Hamarivani.com

हक और बातिल

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आख़िरत में हमारा दींन क्या दीन ऐ इस्लाम होगा क्यों की जन्नत तो  इन्ही लिए है ?दुनिया में हम अपने अक़ीदे को बयान करके खुद को मुसलमान और अली की विलायत को मानने वाले  बताते हैं और जन्नत के दावेदार बन जाते हैं |  किसी भी इंसान  की बात कोई नहीं जानता इस...
हक और बातिल...
Tag :
  January 9, 2019, 6:26 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इस्लाम  में शादी (निकाह) का तात्पर्य सेक्सी इच्छा की पूर्ति के साथ-साथ सदैव नेक व सहीह व पूर्ण संतान का द्रष्टिगत रखना भी है। इसी लिए आइम्मः-ए-मासूमिन (अ.) ने मैथुन के लिए महीना, तारीख, दिन, समय और जगह को द्रष्टिगत रखते हुवे अलग-अलग असरात (प्रभाव) बताये ह...
हक और बातिल...
Tag :sex in islam
  January 9, 2019, 6:23 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आख़िरत में हमारा दींन क्या दीन ऐ इस्लाम होगा क्यों की जन्नत तो  इन्ही लिए है ?दुनिया में हम अपने अक़ीदे को बयान करके खुद को मुसलमान और अली की विलायत को मानने वाले  बताते हैं और जन्नत के दावेदार बन जाते हैं |  किसी भी इंसान  की बात कोई नहीं जानता इस...
हक और बातिल...
Tag :
  December 6, 2018, 10:05 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); मुवर्रेख़ीन का कहना है कि अबरहातुल अशरम का ईसाई बादशाह था। उसमें मज़हबी ताअस्सुब बेहद था। ख़ाना ए काबा की अज़मत व हुरमत देख कर आतिशे हसद से भड़क उठा और इसके वेक़ार को घटाने के लिये मक़ामे सनआमें एक अज़ीमुश्शान गिरजा बनवाया। मगर इसकी लोगों की नज़र म...
हक और बातिल...
Tag :अबरहा
  November 30, 2018, 1:35 am
बे शर्म और बे हया लोगो की कभी उनकी नज़र में  बेइज्ज़ती नही होती ! क्यों की उन्हें इज़्ज़त के मायने ही पता नहीं होते | उन्हें तो बस इतना पता होता है हर हाल में जीतना है उसके लिए आख़िरत जाय या हुक्म ऐ खुदा के खिलाफ  जाना पड़े या बेहयाई करनी पड़े और इसी जीत के शौक में उनकी हार ...
हक और बातिल...
Tag :dosti
  September 27, 2018, 11:46 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); लेखक:मौलाना पैग़म्बर अब्बास नौगाँवीतारीखदानो ने हिन्दुस्तान मे इस्लाम की आमद हज्जाज बिन युसुफ के नौजवान कमांडर मौहम्मद बिन क़ासिम से मंसूब की है और ये ऐसी ज़हनीयत का नतीजा है कि जो इस्लाम को तलवार के फलता फूलता मानती है यहाँ भी यही जाहिर किया गया ...
हक और बातिल...
Tag :
  September 21, 2018, 11:21 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ...
हक और बातिल...
Tag :
  September 21, 2018, 9:31 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ...
हक और बातिल...
Tag :
  September 21, 2018, 9:29 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); (जिसे मालिक बिन अश्तर नग़मी के नाम तहरीर फ़रमाया है, उस वक़्त जब उन्हें मोहम्मद बिन अबीबक्र के हालात के ख़राब हो जाने के बाद मिस्र और उसके एतराफ़ का गवर्नर मुक़र्रर फ़रमाया और यह अहदनामा हज़रत के तमाम सरकारी ख़ुतूत में सबसे ज़्यादा मुफ़स्सिल और महासिन कलाम...
हक और बातिल...
Tag :
  September 15, 2018, 9:33 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इंसान अपनी ज़िंदगी में अल्लाह से क़रीब होने के लिए बहुत से अमल अंजाम देता है लेकिन कभी कभी महसूस करता है कि इतने सारे आमाल के बावजूद वह ख़ुद को अल्लाह से क़रीब नहीं पा रहा है, आख़िर क्या वजह है कि इतने सारे आमाल के बाद भी वह ख़ुद को अल्लाह से क़रीब नहीं ...
हक और बातिल...
Tag :
  September 8, 2018, 7:14 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});  इस्लाम की निगाह में वह अमल सही है जो अल्लाह उसके रसूल स.अ. और इमामों के हुक्म के मुताबिक़ हों क्योंकि यही सेराते मुस्तक़ीम है, और जितना इंसान इस रास्ते से दूर होता जाएगा उतना ही गुमराही से क़रीब होता जाएगा। इंसान को शरीयत के हिसाब से अमल करना चाहि...
हक और बातिल...
Tag :
  September 8, 2018, 6:52 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); पैग़म्बरे इस्लाम हज़रत मुहम्मद (स.) 1.       आदमी जैसे जैसे बूढ़ा होता जाता है उसकी हिरस व तमन्नाएं जवान होती जाती हैं।2.       अगर मेरी उम्मत के आलिम व हाकिम फ़ासिद होंगे तो उम्मत फ़ासिद हो जायेगी और अगर यह नेक होंगें तो उम्मत नेक होग...
हक और बातिल...
Tag :
  September 3, 2018, 6:25 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ग़दीर पर रसूले इस्लाम (स.अ.) का ऐलान  |  हज़रत मोहम्मद मुस्तफ़ा सल्लल्लाहो अलैहे व आलेही वसल्लम को भी ग़दीर का उतना ही ख़्याल था जितना की अल्लाह को, और उस साल बहुत सारी क़ौमें और क़बीलें हज के सफ़र पर निकले थे।1. रसूले इस्लाम (स.अ.) का ग़दीर के दिन उतरन...
हक और बातिल...
Tag :
  August 30, 2018, 12:54 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ईद ऐ ग़दीर खुशियों का दिन है और मुसलमानों के आपसी भाईचारे और एकता का प्रतिक है | लेकिन यह दुआ हमेशा करते रहे की अल्लाह हम सबको इब्लीस के शर से महफूज़ रखे |ग़दीर के दिन दुनिया के सभी मुसलमान एक थे और एक आवाज़ में कह रहे थे "जिस जिस के हजरत मुहम्मद (स.अ.व) मौला उसक...
हक और बातिल...
Tag :ghadeer
  August 29, 2018, 4:34 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); किसी ने मुसलमानो के खलीफा हज़रत अली (अ.स ) से पूछा की कोई शख्स उसका सच्चा दोस्त है या नहीं यह कैसे पता किया जाय तो हज़रत अली ने फ़रमाया उसके साथ किसी दावत में जाओ और देखो वो दस्तरख्वान पे कैसा बर्ताव करता है ?अगर वो अपनी प्लेट में पहले अच्छे अच्छे आइटम निकाल...
हक और बातिल...
Tag :
  August 29, 2018, 4:28 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); इमाम ज़ैनुल आबेदीन (अ .स ) ने कहा चार लोगों के साथ कभी नहीं रहना | एक बार इमाम ज़ैनुल आबेदीन (अ .स )  ने अपने बेटे इमाम मुहम्मद बाक़िर (अ .स ) से कहा बेटा ज़िंदगी में  क़िस्म के लोगों के साथ कभी मत रहना चाहे वो सफर में ही क्यों न मिल जाएँ | इमाम मुहम्मद बाक़...
हक और बातिल...
Tag :
  August 29, 2018, 4:23 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ईरान में अमीर और ग़रीब के बीच फासले को लेकर पहले काफी कुछ पढ़ा था। ईरान पहुंचकर भी मेरी दिलचस्पी क़रीब साढ़े आठ करोड़ आबादी वाले इस मुल्क के स्लम्स में थी। पूरे सफर में जिन आधा दर्जन शहर या क़स्बों से गुज़र हुआ उनमें न भिखारी मिले, न लेबर चौक, न बदहाल ल...
हक और बातिल...
Tag :
  August 14, 2018, 7:31 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); कल आज और कल |बचपन में जब भाई बहन एक दुसरे के साथ ना इंसाफ़ी करते थे तो माँ बाप ना इंसाफ़ी करने वाले बच्चे को डांट के जिसका हक़ मारा वो दिला देते थे | बड़े होने पे जो लायक बच्चा होता है वो कभी अपने भाई बहनो के साथ ना इंसाफ़ी नहीं करता लेकिन जो नालायक़ होता है वो अप...
हक और बातिल...
Tag :
  August 11, 2018, 6:14 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); नमाज़ की अस्ल यह है कि उसको जमाअत के साथ पढ़ा जाये। और जब इंसान नमाज़े जमाअत मे होता है तो वह एक इंसान की हैसियत से इंसानो के बीच और इंसानों के साथ होता है। नमाज़ का एक इम्तियाज़ यह भी है कि नमाज़े जमाअत मे सब इंसान नस्ली, मुल्की, मालदारी व ग़रीबी के भेद ...
हक और बातिल...
Tag :
  August 11, 2018, 10:58 am
हमें ज़िन्दगी कैसे गुज़ारनी है यह  नमाज़ के दो जुम्लों  से तय होती है।पहला ग़ैरिल मग़ज़ूबि अलैहिम वलज़्ज़ालीन (न उनका जिनपर ग़ज़ब (प्रकोप) हुआ और न बहके हुओं का) जिसका मतलब की हमें उन गुमराह लोगों में शुमार न करना और उस गलत राह से दूर रखना | औरअस्सलामु अलैना व अला इबाद...
हक और बातिल...
Tag :समाज
  August 11, 2018, 10:51 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); पैग़ाम ए इमाम हुसैन अ स अपने अज़ादारो के नाम ।।।।।मेरा पैग़ाम ज़माने को सुनाने वालो ।।मेरे ज़ख्मो को कलेजे से लगाने वालो ।।मेरे मातम से ज़माने को जगाने वालोकर्बला क्या है ज़माने को बताने वालो ।।दिल ए मुज़्तर के धड़कने की सदा भी सुन लो ।।आज एक चाहने वाले का गि...
हक और बातिल...
Tag :
  August 11, 2018, 5:50 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); प्राक्कथनऔरत का समाज में स्थान एंव महत्व के विषय पर बहुत से लेख लिखे जा चुके हैं। आज के इस नवीन युग में पूरे संसार में सत्री जाति की स्वत्रंता के लिये संघर्ष हो रहा है और यहाँ संघर्ष पुरूषो की तरफ़ से है ऐसा प्रतीत होता है जैसे स्वयं स्त्रीयाँ अपने हि...
हक और बातिल...
Tag :
  August 11, 2018, 5:39 am
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); अल्लामा ज़ीशान हैदर जव्वादी मरहूम के बेटे मौलाना एहसान हैदर का आज  मुंबई में हार्ट अटैक से इंतेक़ाल हो गया।  उनको कल उनके ाबाई वतन अल्लाहाबाद में सुपुर्दे ख़ाक किया जायेगा।मौलाना एहसान हैदर का भी इंतेक़ाल ठीक उसी तरह हुआ जैसे उनके वालिद का मजलिस ...
हक और बातिल...
Tag :
  May 30, 2018, 12:08 am
जब किसी का इंतेक़ाल हो जाता है तो उसकी कामयाबी की एक दलील यह भी हुआ करती है की हर शख्स उस से खुद का रिश्ता जोड़ने लगता है | दूरी रिश्तेदार जो उसकी ज़िन्दगी में कभी पूछने नहीं जाते थे वो भी दादा और परदादा , चाचा और मामू बताने लगते हैं कोई दोस्त तो कोई क़रीबी बताने लगता है |  यह ...
हक और बातिल...
Tag :
  May 25, 2018, 9:57 pm
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); Discover Jaunpur , Jaunpur Photo AlbumJaunpur Hindi Web , Jaunpur Azadari...
हक और बातिल...
Tag :
  May 25, 2018, 5:22 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3852) कुल पोस्ट (186447)