Hamarivani.com
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: Deepak Kumar Bhanre
कुछ इस तरह से होली मना लें , खुशियों के रंगों से मह्फिल सजा लें ॥ थोड़ी मस्ती थोड़ी शरारत , अपनों संग धूम और धमाल मचा लें . नीला पीला हरा लाल गुलाबी , कुछ गुलाल और कुछ रंग लगा ले... Read more
Tag :
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: सु-मन (Suman Kapoor)
भर दो हर दिल में मोहब्बत का रंग, मेरे मौला कि मज़हबी रंग गुलाल-ए-अमन में बदल जाए !!सु-मन ... Read more
Tag :होली
Blogs
Follow me
March 20, 2019, 5:28 pm
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: Jagdanand Jha
 इस लेख में मैं भारत में स्थित गुरुकुलों का परिचय देने जा रहा हूँ। यहाँ आप नामांकन कराकर संस्कृत विषयों का अध्ययन कर सकते हैं। इन विद्यालय में  छात्र किस कक्षा में प्रवे... Read more
Tag :
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: Dr T S Daral
होली पर्व हैमस्ती में आने का।खाने खिलाने का ,पीने पिलाने का।हंसने हंसाने का ,और सबको प्यार से गले लगाने का।लेकिन इतना प्यार भी नहीं दिखाने का ,कि तकरार ही हो जाये !हैप्पी ह... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 20, 2019, 12:20 pm
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: एल एस बिष्ट्
      जब खेतों में सरसों के रंग बिखरने लगे हों , पीले फूलों पर तितलियां और भौरें मंडराने लगे हों , अमराई बौराई बौराई सी लगने लगी हो , टेसू धहकने लगे हों , हवा के अलमस्त झ... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 20, 2019, 10:31 am
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: akhtar khan akela
यह कविता सूफी संत बुल्लेशाह की है जो हमारी गंगा जमनी तहजीब की नायाब मिसाल है:-होरी खेलूंगी कह कर बिस्मिल्लाहनाम नबी की रतन चढी, बूँद पडी इल्लल्लाहरंग-रंगीली उही खिलावे, ज... Read more
Tag :
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
-0-0-0-0-0-होली में अच्छी लगे, रंगों की बौछार।सुन्दर, सुखद-ललाम है, होली का त्यौहार।।शीत विदा अब हो गया, चली बसन्त बयार।प्यार बाँटने आ गया, होली का त्यौहार।।पाना चाहो मान तो, कर... Read more
Tag :रंगों की बौछार
Blogs
Follow me
March 20, 2019, 8:12 am
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! बुधवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- बालगीत   "होली का मौसम अब आया"    उच्चारण  -- अथ होली ढूंढ़ा क... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 20, 2019, 3:00 am
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: माधवी रंजना
राजस्थान के शहर हनुमानगढ़ से अब मुझे बठिंडा जाना है। हनुमानगढ़ शहर में दो बस स्टैंड हैं। एक सिटी में दूसरा रेलवे स्टेशन के पास। किला देखने के बाद मैं सिटी बस स्टैंड पहुंच... Read more
Tag :Punjab
Blogs
Follow me
March 20, 2019, 12:00 am
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: डॉ. जेन्नी शबनम
स्वीकार   *******   मैं अपने आप से मिलना नहीं चाहती   जानती हूँ खुद से मिलूँगी तो   जी नहीं पाऊँगी   जीवित रहने के लिए   मैंने उन सभी अनुबंधों को स्वीकार किया ह... Read more
Tag :
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: K.D.Sharma
आज से लगभग हजार वर्ष पहले हिंदी साहित्य बनना शुरू हुआ था।  इन हजार वर्षों में भारतवर्ष का हिंदी भाषी जन समुदाय क्या सोच-समझ रहा था, इस बात की जानकारी का एकमात्र साधन हिंद... Read more
Tag :
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: Anita nihalani
अगन होलिका की है पावन बासंती मौसम बौराया मन मदमस्त हुआ मुस्काया, फागुन पवन बही है जबसे अंतर में उल्लास समाया ! रंगों ने फिर दिया निमंत्रण मुक्त हो रहो तोड़ो बंधन, जल ज... Read more
Tag :गुलाल
I Like It
0
I Don't Like It
View
Blogger: Amit Mishra
एक आशिक़ को इस तरह बेचारा नही करतेबाद  जुदाई  के  प्यार  से  पुकारा नही करतेक&... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 19, 2019, 10:59 am
I Like It
0
I Don't Like It
View
I Like It
0
I Don't Like It
View
[Prev Page] [Next Page]
Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3854) कुल पोस्ट (187310)