं- मैं पैग़म्बर के पास गया और चुप-चाप उनके सम्मुख बैठ गया।पैग़म्बर ने पूछा – अबूतालिब के पुत्र क्यों आए हो?पैग़म्बरे इस्लाम सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही व सल्लम ने तीन बार अपना प्रश्न दोहराया। फि...
हक और बातिल...
Tag :Education
  December 1, 2017, 9:50 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); घ्रणित मैथुनःफक़ीहों (विद्धानों) ने आठ मौकों पर मैथुन करने को मक्रूह करार दिया है।1.चन्द्र ग्रहण की रात2.सूर्य ग्रहण का दिन3.सूर्य के पतन (गिराव अर्थात (12) बजे के आस-पास) के समय (ब्रहस्पतिवार के अतिरिक्त किसी दिन में)।4.सूर्य के डूबते समय, जब तक की लाली न छट...
हक और बातिल...
Tag :sex in islam
  November 30, 2017, 10:01 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मैथुन के तरीक़ेचूँकि इस्लाम की दृष्टि में शादी का वास्तविक और बुनियादी तात्पर्य शिष्टाचार (अख़्लाक़) और पाकदामनी (इस्मत) की हिफाज़त करते हुए औरत और मर्द का एक दूसरे के उचित (जाएज़, हलाल) अंगों से सेक्सी इच्छा की पूर्ति करना है। जिसका सम्बन्ध औऱत और म...
हक और बातिल...
Tag :sex in islam
  November 30, 2017, 9:52 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस्लाम वह बड़ा और अच्छा धर्म है जिसने ज़िन्दगी के सभी हिस्सों से सम्बन्घित हर बात को विस्तार से बयान किया है ताकि एक सच्चे मुसलमान को ज़िन्दगी के किसी भी हिस्से मे नाकामयाबी या मायूसी ना हो। इन्ही सब हिस्सो मे से एकहिस्सा सेक्स का भी है।आम तौर से सम...
हक और बातिल...
Tag :islam
  November 30, 2017, 8:35 am
ईदे ज़हरा क्या है ?  ‌‌‌लेखक: पैग़म्बर नौगांवीहमारे समाज में बहुत सी ईदें आती हैं जैसे ईद उल फि़त्र, ईदे क़ुरबान, ईदे मुबाहिला और ईदे ज़हरा वग़ैरह, यह सारी ईदें किसी वाक़ए की तरफ़ इशारा करती हैं।ईद उल फि़त्रः पहली शव्वाल को एक महीने के रोज़े पूरे करने का शुकराना और फि...
हक और बातिल...
Tag :तकलीद
  November 28, 2017, 2:24 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); अपने लिये और अपने दोस्तों के लिये इमाम सज्जाद अस की दुआ ( सहीफ़ ऐ सज्जदिया पांचवी दुआ |बिस्मिल्लाहिर रहमानिर रहीमऐ वह जिसकी बुज़ुर्गी व अज़मत के अजाएब ख़त्म होने वाले नहीं। तू मोहम्मद (स0) और उनकी आल (अ0) पर रहमत नाज़िल फ़रमा और हमें अपनी अज़मत के परदों म...
हक और बातिल...
Tag :दुआ
  November 21, 2017, 7:23 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); पैग़म्बर की शहादत के बाद तीन दिन तक उनका जनाज़ा रखा रहा और मुसलमान सक़ीफ़ा नबी साएदा में अबूबक्र की ख़िलाफ़त में व्यस्त रहे, और यह केवल अली और उनके कुछ साथी ही थे जिन्होंने पैग़म्बर को दफ़्न किया।आपके दफ़्न के बाद कुछ लोग हज़रते ज़हरा के पास आए और आप...
हक और बातिल...
Tag :ahlubayt
  August 28, 2017, 9:19 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); अमीरुल मोमिनीन हज़रत अली (अ.) को मानने वालों, आपको पैग़म्बर के दूसरे सहाबा से श्रेष्ठ स्वीकार करने और आपसे प्यार करने वाले मुसलमानों को शिया कहे जाने का इतिहास बहुत पुराना है इसका सम्बंध पैग़म्बरे इस्लाम स. के ज़माने से है। शिया व सुन्नी मुहद्देसीन ...
हक और बातिल...
Tag :
  August 28, 2017, 9:09 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); शिया समुदाय के राजनीतिक और समाजिक इतिहास का पहला चरण रसूले इस्लाम स.अ. के देहांत से शुरू होकर अमीरुल मोमिनीन हज़रत अली (अ.ह) की शहादत तक जारी रहा। इस चरण के शुरू से ही इमामत व ख़िलाफ़त का मुद्दा इस्लामी दुनिया के महत्वपूर्ण राजनीतिक और धार्मिक मुद्दो...
हक और बातिल...
Tag :itihaas
  August 28, 2017, 9:07 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3764) कुल पोस्ट (177912)